कैलाश मानसरोवर भवन निर्माण के लिए 30 को आएंगे CM योगी, रखेंगे पहेली नींव…

कैलाश मानसरोवर भवन का निर्माण 30 अगस्त से शुरू हो जाएगा। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ स्वयं इसकी नींव रखेंगे। भवन निर्माण पर 20 करोड़ रुपये खर्च होंगे। यूपी सरकार जुलाई में पेश किए गए बजट में 20 करोड़ रुपये आवंटित कर चुकी है।कैलाश मानसरोवर भवन निर्माण के लिए 30 को आएंगे CM योगी, रखेंगे पहेली नींव...बड़ी खबर: राज्य सभा में होगा NDA का दबदबा, लगातार बढ़ रहे हैं सदस्य

निवर्तमान महापौर अशु वर्मा के प्रस्ताव पर नगर निगम सपा सरकार के कार्यकाल में ही अर्थला के सामने जीटी रोड स्थित 8125 वर्ग मीटर जमीन कैलाश मानसरोवर भवन के लिए आरक्षित कर चुका है। बीते दिनों नगर निगम ने इस पर बाउंड्रीवाल का शिलान्यास कराया था।

30 अगस्त को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ गाजियाबाद के अपने पहले दौरे के दौरान कैलाश मानसरोवर भवन का शिलान्यास भी करेंगे। सूचना, पर्यटन एवं धमार्थ कार्य विभाग के प्रमुख सचिव अवनीश कुमार अवस्थी ने राजकीय निर्माण निगम के प्रबंध निदेशक को पत्र भेजकर शिलान्यास की तैयारी करने को कहा है।

उन्होंने गाजियाबाद डीएम को भी पत्र भेजकर सीएम के कार्यक्रम की व्यवस्था कराने के निर्देश दिए हैं। राजकीय निर्माण निगम ही कैलाश मानसरोवर भवन का निर्माण करेगा। उधर, सीएम के कैलाश मानसरोवर भवन शिलान्यास कार्यक्रम के तय होने से भाजपाइयों में उत्साह है।

निवर्तमान महापौर अशु वर्मा का कहना है कि उनका सपना था कि प्रदेश का कैलाश मानसरोवर भवन गाजियाबाद में बने। इसके लिए जमीन पहले ही आवंटित कर दी थी, अब सीएम का कार्यक्रम तय होने से उनका सपना पूरा होने वाला है।

सीएम करेंगे जिले की समीक्षा

सीएम अपने दौरे के दौरान जिला के विकास कार्यों व कानून व्यवस्था की समीक्षा भी करेंगे। बुधवार दोपहर में जैसे ही सीएम के आगमन की सूचना मिली तो जिलाधिकारी मिनिस्ती एस. ने शाम 4 बजे सभी विभागीय अधिकारियों को कलक्ट्रेट सभागार में बुला लिया।

करीब डेढ़ घंटे तक चली बैठक में डीएम ने निर्देश दिए कि जनता से जुड़े मामलों को तत्काल निस्तारित करें, जो भी शिकायतें थाना दिवस व समाधान दिवस में आई हैं उनमें नियमानुसार कार्रवाई कर रिपोर्ट दें।

इसके साथ ही सरकार द्वारा संचालित सभी योजना पर अब तक हुए कार्यों की विस्तृत रिपोर्ट  तैयार करके रखें। खासकर कानून व्यवस्था के साथ जनता से जुड़े मामलों को प्राथमिकता में रखकर काम करें।

अस्पताल दवाएं व आवश्यक चीजें उपलब्ध होनी चाहिए। एसडीएम प्रेम रंजन सिंह ने सभी विभागाध्यक्षों को निर्देश दिया है कि तहसील दिवस और आईजीआरएस से संबंधित शिकायतें 28 अगस्त तक निस्तारित कराकर आख्या दें।

You May Also Like

English News