IPL 2018 फाइनल : कल धोनी के धुरंधर से भिड़ेंगे केन के सनराइजर्स

आईपीएल 2018 के फाइनल मुकाबले का हर किसी को बेसब्री से इंतजार हैं. दुनिया के सबसे सफलतम और सबसे बड़े टी-20 क्रिकेट लीग का फाइनल मुकाबला कल मुंबई के वानखेड़े स्टेडियम में शाम 7 बजे से हैदराबाद और चेन्नई के बीच खेला जाएगा. इस मुकाबले को लेकर दर्शकों में अभी से काफी उत्साह देखने को मिल रहा हैं. हर वर्ष की तरह इस वर्ष भी आईपीएल ने दर्शकों का भरपूर मनोरंजन किया है, और देश-विदेश के करोड़ों दर्शकों से जमकर वाहवाही लूटी हैं.आईपीएल 2018 के फाइनल मुकाबले का हर किसी को बेसब्री से इंतजार हैं. दुनिया के सबसे सफलतम और सबसे बड़े टी-20 क्रिकेट लीग का फाइनल मुकाबला कल मुंबई के वानखेड़े स्टेडियम में शाम 7 बजे से हैदराबाद और चेन्नई के बीच खेला जाएगा. इस मुकाबले को लेकर दर्शकों में अभी से काफी उत्साह देखने को मिल रहा हैं. हर वर्ष की तरह इस वर्ष भी आईपीएल ने दर्शकों का भरपूर मनोरंजन किया है, और देश-विदेश के करोड़ों दर्शकों से जमकर वाहवाही लूटी हैं.    चेन्नई ने हैदराबाद पर पहले क्वालीफायर मुकाबले में जीत दर्ज कर आईपीएल के फाइनल मुकाबले में जगह बनाई है. जबकि हैदराबाद कल आईपीएल 2018 के दूसरे क्वालीफायर मुकाबले में कोलकाता को पछाड़ कर आईपीएल 11 के फाइनल मुकाबले में जगह बना सकी है चेन्नई दो बार साल 2010 और 2011 में आईपीएल का फाइनल धोनी की कप्तानी में जीत चुकी है, वहीं हैदराबाद इससे पहले साल 2016 में डेविड वॉर्नर की कप्तानी में आईपीएल का ख़िताब अपने नाम कर चुकी है.     धोनी की कप्तानी में जहां कल चेन्नई तीसरी बार आईपीएल का ख़िताब अपने नाम करेंगी. वहीं केन विलियम्सन की कप्तानी में हैदराबाद पहली बार आईपीएल का ख़िताब अपने नाम करना चाहेंगी. बता दे कि दोनों ही टीमों का अब तक आईपीएल 2018 में क़ाबिले तारीफ प्रदर्शन रहा है. और इसी का नतीजा है कि दोनों टीमें यहां तक पहुंचने में सफल हो सकी है. हैदराबाद की ओर से जहां फाइनल मुकाबले में राशिद खान, सिद्धार्थ कौल, शिखर धवन और उसके कप्तान विलियम्सन तुरुप का इक्का साबित होंगे. वहीं चेन्नई के लिए यह काम उसके कप्तान धोनी, सुरेश रैना, दीपक चाहर और अम्बाती रायडू करते हुए दिखाई देंगे.

चेन्नई ने हैदराबाद पर पहले क्वालीफायर मुकाबले में जीत दर्ज कर आईपीएल के फाइनल मुकाबले में जगह बनाई है. जबकि हैदराबाद कल आईपीएल 2018 के दूसरे क्वालीफायर मुकाबले में कोलकाता को पछाड़ कर आईपीएल 11 के फाइनल मुकाबले में जगह बना सकी है चेन्नई दो बार साल 2010 और 2011 में आईपीएल का फाइनल धोनी की कप्तानी में जीत चुकी है, वहीं हैदराबाद इससे पहले साल 2016 में डेविड वॉर्नर की कप्तानी में आईपीएल का ख़िताब अपने नाम कर चुकी है. 

धोनी की कप्तानी में जहां कल चेन्नई तीसरी बार आईपीएल का ख़िताब अपने नाम करेंगी. वहीं केन विलियम्सन की कप्तानी में हैदराबाद पहली बार आईपीएल का ख़िताब अपने नाम करना चाहेंगी. बता दे कि दोनों ही टीमों का अब तक आईपीएल 2018 में क़ाबिले तारीफ प्रदर्शन रहा है. और इसी का नतीजा है कि दोनों टीमें यहां तक पहुंचने में सफल हो सकी है. हैदराबाद की ओर से जहां फाइनल मुकाबले में राशिद खान, सिद्धार्थ कौल, शिखर धवन और उसके कप्तान विलियम्सन तुरुप का इक्का साबित होंगे. वहीं चेन्नई के लिए यह काम उसके कप्तान धोनी, सुरेश रैना, दीपक चाहर और अम्बाती रायडू करते हुए दिखाई देंगे. 

You May Also Like

English News