झमाझम बरसात: जहां किसानों को मिली राहत, वहीं शहरवासियों के लिए हुई मुसीबत…

गुरुवार देर रात हुई झमाझम बरसात ने जहां किसानों को राहत दी है, वहीं शहरवासियों के लिए मुसीबत भी हुई। शहर की अधिकांश गलियां, मुख्य मार्ग, सार्वजनिक स्थल, सरकारी दफ्तर के आसपास पानी ही दिखा। शुक्रवार को नागरिकों को असुविधाओं का सामना करना पड़ा। मौसम विभाग के अनुसार अभी तीन दिन तक अच्छी बरसात के आसार हैं।झमाझम बरसात: जहां किसानों को मिली राहत, वहीं शहरवासियों के लिए हुई मुसीबत...ट्रक चालकों के हंगामा के बाद फरेंदा रोड पर आवागमन कर दिया बहाल…

गुरुवार को दिन भर लोग गर्मी से खासा परेशान रहे। दिन भर बादल उमड़ते-घुमड़ते जरूर रहे लेकिन बरसात नहीं हुई। रात को लोग बारिश की आस में मायूश होकर सो गए तो रात में बादलों ने गरजना शुरू किया और देर रात झमाझम बारिश हुई। खेत-खलिहानों में भी पानी दिखाई पड़ा। जबकि शहरी क्षेत्रों में जलभराव से कई सड़कें लबालब हो गईं।

शुक्रवार की सुबह भी हल्की-फुल्की बरसात होती रही। अवध विश्वविद्यालय में चल रहे पंडित दीनदयाल उपाध्याय जन्म शताब्दी समारोह के तहत गोष्ठी, प्रदर्शनी आदि शिविर में भी पानी भर गया। पुलिस लाइन, तहसील के मुख्य गेट, कचेहरी परिसर, रोडवेज, जिला महिला अस्पताल के मुख्य गेट, गुलाबबाड़ी मैदान, कंधारी बाजार, खीर वाली गली सहित शहर की तमाम गलियां जलमग्न हो गईं।

नरेंद्र देव कृषि विश्वविद्यालय कुमारगंज के मौसम विभाग के अनुसार शुक्रवार को अधिकतम तापमान 32 डिग्री सेल्सियस व न्यूनतम तापमान 24 डिग्री रिकॉर्ड किया गया। आर्र्दता अधिकतम 96 व न्यूनतम 73 रही। जिले में औसतन 42.2 मिमी बरसात रिकॉर्ड की गई। मौसम वैज्ञानिक डॉ अमरनाथ मिश्र के अनुसार अगले तीन दिनों तक अच्छी बरसात की उम्मीद है। इस बीच मौसम खुशनुमा बने रहने की संभावना है।

You May Also Like

English News