Namaz: हरियाणा के सीएम खट्टर ने नमाज को लेकर दिया बयान, जानिए क्या कहा?

हरियाणा: हरियाणा के गुडग़ांव में हाल के दिनों में शुक्रवार की नमाज में हिंदूवादी संगठनों की ओर से बाधा पहुंचाए जाने की घटनाओं पर हरियाणा के सीएम मनोहर लाल खट्टर ने टिप्पणी की है। सीएम खट्टर ने रविवार को कहा कि नमाज मस्जिद या ईदगाह के अंदर ही पढऩी चाहिए। एएनआई से बातचीत में खट्टर ने कहा हमारी ड्यूटी है कि कानून और व्यवस्था को बनाए रखा जाए।

खुले में नमाज पढऩे का प्रचलन बढ़ा है। सार्वजनिक स्थानों पर नमाज पढऩे की बजाय मस्जिद और ईदगाह में जाना चाहिए। हरियाणा के गुरुग्राम में हाल के दिनों में शुक्रवार की नमाज में हिंदूवादी संगठनों की ओर से बाधा पहुंचाए जाने की घटनाओं पर हरियाणा के सीएम मनोहर लाल खट्टर ने टिप्पणी की है। सीएम खट्टर ने रविवार को कहा कि नमाज मस्जिद या ईदगाह के अंदर ही पढऩी चाहिए।

एएनआई से बातचीत में खट्टर ने कहाए श्यह हमारी ड्यूटी है कि कानून और व्यवस्था को बनाए रखा जाए। खुले में नमाज पढऩे का प्रचलन बढ़ा है। सार्वजनिक स्थानों पर नमाज पढऩे की बजाय मस्जिद और ईदगाह में जाना चाहिए। शुक्रवार को गुडग़ांव में जो हुआ उसकी तैयारी करीब एक महीने से चल रही थी।

6 अप्रैल को वजीराबाद गांव के कुछ लोगों ने सेक्टर 43 के ग्राउंड में नमाज पढ़े जाने का विरोध किया था। इसके बाद सेक्टर 53 पुलिस थाने में एफआईआर दर्ज कराई गई थी और 6 लोगों को अरेस्ट किया गया था।

हिंदूवादी संगठनों के कार्यकर्ताओं के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराए जाने के बाद संयुक्त हिंदू संघर्ष समिति के बैनर तले विरोध प्रदर्शन भी हुए थे। विरोध करने वाले लोगों को कहना था कि जिन 6 युवाओं के खिलाफ केस दर्ज किए गए हैं, वे सरकारी जमीन पर नमाज पढ़े जाने का विरोध कर रहे थे। यही नहीं उनका यह भी पक्ष था कि सरकारी जमीनों पर कब्जे की रणनीति के तहत वहां नमाज पढ़ी जा रही है।

You May Also Like

English News