IPL 2018: 10 मैचों के बाद इस चक्रव्यूह से निकली धोनी की टीम

चेन्नई। आईपीएल के इसी सीजन में महेंद्र सिंह धोनी की कप्तानी वाली चेन्नई सुपरकिंग्स का वापसी हुई है। सीएसके ने मंगलवार को कोलकाता नाइटराइडर्स (केकेआर) पर 5 विकेट से रोमांचक जीत दर्ज की।चेन्नई। आईपीएल के इसी सीजन में महेंद्र सिंह धोनी की कप्तानी वाली चेन्नई सुपरकिंग्स का वापसी हुई है। सीएसके ने मंगलवार को कोलकाता नाइटराइडर्स (केकेआर) पर 5 विकेट से रोमांचक जीत दर्ज की।  यह चेन्नई की लगातार दूसरी जीत है। इस तरह यह टीम एक जीत के बाद एक हार का सिलसिला तोड़ने में कामयाब रही। इससे पहले के 10 आईपीएल मैचों में टीम को कभी लगातार दो जीत नहीं मिली। मई 2015 से यह सिलसिला चला था, जो अब टूटा है।  चेन्नई सुपर किंग्स की टीम दो साल में पहली बार अपने घर में आईपीएल मैच खेलने उतरी। शहर में हो रहे विरोध प्रदर्शनों के बीच टीम ने प्रशंसकों को निराश नहीं करते हुए कोलकाता नाइटराइडर्स को 5 विकेट से हराया।  कोलकाता ने 6 विकेट पर 202 रन बनाए। जवाब में चेन्नई ने 19.5 ओवर में 5 विकेट खोकर जीत हासिल की। लक्ष्य का पीछा करते हुए शेन वॉटसन (42) और अंबाती रायुडू (39) ने 75 रनों की प्रारंभिक साझेदारी की।  मध्यक्रम में मैन ऑफ द मैच सैम बिलिंग्स ने ताबड़तोड़ 56 रन ठोक टीम को लक्ष्य के करीब पहुंचाया। आखिरी ओवर में जीत के लिए 17 रन चाहिए थे। विनय कुमार ने पहली ही गेंद नोबॉल फेंकी, फिर वाइड भी फेंक दी। इससे दबाव कम हुआ। पांचवीं गेंद पर रवींद्र जडेजा ने छक्का लगाकर टीम को जीत दिलाई।  इससे पहले रसेल ने सिर्फ 36 गेंदों पर नाबाद 88 रन की विस्फोटक पारी खेली। उन्होंने एक चौका और 11 छक्के जड़े। कोलकाता कास्कोर 15 ओवर में 123 रन था लेकिन अंतिम 5 ओवरों में रसेल की पारी से टीम अंतिम 5 ओवर में 79 रन बनाने में सफल रही।  रसेल ने ड्‌वेन ब्रावो की गेंद पर 105 मीटर का छक्का जड़ते हुए गेंद को मैदान से बाहर पहुंचा दिया। उनका यह छक्का इस सत्र का सबसे लंबा छक्का है। पारी के इस 17वें ओवर में 19 रन आए। इस बीच, रसेल ने छक्का जड़ते हुए 26 गेंदों पर अपना अर्धशतक पूरा किया।  हालांकि रसेल का साथ दे रहे कप्तान दिनेश कार्तिक (26) को शेन वॉटसन (2/39) ने पगबाधा आउट किया लेकिन कार्तिक ने रिव्यू लिया, जिसका उन्हें फायदा नहीं मिला।  रसेल ने कार्तिक के साथ 46 गेंदों में 76 रन जोड़े। रसेल ने पारी के 16वें ओवर में ठाकुर के ओवर में दो छक्के जड़कर 15 रन बनाए। इसके बाद रसेल ने पारी का 19वां ओवर फेंकने आए ब्रावो की फिर जमकर धुनाई की। उन्होंने शुरुआती तीन गेंदों तीन छक्के जड़ दिए। इस ओवर में 21 रन बने।  आखिरी ओवर फेंकने आए ठाकुर के ओवर की पहली गेंद पर रसेल ने छक्का जड़ा और फिर कुरन को स्ट्राइक  दी। कुरन ने अगली दो गेंदें खराब कर दीं लेकिन आखिरी गेंद पर छक्काजड़कर स्कोर को 200 के पार पहुंचाया।  मैच से पहले स्टेडियम के बाहर प्रदर्शन, ये है वजह  कावेरी जल विवाद से जुड़े संगठनों ने मंगलवार को चेपॉक स्टेडियम के बाहर जमकर प्रदर्शन किया। प्रदर्शन कर रहे संगठनों के कार्यकर्ताओं ने चेन्नई सुपरकिंग्स और कोलकाता नाइडराइडर्स के बीच होने वाले मैच को रद्द करने की मांग की।  दरअसल ये संगठन कावेरी मैनेजमेंट बोर्ड के गठन को लेकर केंद्र की तरफ से हो देरी के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे थे और इसी वजह से उन्होंने मैच रद्द करने की मांग की। इससे टॉस में भी कुछ देरी हुई। स्टेडियम के बाहर भारी सुरक्षा बंदोबस्त के बावजूद बड़ी संख्या में विरोध कर रहे कार्यकर्ता स्टेडियम के गेट नंबर एक तक पहुंच गए और उस पर ताला जड़ने की कोशिश की। प्रदर्शनकारी एमआरटीएस स्टेशन के जरिए स्टेडियम तक पहुंचे थे।

यह चेन्नई की लगातार दूसरी जीत है। इस तरह यह टीम एक जीत के बाद एक हार का सिलसिला तोड़ने में कामयाब रही। इससे पहले के 10 आईपीएल मैचों में टीम को कभी लगातार दो जीत नहीं मिली। मई 2015 से यह सिलसिला चला था, जो अब टूटा है।

चेन्नई सुपर किंग्स की टीम दो साल में पहली बार अपने घर में आईपीएल मैच खेलने उतरी। शहर में हो रहे विरोध प्रदर्शनों के बीच टीम ने प्रशंसकों को निराश नहीं करते हुए कोलकाता नाइटराइडर्स को 5 विकेट से हराया।

कोलकाता ने 6 विकेट पर 202 रन बनाए। जवाब में चेन्नई ने 19.5 ओवर में 5 विकेट खोकर जीत हासिल की। लक्ष्य का पीछा करते हुए शेन वॉटसन (42) और अंबाती रायुडू (39) ने 75 रनों की प्रारंभिक साझेदारी की।

मध्यक्रम में मैन ऑफ द मैच सैम बिलिंग्स ने ताबड़तोड़ 56 रन ठोक टीम को लक्ष्य के करीब पहुंचाया। आखिरी ओवर में जीत के लिए 17 रन चाहिए थे। विनय कुमार ने पहली ही गेंद नोबॉल फेंकी, फिर वाइड भी फेंक दी। इससे दबाव कम हुआ। पांचवीं गेंद पर रवींद्र जडेजा ने छक्का लगाकर टीम को जीत दिलाई।

इससे पहले रसेल ने सिर्फ 36 गेंदों पर नाबाद 88 रन की विस्फोटक पारी खेली। उन्होंने एक चौका और 11 छक्के जड़े। कोलकाता कास्कोर 15 ओवर में 123 रन था लेकिन अंतिम 5 ओवरों में रसेल की पारी से टीम अंतिम 5 ओवर में 79 रन बनाने में सफल रही।

रसेल ने ड्‌वेन ब्रावो की गेंद पर 105 मीटर का छक्का जड़ते हुए गेंद को मैदान से बाहर पहुंचा दिया। उनका यह छक्का इस सत्र का सबसे लंबा छक्का है। पारी के इस 17वें ओवर में 19 रन आए। इस बीच, रसेल ने छक्का जड़ते हुए 26 गेंदों पर अपना अर्धशतक पूरा किया।

हालांकि रसेल का साथ दे रहे कप्तान दिनेश कार्तिक (26) को शेन वॉटसन (2/39) ने पगबाधा आउट किया लेकिन कार्तिक ने रिव्यू लिया, जिसका उन्हें फायदा नहीं मिला।

रसेल ने कार्तिक के साथ 46 गेंदों में 76 रन जोड़े। रसेल ने पारी के 16वें ओवर में ठाकुर के ओवर में दो छक्के जड़कर 15 रन बनाए। इसके बाद रसेल ने पारी का 19वां ओवर फेंकने आए ब्रावो की फिर जमकर धुनाई की। उन्होंने शुरुआती तीन गेंदों तीन छक्के जड़ दिए। इस ओवर में 21 रन बने।

आखिरी ओवर फेंकने आए ठाकुर के ओवर की पहली गेंद पर रसेल ने छक्का जड़ा और फिर कुरन को स्ट्राइक

दी। कुरन ने अगली दो गेंदें खराब कर दीं लेकिन आखिरी गेंद पर छक्काजड़कर स्कोर को 200 के पार पहुंचाया।

मैच से पहले स्टेडियम के बाहर प्रदर्शन, ये है वजह

कावेरी जल विवाद से जुड़े संगठनों ने मंगलवार को चेपॉक स्टेडियम के बाहर जमकर प्रदर्शन किया। प्रदर्शन कर रहे संगठनों के कार्यकर्ताओं ने चेन्नई सुपरकिंग्स और कोलकाता नाइडराइडर्स के बीच होने वाले मैच को रद्द करने की मांग की।

दरअसल ये संगठन कावेरी मैनेजमेंट बोर्ड के गठन को लेकर केंद्र की तरफ से हो देरी के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे थे और इसी वजह से उन्होंने मैच रद्द करने की मांग की। इससे टॉस में भी कुछ देरी हुई। स्टेडियम के बाहर भारी सुरक्षा बंदोबस्त के बावजूद बड़ी संख्या में विरोध कर रहे कार्यकर्ता स्टेडियम के गेट नंबर एक तक पहुंच गए और उस पर ताला जड़ने की कोशिश की। प्रदर्शनकारी एमआरटीएस स्टेशन के जरिए स्टेडियम तक पहुंचे थे।

You May Also Like

English News