Last Ritual: एक्टर-लेखक कादर खान सुपुर्द ए खाक, बालीवुड अभी गमजदा !

कनाड़ा: बॉलीवुड के दिग्गज अभिनेता और लेखक कादर खान के निधन से पूरा बॉलीवुड सदमे में है। बुधवार की दोपहर उन्हें सुपुर्द ए खाक किया गया। एक जनवरी को कादर खान का निधन हुआ था। 81 वर्षीय अभिनेता कादर खान काफी अरसे से बीमार चल रहे थे।


कादर कनाडा के एक अस्पताल में भर्ती थे। वहां उनके बेटे सरफराज और बहू रहते हैं। इसलिए कादर कई साल से अपने बेटे के पास ही शिफ्ट हो चुके थे। बता दें कादर खान को सांस लेने में तकलीफ हो रही थी और डॉक्टर उन्हें नियमित वेंटीलेटर तथा बीपीएपी वेंटीलेटर पर रखे हुए थेण्। ुपर न्यूक्लियर पाल्सी बीमारी के कारण उन्हें चलने में भी दिक्कत आ रही थी और याददाश्त भी कमजोर हो गई थी।

काबुल में जन्मे कादर खान ने 1973 में फिल्म दाग से अपने फिल्मी करियर की शुरुआत की थी। उसके बाद वह 300 से अधिक फिल्मों में नजर आए। अभिनेता बनने से पहले उन्होंने रणधीर कपूर, जया बच्चन की फिल्म जवानी दीवानी के लिए संवाद लिखे थे। उन्होंने 250 से अधिक फिल्मों के लिए संवाद लिखे। पटकथा लेखक के तौर उन्होंने मनमोहन देसाई और प्रकाश मेहरा के साथ कई फिल्मों में सहयोग दिया।

कादर खान के निधन की खबर के बाद से ही बॉलीवुड में उनके साथ काम करने वाले सभी स्टार्स सदमे में हैं। गोविंदा के साथ उनकी जोड़ी काफी मशहूर थी। इसलिए गोविंदा ने उन्हें अपना उस्ताद कहकर श्रद्धांजली दी तो वहीं बॉलीवुड के महानायक अमिताभ बच्चन ने भी अपनी सफलता में कादर खान के लिखे डायलॉग को श्रेय दिया।

You May Also Like

English News