Loot: लखनऊ में दिनदहाड़े सर्राफ की दुकान में घुसकर लूटपाट!

लखनऊ: राजधानी लखनऊ में एक के बाद एक अपराधिक घटनाओंं ने शहर की सुरक्षा-व्यवस्था पर सवालिया निशान खड़े कर दिये हैं। बीती रात जहां पारा इलाके में बदमाशों ने एक सर्राफ से लूटपाट की, वहीं शुक्रवार की दोपहर नकाबपोश असलहाधारी बदमाशों ने अलीगंज की पुरनिया चौकी के पास एक सर्राफ की दुकान में घुसकर लाखों की लूट की अंजाम दिया। इस दौरान दुकान में मौजूद एक कर्मचारी ने बदमाशों का विरोध भी किया तो बदमाशों ने उसके सिर पर तमंचे की बट से हमला कर दिया। बदमाश दुकान से 15 लाख के जेवरात लूट ले गये और पुलिस लकीर पीटती रह गयी।


एसपी टीजी हरेन्द्र कुमार ने बताया कि अलीगंज के सेक्टर जी निवासी सचिन रस्तोगी व उसके भाई विपिन रस्तोगी की किशोर ज्वैल्र्स के नाम से सर्राफा की दुकान है। उन्होंने एक साल पहले ही अपने घर के निचले हिस्से में दुकान खोली थी। बताया जाता है कि शुक्रवार की सुबह रोज की तरह दुकान खुली थी। दुकान पर कर्मचारी विशाल और विपिन दोनों मौजूद थे।

दोपहर करीब 3 बजे विपिन खाना खाने के लिए ऊपर चला गया। दुकान में कर्मचारी विशाल अकेला ही मौजूद था। इस बीच दो बाइक सवार तीन बदमाश वहां पहुंचे। सभी बदमाशों ने अपने चेहरे ढक रखे थे और उनके हाथ में असलहा मौजूद था। दुकान में असलहाधारी बदमाशों को देख कर्मचारी विशाल सहम गया।

 

बदमाशों ने विशाल से जेवरात के बारे में पूछा। विशाल ने विरोध किया तो बदमाशों ने उसके सिर पर तमंचे की बट से हमला कर दिया। इसके बाद बदमाशों ने काउंटर में रखे करीब 15 लाख रुपये के हीरे, सोने और चांदी के जेवरात लूटे और कर्मचारी विशाल को जान से मारने की धमकी देते हुए भाग निकले। बदमाशों के भागते ही विशाल ने शोर मचा दिया।

शोर सुन दुकान मालिक विपिन नीचे पहुंचा तो दुकान का हाल देख वह सन्न रह गया। दुकान मालिक सचिन ने लूट की सूचना फौरन पुलिस कंट्रोल रूम को दी। सूचना मिलते ही मौके पर आईजी जोन जयनारायण सिंह, एसएसपी दीपक कुमार सहित अन्य अधिकारी भी पहुंच गये। पुलिस ने छानबीन के लिए फिंगर प्रिंट यूनिट को भी बुला लिया। फिलहाल इस मामले में अलीगंज पुलिस ने सर्राफ की तहरीर पर लूट की रिपोर्ट दर्ज कर ली है। आईजी जोन का कहना है कि बदमाशों की तलाश में पुलिस व क्राइम ब्रांच की टीम को लगा दिया गया है।

सीसीटीवी कैमरे में कैद हुई घटना
सर्राफ की दुकान में घुसकर लूटपाट करने वाले बदमाशों को शायद इस बात का पता था कि दुकान में सीसीटीवी कैमरा लगा है। दुकान में घुसे तीनों बदमाशों के चेहरे पूरी तरह ढके हुए थे। उनके हाथ में असलहे थे। पुलिस ने सीसीटीवी कैमरे की फुटेज अपने कब्जे में ले ली है और उसकी आधार पर बदमाशों की धर-पकड़ में लगी है।

10 मीटर दूरी पर अनियंत्रित होकर गिरा बदमाश
लूटपाट कर दूकान से भागते हुए 10 मीटर दूर पहुंचते ही उनकी बाइक लड़ गयी। जिससे एक बाइक पर सवार तीन बदमाश गिर गए और हाथ में लुटे हुए जेवरात गिर पड़े। तब तक दूसरी बाइक पर सवार बदमाश पीछे से आ गये। वह गिरे हुए जेवरात को उठाकर वहां से फरार हो गये।

You May Also Like

English News