JEE ADVANCE कट ऑफ : JEE के इस कारनामे से सफल हुए 12000 असफल विधार्थी

जेईई एडवांस ने करीब 12 हजार विद्यार्थियों को एक नया तोहफा प्रदान किया हैं. जेईई एडवांस ने कल इसके कट ऑफ़ मार्क्स में कटौती की. जिसका फायदा सीधे 12 हजार से अधिक छात्रों को मिला. कल यह फैसला मानव संसाधन विकास मंत्रालय (एमएचआरडी) के निर्देश के बाद बोर्ड की दिल्ली में हुई आपातकालीन बैठक में लिया गया. इस आपातकालीन बैठक में मंत्रालय के अधिकारियों के अलावा आईआईटी के निदेशक आदि ने भी हिस्सा लिया.  जेईई एडवांस ने करीब 12 हजार विद्यार्थियों को एक नया तोहफा प्रदान किया हैं. जेईई एडवांस ने कल इसके कट ऑफ़ मार्क्स में कटौती की. जिसका फायदा सीधे 12 हजार से अधिक छात्रों को मिला. कल यह फैसला मानव संसाधन विकास मंत्रालय (एमएचआरडी) के निर्देश के बाद बोर्ड की दिल्ली में हुई आपातकालीन बैठक में लिया गया. इस आपातकालीन बैठक में मंत्रालय के अधिकारियों के अलावा आईआईटी के निदेशक आदि ने भी हिस्सा लिया.    मंत्रालय द्वारा कट ऑफ में कटौती किए जाने से अब सफल छात्रों की संख्या 31988 हो गई है. जो कि इससे पहले 18138 थी. ख़बरों की माने तो इस नए सत्र में एक भी सीट खाली न रहे इसे देखते हुए मंत्रालय ने यह अहम और बड़ा फैसला कल आपातकालीन बैठक में लिया. इससे पहले 12079 सीटों पर दाखिले के लिए गत 10 जून को परीक्षा परिणाम जारी किए गए थे.   काउंसलिंग आज...  आर्गेनाइजिंग चेयरमैन प्रो. शलभ से प्राप्त जानकारी के मुताबिक, शुक्रवार से ऑनलाइन काउंसिलिंग शुरू हो जाएगी. इसी के तहत उम्मीदवार पंजीयन और चॉइस को फील कर सकते हैं. उन्होंने बताया कि नई कट ऑफ लिस्ट से रिजल्ट में कोई अंतर नहीं आया है. बल्कि एमएचआरडी के निर्देशों पर कट आफ में कटौती की गई हैं.

मंत्रालय द्वारा कट ऑफ में कटौती किए जाने से अब सफल छात्रों की संख्या 31988 हो गई है. जो कि इससे पहले 18138 थी. ख़बरों की माने तो इस नए सत्र में एक भी सीट खाली न रहे इसे देखते हुए मंत्रालय ने यह अहम और बड़ा फैसला कल आपातकालीन बैठक में लिया. इससे पहले 12079 सीटों पर दाखिले के लिए गत 10 जून को परीक्षा परिणाम जारी किए गए थे. 

काउंसलिंग आज…

आर्गेनाइजिंग चेयरमैन प्रो. शलभ से प्राप्त जानकारी के मुताबिक, शुक्रवार से ऑनलाइन काउंसिलिंग शुरू हो जाएगी. इसी के तहत उम्मीदवार पंजीयन और चॉइस को फील कर सकते हैं. उन्होंने बताया कि नई कट ऑफ लिस्ट से रिजल्ट में कोई अंतर नहीं आया है. बल्कि एमएचआरडी के निर्देशों पर कट आफ में कटौती की गई हैं.

You May Also Like

English News