हेल्थ – TOS News https://tosnews.com Latest Hindi Breaking News and Features Mon, 06 Aug 2018 05:39:17 +0000 en-US hourly 1 https://wordpress.org/?v=4.9.8 https://tosnews.com/wp-content/uploads/2017/03/tosnews-favicon-45x45.png हेल्थ – TOS News https://tosnews.com 32 32 रात को सोने से पहले पहनेंगे गीले मोजे तो रातोंरात सेहत में दिखेगा बड़ा बदलाव https://tosnews.com/%e0%a4%b0%e0%a4%be%e0%a4%a4-%e0%a4%95%e0%a5%8b-%e0%a4%b8%e0%a5%8b%e0%a4%a8%e0%a5%87-%e0%a4%b8%e0%a5%87-%e0%a4%aa%e0%a4%b9%e0%a4%b2%e0%a5%87-%e0%a4%aa%e0%a4%b9%e0%a4%a8%e0%a5%87%e0%a4%82%e0%a4%97/140408 Sun, 05 Aug 2018 10:15:11 +0000 https://tosnews.com/?p=140408 बारिश में भीगने की वजह से अगर आपके मोजे गीले हो गए हैं तो यकीनन आपका बैचेन होना लाजमी है।ऐसी हालत में हर समय

The post रात को सोने से पहले पहनेंगे गीले मोजे तो रातोंरात सेहत में दिखेगा बड़ा बदलाव appeared first on TOS News.

]]>
बारिश में भीगने की वजह से अगर आपके मोजे गीले हो गए हैं तो यकीनन आपका बैचेन होना लाजमी है।ऐसी हालत में हर समय आपका मन करेगा कि आप कब अपने गीले मोजे उतार फेंके। लेकिन अगर आप गीले मोजे पहनने के इन लाजवाब फायदों के बारे में जान जाएंगे तो उन्हें उतारने से पहले एक बार जरूर सोचेंगे। जानिए दिलचस्प वजह…

आपको बुखार हो या फिर जुकाम की परेशानी गीले सॉक्स के ये अनोखे उपाय देंगे आपको इंसेंट राहत।

पेट की समस्या
पेट की समस्या से अगर आप भी हमेशा परेशान रहते हो तो पानी में काले जीरे के साथ सौंफ मिलाकर 10 मिनट के लिए उबाल लें। इस पानी में सॉक्स को भीगाकर पहन लें। आपके बार-बार पेट खराब होने की समस्या छूमंतर हो जाएगी।

बुखार
अगर घर में किसी को तेज बुखार चढ़ा हुआ हो तो उसे सिरके वाले पानी में सॉक्स भीगा दें। सॉक्स से अतिरिक्त पानी उसे निचोड़ कर निकालने के बाद रोगी को मोजे पहना दें। बुखार जल्द ठीक हो जाएगा।

जुकाम
अगर आपको अक्सर जुकाम रहता है तो दूध में एक चम्मच शहद और प्याज का रस मिलाकर इसमें मोजे भीगाकर थोड़ी देर के लिए रख दें। इसके बाद इसे निचोड़कर पहन लें।

The post रात को सोने से पहले पहनेंगे गीले मोजे तो रातोंरात सेहत में दिखेगा बड़ा बदलाव appeared first on TOS News.

]]>
पेट के बल सोते हैं तो जान लें इससे होने वाले नुकसान के बारे में… https://tosnews.com/%e0%a4%aa%e0%a5%87%e0%a4%9f-%e0%a4%95%e0%a5%87-%e0%a4%ac%e0%a4%b2-%e0%a4%b8%e0%a5%8b%e0%a4%a4%e0%a5%87-%e0%a4%b9%e0%a5%88%e0%a4%82-%e0%a4%a4%e0%a5%8b-%e0%a4%9c%e0%a4%be%e0%a4%a8-%e0%a4%b2%e0%a5%87/140081 Fri, 03 Aug 2018 10:22:09 +0000 https://tosnews.com/?p=140081 ये तो हम सभी को मालूम है कि अच्छे स्वास्थय के लिए पर्याप्त नींद लेना बहुत जरूरी है, लेकिन क्या आप जानते हैं कि

The post पेट के बल सोते हैं तो जान लें इससे होने वाले नुकसान के बारे में… appeared first on TOS News.

]]>

ये तो हम सभी को मालूम है कि अच्छे स्वास्थय के लिए पर्याप्त नींद लेना बहुत जरूरी है, लेकिन क्या आप जानते हैं कि सिर्फ पर्याप्त नींद लेना ही काफी नहीं होता है। स्वस्थ रहने के लिए सही पोजिशन में सोना भी बेहद अहम है। अगर आप सहीतरह से नहीं सोते हैं तो इसका सीधा असर आपके स्वास्थ्य पर पड़ता है। पेट के बल सोते हैं तो जान लें इससे होने वाले नुकसान के बारे में...पेट के बल सोते हैं तो जान लें इससे होने वाले नुकसान के बारे में...

The post पेट के बल सोते हैं तो जान लें इससे होने वाले नुकसान के बारे में… appeared first on TOS News.

]]>
हर तरह के दर्द को दूर करता है अंजीर, इस तरह करें अपनी डाइट में शामिल https://tosnews.com/%e0%a4%b9%e0%a4%b0-%e0%a4%a4%e0%a4%b0%e0%a4%b9-%e0%a4%95%e0%a5%87-%e0%a4%a6%e0%a4%b0%e0%a5%8d%e0%a4%a6-%e0%a4%95%e0%a5%8b-%e0%a4%a6%e0%a5%82%e0%a4%b0-%e0%a4%95%e0%a4%b0%e0%a4%a4%e0%a4%be-%e0%a4%b9/140078 Fri, 03 Aug 2018 10:19:39 +0000 https://tosnews.com/?p=140078 आजकल की भागदौड़ भरी जिंदगी में हर किसी को शरीर के किसी न किसी हिस्सें में दर्द की शिकायत आम है। दिनभर दफ्तर में

The post हर तरह के दर्द को दूर करता है अंजीर, इस तरह करें अपनी डाइट में शामिल appeared first on TOS News.

]]>

आजकल की भागदौड़ भरी जिंदगी में हर किसी को शरीर के किसी न किसी हिस्सें में दर्द की शिकायत आम है। दिनभर दफ्तर में घंटों बैठकर काम करना, गलत खानपान, नींद पूरी न होने के कारण कमर दर्द और पैर दर्द जैसी परेशानियां आम है। अगर आप थोड़ा सा अपनी डाइट का ध्यान रखें तो आप कई परेशानियों को खुद से दूर रख सकते हैं। हर तरह के दर्द को दूर करता है अंजीर, इस तरह करें अपनी डाइट में शामिल

The post हर तरह के दर्द को दूर करता है अंजीर, इस तरह करें अपनी डाइट में शामिल appeared first on TOS News.

]]>
गर्म दवाईयों से नहीं तुलसी के पत्तों से दूर करें वायरल फीवर, जानिए कैसे..? https://tosnews.com/%e0%a4%97%e0%a4%b0%e0%a5%8d%e0%a4%ae-%e0%a4%a6%e0%a4%b5%e0%a4%be%e0%a4%88%e0%a4%af%e0%a5%8b%e0%a4%82-%e0%a4%b8%e0%a5%87-%e0%a4%a8%e0%a4%b9%e0%a5%80%e0%a4%82-%e0%a4%a4%e0%a5%81%e0%a4%b2%e0%a4%b8/140072 Fri, 03 Aug 2018 10:16:16 +0000 https://tosnews.com/?p=140072 मौसम बदलते ही लोग वायरल फीवर की चपेट में आने लगते हैं। इससे निपटने के लिए वैसे तो बाजार में कई एंटीबायोटिक मौजूद हैं,

The post गर्म दवाईयों से नहीं तुलसी के पत्तों से दूर करें वायरल फीवर, जानिए कैसे..? appeared first on TOS News.

]]>
मौसम बदलते ही लोग वायरल फीवर की चपेट में आने लगते हैं। इससे निपटने के लिए वैसे तो बाजार में कई एंटीबायोटिक मौजूद हैं, लेकिन शरीर पर इनके साइड इफेक्ट के साथ मुंह का स्वाद भी बिगड़ जाता है। ऐसे में ये आसान घरेलू नुस्खे आपको सेहत के इस दुश्मन से जल्द राहत दिला सकते हैं।

अदरक-
वायरल बुखार को ठीक करने के लिए सबसे पहले अदरक के साथ थोड़ी सी हल्दी, काली मिर्च और चीनी मिलाकर उसका काढ़ा बना लें। दिन में तीन से चार बार इस काढ़े को पीने से बुखार दूर होता है।

धनिया-
एक ग्लास पानी में एक चम्मच साबुत धनिया डालकर उसे पकाएं। पक जाने पर कप में छानकर उसमें स्वादानुसार दूध और चीनी डाल लें। इसको पीने से आपका बुखार झट से गायब हो जाएगा।

तुलसी-
एक मुट्ठी तुलसी के पत्तों और एक चम्मच लौंग पाउडर को एक लीटर पानी में उबाल कर रख लें। इस पानी को हर 2 घंटे के अंतराल पर लें।

मेथी-
रात को एक चम्मच मेथी के दाने भिगोकर रख दें। सुबह मेथी के दाने में नींबू का रस और शहद मिलाकर खाएं। बुखार ठीक हो जाएगा।

चावल-
एक भाग चावल और आधा भाग पानी डालकर पकाएं। जब चावल आधे पक जाएं तो इसके पानी को अलग कर लें। इस पानी में स्वाद के अनुसार नमक मिलाकर पीने से भी वायरल फीवर ठीक हो जाता है।

लहसुन-
लहसुन को छिल लें। अब इसमें शहद लगाकर इसे खाएं। इससे आपका बुखार भाग जाएगा।

मुनक्का-
रात में मुनक्का भिगो दे। सुबह उसे खाने से बुखार दूर होता है।

The post गर्म दवाईयों से नहीं तुलसी के पत्तों से दूर करें वायरल फीवर, जानिए कैसे..? appeared first on TOS News.

]]>
शरीर में होने वाले हर दर्द से आराम दिलाता है यह होममेड आयुर्वेदिक बाम https://tosnews.com/%e0%a4%b6%e0%a4%b0%e0%a5%80%e0%a4%b0-%e0%a4%ae%e0%a5%87%e0%a4%82-%e0%a4%b9%e0%a5%8b%e0%a4%a8%e0%a5%87-%e0%a4%b5%e0%a4%be%e0%a4%b2%e0%a5%87-%e0%a4%b9%e0%a4%b0-%e0%a4%a6%e0%a4%b0%e0%a5%8d%e0%a4%a6/139899 Thu, 02 Aug 2018 11:15:57 +0000 https://tosnews.com/?p=139899 आज के इस बिजी लाइफ स्टाइल में लोगों को सेहत से जुड़ी छोटी-छोटी समस्याओं का सामना करना पड़ता है. कभी-कभी ज्यादा काम, थकान के

The post शरीर में होने वाले हर दर्द से आराम दिलाता है यह होममेड आयुर्वेदिक बाम appeared first on TOS News.

]]>
आज के इस बिजी लाइफ स्टाइल में लोगों को सेहत से जुड़ी छोटी-छोटी समस्याओं का सामना करना पड़ता है. कभी-कभी ज्यादा काम, थकान के कारण शरीर के कुछ हिस्सों में दर्द होने लगता है. शरीर में होने वाले दर्द का कारण ज्यादा मेहनत या मांसपेशियों में खिंचाव आना हो सकता है. बहुत सारे लोग इस दर्द से छुटकारा पाने के लिए पेन किलर का सेवन करते हैं. जिससे आपकी सेहत को बहुत सारे साइड इफेक्ट हो सकते हैं. आज हम आपको एक ऐसे होममेड आयुर्वेदिक बाम के बारे में बताने जा रहे हैं जिसे लगाने से आपके शरीर में होने वाला दर्द ठीक हो जाएगा. आज के इस बिजी लाइफ स्टाइल में लोगों को सेहत से जुड़ी छोटी-छोटी समस्याओं का सामना करना पड़ता है. कभी-कभी ज्यादा काम, थकान के कारण शरीर के कुछ हिस्सों में दर्द होने लगता है. शरीर में होने वाले दर्द का कारण ज्यादा मेहनत या मांसपेशियों में खिंचाव आना हो सकता है. बहुत सारे लोग इस दर्द से छुटकारा पाने के लिए पेन किलर का सेवन करते हैं. जिससे आपकी सेहत को बहुत सारे साइड इफेक्ट हो सकते हैं. आज हम आपको एक ऐसे होममेड आयुर्वेदिक बाम के बारे में बताने जा रहे हैं जिसे लगाने से आपके शरीर में होने वाला दर्द ठीक हो जाएगा.     सामग्री-   मोम- 3 चम्मच, नारियल का तेल- 3 चम्मच, शिया बटर- 3 चम्मच, पिपरमेंट ऑयल- 20 बूँद, लैवेंडर ऑयल- 15 बूँद   बाम बनाने के लिए सबसे पहले मोम, नारियल के तेल और शिया बटर को हल्का गर्म करके पिघला ले. अब इसे थोड़ी देर के लिए छोड़ दें. अब इसमें पिपरमेंट ऑयल और लैवेंडर ऑयल डालकर अच्छे से मिक्स करें. अब इसे एक शीशी  में बंद करके फ्रिज में रख दें. जब यह जम जाए तो इसे बाम की तरह इस्तेमाल करें. इस बाम को लगाने से आपके शरीर में होने वाला दर्द ठीक हो जाएगा.

सामग्री- 

मोम- 3 चम्मच, नारियल का तेल- 3 चम्मच, शिया बटर- 3 चम्मच, पिपरमेंट ऑयल- 20 बूँद, लैवेंडर ऑयल- 15 बूँद 

बाम बनाने के लिए सबसे पहले मोम, नारियल के तेल और शिया बटर को हल्का गर्म करके पिघला ले. अब इसे थोड़ी देर के लिए छोड़ दें. अब इसमें पिपरमेंट ऑयल और लैवेंडर ऑयल डालकर अच्छे से मिक्स करें. अब इसे एक शीशी  में बंद करके फ्रिज में रख दें. जब यह जम जाए तो इसे बाम की तरह इस्तेमाल करें. इस बाम को लगाने से आपके शरीर में होने वाला दर्द ठीक हो जाएगा.

The post शरीर में होने वाले हर दर्द से आराम दिलाता है यह होममेड आयुर्वेदिक बाम appeared first on TOS News.

]]>
इन 5 तरह के लोगों का खून ज्‍यादा पीते हैं मच्‍छर, जानें क्‍यों https://tosnews.com/%e0%a4%87%e0%a4%a8-5-%e0%a4%a4%e0%a4%b0%e0%a4%b9-%e0%a4%95%e0%a5%87-%e0%a4%b2%e0%a5%8b%e0%a4%97%e0%a5%8b%e0%a4%82-%e0%a4%95%e0%a4%be-%e0%a4%96%e0%a5%82%e0%a4%a8-%e0%a4%9c%e0%a5%8d%e2%80%8d%e0%a4%af/139695 Wed, 01 Aug 2018 11:29:48 +0000 https://tosnews.com/?p=139695 जीका, डेंगू और मलेरिया जैसी बीमारियां मच्‍छर या इस प्रजाति के जीवों के काटने या संक्रमण से फैलती हैं। और इन जीवों का बसेरा

The post इन 5 तरह के लोगों का खून ज्‍यादा पीते हैं मच्‍छर, जानें क्‍यों appeared first on TOS News.

]]>
जीका, डेंगू और मलेरिया जैसी बीमारियां मच्‍छर या इस प्रजाति के जीवों के काटने या संक्रमण से फैलती हैं। और इन जीवों का बसेरा आपके आस-पास फैली गंदगी और गंदे पानी में होता है। मच्‍छर जब मनुष्‍यों के संपर्क में आते हैं या काटते हैं तो कई तरह की जानलेवा बीमारियां हो सकती हैं। आमतौर पर तो मच्‍छर हर किसी को काटते हैं, मगर एक रिसर्च में ये बात सामने आई है कि 20 प्रतिशत लोग ऐसे होते हैं जो मच्‍छरों को ज्‍यादा आकर्षित करते हैं, यानी ऐसे लोगों को पहले अपना निशाना बनाते हैं। आज हम आपको इस लेख में बताएंगे कि कुछ लोगों को मच्‍छर ज्‍यादा क्‍यों काटते हैं।जीका, डेंगू और मलेरिया जैसी बीमारियां मच्‍छर या इस प्रजाति के जीवों के काटने या संक्रमण से फैलती हैं। और इन जीवों का बसेरा आपके आस-पास फैली गंदगी और गंदे पानी में होता है। मच्‍छर जब मनुष्‍यों के संपर्क में आते हैं या काटते हैं तो कई तरह की जानलेवा बीमारियां हो सकती हैं। आमतौर पर तो मच्‍छर हर किसी को काटते हैं, मगर एक रिसर्च में ये बात सामने आई है कि 20 प्रतिशत लोग ऐसे होते हैं जो मच्‍छरों को ज्‍यादा आकर्षित करते हैं, यानी ऐसे लोगों को पहले अपना निशाना बनाते हैं। आज हम आपको इस लेख में बताएंगे कि कुछ लोगों को मच्‍छर ज्‍यादा क्‍यों काटते हैं।    1. डार्क कलर के कपड़े देखकर काटते हैं मच्‍छर   आमतौर पर मच्‍छर किसी को देख कर या फिर उसकी गंध से अपना शिकार बनाते हैं। वैज्ञानिकों की मानें तो मच्‍छर अधिक दृश्यमान हैं, खासकर दोपहर बाद अपनी तेज नजरों से मनुष्‍यों को खोजकर काटते हैं। जब आप डार्क कलर के कपड़े पहनते हैं खासकर नेवी ब्‍लू, ब्‍लैक और लाल रंग तो ऐसे लोगों को मच्‍छर असानी से खोज लेते हैं।  2. O ब्‍लड ग्रुप वाले लोगों को निशाना बनाते हैं मच्‍छर खून मच्‍छरों के लिए सब कुछ होता है। सीधे तौर पर आप कह सकते हैं कि मच्‍छर के लिए खून अमृत है। वयस्‍क मच्‍छरों के लिए तो यह प्रोटीन का काम करते हैं मगर फीमेल मच्‍छर अंडे देने के लिए मनुष्‍य के खून में मौजूद प्रोटीन का पोषण प्राप्‍त करते हैं। तो इसमें आश्‍यर्च की बात नहीं है कि कुछ ब्‍लड टाइप मच्‍छरों को ज्‍यादा जरूरत होती है, जिन्‍हें वह अपना निशाना बनाते हैं। O ब्‍लड ग्रुप वाले लोग A ब्‍लड ग्रुप वाले लोगों की तुलना में मच्‍छरों को ज्‍यादा आकर्षित करते हैं जबकि B ब्‍लड ग्रुप के लोगों को सामान्‍य रूप से काटते हैं।  3. कार्बन डाई ऑक्‍साइड गैस करती है आकर्षित   मच्‍छरों के पास इतनी समझ होती कि वह 166 फीट की दूर पर भी कॉर्बन डाई ऑक्‍साइड गैस को पहचान लेते हैं। इस गैस के प्रति मच्‍छर ज्‍यादा आकर्षित होते हैं। हम और आप अपनी श्‍वसन प्रणाली द्वारा ऑक्‍सीजन लेते हैं और कार्बन डाई ऑक्‍साइड छोड़ते हैं। यही कारण है कि मच्‍छर हमारे नाक के आसपास यानी सिर और कान के बाहर मंडराते रहते हैं। इसकी वजह ये गैस ही है।  इसे भी पढ़ें: आखिर क्यों पुरुषों से ज्यादा जीती हैं महिलाएं? ये रहे वैज्ञानिक कारण  4. गर्मी और पसीना भी है वजह कार्बन डाई ऑक्‍साइड के अलावा भी कुछ ऐसे घटक हैं जिनके कारण मच्‍छर हमारी ओर आकर्षित होते हैं। गर्मी के दिनों में शरीर से निकलने वाले पसीने से उत्‍सर्जित लैक्टिक एसिड, यूरिक एसिड और अमोनिया मच्‍छरों को ज्‍यादा आकर्षित करते हैं। जिन लोगों को ज्‍यादा पसीना होता है, जैसे मेहनत करने वाले, जिम करने वाले या फिर गर्मी वाली जगहों पर रहने वाले लोगों को मच्‍छर ज्‍यादा काटते हैं।  इसे भी पढ़ें: प्रदूषण से होती हैं कई गंभीर बीमारियां, इस तरह रखें अपनी फैमिली का खयाल  5. प्रेग्‍नेंसी के दौरान एक रिसर्च में ये बात सामने आई है कि गर्भवती महिलाएं एक सामान्‍य महिला की तुलना में ज्‍यादा कार्बन डाई ऑक्‍साइड गैस रिलीज करती हैं जिसकी वजह से प्रेग्‍नेंट महिला की तरह मच्‍छर ज्‍यादा आकर्षित होते हैं। इसके अलावा गर्भवती महिलाओं का पेट आम दिनों की अपेक्षा अधिक गर्म होते हैं जो मच्‍छरों को आकर्षित करते हैं। यह भी मच्‍छरों के ज्‍यादा काटने की एक वजह है।

 डार्क कलर के कपड़े देखकर काटते हैं मच्‍छर  

आमतौर पर मच्‍छर किसी को देख कर या फिर उसकी गंध से अपना शिकार बनाते हैं। वैज्ञानिकों की मानें तो मच्‍छर अधिक दृश्यमान हैं, खासकर दोपहर बाद अपनी तेज नजरों से मनुष्‍यों को खोजकर काटते हैं। जब आप डार्क कलर के कपड़े पहनते हैं खासकर नेवी ब्‍लू, ब्‍लैक और लाल रंग तो ऐसे लोगों को मच्‍छर असानी से खोज लेते हैं।

 O ब्‍लड ग्रुप वाले लोगों को निशाना बनाते हैं मच्‍छर

खून मच्‍छरों के लिए सब कुछ होता है। सीधे तौर पर आप कह सकते हैं कि मच्‍छर के लिए खून अमृत है। वयस्‍क मच्‍छरों के लिए तो यह प्रोटीन का काम करते हैं मगर फीमेल मच्‍छर अंडे देने के लिए मनुष्‍य के खून में मौजूद प्रोटीन का पोषण प्राप्‍त करते हैं। तो इसमें आश्‍यर्च की बात नहीं है कि कुछ ब्‍लड टाइप मच्‍छरों को ज्‍यादा जरूरत होती है, जिन्‍हें वह अपना निशाना बनाते हैं। O ब्‍लड ग्रुप वाले लोग A ब्‍लड ग्रुप वाले लोगों की तुलना में मच्‍छरों को ज्‍यादा आकर्षित करते हैं जबकि B ब्‍लड ग्रुप के लोगों को सामान्‍य रूप से काटते हैं।

 कार्बन डाई ऑक्‍साइड गैस करती है आकर्षित  

मच्‍छरों के पास इतनी समझ होती कि वह 166 फीट की दूर पर भी कॉर्बन डाई ऑक्‍साइड गैस को पहचान लेते हैं। इस गैस के प्रति मच्‍छर ज्‍यादा आकर्षित होते हैं। हम और आप अपनी श्‍वसन प्रणाली द्वारा ऑक्‍सीजन लेते हैं और कार्बन डाई ऑक्‍साइड छोड़ते हैं। यही कारण है कि मच्‍छर हमारे नाक के आसपास यानी सिर और कान के बाहर मंडराते रहते हैं। इसकी वजह ये गैस ही है।

 गर्मी और पसीना भी है वजह

कार्बन डाई ऑक्‍साइड के अलावा भी कुछ ऐसे घटक हैं जिनके कारण मच्‍छर हमारी ओर आकर्षित होते हैं। गर्मी के दिनों में शरीर से निकलने वाले पसीने से उत्‍सर्जित लैक्टिक एसिड, यूरिक एसिड और अमोनिया मच्‍छरों को ज्‍यादा आकर्षित करते हैं। जिन लोगों को ज्‍यादा पसीना होता है, जैसे मेहनत करने वाले, जिम करने वाले या फिर गर्मी वाली जगहों पर रहने वाले लोगों को मच्‍छर ज्‍यादा काटते हैं।

 प्रेग्‍नेंसी के दौरान

एक रिसर्च में ये बात सामने आई है कि गर्भवती महिलाएं एक सामान्‍य महिला की तुलना में ज्‍यादा कार्बन डाई ऑक्‍साइड गैस रिलीज करती हैं जिसकी वजह से प्रेग्‍नेंट महिला की तरह मच्‍छर ज्‍यादा आकर्षित होते हैं। इसके अलावा गर्भवती महिलाओं का पेट आम दिनों की अपेक्षा अधिक गर्म होते हैं जो मच्‍छरों को आकर्षित करते हैं। यह भी मच्‍छरों के ज्‍यादा काटने की एक वजह है।

The post इन 5 तरह के लोगों का खून ज्‍यादा पीते हैं मच्‍छर, जानें क्‍यों appeared first on TOS News.

]]>
सेहत का हाल बताते हैं नाखून https://tosnews.com/%e0%a4%b8%e0%a5%87%e0%a4%b9%e0%a4%a4-%e0%a4%95%e0%a4%be-%e0%a4%b9%e0%a4%be%e0%a4%b2-%e0%a4%ac%e0%a4%a4%e0%a4%be%e0%a4%a4%e0%a5%87-%e0%a4%b9%e0%a5%88%e0%a4%82-%e0%a4%a8%e0%a4%be%e0%a4%96%e0%a5%82/139354 Tue, 31 Jul 2018 08:41:27 +0000 https://tosnews.com/?p=139354 शरीर में पोषक तत्वों की कमी होने पर कई प्रकार की सेहत से जुड़ी समस्याएं होने लगती हैं. ऐसे में शरीर के कई अंगों

The post सेहत का हाल बताते हैं नाखून appeared first on TOS News.

]]>
शरीर में पोषक तत्वों की कमी होने पर कई प्रकार की सेहत से जुड़ी समस्याएं होने लगती हैं. ऐसे में शरीर के कई अंगों में बदलाव देखने को मिलते हैं. नाखून हमारे शरीर का एक अहम हिस्सा होते हैं. अगर आपके नाखूनों में किसी तरह का बदलाव होने लगे तो यह किसी बीमारी की ओर इशारा हो सकता है. शरीर में पोषक तत्वों की कमी होने पर कई प्रकार की सेहत से जुड़ी समस्याएं होने लगती हैं. ऐसे में शरीर के कई अंगों में बदलाव देखने को मिलते हैं. नाखून हमारे शरीर का एक अहम हिस्सा होते हैं. अगर आपके नाखूनों में किसी तरह का बदलाव होने लगे तो यह किसी बीमारी की ओर इशारा हो सकता है.     1- अगर आपके नाखूनों का रंग पीला है या आपके नाखून बहुत मोटे हैं तो यह  फेफड़ों से जुड़ी बीमारियों का संकेत हो सकता है. इसके अलावा हल्के पीले नाखून एनीमिया, दिल की बीमारी, कुपोषण और लीवर से जुड़ी बीमारियों का संकेत देते हैं. कई बार पीलिया, डायबिटीज, फंगल इन्फेक्शन और सिरोसिस के कारण भी नाखूनों का रंग पीला हो सकता है.   2- आधे सफेद और गुलाबी नाखून किडनी और सिरोसिस बीमारी का संकेत देते हैं.      3- अगर आपके नाखूनों का रंग नीला पड़ने लगे तो यह फेफड़ों में इन्फेक्शन, निमोनिया, दिल की बीमारियों का संकेत हो सकता है. शरीर में सही तरीके से ऑक्सीजन का संचार ना होने पर भी नाखूनों का रंग नीला हो जाता है.   4- लाल और जामुनी रंग के नाखून हाई ब्लड प्रेशर की समस्या का संकेत देते हैं.     5- अगर आपके नाखून टेढ़े मेढ़े है तो यह है खून की कमी के साथ-साथ आनुवांशिक रोग भी हो सकता है.

1- अगर आपके नाखूनों का रंग पीला है या आपके नाखून बहुत मोटे हैं तो यह  फेफड़ों से जुड़ी बीमारियों का संकेत हो सकता है. इसके अलावा हल्के पीले नाखून एनीमिया, दिल की बीमारी, कुपोषण और लीवर से जुड़ी बीमारियों का संकेत देते हैं. कई बार पीलिया, डायबिटीज, फंगल इन्फेक्शन और सिरोसिस के कारण भी नाखूनों का रंग पीला हो सकता है. 

2- आधे सफेद और गुलाबी नाखून किडनी और सिरोसिस बीमारी का संकेत देते हैं. 

3- अगर आपके नाखूनों का रंग नीला पड़ने लगे तो यह फेफड़ों में इन्फेक्शन, निमोनिया, दिल की बीमारियों का संकेत हो सकता है. शरीर में सही तरीके से ऑक्सीजन का संचार ना होने पर भी नाखूनों का रंग नीला हो जाता है. 

4- लाल और जामुनी रंग के नाखून हाई ब्लड प्रेशर की समस्या का संकेत देते हैं. 

5- अगर आपके नाखून टेढ़े मेढ़े है तो यह है खून की कमी के साथ-साथ आनुवांशिक रोग भी हो सकता है.

The post सेहत का हाल बताते हैं नाखून appeared first on TOS News.

]]>
किडनी स्टोन की समस्या से बचाता है अनानास https://tosnews.com/%e0%a4%95%e0%a4%bf%e0%a4%a1%e0%a4%a8%e0%a5%80-%e0%a4%b8%e0%a5%8d%e0%a4%9f%e0%a5%8b%e0%a4%a8-%e0%a4%95%e0%a5%80-%e0%a4%b8%e0%a4%ae%e0%a4%b8%e0%a5%8d%e0%a4%af%e0%a4%be-%e0%a4%b8%e0%a5%87-%e0%a4%ac/139351 Tue, 31 Jul 2018 08:40:14 +0000 https://tosnews.com/?p=139351 अनानास बारिश के मौसम में मिलने वाला एक स्वादिष्ट फल होता है. इसमें भरपूर मात्रा में विटामिन ए, विटामिन सी, पोटेशियम, फाइबर, एंटीऑक्सीडेंट्स और

The post किडनी स्टोन की समस्या से बचाता है अनानास appeared first on TOS News.

]]>
अनानास बारिश के मौसम में मिलने वाला एक स्वादिष्ट फल होता है. इसमें भरपूर मात्रा में विटामिन ए, विटामिन सी, पोटेशियम, फाइबर, एंटीऑक्सीडेंट्स और फास्फोरस मौजूद होते हैं. जो सेहत के लिए बहुत फायदेमंद होते हैं. अनानास का सेवन करने से हमारे शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता मजबूत हो जाती है. अनानास बारिश के मौसम में मिलने वाला एक स्वादिष्ट फल होता है. इसमें भरपूर मात्रा में विटामिन ए, विटामिन सी, पोटेशियम, फाइबर, एंटीऑक्सीडेंट्स और फास्फोरस मौजूद होते हैं. जो सेहत के लिए बहुत फायदेमंद होते हैं. अनानास का सेवन करने से हमारे शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता मजबूत हो जाती है.     1- अगर आपको अर्थराइटिस की समस्या है तो रोजाना अनानास का सेवन करें. अनानास में मैगनीज की भरपूर मात्रा पाई जाती है जो हड्डियों को मजबूत बनाती है. अनानास का सेवन करने से मांसपेशियों और जोड़ों में होने वाली जलन कम हो जाती है और अर्थराइटिस की समस्या से छुटकारा मिलता है.   2- अनानास में विटामिन सी की भरपूर मात्रा पाई जाती है. रोजाना इसका सेवन करने से शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता मजबूत हो जाती है. इसके अलावा अनानास का सेवन करने से बारिश के मौसम में होने वाली बीमारियों से भी छुटकारा मिलता है.      3- अगर आपको किडनी स्टोन की समस्या है तो रोजाना सुबह खाली पेट में एक गिलास अनानास का जूस पिए. ऐसा करने से किडनी स्टोन की समस्या ठीक हो जाती है और दर्द से भी आराम मिलता है.     4- अस्थमा की समस्या में रोजाना अनानास की जूस पीने से फेफड़ों में जमा गंदगी  साफ हो जाती हैं और कफ बनने की प्रक्रिया धीमी हो जाती है. जिससे अस्थमा की बीमारी से आराम मिलता है.

1- अगर आपको अर्थराइटिस की समस्या है तो रोजाना अनानास का सेवन करें. अनानास में मैगनीज की भरपूर मात्रा पाई जाती है जो हड्डियों को मजबूत बनाती है. अनानास का सेवन करने से मांसपेशियों और जोड़ों में होने वाली जलन कम हो जाती है और अर्थराइटिस की समस्या से छुटकारा मिलता है.

2- अनानास में विटामिन सी की भरपूर मात्रा पाई जाती है. रोजाना इसका सेवन करने से शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता मजबूत हो जाती है. इसके अलावा अनानास का सेवन करने से बारिश के मौसम में होने वाली बीमारियों से भी छुटकारा मिलता है.

3- अगर आपको किडनी स्टोन की समस्या है तो रोजाना सुबह खाली पेट में एक गिलास अनानास का जूस पिए. ऐसा करने से किडनी स्टोन की समस्या ठीक हो जाती है और दर्द से भी आराम मिलता है.

4- अस्थमा की समस्या में रोजाना अनानास की जूस पीने से फेफड़ों में जमा गंदगी  साफ हो जाती हैं और कफ बनने की प्रक्रिया धीमी हो जाती है. जिससे अस्थमा की बीमारी से आराम मिलता है.

The post किडनी स्टोन की समस्या से बचाता है अनानास appeared first on TOS News.

]]>
शरीर की गंदगी को साफ करने के कुछ आसान तरीके https://tosnews.com/%e0%a4%b6%e0%a4%b0%e0%a5%80%e0%a4%b0-%e0%a4%95%e0%a5%80-%e0%a4%97%e0%a4%82%e0%a4%a6%e0%a4%97%e0%a5%80-%e0%a4%95%e0%a5%8b-%e0%a4%b8%e0%a4%be%e0%a4%ab-%e0%a4%95%e0%a4%b0%e0%a4%a8%e0%a5%87-%e0%a4%95/139346 Tue, 31 Jul 2018 08:36:19 +0000 https://tosnews.com/?p=139346 सभी लोग स्वस्थ शरीर पाने के लिए बहुत सारे तरीकों का इस्तेमाल करते हैं, पर आपका शरीर तब तक स्वस्थ नहीं रह सकता है

The post शरीर की गंदगी को साफ करने के कुछ आसान तरीके appeared first on TOS News.

]]>
सभी लोग स्वस्थ शरीर पाने के लिए बहुत सारे तरीकों का इस्तेमाल करते हैं, पर आपका शरीर तब तक स्वस्थ नहीं रह सकता है जब तक यह अंदर से साफ ना हो. आज हम आपको कुछ ऐसे तरीके बताने जा रहे हैं जिनका इस्तेमाल करने से आपके शरीर के अंदर मौजूद गंदगी साफ हो जाएगी और आप हमेशा स्वस्थ रहेंगे. सभी लोग स्वस्थ शरीर पाने के लिए बहुत सारे तरीकों का इस्तेमाल करते हैं, पर आपका शरीर तब तक स्वस्थ नहीं रह सकता है जब तक यह अंदर से साफ ना हो. आज हम आपको कुछ ऐसे तरीके बताने जा रहे हैं जिनका इस्तेमाल करने से आपके शरीर के अंदर मौजूद गंदगी साफ हो जाएगी और आप हमेशा स्वस्थ रहेंगे.     1- अगर आप अपने शरीर के अंदर गंदगी को साफ करना चाहते हैं तो भरपूर मात्रा में फल और सब्जियों का सेवन करें. फल और सब्जियों का सेवन करने से लीवर एंजाइम सक्रिय हो जाते हैं और शरीर के अंदर मौजूद गंदगी को बाहर निकालने में मदद करते हैं.   2- हर्बल चाय शरीर को डिटॉक्सफाई करने में मदद करती है. अगर आपको पाचन तंत्र से जुड़ी समस्या है तो कैमोमाइल टी या ग्रीन टी का सेवन करें. यह चाय आपके शरीर में ब्लड सरकुलेशन को बढ़ाती है और शरीर के अंदर मौजूद गंदगी को बाहर निकालती है.      3- लहसुन का सेवन करने से भी बॉडी डिटॉक्स हो जाती है. लहसुन में सल्फ्यूरिक एसिड की भरपूर मात्रा पाई जाती है जो आपके शरीर में ग्लूटाथिओन नाम एंटीऑक्सीडेंट का निर्माण करती है. जिससे आपका शरीर अंदर से साफ हो जाता है.     4- लेमन जूस सेहत के लिए बहुत फायदेमंद होता है. रोजाना एक गिलास पानी में नींबू का रस मिलाकर पीने से शरीर अंदर से साफ हो जाता है. लेमन जूस का सेवन करने से बॉडी का मेटाबॉलिज्म लेवल बढ़ता है और शरीर के अंदर मौजूद विषाक्त पदार्थ दूर हो जाते हैं.

1- अगर आप अपने शरीर के अंदर गंदगी को साफ करना चाहते हैं तो भरपूर मात्रा में फल और सब्जियों का सेवन करें. फल और सब्जियों का सेवन करने से लीवर एंजाइम सक्रिय हो जाते हैं और शरीर के अंदर मौजूद गंदगी को बाहर निकालने में मदद करते हैं. 

2- हर्बल चाय शरीर को डिटॉक्सफाई करने में मदद करती है. अगर आपको पाचन तंत्र से जुड़ी समस्या है तो कैमोमाइल टी या ग्रीन टी का सेवन करें. यह चाय आपके शरीर में ब्लड सरकुलेशन को बढ़ाती है और शरीर के अंदर मौजूद गंदगी को बाहर निकालती है. 

3- लहसुन का सेवन करने से भी बॉडी डिटॉक्स हो जाती है. लहसुन में सल्फ्यूरिक एसिड की भरपूर मात्रा पाई जाती है जो आपके शरीर में ग्लूटाथिओन नाम एंटीऑक्सीडेंट का निर्माण करती है. जिससे आपका शरीर अंदर से साफ हो जाता है. 

4- लेमन जूस सेहत के लिए बहुत फायदेमंद होता है. रोजाना एक गिलास पानी में नींबू का रस मिलाकर पीने से शरीर अंदर से साफ हो जाता है. लेमन जूस का सेवन करने से बॉडी का मेटाबॉलिज्म लेवल बढ़ता है और शरीर के अंदर मौजूद विषाक्त पदार्थ दूर हो जाते हैं.

The post शरीर की गंदगी को साफ करने के कुछ आसान तरीके appeared first on TOS News.

]]>
इन लोगों को नहीं करना चाहिए पपीते का सेवन https://tosnews.com/%e0%a4%87%e0%a4%a8-%e0%a4%b2%e0%a5%8b%e0%a4%97%e0%a5%8b%e0%a4%82-%e0%a4%95%e0%a5%8b-%e0%a4%a8%e0%a4%b9%e0%a5%80%e0%a4%82-%e0%a4%95%e0%a4%b0%e0%a4%a8%e0%a4%be-%e0%a4%9a%e0%a4%be%e0%a4%b9%e0%a4%bf-2/139152 Mon, 30 Jul 2018 10:37:43 +0000 https://tosnews.com/?p=139152 पपीता हमारी सेहत के लिए बहुत फायदेमंद होता है. पपीते में भरपूर मात्रा में मैग्नीशियम, पोटेशियम, नियासिन, प्रोटीन और कैरोटीन जैसे प्राकृतिक गुण मौजूद

The post इन लोगों को नहीं करना चाहिए पपीते का सेवन appeared first on TOS News.

]]>
पपीता हमारी सेहत के लिए बहुत फायदेमंद होता है. पपीते में भरपूर मात्रा में मैग्नीशियम, पोटेशियम, नियासिन, प्रोटीन और कैरोटीन जैसे प्राकृतिक गुण मौजूद होते हैं. इसके अलावा इसमें फाइबर की भी भरपूर मात्रा पाई जाती है जो पाचन तंत्र को मजबूत बनाने में मदद करती है, पर क्या आप जानते हैं कुछ लोगों के लिए पपीते का सेवन हानिकारक होता है. पपीता हमारी सेहत के लिए बहुत फायदेमंद होता है. पपीते में भरपूर मात्रा में मैग्नीशियम, पोटेशियम, नियासिन, प्रोटीन और कैरोटीन जैसे प्राकृतिक गुण मौजूद होते हैं. इसके अलावा इसमें फाइबर की भी भरपूर मात्रा पाई जाती है जो पाचन तंत्र को मजबूत बनाने में मदद करती है, पर क्या आप जानते हैं कुछ लोगों के लिए पपीते का सेवन हानिकारक होता है.     1- गर्भवती महिलाओं के लिए पपीते का सेवन हानिकारक होता है. पपीता खाने से गर्भपात होने का खतरा बढ़ जाता है.   2- अगर आपका ब्लड प्रेशर हाई या लो रहता है तो भूलकर भी पपीते का सेवन ना करें. इससे आपकी सेहत को नुकसान हो सकता है.      3- किडनी स्टोन की समस्या में भी पपीते का सेवन नहीं करना चाहिए. पपीते में विटामिन सी की भरपूर मात्रा मौजूद होती है. एक अध्ययन के अनुसार अधिक मात्रा में विटामिन सी का सेवन करने से किडनी स्टोन की समस्या हो सकती है.   4- स्तनपान कराने वाली महिलाओं को पपीते का सेवन नहीं करना चाहिए. इससे मां और बच्चे दोनों की सेहत को नुकसान हो सकता है.

1- गर्भवती महिलाओं के लिए पपीते का सेवन हानिकारक होता है. पपीता खाने से गर्भपात होने का खतरा बढ़ जाता है. 

2- अगर आपका ब्लड प्रेशर हाई या लो रहता है तो भूलकर भी पपीते का सेवन ना करें. इससे आपकी सेहत को नुकसान हो सकता है. 

3- किडनी स्टोन की समस्या में भी पपीते का सेवन नहीं करना चाहिए. पपीते में विटामिन सी की भरपूर मात्रा मौजूद होती है. एक अध्ययन के अनुसार अधिक मात्रा में विटामिन सी का सेवन करने से किडनी स्टोन की समस्या हो सकती है. 

4- स्तनपान कराने वाली महिलाओं को पपीते का सेवन नहीं करना चाहिए. इससे मां और बच्चे दोनों की सेहत को नुकसान हो सकता है.

The post इन लोगों को नहीं करना चाहिए पपीते का सेवन appeared first on TOS News.

]]>