INDvSL: पहला वन-डे हारने के बाद टीम इंडिया के खिलाफ दर्ज हुए ये शर्मनाक रिकॉर्ड

टीम इंडिया और श्रीलंका के बीच तीन वन-डे सीरीज का पहला मैच रविवार को धर्मशाला में खेला गया। मैच में श्रीलंकाई गेंदबाज को महज 112 रन पर ऑल आउट हुए और इस तरह से टीम इंडिया ने इस मैच में अपने घरेलू मैदान पर खेलते हुए तीसरा सबसे कम स्कोर बनाया। इससे पहले टीम इंडिया का घर में खेलते हुए सबसे कम स्कोर श्रीलंकाके ही खिलाफ था। इसे पहले 1986 में नागपुर के ग्रीन पार्क स्टेडियम में श्रीलंका ने टीम इंडिया को महज 78 रन पर ऑल आउट किया था। INDvSL: पहला वन-डे हारने के बाद टीम इंडिया के खिलाफ दर्ज हुए ये शर्मनाक रिकॉर्डटीम इंडिया की बढ़ी मुश्किलें, दक्षिण अफ्रीका दौरे से पहले घायल हुआ ये अहम खिलाड़ी

इस मैच में श्रीलंकाई गेंदबाजों ने 13 मेडन ओवर फेंके। अब तक टीम इंडिया के खिलाफ खेले गए मैचों में इतने मेडन ओवर नहीं फेंके गए थे। इतना ही नहीं बीते 10 साल में खेले गए किसी भी वनडे में इतने मेडन ओवर नहीं फेंके गए थे।   

इस मैच में एक समय पर टीम इंडिया ने 16 रन पर अपने पांच विकेट गंवा दिए थे, जो अब तक का सबसे खराब प्रदर्शन रहा। इससे पहले 1983 विश्व कप में टीम इंडिया के जिम्बाब्वे के खिलाफ 17 रन पर पांच विकेट गिरे थे। इस मैच में कपिल देव ने नाबाद 175 रन की एतिहासिक पारी खेली थी।  

बीते 15 साल में ऐसा पहली बार हुआ है जब टीम इंडिया के शुरूआती 5 बल्लेबाज दहाई के आंकड़े को भी नहीं छू पाए। इससे पहले चेन्नई में पाकिस्तान के खिलाफ 2002 में टीम इंडिया के बल्लेबाजों का ऐसा हाल हुआ था। 

 इस मैच में दिनेश कार्तिक ने अनोखा रिकॉर्ड बनाया। दिनेश कार्तिक 18 बॉलों का सामना करके शून्य के स्कोर पर आउट हुए। इस लिहाज से वो वनडे क्रिकेट इतिहास में सबसे ज्यादा गेंद खेलकर शून्य के स्कोर पर आउट होने वाले बल्लेबाज बन गए।  
इस मैच में चार भारतीय बल्लेबाज शून्य पर आउट हुए और इस तरह टीम इंडिया ने अपने पुराने रिकॉर्ड की बराबरी की। इससे पहले 2011 में नागपुर में साउथ अफ्रीका ने टीम इंडिया का ये हाल किया था।

You May Also Like

English News