JDU-BJP सरकार बनाने के लिए विरोध में RJD का हंगामा, महात्मा गांधी पुल किया जाम…

बिहार में महागठबंधन की सरकार के सत्ता से बाहर होते ही पूरे राज्य में बवाल शुरू हो गया है। बुधवार रात से ही आरजेडी कार्यकर्ता पूरे प्रदेश में प्रदर्शन के लिए उतर आए हैं। इसी कड़ी में उत्तरी बिहार को राजधानी पटना से जोड़ने वाले महात्मा गांधी सेतु को आरजेडी कार्यकर्ताओं ने जाम कर दिया है, इसकी वजह से उत्तरी बिहार के अधिकतर हिस्से से संपर्क कट गया है। वहीं, दूसरी ओर नीतीश कुमार सुबह 10 बजे नई सरकार के मुखिया के तौर पर शपथ लेंगे, जिसमें पुराने साथी आरजेडी की जगह बीजेपी उनके साथ खड़ी होगी। सुबह 10 बजे ही सुशील मोदी भी उप-मुख्यमंत्री पद की शपथ लेंगे, जो पिछली जेडीयू-बीजेपी सरकार में भी उपमुख्यमंत्री रह चुके हैं।JDU-BJP सरकार बनाने के लिए विरोध में RJD का हंगामा, महात्मा गांधी पुल किया जाम...भारत के राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकर अजीत डोभाल गुरुवार को पहुंच रहे हैं बीजिंग, होगी डोकलाम विवाद पर बात

बिहार में सुबह 10 बजे जेडीयू-बीजेपी सरकार का शपथ ग्रहण, नीतीश फिर से बनेंगे मुख्यमंत्री
नीतीश कुमार के देर रात सरकार से इस्तीफे की वजह से आरजेडी कार्यकर्ता विरोध प्रदर्शन पर उतर आए हैं। नीतीश कुमार के इस्तीफे के बाद आधी रात को ही लालू प्रसाद यादव के दोनों बेटे, उप मुख्यमंत्री तेजस्वी यादव और कैबिनेट मंत्री तेज प्रताप यादव ने अपने समर्थकों के साथ राज भवन की ओर कूच किया। इस दौरान तेजस्वी ने कहा कि सबसे बड़ी पार्टी होने की वजह से राज्यपाल को उन्हें सरकार बनाने का मौका देना चाहिए। इससे पहले उन्होंने सुबह 11 बजे राज्यपाल से मिलने का समय मांगा था, पर तेजस्वी ने कहा कि 10 बजे नीतीश कुमार के शपथ ले लेने के बाद राज्यपाल से मिलने का कोई मतलब नहीं रह जाता।

तेजस्वी यादव ने आरजेडी कार्यकर्ताओं और सहयोगी दलों से भी विरोध प्रदर्शन में उतरने की अपील की है। इसी कड़ी में जगह जगह आरजेडी कार्यकर्ता विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं, जिसमें उन्होंने महात्मा गांधी सेतु को ब्लॉक कर दिया है। 

आरजेडी कार्यकर्ताओं के प्रदर्शन की वजह से वाहनों के पहिए जहां-तहां थम गए हैं।

इससे पहले, बड़ा राजनीतिक धमाका करते हुए बुधवार को बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने इस्तीफा दे दिया। इस्‍तीफे के बाद तेजी से बदले घटनाक्रम में बीजेपी ने नई सरकार बनाने के लिए जेडीयू को समर्थन देने का ऐलान किया। जिसके बाद जेडेयू-बीजेपी ने आधी रात राज्यपाल केसी त्रिपाठी से मुलाकात कर 132 विधायकों की सूची सौंपकर सरकार बनाने का दावा पेश किया। 

आज सुबह 10 बजे नीतीश कुमार मुख्यमंत्री और भाजपा के सुशील मोदी उप-मुख्यमंत्री पद की शपथ लेंगे। नई सरकार के बाकी मंत्री बहुमत परीक्षण के बाद शपथ लेंगे। इससे पहले खबर थी कि वे शाम को पांच बजे शपथ लेंगे। नीतीश के शपथ ग्रहण समारोह में पीएम मोदी भी शामिल हो सकते हैं। 

अपने इस्तीफे का ठीकरा राजद नेता लालू यादव पर फोड़ते हुए नीतीश ने कहा कि उपमुख्यमंत्री तेजस्वी यादव के मुद्दे पर लालू कुछ करना नहीं चाहते थे। तेजस्वी पर भ्रष्टाचार के आरोपों को लेकर महागठबंधन में लंबे समय से खींचतान चल रही थी। 

You May Also Like

English News