JioPhone होगा और भी स्मार्ट, मिलेंगी गूगल की ये सर्विसेज

रिलायंस जियो का फीचर फोन जिसे मार्केट का सबसे सस्ता फीचर फोन माना जाता है जिसमें 4G इंटरनेट चला सकते हैं. यह जियो फोन है और इसमें लिमिटेड फीचर्स हैं. हाल ही में इसमें फेसबुक का सपोर्ट दिया गया है और अब खबर है कि यूजर्स में इसमें गूगल के टूल भी यूज कर पाएंगे.रिलायंस जियो का फीचर फोन जिसे मार्केट का सबसे सस्ता फीचर फोन माना जाता है जिसमें 4G इंटरनेट चला सकते हैं. यह जियो फोन है और इसमें लिमिटेड फीचर्स हैं. हाल ही में इसमें फेसबुक का सपोर्ट दिया गया है और अब खबर है कि यूजर्स में इसमें गूगल के टूल भी यूज कर पाएंगे.  हालांकि इसमें गूगल सर्च तो अभी भी कर सकते हैं, लेकिन आने वाले समय में इसमे गूगल की दूसरी सर्विस जैसे गूगल मैप्स, गूगल असिस्टेंट, गूगल सर्च और यूट्यूब दिया जा सकता है. गौरतलब है कि इस फोन में KaiOS दिया गया है जिसे अमेरिकी कंपन ने बनाया है.  रिपोर्ट के मुताबिक KaiOS बनाने वाली कंपनी KaiOS टेक्नॉलॉजीज गूगल के साछ पार्टनर्शिप कर रही है. इस पार्टनर्शिप के तहत यूजर्स को गूगल के ये टूल्स दए जा सकेंगे. इस कंपनी को जियोफोन से काफी फायदा हुआ है और भारतीय मोबाइल ओएस मार्केट में इसने Apple iOS को पीछे छोड़ दिया है. यह आंकड़े डिवाइस ऐटलस की तरफ से है.  आपको बता दें कि KaiOS टेकनलॉलॉजी को गूगल की तरफ से 22 मिलियन डॉलर का निवेश मिला है. निवेश करने का मकसद ये है कि नेक्स्ट जेनेरेशन यूजर्स के लिए इंटरनेट सर्विस प्रदान करना है.  KaiOS टेक्नॉलॉजी के सीईओ सैबेस्टियन कोडविल ने का है, ‘यह फंडिंग हमें तेजी से डेवेलपमेंट करने और दुनिया भर में अपने KaiOS को स्मार्ट फीचर फोन में प्रदान करने में मदद करेगा. इससे उन आबादी को भी जोड़ा जा सकता है जिनके पास अब तक इंटरनेट ऐक्सेस नहीं है, खास कर उभरते हुए बाजारों के लिए’

हालांकि इसमें गूगल सर्च तो अभी भी कर सकते हैं, लेकिन आने वाले समय में इसमे गूगल की दूसरी सर्विस जैसे गूगल मैप्स, गूगल असिस्टेंट, गूगल सर्च और यूट्यूब दिया जा सकता है. गौरतलब है कि इस फोन में KaiOS दिया गया है जिसे अमेरिकी कंपन ने बनाया है.

रिपोर्ट के मुताबिक KaiOS बनाने वाली कंपनी KaiOS टेक्नॉलॉजीज गूगल के साछ पार्टनर्शिप कर रही है. इस पार्टनर्शिप के तहत यूजर्स को गूगल के ये टूल्स दए जा सकेंगे. इस कंपनी को जियोफोन से काफी फायदा हुआ है और भारतीय मोबाइल ओएस मार्केट में इसने Apple iOS को पीछे छोड़ दिया है. यह आंकड़े डिवाइस ऐटलस की तरफ से है.

आपको बता दें कि KaiOS टेकनलॉलॉजी को गूगल की तरफ से 22 मिलियन डॉलर का निवेश मिला है. निवेश करने का मकसद ये है कि नेक्स्ट जेनेरेशन यूजर्स के लिए इंटरनेट सर्विस प्रदान करना है.

KaiOS टेक्नॉलॉजी के सीईओ सैबेस्टियन कोडविल ने का है, ‘यह फंडिंग हमें तेजी से डेवेलपमेंट करने और दुनिया भर में अपने KaiOS को स्मार्ट फीचर फोन में प्रदान करने में मदद करेगा. इससे उन आबादी को भी जोड़ा जा सकता है जिनके पास अब तक इंटरनेट ऐक्सेस नहीं है, खास कर उभरते हुए बाजारों के लिए’

You May Also Like

English News