IPL11: प्लेऑफ में पहुंची KKR, हैदराबाद को 5 विकेट से दी पटखनी

कोलकाता नाइट राइडर्स ने सनराइजर्स हैदराबाद को आईपीएल सीजन 11 के 54वें मुकाबले में 5 विकेट से मात दे दी है. इसी के साथ ही कोलकाता नाइट राइडर्स ने प्लेऑफ में जगह बना ली है. हैदराबाद के राजीव गांधी इंटरनेशनल स्टेडियम में खेले गए इस मैच में टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करते हुए सनराइजर्स हैदराबाद ने 20 ओवर में 9 विकेट गंवा कर 172 रन बनाए और कोलकाता नाइट राइडर्स को जीत के लिए 173 रनों का टारगेट दिया. जवाब में कोलकाता नाइट राइडर्स ने 2 गेंद शेष रहते 173 रन बनाते हुए हैदराबाद को शिकस्त दे दी और प्लेऑफ में अपनी जगह पक्की कर ली.कोलकाता नाइट राइडर्स ने सनराइजर्स हैदराबाद को आईपीएल सीजन 11 के 54वें मुकाबले में 5 विकेट से मात दे दी है. इसी के साथ ही कोलकाता नाइट राइडर्स ने प्लेऑफ में जगह बना ली है. हैदराबाद के राजीव गांधी इंटरनेशनल स्टेडियम में खेले गए इस मैच में टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करते हुए सनराइजर्स हैदराबाद ने 20 ओवर में 9 विकेट गंवा कर 172 रन बनाए और कोलकाता नाइट राइडर्स को जीत के लिए 173 रनों का टारगेट दिया. जवाब में कोलकाता नाइट राइडर्स ने 2 गेंद शेष रहते 173 रन बनाते हुए हैदराबाद को शिकस्त दे दी और प्लेऑफ में अपनी जगह पक्की कर ली.  कोलकाता के लिए क्रिस लिन ने 43 गेंदों में 55 रन बनाए. उन्होंने अपनी पारी में चार चौके और तीन छक्के लगाए. रॉबिन उथप्पा ने 34 गेंदों में 45 रनों का योगदान दिया. सुनील नरेन ने 10 गेंदों में चार चौके और तीन छक्कों की मदद से 29 रनों की पारी खेली. कार्तिक 22 गेंदों में एक चौके और एक छक्के की मदद से 26 रन बनाकर नाबाद रहे.  स्कोरबोर्ड  केकेआर को क्रिस लिन और सुनील नरेन (29) की जोड़ी ने तूफानी शुरुआत दिलाई. लिन ने भुवनेश्वर के पहले ओवर में दो चाके मारे जबकि नरेन ने दूसरे ओवर में संदीप शर्मा पर लगातार तीन चौके और छक्के से 20 रन जुटाए.  लिन ने सिद्धार्थ कौल पर चौका और छक्का मारा जबकि नरेन ने चौथे ओवर में शाकिब अल हसन की लगातार गेंदों पर चौके और छक्के के साथ टीम का स्कोर 50 रन के पार पहुंचाया. नरेन हालांकि इसी ओवर में पांडे को कैच देकर पवेलियन लौटे. उन्होंने 10 गेंद का सामना करते हुए दो छक्के और चार चौके मारे.  केकेआर ने पावरप्ले में एक विकेट पर 66 रन बनाए. लिन ने कार्लोस ब्रेथवेट का स्वागत छक्के के साथ किया. रॉबिन उथप्पा हालांकि 11 रन के स्कोर पर भाग्यशाली रहे जब राशिद खान ने अपनी ही गेंद पर उनका कैच टपकाया.  लिन ने संदीप पर छक्के के साथ 36 गेंद में अर्धशतक पूरा किया और 12वें ओवर में टीम का स्कोर 100 रन तक पहुंचाया. उथप्पा ने भी शाकिब की लगातार गेंदों पर छक्का और चौका मारा.  लिन हालांकि इसके बाद कौल की गेंद पर लांग ऑफ बाउंड्री पर पांडे को कैच दे बैठे. उन्होंने 43 गेंद का सामना करते हुए तीन छक्के और चार चौके मारे. केकेआर को अंतिम पांच ओवर में जीत के लिए 41 रन की दरकार थी. उथप्पा ने राशिद की लगातार गेंदों पर चौके और छक्के के साथ गेंद और रन के बीच के अंतर को कम किया.  उथप्पा हालांकि ब्रेथवेट के अगले ओवर में गेंद को हवा में लहराकर विकेटकीपर श्रीवत्स गोस्वामी को कैच दे बैठे. उन्होंने 34 गेंद का सामना करते हुए तीन चौके और दो छक्के मारे.  कार्तिक ने ब्रेथवेट के इसी ओवर में चौका मारा जिससे टीम को अंतिम तीन ओवर में 18 रन की जरूरत थी. आंद्रे रसेल भी चार रन बनाने के बाद कौल का शिकार बने. कार्तिक ने हालांकि टीम को लक्ष्य तक पहुंचा दिया.  हैदराबाद ने KKR को दिया 173 रनों का टारगेट  टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करते हुए सनराइजर्स हैदराबाद ने 20 ओवर में 9 विकेट गंवा कर 172 रन बनाए और कोलकाता नाइट राइडर्स को जीत के लिए 173 रनों का टारगेट दिया. हैदराबाद ने शिखर धवन के बेहतरीन अर्धशतक के दम पर 172 रनों का स्कोर खड़ा किया है.  धवन ने 39 गेंदों में पांच चौके और एक छक्के की मदद से 50 रनों की पारी खेली. श्रीवत्स गोस्वामी और केन विलियमसन ने 36-36 रन बनाए. कोलकाता के लिए प्रसिद्ध कृष्ण ने सबसे ज्यादा चार विकेट लिए.  शिखर धवन ने 39 गेंद में पांच चौकों और एक छक्के की मदद से 50 रन की पारी खेलने के अलावा ओपनिंग बल्लेबाज श्रीवत्स गोस्वामी (35) के साथ पहले विकेट के लिए 79 और कप्तान केन विलियमसन (36) के साथ दूसरे विकेट के लिए 48 रन की साझेदारी भी की.     BCCI  मनीष पांडे ने भी 25 रन का योगदान दिया. केकेआर को हालांकि अंतिम ओवरों में गेंदबाजों ने वापसी दिलाई जिससे हैदराबाद की टीम अंतिम सात ओवर में 44 रन ही जुटा सकी. प्रसिद्ध कृष्ण टीम के सबसे सफल गेंदबाज रहे जिन्होंने 30 रन देकर चार विकेट चटकाए. सुनील नारायण ने किफायती गेंदबाजी करते हुए चार ओवर में 23 रन देकर एक विकेट हासिल किया.  हैदराबाद को धवन और गोस्वामी (35) की जोड़ी ने अच्छी शुरुआत दिलाई. धवन ने नीतीश राणा की मैच की पहली गेंद पर चौके के साथ खाता खोला और फिर तेज गेंदबाज प्रसिद्ध कृष्ण के अगले ओवर में भी दो चौके मारे.  आंद्रे रसेल का पारी का तीसरा ओवर घटना प्रधान रहा. रसेल की दूसरी गेंद पर अंपायर ने गोस्वामी को स्लिप में कैच करार दिया. लेकिन डीआरएस लेने पर तीसरे अंपायर ने मैदानी अंपायर के फैसले को पलट दिया क्योंकि गेंद हेलमेट से लगकर राणा के हाथों में गई थी.  गोस्वामी ने इसके बाद ओवर में एक छक्का और दो चौके मारे जबकि एक बाई का चौका भी लगा जिससे ओवर में 20 रन बने. धवन ने पीयूष चावला पर चौके के साथ पांचवें ओवर में टीम का स्कोर 50 रन के पार पहुंचाया.  धवन ने सुनील नरेन का स्वागत भी छक्के के साथ किया. टीम ने पावरप्ले में 60 रन जुटाए. कुलदीप यादव ने गोस्वामी को रसेल के हाथों कैच करा 79 रन की इस साझेदारी का अंत किया. उन्होंने 26 गेंद का सामना करते हुए चार चौके और एक छक्का मारा.  विलियमसन ने कुलदीप पर चौके के साथ खाता खोला और फिर बाएं हाथ के इस चाइनामैन गेंदबाज पर छक्के के साथ 11वें ओवर में टीम के रनों का सैकड़ा पूरा किया. धवन 45 रन के स्कोर पर भाग्यशाली रहे जब जेवॉन सीयरलेस की गेंद पर नरेन ने उनका कैच टपकाया.  विलियमसन ने इसी ओवर में लगातार दो छक्के मारे लेकिन फिर रसेल को कैच देकर पवेलियन लौट गए. उन्होंने 17 गेंद का सामना करते हुए तीन छक्के और एक चौका मारा. धवन ने कुलदीप की गेंद पर एक रन के साथ 38 गेंद में अर्धशतक पूरा किया. वह हालांकि इसी स्कोर पर कृष्ण की गेंद पर एलबीडब्ल्यू हो गए. उन्होंने 39 गेंद का सामना करते हुए पांच चौके और एक छक्का मारा. यूसुफ पठान (02) ने नरेन की गेंद को हवा में लहराकर रॉबिन उथप्पा को आसान कैच थमाया.  मनीष पांडे ने इस बीच रसेल पर दो चौके जड़ने के बाद कृष्ण पर छक्का मारा लेकिन रसेल ने कार्लोस ब्रेथवेट (03) को विकेटकीपर दिनेश कार्तिक के हाथों कैच करा दिया. कृष्ण ने पारी के अंतिम ओवर में पांडे, शाकिब अल हसन (10) और राशिद खान (00) को आउट किया. पारी की अंतिम गेंद पर भुवनेश्वर कुमार (00) रन आउट हुए.

कोलकाता के लिए क्रिस लिन ने 43 गेंदों में 55 रन बनाए. उन्होंने अपनी पारी में चार चौके और तीन छक्के लगाए. रॉबिन उथप्पा ने 34 गेंदों में 45 रनों का योगदान दिया. सुनील नरेन ने 10 गेंदों में चार चौके और तीन छक्कों की मदद से 29 रनों की पारी खेली. कार्तिक 22 गेंदों में एक चौके और एक छक्के की मदद से 26 रन बनाकर नाबाद रहे.

केकेआर को क्रिस लिन और सुनील नरेन (29) की जोड़ी ने तूफानी शुरुआत दिलाई. लिन ने भुवनेश्वर के पहले ओवर में दो चाके मारे जबकि नरेन ने दूसरे ओवर में संदीप शर्मा पर लगातार तीन चौके और छक्के से 20 रन जुटाए.

लिन ने सिद्धार्थ कौल पर चौका और छक्का मारा जबकि नरेन ने चौथे ओवर में शाकिब अल हसन की लगातार गेंदों पर चौके और छक्के के साथ टीम का स्कोर 50 रन के पार पहुंचाया. नरेन हालांकि इसी ओवर में पांडे को कैच देकर पवेलियन लौटे. उन्होंने 10 गेंद का सामना करते हुए दो छक्के और चार चौके मारे.

केकेआर ने पावरप्ले में एक विकेट पर 66 रन बनाए. लिन ने कार्लोस ब्रेथवेट का स्वागत छक्के के साथ किया. रॉबिन उथप्पा हालांकि 11 रन के स्कोर पर भाग्यशाली रहे जब राशिद खान ने अपनी ही गेंद पर उनका कैच टपकाया.

लिन ने संदीप पर छक्के के साथ 36 गेंद में अर्धशतक पूरा किया और 12वें ओवर में टीम का स्कोर 100 रन तक पहुंचाया. उथप्पा ने भी शाकिब की लगातार गेंदों पर छक्का और चौका मारा.

लिन हालांकि इसके बाद कौल की गेंद पर लांग ऑफ बाउंड्री पर पांडे को कैच दे बैठे. उन्होंने 43 गेंद का सामना करते हुए तीन छक्के और चार चौके मारे. केकेआर को अंतिम पांच ओवर में जीत के लिए 41 रन की दरकार थी. उथप्पा ने राशिद की लगातार गेंदों पर चौके और छक्के के साथ गेंद और रन के बीच के अंतर को कम किया.

उथप्पा हालांकि ब्रेथवेट के अगले ओवर में गेंद को हवा में लहराकर विकेटकीपर श्रीवत्स गोस्वामी को कैच दे बैठे. उन्होंने 34 गेंद का सामना करते हुए तीन चौके और दो छक्के मारे.

कार्तिक ने ब्रेथवेट के इसी ओवर में चौका मारा जिससे टीम को अंतिम तीन ओवर में 18 रन की जरूरत थी. आंद्रे रसेल भी चार रन बनाने के बाद कौल का शिकार बने. कार्तिक ने हालांकि टीम को लक्ष्य तक पहुंचा दिया.

हैदराबाद ने KKR को दिया 173 रनों का टारगेट

टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करते हुए सनराइजर्स हैदराबाद ने 20 ओवर में 9 विकेट गंवा कर 172 रन बनाए और कोलकाता नाइट राइडर्स को जीत के लिए 173 रनों का टारगेट दिया. हैदराबाद ने शिखर धवन के बेहतरीन अर्धशतक के दम पर 172 रनों का स्कोर खड़ा किया है.

धवन ने 39 गेंदों में पांच चौके और एक छक्के की मदद से 50 रनों की पारी खेली. श्रीवत्स गोस्वामी और केन विलियमसन ने 36-36 रन बनाए. कोलकाता के लिए प्रसिद्ध कृष्ण ने सबसे ज्यादा चार विकेट लिए.

शिखर धवन ने 39 गेंद में पांच चौकों और एक छक्के की मदद से 50 रन की पारी खेलने के अलावा ओपनिंग बल्लेबाज श्रीवत्स गोस्वामी (35) के साथ पहले विकेट के लिए 79 और कप्तान केन विलियमसन (36) के साथ दूसरे विकेट के लिए 48 रन की साझेदारी भी की.

BCCI

मनीष पांडे ने भी 25 रन का योगदान दिया. केकेआर को हालांकि अंतिम ओवरों में गेंदबाजों ने वापसी दिलाई जिससे हैदराबाद की टीम अंतिम सात ओवर में 44 रन ही जुटा सकी. प्रसिद्ध कृष्ण टीम के सबसे सफल गेंदबाज रहे जिन्होंने 30 रन देकर चार विकेट चटकाए. सुनील नारायण ने किफायती गेंदबाजी करते हुए चार ओवर में 23 रन देकर एक विकेट हासिल किया.

 

हैदराबाद को धवन और गोस्वामी (35) की जोड़ी ने अच्छी शुरुआत दिलाई. धवन ने नीतीश राणा की मैच की पहली गेंद पर चौके के साथ खाता खोला और फिर तेज गेंदबाज प्रसिद्ध कृष्ण के अगले ओवर में भी दो चौके मारे.

आंद्रे रसेल का पारी का तीसरा ओवर घटना प्रधान रहा. रसेल की दूसरी गेंद पर अंपायर ने गोस्वामी को स्लिप में कैच करार दिया. लेकिन डीआरएस लेने पर तीसरे अंपायर ने मैदानी अंपायर के फैसले को पलट दिया क्योंकि गेंद हेलमेट से लगकर राणा के हाथों में गई थी.

गोस्वामी ने इसके बाद ओवर में एक छक्का और दो चौके मारे जबकि एक बाई का चौका भी लगा जिससे ओवर में 20 रन बने. धवन ने पीयूष चावला पर चौके के साथ पांचवें ओवर में टीम का स्कोर 50 रन के पार पहुंचाया.

धवन ने सुनील नरेन का स्वागत भी छक्के के साथ किया. टीम ने पावरप्ले में 60 रन जुटाए. कुलदीप यादव ने गोस्वामी को रसेल के हाथों कैच करा 79 रन की इस साझेदारी का अंत किया. उन्होंने 26 गेंद का सामना करते हुए चार चौके और एक छक्का मारा.

विलियमसन ने कुलदीप पर चौके के साथ खाता खोला और फिर बाएं हाथ के इस चाइनामैन गेंदबाज पर छक्के के साथ 11वें ओवर में टीम के रनों का सैकड़ा पूरा किया. धवन 45 रन के स्कोर पर भाग्यशाली रहे जब जेवॉन सीयरलेस की गेंद पर नरेन ने उनका कैच टपकाया.

विलियमसन ने इसी ओवर में लगातार दो छक्के मारे लेकिन फिर रसेल को कैच देकर पवेलियन लौट गए. उन्होंने 17 गेंद का सामना करते हुए तीन छक्के और एक चौका मारा. धवन ने कुलदीप की गेंद पर एक रन के साथ 38 गेंद में अर्धशतक पूरा किया. वह हालांकि इसी स्कोर पर कृष्ण की गेंद पर एलबीडब्ल्यू हो गए. उन्होंने 39 गेंद का सामना करते हुए पांच चौके और एक छक्का मारा. यूसुफ पठान (02) ने नरेन की गेंद को हवा में लहराकर रॉबिन उथप्पा को आसान कैच थमाया.

मनीष पांडे ने इस बीच रसेल पर दो चौके जड़ने के बाद कृष्ण पर छक्का मारा लेकिन रसेल ने कार्लोस ब्रेथवेट (03) को विकेटकीपर दिनेश कार्तिक के हाथों कैच करा दिया. कृष्ण ने पारी के अंतिम ओवर में पांडे, शाकिब अल हसन (10) और राशिद खान (00) को आउट किया. पारी की अंतिम गेंद पर भुवनेश्वर कुमार (00) रन आउट हुए.

You May Also Like

English News