LG से टकराव जारी, केजरीवाल ने लिखी पीएम मोदी को चिट्ठी, चौथे दिन भी धरने पर

राजधानी नई दिल्ली में सरकार पिछले चार दिनों से धरने पर है. मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल अपने मंत्रियों के साथ गवर्नर हाउस में डेरा जमाए हुए हैं. अब इस मुद्दे पर उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को चिट्ठी लिखी है.आपको बता दें कि आम आदमी पार्टी ने बुधवार को उपराज्यपाल अनिल बैजल के खिलाफ उनके निवास के बाहर जमकर प्रदर्शन किया और अब उनकी योजना प्रधानमंत्री ऑफिस (पीएमओ) का घेराव करने की है. अगले रविवार को आम आदमी पार्टी के तमाम कार्यकर्ता पीएमओ का घेराव करेंगे.  ये हैं AAP की 3 मांगें  - एलजी खुद IAS अधिकारियों की गैरकानूनी हड़ताल तुरंत खत्म कराएं, क्योंकि वो सर्विस विभाग के मुखिया हैं.  - काम रोकने वाले IAS अधिकारियों के खिलाफ सख्त एक्शन लें.  - राशन की डोर-स्टेप-डिलीवरी की योजना को मंजूर करें.

केजरीवाल ने पीएम मोदी से कहा है कि उपराज्यपाल हमारी बात नहीं सुन रहे हैं, मैं आपसे अपील करता हूं कि आप इस मामले में दखल दें. और पिछले तीन महीने से जो IAS अफसरों की हड़ताल जारी है उसे खत्म कराएं.

केजरीवाल ने लिखा है कि इन अफसरों का ट्रांसफर करना या इनपर कार्रवाई करना सब केंद्र सरकार और एलजी के हाथ में है. इसलिए हम कुछ नहीं कर पा रहे हैं. अब तो लोगों ने भी कहना शुरू कर दिया है कि ये हड़ताल केंद्र सरकार और एलजी मिलकर करवा रहे हैं.

गौरतलब है कि दिल्ली के मुख्य सचिन अंशु प्रकाश से कथित तौर पर आप विधायकों की बदसलूकी के बाद IAS अफसर हड़ताल पर हैं.

आपको बता दें कि केजरीवाल के धरने का आज चौथा दिन है. आमरण अनशन पर बैठे मनीष सिसोदिया और सत्येंद्र जैन का गुरुवार सुबह रुटीन चैकअप हुआ. चैकअप में पता चला है कि सत्येंद्र जैन की तबीयत ठीक नहीं है.

आपको बता दें कि आम आदमी पार्टी ने बुधवार को उपराज्यपाल अनिल बैजल के खिलाफ उनके निवास के बाहर जमकर प्रदर्शन किया और अब उनकी योजना प्रधानमंत्री ऑफिस (पीएमओ) का घेराव करने की है. अगले रविवार को आम आदमी पार्टी के तमाम कार्यकर्ता पीएमओ का घेराव करेंगे.

ये हैं AAP की 3 मांगें

– एलजी खुद IAS अधिकारियों की गैरकानूनी हड़ताल तुरंत खत्म कराएं, क्योंकि वो सर्विस विभाग के मुखिया हैं.

– काम रोकने वाले IAS अधिकारियों के खिलाफ सख्त एक्शन लें.

– राशन की डोर-स्टेप-डिलीवरी की योजना को मंजूर करें.

 

You May Also Like

English News