IPL10: को नहीं मिल पाया नया चैंपियन, तीसरी बार विजेता बनकर मुंबई इंडियंस ने रचा दिया इतिहास…

आईपीएल 10 के फाइनल में आज जब मुंबई इंडियंस की टीम 20 ओवर्स में आठ विकेट पर 129 रन ही बना पाई तो इस बात की पूरी संभावनाएं हो गई थीं कि टूर्नामेंट को इस बार राइजिंग पुणे सुपरजाइंट के रूप में नया चैंपियन मिलेगी. मुंबई के लक्ष्‍य का पीछा करते हुए पुणे ने जिस तरह से शुरुआत की थी, उसके बाद इन संभावनाओं को मजबूती मिली थी.IPL10: को नहीं मिल पाया नया चैंपियन, तीसरी बार विजेता बनकर मुंबई इंडियंस ने रचा दिया इतिहास... यह भी पढ़े: जानिए: कौन दे रहा है PM मोदी की हत्या करने के लिए 50 करोड़ रुपये का ऑफर, विदेश से आई एक

लेकिन मैच के डेथ ओवर्स में मुंबई के खिलाड़ियों ने तनाव को अच्‍छी तरह से नियंत्रित किया. दूसरी ओर पुणे के बल्‍लेबाजों को इस हार के लिए अपने आप को ही दोष देना चाहिए जिन्‍होंने मैच को अंतिम ओवरों तक पहुंचने के पहले फिनिश नहीं किया. 15 से 20 ओवर के बीच महेंद्र सिंह धोनी, मनोज तिवारी, स्‍टीव स्मिथ और वाशिंगटन सुंदर के आउट होने से पुणे की पारी पटरी से उतर सकी. 130 रन के बेहद कमजोर लक्ष्‍य का पीछा करने उतरी टीम 20 ओवर में 6 विकेट खोकर 128 रन ही बना पाई.

आज की इस खिताबी जीत के साथ मुंबई इंडियंस इतिहास रचने में कामयाब रही. टीम ने तीसरी बार आईपीएल चैंपियन बनने का गौरव हासिल किया. कोई भी टीम इससे पहले यह उपलब्धि हासिल नहीं कर पाई थी. चेन्‍नई सुपरकिंग्‍स और कोलकाता नाइटराइडर्स की टीमें दो-दो बार आईपीएल चैंपियन रहीं है. हैदराबाद की दो टीमों, सनराइजर्स और डेक्‍कन चार्जर्स ने एक-एक बार चैंपियन बनने का गौरव हासिल किया है जबकि आईपीएल के पहले संस्‍करण में राजस्‍थान रॉयल्‍स की टीम चैंपियन बनी थी.आईपीएल के फाइनल में 129 रन ऐसा सबसे कम स्‍कोर रहा जिसे टीम डिफेंड करने में सफल रही. यही नहीं, मुंबई इंडियंस की एक रन की जीत आईपीएल के फाइनल की अब तक की सबसे नजदीकी जीत रही.

You May Also Like

English News