JNU: जब लड़कों के हास्टल में मिली लड़कियां, जानिए तब क्या हुआ!

नई दिल्ली: जवाहर लाल नेहरू विश्वविद्यालय कैंपस में ब्यॉज हास्टल के 13 कमरों में लड़कियां मिली हैं। बृहस्पतिवार को वार्डन की जांच टीम ने हॉस्टलों में छापा मारा था। छापे के दौरान यह लड़कियां मिली हैं।


विश्वविद्यालय प्रबंधन ने मामले की पुष्टि करते हुए बताया कि जिन कमरों में लड़कियां मिली हैंए वहां के छात्रों समेत छात्राओं पर हॉस्टल नियमों के तहत कार्रवाई के अलावा जुर्माना भी लगाया जाएगा। जेएनयू प्रबंधन के वरिष्ठ अधिकारी के मुताबिक विश्वविद्यालय नियमों के तहत ब्यॉज और गल्र्स हॉस्टल अलग-अलग होते हैं।

ब्यॉज हॉस्टल में लड़कियां और गल्र्स हॉस्टल में लड़के उनके कमरों में नहीं जा सकते हैं। अक्सर छात्र ही शिकायत करते हैं कि हॉस्टल में बाहरी छात्र आकर ठहरते हैं। वार्डन समय-समय पर हॉस्टल का औचक निरीक्षण करते हैं। इसी के तहत बृहस्पतिवार को छापा मारा गया। पेरियार और ब्रह्मपुत्र हॉस्टल का है मामला।

अधिकारी के मुताबिक पेरियार और ब्रह्मपुत्र हॉस्टल में उक्त लड़कियां जांच में मिली थीं। वार्डन ने छात्रों की सूची बनाकर विश्वविद्यालय प्रबंधन को भी भेज दी है। इसके अलावा गल्र्स हॉस्टल को भी लड़कियों की सूची सौंपी गई है। हॉस्टल नियमों के तहत उक्त छात्र-छात्राओं पर कार्रवाई होगी। इसके अलावा जुर्माना भी लगाया जाएगा। कुछ लड़कियां कैंपस से बाहर की भी है।

 

 

You May Also Like

English News