पंजाब – TOS News https://tosnews.com Latest Hindi Breaking News and Features Mon, 06 Aug 2018 05:39:17 +0000 en-US hourly 1 https://wordpress.org/?v=4.9.8 https://tosnews.com/wp-content/uploads/2017/03/tosnews-favicon-45x45.png पंजाब – TOS News https://tosnews.com 32 32 दलितों के लिए मोदी सरकार ने किए अच्छे काम, भाजपा से जारी रहेगा गठबंधन: पासवान https://tosnews.com/%e0%a4%a6%e0%a4%b2%e0%a4%bf%e0%a4%a4%e0%a5%8b%e0%a4%82-%e0%a4%95%e0%a5%87-%e0%a4%b2%e0%a4%bf%e0%a4%8f-%e0%a4%ae%e0%a5%8b%e0%a4%a6%e0%a5%80-%e0%a4%b8%e0%a4%b0%e0%a4%95%e0%a4%be%e0%a4%b0-%e0%a4%a8/140481 Sun, 05 Aug 2018 12:02:39 +0000 https://tosnews.com/?p=140481 चंडीगढ़। केंद्रीय खाद्य एवं आपूर्ति व उपभोक्ता मामले मंत्री रामविलास पासवान ने कहा कि दलितों के हित को लेकर केंद्र सरकार के चार वर्षों

The post दलितों के लिए मोदी सरकार ने किए अच्छे काम, भाजपा से जारी रहेगा गठबंधन: पासवान appeared first on TOS News.

]]>
चंडीगढ़। केंद्रीय खाद्य एवं आपूर्ति व उपभोक्ता मामले मंत्री रामविलास पासवान ने कहा कि दलितों के हित को लेकर केंद्र सरकार के चार वर्षों के योगदान बीते तमाम सालों पर भारी हैं। लोकसभा में बीते दिन एससीएसटी एक्ट में संशोधन को लेकर बिल पेश किया जा चुका है। उम्मीद है कि सोमवार तक उसे पास करवा लिया जाएगा। उसके बाद राज्यसभा में इसे पेश किया जाएगा। उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार के इस फैसले से पूरे दलित समाज के साथ सालों से चली आ रही धक्केशाही बंद होगी।

पासवान ने कहा कि 2019 लोकसभा चुनाव में भी उनकी लोक जनशक्ति पार्टी का गठबंधन भाजपा व सहयोगी दलों के साथ जारी रहेगा। दिल्ली में लालू प्रसाद यादव के बेटे तेजस्वी यादव की तरफ से बिहार सरकार के खिलाफ शुरू किए जाने वाले धरना व रोष मार्च को लेकर पासवान ने कहा कि लालू का पूरा परिवार ही भ्रष्टाचार में डूबा है।

सीसीएल को लेकर गतिरोध बरकरार, पासवान ने पल्ला झाड़ा

चंडीगढ़ के पंजाब भवन में पत्रकारों से बातचीत में पासवान ने कहा कि पंजाब व केंद्र के बीच 31 हजार करोड़ रुपये की कैश क्रेडिट लिमिट को लेकर चल रहे विवाद पर वह कोई टिप्पणी नहीं करना चाहते। गौरतलब है कि पंजाब के वित्त मंत्री मनप्रीत बादल बीते सप्ताह ही घोषणा कर चुके हैं कि इस मुद्दे को निपटा लिया गया है। पासवान से मुलाकात के बाद पंजाब के खाद्य एवं आपूर्ति मंत्री भारत भूषण आशू ने कहा है कि अगले सप्ताह केंद्रीय वित्त मंत्री अरुण जेटली के स्तर से भी इस मामले का निपटारा होने की उम्मीद की जा रही है।

पासवान ने कहा कि पंजाब में अनाज रखने की क्षमता को बढ़ाने पर काम किया जा रहा है। अभी पंजाब में 158 लाख टन अनाज रखने की क्षमता है, इसे चार लाख टन और बढ़ाया जा रहा है। साथ ही 21 लाख टन और क्षमता बढ़ाने के प्रस्ताव पर काम हो रहा है।  पासवान ने केंद्रीय अनाज खरीद एजेंसीज के अफसरों के साथ बैठक भी की।

उन्होंने कहा कि हरियाणा में 116 लाख टन अनाज भंडारण की व्यवस्था है, जो मौजूदा समय में लगभग फुल है। सभी गोदाम अनाज से भरे हैं। करीब चार लाख टन अनाज और रखने की गुंजाइश ही हरियाणा में रह गई है। इसे 9.5 लाख बढ़ाने की योजना पर विचार किया जा रहा है। इसी प्रकार पंजाब में भी 4 लाख टन भंडारण की सुविधा बढ़ाई जा रही है और 21 लाख टन के प्रस्ताव पर काम हो रहा है।

केंद्रीय मंत्री ने कहा कि  राशन कार्ड को आधार कार्ड के साथ लिंक करने का काम चल रहा है। 88 फीसद काम पूरा हो चुका है। इस प्रक्रिया के दौरान दो करोड़ 62 लाख राशन कार्ड फर्जी पाए गए हैं। इन राशन कार्डों के जरिए 4 करोड़ लाभार्थियों को फर्जी तरीके से राशन जारी किया जा रहा था। कुछ समय बाद सार्वजनिक राशन वितरण प्रणाली की व्यवस्था को और ज्यादा पारदर्शी बनाकर सभी को इसका लाभ देने की योजना पर पूरी गंभीरता के साथ काम चल रहा है।

पासवान ने कहा, दुनिया में भारत ही एक ऐसा देश है, जहां पर इतनी बड़ी संख्या में लोगों को 2 रुपये व 3 रुपये किलो गेहूं व चावल दिया जाता है। सरकार 20 व 30 रुपये किलो की सब्सिडी देती है। एक सवाल के जवाब में उन्होंने कहा कि चार वर्षों में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सरकार ने हर क्षेत्र व हर वर्ग के लिए जो काम किए हैं, वह बीते तमाम सालों में कोई भी सरकार नहीं कर पाई है। चाहे दलितों के हितों का मामला हो या फिर सामान्य वर्ग के हितों का।

The post दलितों के लिए मोदी सरकार ने किए अच्छे काम, भाजपा से जारी रहेगा गठबंधन: पासवान appeared first on TOS News.

]]>
पंजाब: चीमा ने खोला खैहरा के खिलाफ मोर्चा https://tosnews.com/%e0%a4%aa%e0%a4%82%e0%a4%9c%e0%a4%be%e0%a4%ac-%e0%a4%9a%e0%a5%80%e0%a4%ae%e0%a4%be-%e0%a4%a8%e0%a5%87-%e0%a4%96%e0%a5%8b%e0%a4%b2%e0%a4%be-%e0%a4%96%e0%a5%88%e0%a4%b9%e0%a4%b0%e0%a4%be-%e0%a4%95/140475 Sun, 05 Aug 2018 12:01:58 +0000 https://tosnews.com/?p=140475 संगरूर। नेता प्रतिपक्ष बनने के बाद पहली आम आदमी पार्टी के विधानसभा क्षेत्र दिड़बा के विधायक एडवोकेट हरपाल सिंह चीमा ने पार्टी के विधायक

The post पंजाब: चीमा ने खोला खैहरा के खिलाफ मोर्चा appeared first on TOS News.

]]>
संगरूर। नेता प्रतिपक्ष बनने के बाद पहली आम आदमी पार्टी के विधानसभा क्षेत्र दिड़बा के विधायक एडवोकेट हरपाल सिंह चीमा ने पार्टी के विधायक सुखपाल खैहरा के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है। खैहरा की जगह पर नेता प्रतिपक्ष बने चीमा ने दो टूक शब्दों में कहा कि आप की महिला विधायकों के अपमान पर पार्टी के बागी नेता सुखपाल खैहरा व उनके साथियों को माफी मांगनी होगी, वरना कोर्ट जाकर उनके खिलाफ कानूनी कार्रवाई करने से भी गुरेज नहीं किया जाएगा।

स्थानीय रेस्ट हाउस में प्रेस कांफ्रेंस में चीमा ने कहा कि जिस तरह की बोली उनके लिए सुखपाल सिंह खैहरा उपयोग कर रहे हैं, वह समूचे दलित भाईचारे का निरादर करने वाली है और  उनकी सोच में राजशाही झलकती है। उन्होंने कहा कि विधानसभा क्षेत्र जगराओं की विधायक नेता सरबजीत कौर माणूके, विधायक बलजिंदर कौर व विधायक रूबी के खिलाफ सोशल मीडिया पर जो एतराज योग्य तस्वीरें डालकर उन पर निंदनीय शब्दावली उपयोग की गई है, वह खैहरा के कहने पर उनके एक समर्थक ने अपलोड की है। जो भी गलत प्रचार हो रहा है, वह सब सुखपाल खैहरा के इशारे पर ही हो रहा है। खैहरा व साथियों के इस व्यवहार के खिलाफ अदालत का दरवाजा खटखटाया जाएगा।

उन्होंने कहा कि खैहरा द्वारा यह कहना कि इंकलाब-जिंदाबाद का नारा पंजाब की धरती पर लगाना बंद कर देना चाहिए। यह अस्पष्ट रूप में शहीद भगत सिंह, राजगुरु, सुखदेव व करतार सिंह सराभा सहित हजारों शहीदों का निरादर है। इसके बदले उन्हें पंजाब के लेागों से माफी मांगनी चाहिए।

नाराज पदाधिकारियों व वर्करों को मनाएंगे

चीमा ने कहा कि जो जिला प्रधान अन्य पदाधिकारी व विधायक सुखपाल सिंह खैहरा के गुमराह होकर बठिंडा रैली में गए हैं या जिन्होंने इस्तीफे दिए हैं उन्हें वापस लाया जाएगा। उन्होंने अभी कुछ विधायक गुमराह हो रहे हैं, जिनसे बातचीत चल रही है और वह जल्द ही पार्टी की विचारधारा का हिस्सा होंगे।

कैप्टन सरकार को वादे याद दिलाएगी आप

चीमा ने कहा कि विधानसभा सत्र से लेकर गांव-गांव तक अभियान चलाकर कांग्र्रेस सरकार की तरफ से किए वादे सरकार को याद दिलाए जाएंगे। उन्होंने कहा कि जिन वादों के सहारे कांग्रेस सत्ता में आई है, वह वादे सरकार भूल चुकी है और आम आदमी पार्टी विपक्ष में अपनी पूरी जिम्मेदारी निभाते हुए सरकार को हर मोर्चे पर उसके वादे याद दिलाएगी। उन्होंने कहा कि आम आदमी पार्टी बिल्कुल एकजुट है।

आप को तोडऩे की कोशिश में बैंस ब्रदर्स

चीमा ने कहा कि बैंस ब्रदर्स आम आदमी पार्टी को तोड़ने के लिए भाजपा का सहयोग ले रहे हैं, जिसे किसी भी कीमत पर कामयाब नहीं होने दिया जाएगा। उन्होंने कहा कि बठिंडा कन्वेंशन में पहुंचने वाली भीड़ की जांच करवाकर देख लें, वहां किस किस पार्टी ने अपने वर्कर पहुंचे थे।

खैहरा दलित विरोधी : सरबजीत

कांफ्रेंस में आप पार्टी की सदन की उपनेता सरबजीत कौर माणूके ने कहा कि उन्होंने दलित होने के नाते विधानसभा में एक वर्ष पांच माह खैहरा का साथ दिया, लेकिन उन्होंने एक दलित परिवार से उठे हरपाल सिंह चीमा का एक दिन भी साथ नहीं दिया। इससे पता चलता है कि वह रजवाड़े हैं व दलित नेताओं को अपने से बड़े पद पर देखना नहीं चाहते।

आप की महिला विंग ने खैहरा के खिलाफ मैदान में

वहीं, आम आदमी पार्टी के महिला विंग की आब्जर्वर और विधायक प्रो. बलजिन्दर कौर, सूबा प्रधान राज लाली गिल और सह-प्रधान जीवन जोत कौर ने चंडीगढ़ में प्रेस कांफ्रेंस करके संयुक्त रूप से कहा कि  आप की महिला विधायकों के बारे में सोशल मीडिया पर सुखपाल सिंह खैहरा के करीबी नेताओं द्वारा की गई अपमानजनक टिप्पणियों को लेकर खैहरा माफी मांगे। इन्होंने कहा कि अगर दो दिन में खैहरा ने माफी नहीं मांगी तो वह आगे की कारवाई करेंगी।

बता दें खैहरा के समर्थकों ने विधान सभा में सदन में की उप नेता सरबजीत कौर, पार्टी के महिला विंग की आब्जर्वर और विधायक प्रो. बलजिन्दर कौर, बठिंडा से विधायक रुपिन्दर कौर रूबी के बारे में फेसबुक और सोशल मीडिया पर घटिया स्तर की मुहिम चलाई हुई। इसके तहत खैहरा समर्थक आप महिला विधायक की अपमानजनक फोटो सोशल मीडिया अपलोड की जा रही हैं और भद्दी शब्दावली इस्तेमाल की जा रही है, जो निंदनीय है।

The post पंजाब: चीमा ने खोला खैहरा के खिलाफ मोर्चा appeared first on TOS News.

]]>
राम जन्मभूमि निर्माण न्यास के नाम पर सामने अाया BJP नेता से ठगी का मामला https://tosnews.com/%e0%a4%b0%e0%a4%be%e0%a4%ae-%e0%a4%9c%e0%a4%a8%e0%a5%8d%e0%a4%ae%e0%a4%ad%e0%a5%82%e0%a4%ae%e0%a4%bf-%e0%a4%a8%e0%a4%bf%e0%a4%b0%e0%a5%8d%e0%a4%ae%e0%a4%be%e0%a4%a3-%e0%a4%a8%e0%a5%8d%e0%a4%af/140477 Sun, 05 Aug 2018 12:01:43 +0000 https://tosnews.com/?p=140477 चंडीगढ़। शहर के नामचीन उद्योगपति एवं भाजपा नेता गिरधारी लाल जिंदल से अयोध्या के श्री राम जन्मभूमि निर्माण न्यास के नाम पर छह लाख रुपये

The post राम जन्मभूमि निर्माण न्यास के नाम पर सामने अाया BJP नेता से ठगी का मामला appeared first on TOS News.

]]>
चंडीगढ़। शहर के नामचीन उद्योगपति एवं भाजपा नेता गिरधारी लाल जिंदल से अयोध्या के श्री राम जन्मभूमि निर्माण न्यास के नाम पर छह लाख रुपये ठगी का मामला सामने आया है। ठगी के आरोपितों ने भाजपा नेता गिरधारी लाल जिंदल को छह लाख रुपये देने की एवज में बड़ा सम्‍मान दिलाने का झांसा दिया।

चंडीगढ़ के भाजपा नेता व उद्योगपति गिरधारीलाल जिंदल से छह लाख रुपये ठगे

बताया जाता है कि उनको राष्ट्रपति से सम्मानित करवाने, उन्हें श्री राम जन्मभूमि निर्माण न्यास आयोध्या संस्थान का हरियाणा का प्रदेशाध्यक्ष बनाने और उन्हें एक लग्जरी गाड़ी व गनमैन आदि दिलाने का झांसा भी दिया। उनसे छह लाख रुपये चेक के जरिए लिए गए। जब भाजपा नेता गिरधारी लाल जिंदल को पता चला कि उनसे धोखधड़ी हुई है, उन्होंने सेक्टर-31 पुलिस थाना में इसकी शिकायत दी। पुलिस ने आरोपित के खिलाफ भादसं की धारा-420 के तहत मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।

पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार, चंडीगढ़ के ही एक निवासी ने भाजपा नेता गिरधारी लाल जिंदल को  दिल्ली के ललित पार्क लक्ष्मी नगर के गंगा अपार्टमेंट निवासी विजेंद्र कुमार से मिलाया था। पुलिसको दी शिकायत में कहा गया है कि आरोपित विजेंद्र कुमार ने गिरधारी लाल जिंदल को झांसा देकर अयोध्‍या के श्री राम जन्मभूमि निर्माण न्यास के नाम पर छह लाख रुपये का चेक ले लिया।

दिया बड़ा सम्‍मान दिलाने का झांसा, चंडीगढ़ पुलिस ने केस दर्ज कर जांच शुरू की

पुलिस को दी शिकायत में जिंदल ने कहा है कि आरोपित विजेंद्र कुमार ने उनको बड़ा सम्‍मान दिलाने सहित कई  वायदे किए। जिंदल को इस फ्रॉड के बारे में तब पता चला जब उन्होंने भाजपा के ही एक अपने मित्र से इस संस्थान के बारे में पूछताछ की। केस के आईओ रोहित कुमार ने बताया कि आरोपित ने श्री राम जन्म भूमि निर्माण न्यास, अयोध्य के नाम पर एक फर्जी संस्था तैयार की हुई थी। आरोपित ने संस्था का बैंक अकाउंट भी खोल कर रखा था। इसी बैंक अकाउंट के नाम पर आरोपित ने गिरधारी लाल जिंदल से चेक लिया था।

पीएम मोदी और उत्तर प्रदेश के सीएम से भी मिलाने की बात कही थी

पुलिस के मुताबिक आरोपित ने संस्था के नाम पर जब गिरधारी लाल जिंदल से पैसे लिए थे, तब उन्हें प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और यूपी के मुख्यमंत्री से भी मिलाने का वादा किया था। इसके साथ ही उसने राष्ट्रपति से सम्मानित करवाने, उन्हें श्री राम जन्मभूमि निर्माण न्यास आयोध्या संस्थान का हरियाणा का प्रदेशाध्यक्ष बनाने और उन्हें एक लग्जरी गाड़ी व गनमैन आदि दिलाने का झांसा भी दिया था।

पंजाब, हरियाणा, यूपी और दिल्ली में कई ठगी हो चुकी हैं

चंडीगढ़ पुलिस के मुताबिक श्री राम जन्म भूमि निर्माण न्यास, अयोध्या के नाम पर पंजाब, हरियाणा, उत्तर प्रदेश और दिल्ली में भी कई लोगों से ठगी हो चुकी है। इस बारे में स्थानीय पुलिस तफ्तीश कर रही हैं। बताया जाता है कि अयोध्या में इसको लेकर कई बार संस्थानों ने स्थानीय सरकार और केंद्र सरकार को भी मंदिर बनाए जाने के नाम पर लोगों से पैसों की ठगी को रोकने के लिए कई बार मांग पत्र सौंपा है।

कहां से शुरू हुआ धोखाधड़ी का पूरा खेल

पुलिस को जिंदल द्वारा दी गई शिकायत के अनुसार भाजपा नेता गिरधारी लाल जिंदल से धोखाधड़ी का पूरा खेल चंडीगढ़ के शिव मानस मंदिर से शुरू हुआ। आरोपित विजेंद्र कुमार शिव मानस मंदिर के चेयरमैन व भाजपा के वरिष्ठ नेता बाल कृष्ण कपूर के संपर्क में था। कुछ दिनों पहले ही विजेंद्र कुमार यहां आया था। आरोपित ने भाजपा नेता बाल कृष्ण कपूर से मंदिर के निर्माण पर सहयोग दिए जाने के लिए पैसों की मदद मांगी।

पुलिस के अनुसार, इस पर बाल कृष्ण कपूर ने भाजपा नेता व नामचीन उद्योगपति गिरधारी लाल जिंदल से मिलाया। गिरधारी लाल ने अपने दोस्त बाल कृष्ण कपूर के भरोसे पर आरोपित विजेंद्र कुमार को चेक दे दिया। बालकृष्ण कपूर ने बताया कि दिल्ली में नीति आयोग के पास विजेंद्र कुमार और एक अन्य शख्स पवन कुमार राय ने इस संस्थान के किसी महंत को इसके बाद थाली भेंट करने के लिए 11 लाख रुपये की भी मांग की थी। इस पर भी गिरधारी लाल जिंदल राजी हो गए थे, लेकिन समय रहते हुए आरोपित विजेंद्र कुमार के धोखाधड़ी का खेल सामने आ गया।

The post राम जन्मभूमि निर्माण न्यास के नाम पर सामने अाया BJP नेता से ठगी का मामला appeared first on TOS News.

]]>
पंजाब में एक बार फिर AAP की कमान सम्भालेंगे भगवंत मान https://tosnews.com/%e0%a4%aa%e0%a4%82%e0%a4%9c%e0%a4%be%e0%a4%ac-%e0%a4%ae%e0%a5%87%e0%a4%82-%e0%a4%8f%e0%a4%95-%e0%a4%ac%e0%a4%be%e0%a4%b0-%e0%a4%ab%e0%a4%bf%e0%a4%b0-aap-%e0%a4%95%e0%a5%80-%e0%a4%95%e0%a4%ae%e0%a4%be/140469 Sun, 05 Aug 2018 12:00:31 +0000 https://tosnews.com/?p=140469 चंडीगढ़। आम आदमी पार्टी ने सुखपाल सिंह खैहरा ग्रुप की बगावत के बाद एक बार फिर से पार्टी की कमान भगवंत मान के हाथ में

The post पंजाब में एक बार फिर AAP की कमान सम्भालेंगे भगवंत मान appeared first on TOS News.

]]>
चंडीगढ़। आम आदमी पार्टी ने सुखपाल सिंह खैहरा ग्रुप की बगावत के बाद एक बार फिर से पार्टी की कमान भगवंत मान के हाथ में देने की कवायद शुरू कर दी है। खैहरा के सामने पार्टी मान को हथियार बनाकर पंजाब में खत्म हो चुकी आप को नए सिरे से खड़ा करने का फैसला किया है। मान ने केजरीवाल की ओर से अकाली नेता बिक्रम सिंह मजीठिया से नशे के मुद्दे पर माफी मांगने से नाराज होकर प्रधान पद से इस्तीफा दे दिया था। उनके साथ उप प्रधान अमन अरोड़ा ने भी इस्तीफा दिया था। उस समय खैहरा ने इस्तीफा नहीं दिया था, लेकिन केजरीवाल के फैसले की जमकर निंदा की थी।

खैहरा के खिलाफ पार्टी ने किया मान के इस्‍तेमाल का निश्‍चय, संगरूर से ही चलेगी आप की सियासत

खैहरा इसके बाद से ही केजरीवाल के निशाने पर थे। नेता प्रतिपक्ष के रूप में एक साल से ज्यादा के कार्यकाल में खैहरा ने सरकार की नाक में विभिन्न मुद्दों पर दम कर रखा था। रेत खनन के ठेकों में साठगांठ को लेकर पूर्व कैबिनेट राणा गुरजीत सिंह के इस्तीफे से लेकर नशा व अन्य मुद्दों पर सरकार को घेरने वाले खैहरा को पार्टी ने 26 जुलाई को नेता प्रतिपक्ष के पद से हटाकर उनके स्थान पर हरपाल सिंह चीमा को नेता प्रतिपक्ष बना दिया था।

पार्टी के इस फैसले के खिलाफ खैहरा ने अपने समर्थक छह विधायकों के साथ बठिंडा में कन्‍वेंशन आयोजित करके पार्टी से बगावत कर दी थी। 2 अगस्त को हुई कांफ्रेंस में पहुंची कार्यकर्ताओं की भीड़ ने केजरीवाल के फैसलों के खिलाफ खैहरा के साथ खड़ा होने का दावा किया था। इसके बाद पार्टी की नींव पंजाब में हिल गई।

उसी दिन केजरीवाल की दिल्ली में पंजाब के बाकी 13 विधायकों के साथ हुई बैठक में खैहरा के खिलाफ कार्रवाई की बजाय यह घोषणा की थी कि पार्टी फिलहाल कोई कार्रवाई नहीं करेगी, बल्कि सभी को मौका देगी कि वह पार्टी में वापस आ जाएं। पहले उम्मीद की जा रही थी कि अगर कन्‍वेंशन सफल नहीं होती है, तो खैहरा गुट के खिलाफ पार्टी बड़ी कार्रवाई कर सकती है।

कन्‍वेंशन में खैहरा ने एेलान कर दिया था कि 12 अगस्त से पंजाब आप का गठन नए सिरे से किया जाएगा। होशियारपुर से इस संबंध में अभियान की शुरुआत की जाएगी। उसके जवाब में पार्टी ने एक बार फिर से भगवंत मान व अरोड़ा के हाथ में पार्टी की कमान देने का फैसला किया है।

यही वजह है कि शनिवार को बैठक में आप नेताओं की तरफ से इस संबंध में हाईकमान के सामने मांग उठाई गई है, जबकि इस मामले की सियासी स्क्रिप्ट पहले ही लिखी जा चुकी है। मान व अरोड़ा के हाथों में पार्टी की कमान आने के बाद एक बार फिर आधिकारिक तौर पर संगरूर लोकसभा हलके को ही सभी महत्वपूर्ण पदों की जिम्मेवारी के पास चली जाएगी। 

इसडू व बाबा बकाला में होगी कांफ्रेंस

आम आदमी पार्टी के जोनल इंचार्जों व अन्य नेताओं की बैठक शनिवार को चंडीगढ़ के सेक्टर 36 में हुई। बैठक में सभी नेताओं ने एकमत होकर हाईकमान से मांग की है कि भगवंत मान व अमन अरोड़ा का इस्तीफा रद करके उन्हें प्रधान व उप प्रधान के पदों पर बहाल किया जाए। आप नेताओं ने हरपाल सिंह चीमा को नेता प्रतिपक्ष बनाए जाने को लेकर उनका स्वागत किया।

इस मौके पर महिला विधायकों के खिलाफ सोशल मीडिया पर की गई अपमानजनक टिप्पणियों की निंदा की गई। बैठक के बाद सूबा सह प्रधान डॉ. बलबीर सिंह ने बताया कि 13 अगस्त को जालंधर में आप नेताओं की बैठक बुलाई गई है। बैठक में मनीष सिसोदिया विशेष तौर पर शिरकत करेंगे।

The post पंजाब में एक बार फिर AAP की कमान सम्भालेंगे भगवंत मान appeared first on TOS News.

]]>
पाकिस्तानी सेना के हाथ में फंसे हैं इमरान: जनरल जेजे सिंह https://tosnews.com/%e0%a4%aa%e0%a4%be%e0%a4%95%e0%a4%bf%e0%a4%b8%e0%a5%8d%e0%a4%a4%e0%a4%be%e0%a4%a8%e0%a5%80-%e0%a4%b8%e0%a5%87%e0%a4%a8%e0%a4%be-%e0%a4%95%e0%a5%87-%e0%a4%b9%e0%a4%be%e0%a4%a5-%e0%a4%ae%e0%a5%87/140470 Sun, 05 Aug 2018 12:00:16 +0000 https://tosnews.com/?p=140470 लुधियाना। पाकिस्तान में चुनाव से पहले और बाद में इमरान खान के जो बयान आए हैं, उनको सुनकर एक बात तो साफ है कि

The post पाकिस्तानी सेना के हाथ में फंसे हैं इमरान: जनरल जेजे सिंह appeared first on TOS News.

]]>
लुधियाना। पाकिस्तान में चुनाव से पहले और बाद में इमरान खान के जो बयान आए हैं, उनको सुनकर एक बात तो साफ है कि वह पाकिस्तानी सेना के हाथ में फंसे हुए हैं। आइएसआइ और सेना का पाकिस्तानी सरकार पर जो ट्राई-एंगल होल्ड है, इमरान भी उसी के बीच में रहेंगे। वह वैसे ही काम करेंगे, जैसे उनको ऊपर से हिदायत दी जाएगी। मैं नहीं समझता कि वह हमारे देश के प्रधानमंत्री की तरह से काम कर सकेंगे। यह बात भारतीय सेना के पूर्व प्रमुख व अरुणाचल प्रदेश के पूर्व राज्यपाल जनरल जेजे सिंह ने कही।

सिंह यहां एक यूथ फेस्टिवल में पहुंचे थे। इमरान की ताजपोशी पर भारतीय नेताओं के पाकिस्तान जाने की बात पर उन्होंने कहा कि अभी तक ऐसा कोई अंदेशा नहीं है। सरकार स्पष्ट कर चुकी है कि पाकिस्तान पहले आतंकवाद रोके, उसके बाद ही उससे बातचीत की जाएगी। वह एक तरफ बातचीत करते हैं, दूसरी तरफ से कारगिल और पठानकोट पर अटैक हो जाता है।

पर्दे के पीछे हुकूमत चलाने वाले नहीं चाहते शांति

पूर्व सेना प्रमुख जेजे सिंह ने कहा कि पाकिस्तान बयान जारी करता है कि शांति के अलावा दूसरा कोई रास्ता नहीं है। मगर पर्दे के पीछे से हुकूमत चलाने वाले नहीं चाहते कि शांति का माहौल बने। दोनों देशों के लोगों का व्यापार और आपसी भाईचारा बढ़े। ऐसा होने पर उनकी एहमियत खत्म हो जाएगी। अपना उल्लू सीधा करने के लिए वो हमेशा कश्मीर जैसा कोई और मुद्दा खड़ा करते रहेंगे।

पाकिस्तान पर किसी देश की सरकार को भरोसा नहीं

जनरल जेजे सिंह ने कहा कि पाकिस्तान हमारे देश के खिलाफ आतंकी कार्रवाई करता रहेगा, जिसके लिए उसे चीन की शह और मदद मिल रही है। पाकिस्तान पर किसी देश की सरकार भरोसा नहीं कर पा रही है। इससे पाकिस्तान के आम नागरिकों को बहुत सी परेशानियां झेलनी पड़ रही हैं।

देश सेवा के लिए चुनाव लडऩे से इंकार नहीं

चुनाव लड़ने के सवाल पर सिंह ने कहा कि वह देश की सेवा करना चाहते हैं। पहले भी सेवा के लिए चुनाव में उतरे थे, अभी भी विचार वही है। मणिपुर में 12 साल के बच्चे के एनकाउंटर मामले पर सुप्रीम कोर्ट के आए फैसले पर उन्होंने कहा कि उस मामले में सेना गिल्टी अनाउंस नहीं हुआ है। मामले की जांच सीबीआइ कर रही है। भारतीय सेना ने कभी किसी बेकसूर को सजा नहीं दी है। अगर ऐसा करती है तो उसके लिए कानून में बेहद कड़ी सजा भी है।

The post पाकिस्तानी सेना के हाथ में फंसे हैं इमरान: जनरल जेजे सिंह appeared first on TOS News.

]]>
राष्ट्रपति अंगरक्षक में सिर्फ जाट, जाट सिख और राजपूत ही क्यों?, हाई कोर्ट में याचिका दायर https://tosnews.com/%e0%a4%b0%e0%a4%be%e0%a4%b7%e0%a5%8d%e0%a4%9f%e0%a5%8d%e0%a4%b0%e0%a4%aa%e0%a4%a4%e0%a4%bf-%e0%a4%85%e0%a4%82%e0%a4%97%e0%a4%b0%e0%a4%95%e0%a5%8d%e0%a4%b7%e0%a4%95-%e0%a4%ae%e0%a5%87%e0%a4%82/140314 Sat, 04 Aug 2018 12:12:06 +0000 https://tosnews.com/?p=140314 अंग्रेजी शासनकाल में कुछ जाति विशेष को तरजीह देकर उनके कामों को तय कर दिया जाता था, ताकि वे उस वर्ग की अपने प्रति

The post राष्ट्रपति अंगरक्षक में सिर्फ जाट, जाट सिख और राजपूत ही क्यों?, हाई कोर्ट में याचिका दायर appeared first on TOS News.

]]>
अंग्रेजी शासनकाल में कुछ जाति विशेष को तरजीह देकर उनके कामों को तय कर दिया जाता था, ताकि वे उस वर्ग की अपने प्रति ईमानदारी को सुनिश्चित कर सकें। अंग्रेज चले गए, लेकिन उनके द्वारा अपनाई गई प्रथा आज भी राष्ट्रपति की सुरक्षा के लिए गार्ड नियुक्त करते समय अपनाई जा रही है। गार्ड नियुक्त होने के लिए केवल जाट, जट्ट सिख और राजपूत जाति के व्यक्ति ही आवेदन कर सकते हैं। इसे संविधान में दिए गए समानता के अधिकार का उल्लंघन करार देते हुए पंजाब एंड हरियाणा हाईकोर्ट में जनहित याचिका दाखिल की गई है।इस साल की शुरुआत में सर्वोच्च न्यायालय में दायर की गई ऐसी ही एक जनहित याचिका को खारिज कर चीफ जस्टिस ऑफ इंडिया जस्टिस दीपक मिश्र ने कहा था कि भारतीय गणतंत्र के राष्ट्रपति किसी जनहित याचिका का विषय नहीं हो सकते। सुप्रीम कोर्ट से पहले यह मामला दिल्ली हाईकोर्ट में उठाया था और दिल्ली हाईकोर्ट ने भी इसे खारिज कर दिया था।

याचिका पर सुनवाई करते हुए हाईकोर्ट ने याचिकाकर्ता से पूछा है कि आखिर कैसे यह मामला जनहित में आता है और पीआइएल के नियमों के अनुसार कैसे यह याचिका खरी उतरती है। यह याचिका एक स्टूडेंट ने दाखिल की है। उसमें कहा गया है कि हमारे देश के संविधान में प्रावधान है कि प्रत्येक नागरिक को बराबरी का हक दिया जाएगा और जाति, रंग, क्षेत्र आदि के आधार पर किसी से भेदभाव नहीं होगा। इस सबके बावजूद देश के संविधान का सबसे बड़ा पद जो राष्ट्रपति का है, वहां ही गार्ड की नियुक्ति में भेदभाव किया जा रहा है। इस दलील के साथ उन्होंने डायरेक्टर आर्मी भर्ती ऑफिस द्वारा हाल ही में की जा रही नियुक्ति की प्रRिया को रद करने की अपील की है

इस साल की शुरुआत में सर्वोच्च न्यायालय में दायर की गई ऐसी ही एक जनहित याचिका को खारिज कर चीफ जस्टिस ऑफ इंडिया जस्टिस दीपक मिश्र ने कहा था कि भारतीय गणतंत्र के राष्ट्रपति किसी जनहित याचिका का विषय नहीं हो सकते। सुप्रीम कोर्ट से पहले यह मामला दिल्ली हाईकोर्ट में उठाया था और दिल्ली हाईकोर्ट ने भी इसे खारिज कर दिया था।

The post राष्ट्रपति अंगरक्षक में सिर्फ जाट, जाट सिख और राजपूत ही क्यों?, हाई कोर्ट में याचिका दायर appeared first on TOS News.

]]>
फिर सुर्खियों में कैप्टन की पाकिस्तानी मित्र आरूसा आलम का मामला https://tosnews.com/%e0%a4%ab%e0%a4%bf%e0%a4%b0-%e0%a4%b8%e0%a5%81%e0%a4%b0%e0%a5%8d%e0%a4%96%e0%a4%bf%e0%a4%af%e0%a5%8b%e0%a4%82-%e0%a4%ae%e0%a5%87%e0%a4%82-%e0%a4%95%e0%a5%88%e0%a4%aa%e0%a5%8d%e0%a4%9f%e0%a4%a8/140060 Fri, 03 Aug 2018 10:05:33 +0000 https://tosnews.com/?p=140060 चंडीगढ़ : मुख्यमंत्री कैप्टन अमरेंद्र की पाकिस्तान की महिला मित्र आरूसा आलम का मामला फिर सुर्खियों में है। उल्लेखनीय है कि कैप्टन मंत्रिमंडल के शपथ

The post फिर सुर्खियों में कैप्टन की पाकिस्तानी मित्र आरूसा आलम का मामला appeared first on TOS News.

]]>
चंडीगढ़ : मुख्यमंत्री कैप्टन अमरेंद्र की पाकिस्तान की महिला मित्र आरूसा आलम का मामला फिर सुर्खियों में है। उल्लेखनीय है कि कैप्टन मंत्रिमंडल के शपथ समारोह में आरूसा भी मेहमान के रूप में उपस्थित थीं। फिर सुर्खियों में कैप्टन की पाकिस्तानी मित्र आरूसा आलम का मामला

हालांकि तथ्य जगजाहिर था, लेकिन पंजाब के राज्यपाल कार्यालय ने सूचना का अधिकार अधिनियम के तहत आर.टी.आई. एक्टिविस्ट एच.सी. अरोड़ा को मांगी जानकारी आधिकारिक रूप से प्रदान करने से मना कर दिया है।एक्ट के तहत अरोड़ा ने गत वर्ष शपथ ग्रहण समारोह में आमंत्रित मेहमानों की सूची मांगी थी। 

अरोड़ा के अनुसार सूचना अधिकारी शिखा नेहरा ने राज्यपाल की ओर से 23 फरवरी 2006 को जारी अधिसूचना का हवाला देते हुए कहा कि उक्त जानकारी प्रदान नहीं की जा सकती। अरोड़ा ने जवाब पर हैरानी जताते हुए कहा कि उक्त अधिसूचना के तहत पंजाब सरकार के गृह एवं न्याय विभाग के तहत ‘सिक्योरिटी विंग’ को सूचना का अधिकार अधिनियम के तहत जानकारी न देने की छूट प्रदान की गई है। अरोड़ा ने कहा कि प्रथम एपिलिएट अथॉरिटी के पास अपील दायर करेंगे, अगर फिर भी जानकारी नहीं दी गई तो सूचना आयोग का दरवाजा खटखटाया जाएगा।

The post फिर सुर्खियों में कैप्टन की पाकिस्तानी मित्र आरूसा आलम का मामला appeared first on TOS News.

]]>
खैहरा की खुली बगावत, कन्‍वेंशन में कहा-पंजाब में पंजाबी ही चलाएंगे आप https://tosnews.com/%e0%a4%96%e0%a5%88%e0%a4%b9%e0%a4%b0%e0%a4%be-%e0%a4%95%e0%a5%80-%e0%a4%96%e0%a5%81%e0%a4%b2%e0%a5%80-%e0%a4%ac%e0%a4%97%e0%a4%be%e0%a4%b5%e0%a4%a4-%e0%a4%95%e0%a4%a8%e0%a5%8d%e2%80%8d%e0%a4%b5/139879 Thu, 02 Aug 2018 11:01:17 +0000 https://tosnews.com/?p=139879 यहां थर्मल कालोनी के मैदान में आम आदमी पार्टी के बागी गुट के सम्‍मेलन में सुखपाल सिंह खैहरा ने बगावत का बिगुल बजा दिया।

The post खैहरा की खुली बगावत, कन्‍वेंशन में कहा-पंजाब में पंजाबी ही चलाएंगे आप appeared first on TOS News.

]]>
यहां थर्मल कालोनी के मैदान में आम आदमी पार्टी के बागी गुट के सम्‍मेलन में सुखपाल सिंह खैहरा ने बगावत का बिगुल बजा दिया। खैहरा गुट ने इसमें प्रस्‍ताव प‍ारित कर ऐलान किया कि पंजाब में पंजाबी ही आम आदमी पार्टी को चलाएंगे। पंजाब में आप को नए तरीके से खड़ा किया जाएगा। कन्‍वेंशन में आप के संगठन को भंग करने का प्रस्‍ताव भी पारित किया गया। कन्‍वेंशन में खैहरा काे नेता प्रतिपक्ष से हटाने के निर्णय को खारिज क‍रते हुए विधायक दल का नया नेता चुनने की मांग की गई।यहां थर्मल कालोनी के मैदान में आम आदमी पार्टी के बागी गुट के सम्‍मेलन में सुखपाल सिंह खैहरा ने बगावत का बिगुल बजा दिया। खैहरा गुट ने इसमें प्रस्‍ताव प‍ारित कर ऐलान किया कि पंजाब में पंजाबी ही आम आदमी पार्टी को चलाएंगे। पंजाब में आप को नए तरीके से खड़ा किया जाएगा। कन्‍वेंशन में आप के संगठन को भंग करने का प्रस्‍ताव भी पारित किया गया। कन्‍वेंशन में खैहरा काे नेता प्रतिपक्ष से हटाने के निर्णय को खारिज क‍रते हुए विधायक दल का नया नेता चुनने की मांग की गई।   बठिंडा में आयोजित कन्‍वेंशन में प्रस्‍ताव पारित कर प्रदेश में संगठन को किया भंग, नई नियुक्‍त करने का एेलान  उन्‍होंने कहा कि कैप्‍टन सरकार के खिलाफ आवाज उठानी शुरू की तो उन्‍हें साजिश के तहत नेता प्रतिपक्ष के पद से हटा दिया गया। कुछ नेताओं को लगा कि खैहरा का कद बड़ा हो रहा है और उसकाे किनारा करो। उन्‍होंने राज्‍य भर का दौरा कर तीसरा विकल्‍प पैदा करने का एेलान किया। उन्‍होंने कहा कि राज्‍य मे र्इमानदार नेताओं, लोगाें व युवाओं को आगे लाकर आम आदमी पार्टी को नए रूप में खड़ा करेंगे।   सीएम कैंडिडेट बनाना तो दूर सिद्धू को विस चुनाव में टिकट भी नहीं देगी 'आप' यह भी पढ़ें कन्‍वेंशन में सुखपाल सिंह खैहरा अौर कंवर संधू के साथ कई विधा‍यक मौजूद रहे। कन्‍वेंशन में आप के सात विधायक पहुंचे। अनुमान है कि कन्‍वेंशन में करीब 15000 अाप वालंटियर्स अब तक पहुंचे। खैहरा ने कन्‍वेंशन में आप नेतृत्‍व के संग प्रदेश की कैप्‍टन अमरिंदर सिंह सरकार पर भी हमला किया। उन्‍होंने कहा कि कैप्‍टन अमरिंदर सिंह किसी भी तरीके से मुझे जेल में भेजना चाहते हैं। उन्‍होंने शिरोमणि अकाली दल को महान पार्टी बताया, लेकिन बादल परिवार पर जमकर हमले किए।  उन्‍होंने आप नेतृत्‍व पर हमला करते हुए कहा कि पंजाब के लोगों के संग एनआरआइज ने भी काफी भरोसा किया। मैं उनको विश्‍वास दिलाना चाहता हूं कि पंजाब में कांग्रेस और शिअद-भाजपा को छोड़कर तीसरी शक्ति या सरकार की सरकार बनेगी।   आम आदमी पार्टी में 'अरविंद इज आप, आप इज अरविंद' जैसी हालत : गांधी यह भी पढ़ें उन्‍होंने राज्‍य के विभिन्‍न मुद्दाें को उठाते हुए कहा, श्री दरबार सा‍हिब में माथा टेकने के बाद वह पूरे राज्‍य का दौरा शुरू करेंगे। उन्‍होंने कहा, राज्‍य के सभी 22 जिलों में जाएंगे और लोगों से बातकर राज्‍य में तीसरी शक्ति व तीसरी पार्टी काे खड़ा करेंगे। उन्‍होंने कन्‍वेंशन में पंजाबी एकता का नारा दिया।  उन्‍होंने कहा, मनीष सिसोदिया कहते हैं कि खैहरा कभी कांग्रेस व शिअद के खिलाफ नहीं बोलता है। उन्‍होंने लोगों से कहा, मैं आपसे पूछता हूं कि खैहरा ने कांग्रेस व शिअद-भाजपा के खिलाफ बोला कि नहीं। खैहरा ने कहा कि मुझे किसी तरह से किनारा करने की साजिश है। मैंने कांग्रेस व शिअद-भाजपा के खिलाफ आवाज उठाना शुरू किया और कैप्‍टन सरकार की नींद हराम करनी शुरू की तो साजिश कर मुझे नेता प्रतिपक्ष पद से हटा दिया गया। उन्‍हें लगा खैहरा की आवाज दबा देंगे, लेकिन उनकी भूल है। मैं चुप नहीं होने वाला।   फुलका का 'आप' के पदों से इस्‍तीफा, सक्रिय राजनीति छोड़ी यह भी पढ़ें वरिष्‍ठ नेता व आप विधायक कंवर ने कन्‍वेंशन में कई प्रस्‍ताव पेश किए और सुखपाल सिंह खैहरा ने लोगों से इस पर मुहर लगवाई। ये प्रस्‍ताव पेश सर्वसम्‍मति से पास किए गए-   - पंजाब में आम आदमी पार्टी का मुख्‍तयार पंजाबियों के हाथ में होगी और पंजाब में आप से जुड़े सभी फैसले पंजाब के वालंटियर्स लेंगे। यहां लिए गए फैसलों के बारे में केंद्रीय नेतृत्‍व को समय-समय पर अवगत कराया जाता रहेगा।   अाप नेता फुलका बोले- ईवीएम में हुई छेड़छाड़, कैप्टन मौकापरस्त यह भी पढ़ें - पंजाब में पार्टी का नया ढांचा तैयार किया जाएगा। पंजाब में पार्टी का वर्तमान ढ़ांचा नकारा और बेकार है। इसे तत्‍काल प्रभाव से भंग किया जाता है। इसकी जगह नया संगठनात्‍मक ढांचा खड़ा किया जाएगा।  - पार्टी नेतृत्‍व द्वारा सुखपाल खैहरा को नेता प्रतिपक्ष के पद से हटाने का निर्णय गलत है। इस पद पर की गई नियुक्ति को खारिज किया जाता है और मांग की जाती है कि चंडीगढ़ में विधायकों की बैठक बुलाकर विधायक दल के नए नेता का चुनाव किया जाए।  इस कन्‍वेंशन से खैहरा गुट और आप के केंद्रीय नेतृत्‍व में ठन गई है। इस कन्‍वेंशन के बाद पंजाब में आप अब दोफाड़ दिख रही है। बता दें कि आप सुप्रीमो अरविंद केजरीवाल और पंजाब के प्रभारी मनीष सिसोदिया ने कन्‍वेंशन को पार्टी विरोधी करार देकर आप विधायकों और आप वर्कर्स से इसमें भाग न लेने को कहा था।

बठिंडा में आयोजित कन्‍वेंशन में प्रस्‍ताव पारित कर प्रदेश में संगठन को किया भंग, नई नियुक्‍त करने का एेलान

उन्‍होंने कहा कि कैप्‍टन सरकार के खिलाफ आवाज उठानी शुरू की तो उन्‍हें साजिश के तहत नेता प्रतिपक्ष के पद से हटा दिया गया। कुछ नेताओं को लगा कि खैहरा का कद बड़ा हो रहा है और उसकाे किनारा करो। उन्‍होंने राज्‍य भर का दौरा कर तीसरा विकल्‍प पैदा करने का एेलान किया। उन्‍होंने कहा कि राज्‍य मे र्इमानदार नेताओं, लोगाें व युवाओं को आगे लाकर आम आदमी पार्टी को नए रूप में खड़ा करेंगे।

कन्‍वेंशन में सुखपाल सिंह खैहरा अौर कंवर संधू के साथ कई विधा‍यक मौजूद रहे। कन्‍वेंशन में आप के सात विधायक पहुंचे। अनुमान है कि कन्‍वेंशन में करीब 15000 अाप वालंटियर्स अब तक पहुंचे। खैहरा ने कन्‍वेंशन में आप नेतृत्‍व के संग प्रदेश की कैप्‍टन अमरिंदर सिंह सरकार पर भी हमला किया। उन्‍होंने कहा कि कैप्‍टन अमरिंदर सिंह किसी भी तरीके से मुझे जेल में भेजना चाहते हैं। उन्‍होंने शिरोमणि अकाली दल को महान पार्टी बताया, लेकिन बादल परिवार पर जमकर हमले किए।

उन्‍होंने आप नेतृत्‍व पर हमला करते हुए कहा कि पंजाब के लोगों के संग एनआरआइज ने भी काफी भरोसा किया। मैं उनको विश्‍वास दिलाना चाहता हूं कि पंजाब में कांग्रेस और शिअद-भाजपा को छोड़कर तीसरी शक्ति या सरकार की सरकार बनेगी।

उन्‍होंने राज्‍य के विभिन्‍न मुद्दाें को उठाते हुए कहा, श्री दरबार सा‍हिब में माथा टेकने के बाद वह पूरे राज्‍य का दौरा शुरू करेंगे। उन्‍होंने कहा, राज्‍य के सभी 22 जिलों में जाएंगे और लोगों से बातकर राज्‍य में तीसरी शक्ति व तीसरी पार्टी काे खड़ा करेंगे। उन्‍होंने कन्‍वेंशन में पंजाबी एकता का नारा दिया।

उन्‍होंने कहा, मनीष सिसोदिया कहते हैं कि खैहरा कभी कांग्रेस व शिअद के खिलाफ नहीं बोलता है। उन्‍होंने लोगों से कहा, मैं आपसे पूछता हूं कि खैहरा ने कांग्रेस व शिअद-भाजपा के खिलाफ बोला कि नहीं। खैहरा ने कहा कि मुझे किसी तरह से किनारा करने की साजिश है। मैंने कांग्रेस व शिअद-भाजपा के खिलाफ आवाज उठाना शुरू किया और कैप्‍टन सरकार की नींद हराम करनी शुरू की तो साजिश कर मुझे नेता प्रतिपक्ष पद से हटा दिया गया। उन्‍हें लगा खैहरा की आवाज दबा देंगे, लेकिन उनकी भूल है। मैं चुप नहीं होने वाला।

वरिष्‍ठ नेता व आप विधायक कंवर ने कन्‍वेंशन में कई प्रस्‍ताव पेश किए और सुखपाल सिंह खैहरा ने लोगों से इस पर मुहर लगवाई। ये प्रस्‍ताव पेश सर्वसम्‍मति से पास किए गए-

 – पंजाब में आम आदमी पार्टी का मुख्‍तयार पंजाबियों के हाथ में होगी और पंजाब में आप से जुड़े सभी फैसले पंजाब के वालंटियर्स लेंगे। यहां लिए गए फैसलों के बारे में केंद्रीय नेतृत्‍व को समय-समय पर अवगत कराया जाता रहेगा।

– पंजाब में पार्टी का नया ढांचा तैयार किया जाएगा। पंजाब में पार्टी का वर्तमान ढ़ांचा नकारा और बेकार है। इसे तत्‍काल प्रभाव से भंग किया जाता है। इसकी जगह नया संगठनात्‍मक ढांचा खड़ा किया जाएगा।

– पार्टी नेतृत्‍व द्वारा सुखपाल खैहरा को नेता प्रतिपक्ष के पद से हटाने का निर्णय गलत है। इस पद पर की गई नियुक्ति को खारिज किया जाता है और मांग की जाती है कि चंडीगढ़ में विधायकों की बैठक बुलाकर विधायक दल के नए नेता का चुनाव किया जाए।

इस कन्‍वेंशन से खैहरा गुट और आप के केंद्रीय नेतृत्‍व में ठन गई है। इस कन्‍वेंशन के बाद पंजाब में आप अब दोफाड़ दिख रही है। बता दें कि आप सुप्रीमो अरविंद केजरीवाल और पंजाब के प्रभारी मनीष सिसोदिया ने कन्‍वेंशन को पार्टी विरोधी करार देकर आप विधायकों और आप वर्कर्स से इसमें भाग न लेने को कहा था।

The post खैहरा की खुली बगावत, कन्‍वेंशन में कहा-पंजाब में पंजाबी ही चलाएंगे आप appeared first on TOS News.

]]>
नेता प्रतिपक्ष पद छिनने के बाद पंजाब पुलिस वापस लेगी खैहरा की सुरक्षा https://tosnews.com/%e0%a4%a8%e0%a5%87%e0%a4%a4%e0%a4%be-%e0%a4%aa%e0%a5%8d%e0%a4%b0%e0%a4%a4%e0%a4%bf%e0%a4%aa%e0%a4%95%e0%a5%8d%e0%a4%b7-%e0%a4%aa%e0%a4%a6-%e0%a4%9b%e0%a4%bf%e0%a4%a8%e0%a4%a8%e0%a5%87-%e0%a4%95/139638 Wed, 01 Aug 2018 10:21:56 +0000 https://tosnews.com/?p=139638 विधानसभा के नेता प्रतिपक्ष की कुर्सी छिनने के बाद पंजाब पुलिस ने सुखपाल सिंह खैहरा से सुरक्षा वापस लेने की कवायद शुरू कर दी

The post नेता प्रतिपक्ष पद छिनने के बाद पंजाब पुलिस वापस लेगी खैहरा की सुरक्षा appeared first on TOS News.

]]>
विधानसभा के नेता प्रतिपक्ष की कुर्सी छिनने के बाद पंजाब पुलिस ने सुखपाल सिंह खैहरा से सुरक्षा वापस लेने की कवायद शुरू कर दी है। नेता प्रतिपक्ष को सरकार की तरफ से कैबिनेट मंत्री के रैंक के बराबर आवास व सुरक्षा सहित अन्य सुविधाएं दी जाती हैं।विधानसभा के नेता प्रतिपक्ष की कुर्सी छिनने के बाद पंजाब पुलिस ने सुखपाल सिंह खैहरा से सुरक्षा वापस लेने की कवायद शुरू कर दी है। नेता प्रतिपक्ष को सरकार की तरफ से कैबिनेट मंत्री के रैंक के बराबर आवास व सुरक्षा सहित अन्य सुविधाएं दी जाती हैं।   खैहरा की सुरक्षा में पुलिस ने नेता प्रतिपक्ष बनने के बाद 18 जवानों की टीम तैनात की थी। अब उनसे 16 जवान वापस ले लिए जाएंगे। उन्हें केवल 4 जवानों की सुरक्षा प्रदान किए जाने को लेकर संबंधित विभागीय कार्रवाई शुरू कर दी गई है। पुलिस इस मामले में संवैधानिक रूप से स्पीकर के पास पार्टी की तरफ से सूचना आने का इंतजार  कर रही थी।  खैहरा को नेता प्रतिपक्ष के पद से हटाकर हरपाल सिंह चीमा को उस पद पर बैठाने की सूचना पार्टी के पंजाब प्रभारी मनीष सिसोदिया ने 26 जुलाई को ट्वीट करके दी थी। करीब चार बजे सिसोदिया ने इस संबंध में ट्वीट किया था। उसके बाद सभी को पार्टी के इस फैसले के बारे में पता चला था। उससे पहले ही पार्टी ने राष्ट्रीय कन्वीनर अरविंद केजरीवाल के लेटरहेड पर इस संबंध में स्पीकर के दफ्तर में लिखित सूचना दी जा चुकी थी।   सुखपाल खैहरा बोले - आप व कांग्रेस में गठबंधन पर फिलहाल कोई बात नहीं यह भी पढ़ें स्पीकर के दफ्तर में केजरीवाल का पत्र 26 जुलाई को चार बजे तक पहुंचा दिया गया था। उसके बाद पार्टी ने खैहरा के समर्थक विधायकों को फोन करके चीमा को नेता प्रतिपक्ष बनाए जाने संबंधी सूचना देकर उनकी राय ली थी।  पुलिस को लगा कि पार्टी की तरफ से स्पीकर को इसकी सूचना नहीं दी गई थी। पंजाब पुलिस ने स्पीकर के दफ्तर से इस बाबत जानकारी लेने के बाद अपनी विभागीय कार्रवाई की कवायद शुरू कर दी है। पुलिस के एक उच्च अधिकारी ने इसकी पुष्टि करते हुए कहा है कि जल्द ही इस बारे में खैहरा को सूचना दे दी जाएगी।   खैहरा की लंच डिप्लोमेसी को झटका, नहीं आए भगवंत मान व अाप के पांच MLA यह भी पढ़ें अभी पंजाब पुलिस की दो एस्कॉर्ट जिप्सियों से लैस 18 जवानों की टीम उन्हें सुरक्षा प्रदान कर रही है। उम्मीद है कि दो अगस्त की कन्वेंशन से पहले या तत्काल बाद ही पुलिस हरपाल चीमा को उक्त सुरक्षा प्रदान करके खैहरा की सुरक्षा केवल 4 जवानों के हवाले कर देगी।

खैहरा की सुरक्षा में पुलिस ने नेता प्रतिपक्ष बनने के बाद 18 जवानों की टीम तैनात की थी। अब उनसे 16 जवान वापस ले लिए जाएंगे। उन्हें केवल 4 जवानों की सुरक्षा प्रदान किए जाने को लेकर संबंधित विभागीय कार्रवाई शुरू कर दी गई है। पुलिस इस मामले में संवैधानिक रूप से स्पीकर के पास पार्टी की तरफ से सूचना आने का इंतजार  कर रही थी।

खैहरा को नेता प्रतिपक्ष के पद से हटाकर हरपाल सिंह चीमा को उस पद पर बैठाने की सूचना पार्टी के पंजाब प्रभारी मनीष सिसोदिया ने 26 जुलाई को ट्वीट करके दी थी। करीब चार बजे सिसोदिया ने इस संबंध में ट्वीट किया था। उसके बाद सभी को पार्टी के इस फैसले के बारे में पता चला था। उससे पहले ही पार्टी ने राष्ट्रीय कन्वीनर अरविंद केजरीवाल के लेटरहेड पर इस संबंध में स्पीकर के दफ्तर में लिखित सूचना दी जा चुकी थी।

स्पीकर के दफ्तर में केजरीवाल का पत्र 26 जुलाई को चार बजे तक पहुंचा दिया गया था। उसके बाद पार्टी ने खैहरा के समर्थक विधायकों को फोन करके चीमा को नेता प्रतिपक्ष बनाए जाने संबंधी सूचना देकर उनकी राय ली थी।

पुलिस को लगा कि पार्टी की तरफ से स्पीकर को इसकी सूचना नहीं दी गई थी। पंजाब पुलिस ने स्पीकर के दफ्तर से इस बाबत जानकारी लेने के बाद अपनी विभागीय कार्रवाई की कवायद शुरू कर दी है। पुलिस के एक उच्च अधिकारी ने इसकी पुष्टि करते हुए कहा है कि जल्द ही इस बारे में खैहरा को सूचना दे दी जाएगी।

अभी पंजाब पुलिस की दो एस्कॉर्ट जिप्सियों से लैस 18 जवानों की टीम उन्हें सुरक्षा प्रदान कर रही है। उम्मीद है कि दो अगस्त की कन्वेंशन से पहले या तत्काल बाद ही पुलिस हरपाल चीमा को उक्त सुरक्षा प्रदान करके खैहरा की सुरक्षा केवल 4 जवानों के हवाले कर देगी।

The post नेता प्रतिपक्ष पद छिनने के बाद पंजाब पुलिस वापस लेगी खैहरा की सुरक्षा appeared first on TOS News.

]]>
पति का किसी और से था प्रेम संबंध, समझाने पर भी नहीं माना तो नवविवाहिता ने उठाया खौफनाक कदम https://tosnews.com/%e0%a4%aa%e0%a4%a4%e0%a4%bf-%e0%a4%95%e0%a4%be-%e0%a4%95%e0%a4%bf%e0%a4%b8%e0%a5%80-%e0%a4%94%e0%a4%b0-%e0%a4%b8%e0%a5%87-%e0%a4%a5%e0%a4%be-%e0%a4%aa%e0%a5%8d%e0%a4%b0%e0%a5%87%e0%a4%ae-%e0%a4%b8/139257 Mon, 30 Jul 2018 12:05:34 +0000 https://tosnews.com/?p=139257 शादी के दो महीने के बाद ही नवविवाहित के सारे सपने चकनाचूर हो गए। पत्नी को पता चला कि उसके पति के तो किसी

The post पति का किसी और से था प्रेम संबंध, समझाने पर भी नहीं माना तो नवविवाहिता ने उठाया खौफनाक कदम appeared first on TOS News.

]]>
शादी के दो महीने के बाद ही नवविवाहित के सारे सपने चकनाचूर हो गए। पत्नी को पता चला कि उसके पति के तो किसी और युवती से प्रेम संबंध हैं। दोनों अक्सर मिलते हैं। इससे वह परेशान रहने लगी। उसने जब पति को समझाया तो वह अपने परिजनों के साथ मिलकर उससे मारपीट करने लगा। गत रात्रि नवविवाहिता अचानक छत से कूद पड़ी। ससुराली इसे आत्महत्या बता रहे हैं तो मृतका के मायके वाले हत्या।शादी के दो महीने के बाद ही नवविवाहित के सारे सपने चकनाचूर हो गए। पत्नी को पता चला कि उसके पति के तो किसी और युवती से प्रेम संबंध हैं। दोनों अक्सर मिलते हैं। इससे वह परेशान रहने लगी। उसने जब पति को समझाया तो वह अपने परिजनों के साथ मिलकर उससे मारपीट करने लगा। गत रात्रि नवविवाहिता अचानक छत से कूद पड़ी। ससुराली इसे आत्महत्या बता रहे हैं तो मृतका के मायके वाले हत्या।   मृतका कंचन शर्मा उर्फ किरन (26) पुत्री पवन कुमार निवासी शंकर नगर होशियारपुर की रहने वाली थी। किरन की लगभग डेढ़ साल पहले मोहल्ला कच्चा टोबा के निंशांत पुत्र रमेश खन्ना के साथ शादी हुई थी। शादी के बाद कंचन को पता चला कि उसके पति के किसी और महिला के साथ संबंध है। इसको लेकर अक्सर दोनों में विवाद रहता था। इस बारे में कंचन ने अपने मायके परिवार को भी जानकारी दी थी।  छत से कूदने से पहले भी कंचन व उसके पति निशांत में झगड़ा हुआ था। गुस्से में आकर कंचन ने छत से छलांग लगा दी। जब तक उसे अस्पताल पहुंचाया जाता तब तक उसकी मौत हो चुकी थी। उधर, कंचन के परिवार वालों का आरोप है कि उनकी बेटी की हत्या की गई है। अस्पताल में पोस्टमार्टम करवाने पहुंचे कंचन के परिजनों ने बताया कि उनका दामाद निशांत एचडीएफसी बैंक बेगोवाल भुलत्थ जिला कपूरथला में तैनात है।   पत्नी आई थी पंजाब, पति ने न्यूजीलैंड में उठाया खतरनाक कदम यह भी पढ़ें उन्होंने बताया कि शादी के दो माह के बाद कंचन को अपने पति के दूसरी लड़की से प्रेम संबंध का पता चल गया, तो उसने अपने पति को समझाने की बहुत कोशिश की। जब बात नहीं बनी तो कंचन ने सारी बात उन्हें बताई थी। मायके परिवार ने जब निशांत को समझाया तो निशांत ने समझने की जगह कंचन से मारपीट शुरू कर दी।  यह भी पढ़ेंः तीन कारोबारियों ने रखे थे अपने-अपने चोर, मार्केट डिमांड के हिसाब से करवाते थे चोरी   महिला ने पंखे की कुंडी में फंदा लगाकर की खुदकशी यह भी पढ़ें रात 10.40 बजे आया फोन    मायके न जाने दिया तो विवाहिता ने की आत्महत्या, सदमे से सास की भी मौत यह भी पढ़ें अस्पताल में मौजूद कंचन के भाई अमनदीप ने बताया कि रात वह घर पर था। इस दौरान रात 10.40 बजे कंचन का फोन आया कि निशांत और परिवार के अन्य सदस्य उसके साथ मारपीट कर रहे हैं। वह उसे मार डालेंगे। वह उसे आकर ले जाएं। इस पर अमनदीप ने कहा कि वह दस मिनट में आ रहा है। मगर, जैसे ही वह सेशन चौक के पास पहुंचा तो कंचन की ननद अतिथि का फोन आया कि आप सरकारी अस्पताल पहुंचें। इसके बाद जैसे ही अमनदीप सरकारी अस्पताल पहुंचा, तो वहां पर कंचन मृत पड़ी थी।  निशांत को समझाया था   युवती ने संदिग्ध हालत में फंदा लगाकर की आत्महत्या यह भी पढ़ें  मृतका के एक अन्य रिश्तेदार मंजू दास जो चंडीगढ़ से आया था, ने बताया कि कंचन की शादी को लगभग डेढ साल हुआ था और उसे शादी के दो माह बाद ही निशांत के प्रेम संबंध के बारे में पता चल गया था। उस महिला को कंचन ने पहले खुद समझाया। बाद में मायके वालों को बताया। इस पर जब मायके वालों ने भी निशांत को समझाने की कोशिश की, तो उसने समझने के बजाय कंचन से मारपीट शुरू कर दी।  यह भी पढ़ेंः यह गुरुजी एक साल से न नहाए न कपड़े बदले, छापामारी में हुए और भी कई चौंकाने वाले खुलासे  खुदकशी नहीं, हत्या हुई   अस्पताल में कंचन के परिजनों ने ससुराल पर आरोप लगा है कि यह खुदकशी नहीं बल्कि हत्या की गई है। उन्होंने बताया कि कंचन के शरीर पर कहीं भी किसी भी चोट का निशान नहीं है। सिर्फ सिर के पिछले हिस्से पर चोट का निशान होने के कारण ऐसा प्रतीत होता है कि कंचन के सिर पर पहले चोट मारी गई, उसके बाद उसे छत से नीचे गिराया गया।  दादी सास और बुआ सास पर भी हो मामला दर्ज   मृतका के परिजनों ने बताया कि सबसे बड़ी कसूरवार तो कंचन की दादी सास और एक बुआ सास है जो लोकल होशियारपुर में ही रहती हैं। संजू दास ने बताया कि मृतका की दादी सास कंचन को इतना परेशान करती थी कि उसकी कई बार पहले भी मारपीट कर चुकी थी और दूसरी तरफ उसकी बुआ सास जो लोकल होशियारपुर में ही रहती है, ने कंचन के खिलाफ उसके ससुराल को बहुत उकसाया है।  दूसरी शादी को लेकर की कंचन से मारपीट   अमनदीप ने बताया कि जब उसे रात को कंचन का फोन आया, तो चीखने-चिल्लाने की आवाजें आ रही थीं। कंचन रो रही थी और उसने कहा कि भाई यह मुङो मार रहे हैं, तुम जल्दी आ जाओ। कंचन बस इतना ही कह पाई कि निशांत मार-मार कर यह कह रहा है कि उसने दूसरी शादी करनी है, इसलिए या तो उसे छोड़ दे या फिर मर जा। उसके बाद फोन कट गया। बाद में कंचन की ननद का फोन आया कि आप अस्पताल पहुंच जाओ।  तीन लोगों पर मामला दर्ज   पुलिस थाना सिटी ने मृतका के पति निशांत, ननद अतिथि और निशांत की प्रेमिका रितु धामी पर मामला दर्ज कर लिया है। पुलिस ने निशांत को गिरफ्तार कर लिया है और मामले की जांच शुरू कर दी है।

मृतका कंचन शर्मा उर्फ किरन (26) पुत्री पवन कुमार निवासी शंकर नगर होशियारपुर की रहने वाली थी। किरन की लगभग डेढ़ साल पहले मोहल्ला कच्चा टोबा के निंशांत पुत्र रमेश खन्ना के साथ शादी हुई थी। शादी के बाद कंचन को पता चला कि उसके पति के किसी और महिला के साथ संबंध है। इसको लेकर अक्सर दोनों में विवाद रहता था। इस बारे में कंचन ने अपने मायके परिवार को भी जानकारी दी थी।

छत से कूदने से पहले भी कंचन व उसके पति निशांत में झगड़ा हुआ था। गुस्से में आकर कंचन ने छत से छलांग लगा दी। जब तक उसे अस्पताल पहुंचाया जाता तब तक उसकी मौत हो चुकी थी। उधर, कंचन के परिवार वालों का आरोप है कि उनकी बेटी की हत्या की गई है। अस्पताल में पोस्टमार्टम करवाने पहुंचे कंचन के परिजनों ने बताया कि उनका दामाद निशांत एचडीएफसी बैंक बेगोवाल भुलत्थ जिला कपूरथला में तैनात है।

उन्होंने बताया कि शादी के दो माह के बाद कंचन को अपने पति के दूसरी लड़की से प्रेम संबंध का पता चल गया, तो उसने अपने पति को समझाने की बहुत कोशिश की। जब बात नहीं बनी तो कंचन ने सारी बात उन्हें बताई थी। मायके परिवार ने जब निशांत को समझाया तो निशांत ने समझने की जगह कंचन से मारपीट शुरू कर दी।

रात 10.40 बजे आया फोन

अस्पताल में मौजूद कंचन के भाई अमनदीप ने बताया कि रात वह घर पर था। इस दौरान रात 10.40 बजे कंचन का फोन आया कि निशांत और परिवार के अन्य सदस्य उसके साथ मारपीट कर रहे हैं। वह उसे मार डालेंगे। वह उसे आकर ले जाएं। इस पर अमनदीप ने कहा कि वह दस मिनट में आ रहा है। मगर, जैसे ही वह सेशन चौक के पास पहुंचा तो कंचन की ननद अतिथि का फोन आया कि आप सरकारी अस्पताल पहुंचें। इसके बाद जैसे ही अमनदीप सरकारी अस्पताल पहुंचा, तो वहां पर कंचन मृत पड़ी थी।

निशांत को समझाया था

मृतका के एक अन्य रिश्तेदार मंजू दास जो चंडीगढ़ से आया था, ने बताया कि कंचन की शादी को लगभग डेढ साल हुआ था और उसे शादी के दो माह बाद ही निशांत के प्रेम संबंध के बारे में पता चल गया था। उस महिला को कंचन ने पहले खुद समझाया। बाद में मायके वालों को बताया। इस पर जब मायके वालों ने भी निशांत को समझाने की कोशिश की, तो उसने समझने के बजाय कंचन से मारपीट शुरू कर दी।

खुदकशी नहीं, हत्या हुई

अस्पताल में कंचन के परिजनों ने ससुराल पर आरोप लगा है कि यह खुदकशी नहीं बल्कि हत्या की गई है। उन्होंने बताया कि कंचन के शरीर पर कहीं भी किसी भी चोट का निशान नहीं है। सिर्फ सिर के पिछले हिस्से पर चोट का निशान होने के कारण ऐसा प्रतीत होता है कि कंचन के सिर पर पहले चोट मारी गई, उसके बाद उसे छत से नीचे गिराया गया।

दादी सास और बुआ सास पर भी हो मामला दर्ज

मृतका के परिजनों ने बताया कि सबसे बड़ी कसूरवार तो कंचन की दादी सास और एक बुआ सास है जो लोकल होशियारपुर में ही रहती हैं। संजू दास ने बताया कि मृतका की दादी सास कंचन को इतना परेशान करती थी कि उसकी कई बार पहले भी मारपीट कर चुकी थी और दूसरी तरफ उसकी बुआ सास जो लोकल होशियारपुर में ही रहती है, ने कंचन के खिलाफ उसके ससुराल को बहुत उकसाया है।

दूसरी शादी को लेकर की कंचन से मारपीट

अमनदीप ने बताया कि जब उसे रात को कंचन का फोन आया, तो चीखने-चिल्लाने की आवाजें आ रही थीं। कंचन रो रही थी और उसने कहा कि भाई यह मुङो मार रहे हैं, तुम जल्दी आ जाओ। कंचन बस इतना ही कह पाई कि निशांत मार-मार कर यह कह रहा है कि उसने दूसरी शादी करनी है, इसलिए या तो उसे छोड़ दे या फिर मर जा। उसके बाद फोन कट गया। बाद में कंचन की ननद का फोन आया कि आप अस्पताल पहुंच जाओ।

तीन लोगों पर मामला दर्ज

पुलिस थाना सिटी ने मृतका के पति निशांत, ननद अतिथि और निशांत की प्रेमिका रितु धामी पर मामला दर्ज कर लिया है। पुलिस ने निशांत को गिरफ्तार कर लिया है और मामले की जांच शुरू कर दी है।

The post पति का किसी और से था प्रेम संबंध, समझाने पर भी नहीं माना तो नवविवाहिता ने उठाया खौफनाक कदम appeared first on TOS News.

]]>