breaking news – TOS News https://tosnews.com Latest Hindi Breaking News and Features Mon, 06 Aug 2018 12:17:15 +0000 en-US hourly 1 https://wordpress.org/?v=4.9.8 https://tosnews.com/wp-content/uploads/2017/03/tosnews-favicon-45x45.png breaking news – TOS News https://tosnews.com 32 32 ट्वीट पर सियासत, कमलनाथ बोले- शिवराज ने माना, गांवों में सड़कें नहीं https://tosnews.com/%e0%a4%9f%e0%a5%8d%e0%a4%b5%e0%a5%80%e0%a4%9f-%e0%a4%aa%e0%a4%b0-%e0%a4%b8%e0%a4%bf%e0%a4%af%e0%a4%be%e0%a4%b8%e0%a4%a4-%e0%a4%95%e0%a4%ae%e0%a4%b2%e0%a4%a8%e0%a4%be%e0%a4%a5-%e0%a4%ac%e0%a5%8b/140676 Mon, 06 Aug 2018 11:38:49 +0000 https://tosnews.com/?p=140676 मप्र में विधानसभा चुनाव नजदीक आने से भाजपा-कांग्रेस के बीच जुबानी जंग तेज हो गई है। सोशल मीडिया पर राजनीतिक प्रतिद्वंदियों के बयानों का

The post ट्वीट पर सियासत, कमलनाथ बोले- शिवराज ने माना, गांवों में सड़कें नहीं appeared first on TOS News.

]]>
मप्र में विधानसभा चुनाव नजदीक आने से भाजपा-कांग्रेस के बीच जुबानी जंग तेज हो गई है। सोशल मीडिया पर राजनीतिक प्रतिद्वंदियों के बयानों का वार-पलटवार चल रहा है। रविवार को सुदूर जंगल में सड़क नहीं होने के बावजूद टीकाकरण करने के मुख्यमंत्री के ट्वीट पर खूब सियासत हुई। जैसे ही मुख्यमंत्री के टि्वटर हैंडल से यह ट्वीट हुआ, उसके कुछ ही देर बाद पीसीसी अध्यक्ष कमलनाथ ने मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान पर निशाना साधा।मप्र में विधानसभा चुनाव नजदीक आने से भाजपा-कांग्रेस के बीच जुबानी जंग तेज हो गई है। सोशल मीडिया पर राजनीतिक प्रतिद्वंदियों के बयानों का वार-पलटवार चल रहा है। रविवार को सुदूर जंगल में सड़क नहीं होने के बावजूद टीकाकरण करने के मुख्यमंत्री के ट्वीट पर खूब सियासत हुई। जैसे ही मुख्यमंत्री के टि्वटर हैंडल से यह ट्वीट हुआ, उसके कुछ ही देर बाद पीसीसी अध्यक्ष कमलनाथ ने मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान पर निशाना साधा।  कमलनाथ ने कहा कि सीएम ऐसा डमरू बजाते हैं कि सड़कें अमेरिका से अच्छी हो जाती हैं और अब मुख्यमंत्री खुद स्वीकार कर रहे हैं कि सड़क नहीं होने की वजह से स्वास्थ्य विभाग की टीम को पैदल और नाव से जाना पड़ा। आईटी सेल के अध्यक्ष शिवराज सिंह डाबी ने कहा कि कमलनाथ मप्र की भौगोलिक स्थिति के बारे में नहीं जानते। उन्हें दूरस्थ क्षेत्रों के दौरे करने चाहिए।  सीएम का ट्वीट: छतरपुर के 3 दूरस्थ गांव तक स्वास्थ्य विभाग की टीम द्वारा टीकाकरण करने के साथ मप्र ने मिशन इंद्रधनुष में 100 % सफलता प्राप्त कर ली है। सड़कें न होने से टीम 10 किमी पैदल, नाव से जंगल व अन्य बाधाओं को पार कर पहुंची।   आम आदमी पार्टी ने भी मध्यप्रदेश में ठोकी ताल, आतिशी मार्लेना में कही ये बातें यह भी पढ़ें  कमलनाथ का पलटवार: प्रदेश की सड़कों को अमेरिका से अच्छी बताने वाले शिवराज खुद स्वीकार रहे हैं कि छतरपुर के गांवों में गई स्वास्थ्य विभाग की टीम को सड़क नहीं होने से 10 किमी तक पैदल, नाव से व अन्य बाधाओं को पार कर जाना पड़ा।   सावन के दूसरे सोमवार पर महाकाल ने चंद्रमौलेश्वर रूप में दिए दर्शन यह भी पढ़ें  खाली खजाने से रोज करते हैं घोषणा: कमलनाथ ने बयान दिया कि मुख्यमंत्री जन आशीर्वाद यात्रा में कह रहे हैं, उन्होंने ऐसा डमरू बजाया कि आज प्रदेश ऐसा हो गया, वैसा हो गया। जबकि प्रदेश की जैसी तस्वीर वे बता रहे हैं, वैसी नहीं है। उन्होंने कहा कि पिछले 13 साल में ऐसा डमरू बजाया कि किसान आत्महत्या कर रहे हैं, व्यापमं में घूस लेने वाला बाहर और देने वाला जेल में है। प्रदेश का खजाना तो उन्होंने खजाना कर दिया खाली, पर खाली खजाने से रोज करते हैं करोड़ों की घोषणाएं।  भाजपा की सफाई: जपा के प्रोफेशनल प्रकोष्ठ के अध्यक्ष विकास बोंदरिया ने कहा कि टीकाकरण जहां हुआ, वह पन्ना टाइगर रिजर्व क्षेत्र के अंदर के गांव हैं। जो विस्थापित होने वाले हैं, इसलिए वहां सड़क नहीं बना सकते। बाकी गाव में बिजली, पानी और सड़क है।

कमलनाथ ने कहा कि सीएम ऐसा डमरू बजाते हैं कि सड़कें अमेरिका से अच्छी हो जाती हैं और अब मुख्यमंत्री खुद स्वीकार कर रहे हैं कि सड़क नहीं होने की वजह से स्वास्थ्य विभाग की टीम को पैदल और नाव से जाना पड़ा। आईटी सेल के अध्यक्ष शिवराज सिंह डाबी ने कहा कि कमलनाथ मप्र की भौगोलिक स्थिति के बारे में नहीं जानते। उन्हें दूरस्थ क्षेत्रों के दौरे करने चाहिए।

सीएम का ट्वीट: छतरपुर के 3 दूरस्थ गांव तक स्वास्थ्य विभाग की टीम द्वारा टीकाकरण करने के साथ मप्र ने मिशन इंद्रधनुष में 100 % सफलता प्राप्त कर ली है। सड़कें न होने से टीम 10 किमी पैदल, नाव से जंगल व अन्य बाधाओं को पार कर पहुंची।

कमलनाथ का पलटवार: प्रदेश की सड़कों को अमेरिका से अच्छी बताने वाले शिवराज खुद स्वीकार रहे हैं कि छतरपुर के गांवों में गई स्वास्थ्य विभाग की टीम को सड़क नहीं होने से 10 किमी तक पैदल, नाव से व अन्य बाधाओं को पार कर जाना पड़ा।

खाली खजाने से रोज करते हैं घोषणा: कमलनाथ ने बयान दिया कि मुख्यमंत्री जन आशीर्वाद यात्रा में कह रहे हैं, उन्होंने ऐसा डमरू बजाया कि आज प्रदेश ऐसा हो गया, वैसा हो गया। जबकि प्रदेश की जैसी तस्वीर वे बता रहे हैं, वैसी नहीं है। उन्होंने कहा कि पिछले 13 साल में ऐसा डमरू बजाया कि किसान आत्महत्या कर रहे हैं, व्यापमं में घूस लेने वाला बाहर और देने वाला जेल में है। प्रदेश का खजाना तो उन्होंने खजाना कर दिया खाली, पर खाली खजाने से रोज करते हैं करोड़ों की घोषणाएं।

भाजपा की सफाई: जपा के प्रोफेशनल प्रकोष्ठ के अध्यक्ष विकास बोंदरिया ने कहा कि टीकाकरण जहां हुआ, वह पन्ना टाइगर रिजर्व क्षेत्र के अंदर के गांव हैं। जो विस्थापित होने वाले हैं, इसलिए वहां सड़क नहीं बना सकते। बाकी गाव में बिजली, पानी और सड़क है।

The post ट्वीट पर सियासत, कमलनाथ बोले- शिवराज ने माना, गांवों में सड़कें नहीं appeared first on TOS News.

]]>
2019 लोकसभा चुनावों को देखते हुए CM चंद्रशेखर राव से PM मोदी ने की मुलाकात  https://tosnews.com/2019-%e0%a4%b2%e0%a5%8b%e0%a4%95%e0%a4%b8%e0%a4%ad%e0%a4%be-%e0%a4%9a%e0%a5%81%e0%a4%a8%e0%a4%be%e0%a4%b5%e0%a5%8b%e0%a4%82-%e0%a4%95%e0%a5%8b-%e0%a4%a6%e0%a5%87%e0%a4%96%e0%a4%a4%e0%a5%87-%e0%a4%b9/140339 Sun, 05 Aug 2018 06:07:09 +0000 https://tosnews.com/?p=140339 2019 लोकसभा चुनावों को देखते हुए सत्ता पक्ष और विपक्ष के नेता गठजोड़ करने में जुटे हैं। जहां कुछ दल भाजपा के खिलाफ गठबंधन

The post 2019 लोकसभा चुनावों को देखते हुए CM चंद्रशेखर राव से PM मोदी ने की मुलाकात  appeared first on TOS News.

]]>
2019 लोकसभा चुनावों को देखते हुए सत्ता पक्ष और विपक्ष के नेता गठजोड़ करने में जुटे हैं। जहां कुछ दल भाजपा के खिलाफ गठबंधन में शामिल हो रहे हैं तो वही कुछ दल एनडीए में अपनी जगह बनाने में भलाई समझ रहे हैं। इसी के चलते शनिवार को तेलंगाना राष्ट्र समिति (टीआरएस) प्रमुख और तेलंगाना मुख्यमंत्री चंद्रशेखर राव ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मुलाकात की है।  

टीआरएस सूत्रों के मुताबिक टीआरएस और भाजपा 2019 लोकसभा चुनाव एक साथ मिलकर लड़ सकते हैं। बता दें कि टीआरएस अभी एनडीए का हिस्सा नहीं है। लेकिन संभावना जताई जा रही है कि आगामी कुछ ही दिनों में यह साथ आ सकते हैं। जानकारी के मुताबिक दोनों ही नेताओं की कल दिल्ली में एक लंबी मुलाकात हुई है। जिसमें तय हुआ है कि दोनों पार्टी आगामी चुनाव में एक साथ आ सकती हैं। बता दें कि अविश्वास प्रस्ताव के दौरान भी टीआरएस ने सदन में हुई वोटिंग में हिस्सा नहीं लिया था। 

टीडीपी अध्यक्ष और आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री एन चंद्रबाबू नायडू एनडीए से अलग हो गए हैं। तभी से टीआरएस भाजपा की करीबी पार्टी बनती जा रही है। सरकार के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव के दौरान जहां टीडीपी भाजपा का विरोध कर रही थी तो वहीं टीआरएस ने चुप्पी साध रखी थी। इस दौरान पीएम मोदी ने अपने भाषण में विकास की बात करते हुए तेलंगाना की प्रशंसा भी की थी। 

The post 2019 लोकसभा चुनावों को देखते हुए CM चंद्रशेखर राव से PM मोदी ने की मुलाकात  appeared first on TOS News.

]]>
अब कांग्रेस भवन पर भी चढ़ा भगवा रंग, नेताओं का ग़ुस्सा फूटा https://tosnews.com/%e0%a4%85%e0%a4%ac-%e0%a4%95%e0%a4%be%e0%a4%82%e0%a4%97%e0%a5%8d%e0%a4%b0%e0%a5%87%e0%a4%b8-%e0%a4%ad%e0%a4%b5%e0%a4%a8-%e0%a4%aa%e0%a4%b0-%e0%a4%ad%e0%a5%80-%e0%a4%9a%e0%a5%9d%e0%a4%be-%e0%a4%ad/140102 Fri, 03 Aug 2018 10:47:39 +0000 https://tosnews.com/?p=140102 देश में पिछले कुछ महीनो से भगवा रंग पर बहुत राजनीती हो रही है। आये दिन प्रदेश के सरकारी इमारतों से लेकर पार्कों व

The post अब कांग्रेस भवन पर भी चढ़ा भगवा रंग, नेताओं का ग़ुस्सा फूटा appeared first on TOS News.

]]>
देश में पिछले कुछ महीनो से भगवा रंग पर बहुत राजनीती हो रही है। आये दिन प्रदेश के सरकारी इमारतों से लेकर पार्कों व अन्य सार्वजनिक स्थानों पर भगवा रंग चढ़ने की बात सामने आती है, पर  गुरुवार को कांग्रेस दफ्तर में तक भगवा रंग देखने मिला। दरअसल कांग्रेस पार्टी के प्रदेश मुख्यालय में पुताई के दौरान कुछ कमरों में  रंग भगवा कर दिया गया था। अब कांग्रेस भवन पर भी चढ़ा भगवा रंग, नेताओं का ग़ुस्सा फूटा

हालाँकि इस  बारे में जानकारी मिलते ही कांग्रेस नेताओं ने पेंटर को बुलाकर कलर को बदलवाने का काम शुरू कर दिया। कांग्रेस नेताओं का कहना कि यह रंग भगवा नहीं है बल्कि उससे मिलता-जुलता गाढ़ा पीला रंग है। दरअसल कांग्रेस के प्रदेश मुख्यालय में इन दिनों पुताई का काम चल रहा है और सभी कमरों को अलग-अलग रंग में रंगा जा रहा है। इसी वजह से कुछ कमरों की पुताई भगवा रंग से मिलते-जुलते रंग से कर दी गई लेकिन जैसे ही यह खबर सोशल मिडिया पर फैली तो कांग्रेस नेताओं ने आनन-फानन में पेंटर बुलाकर रंग बदलवाने का काम शुरू कर दिया।

सूत्रों के मुताबिक खबर है कि  इस मामले की जानकारी मिलने के बाद सबसे ज्यादा गुस्सा प्रदेश अध्यक्ष राज बब्बर का फूटा था और राज बब्बर से डांट पड़ने के बाद ही आनन-फानन में भगवा दीवार फिर सफेद पैंट कर दी गई।  

The post अब कांग्रेस भवन पर भी चढ़ा भगवा रंग, नेताओं का ग़ुस्सा फूटा appeared first on TOS News.

]]>
केंद्रीय मंत्री जेटली के स्वस्थ में आया सुधार, इस महीने लौट सकते हैं काम पर https://tosnews.com/%e0%a4%95%e0%a5%87%e0%a4%82%e0%a4%a6%e0%a5%8d%e0%a4%b0%e0%a5%80%e0%a4%af-%e0%a4%ae%e0%a4%82%e0%a4%a4%e0%a5%8d%e0%a4%b0%e0%a5%80-%e0%a4%9c%e0%a5%87%e0%a4%9f%e0%a4%b2%e0%a5%80-%e0%a4%95%e0%a5%87/139969 Fri, 03 Aug 2018 06:36:40 +0000 https://tosnews.com/?p=139969 केंद्रीय मंत्री अरुण जेटली इस महीने के अंत तक काम पर वापस लौट सकते हैं। जेटली के करीबी ने बताया कि अब उनकी तबियत

The post केंद्रीय मंत्री जेटली के स्वस्थ में आया सुधार, इस महीने लौट सकते हैं काम पर appeared first on TOS News.

]]>
केंद्रीय मंत्री अरुण जेटली इस महीने के अंत तक काम पर वापस लौट सकते हैं। जेटली के करीबी ने बताया कि अब उनकी तबियत में काफी सुधार है और वह नॉर्थ ब्लॉक स्थित अपना ऑफिस ज्वाइन करने के लिए पूरी तरह तैयार हैं।

तीन महीने पहले अरुण जेटली का दिल्ली स्थित एम्स में किडनी ट्रांसप्लांट हुआ था जिसके बाद से वह लगातार छुट्टी पर चल रहे थे। 65 वर्षीय जेटली का नॉर्थ ब्लॉक स्थित ऑफिस उनके स्वागत में पूरी तरह से रेनोवेट कर दिया गया है। यही नहीं उनकी बीमारी का ध्यान में रखते हुए उनके केबिन को पूरी तरह संक्रमण रहित बनाया गया है। नाम न बताने की शर्त पर अधिकारी ने बताया कि डॉक्टरों ने उन्हें तीन महीने तक आराम करने की सलाह दी थी जो इस महीने के मध्य में पूरा हो रहा है। 

पिछले तीन महीनों से स्वास्थ्य लाभ ले रहे जेटली ने अपनी कमी किसी भी हाल में खलने नहीं दी है और वह सोशल मीडिया पर लगातार एक्टिव रहे। इस माध्यम से सरकार और अपनी बात रखते रहे। यहां तक की उन्होंने विपक्षी पार्टियों को जीएसटी मामले पर सोशल मीडिया पर ही आड़े हाथों लिया। जेटली की अनुपस्थिति में रेल मंत्री पीयूष गोयल को वित्त मंत्रालय का कार्यभार दिया गया है।  

The post केंद्रीय मंत्री जेटली के स्वस्थ में आया सुधार, इस महीने लौट सकते हैं काम पर appeared first on TOS News.

]]>
अन्नाद्रमुक विधायक बोस का दिल का दौरा पड़ने से निधन, तमिलनाडु सरकार पर आई ये भारी मुसीबत https://tosnews.com/%e0%a4%85%e0%a4%a8%e0%a5%8d%e0%a4%a8%e0%a4%be%e0%a4%a6%e0%a5%8d%e0%a4%b0%e0%a4%ae%e0%a5%81%e0%a4%95-%e0%a4%b5%e0%a4%bf%e0%a4%a7%e0%a4%be%e0%a4%af%e0%a4%95-%e0%a4%ac%e0%a5%8b%e0%a4%b8-%e0%a4%95/139960 Fri, 03 Aug 2018 06:20:04 +0000 https://tosnews.com/?p=139960 तमिलनाडु की सत्ताधारी पार्टी ऑल इंडिया अन्ना द्रविड़ मुनेत्र कज़गम (अन्नाद्रमुक) के विधायक ए. के. बोस का गुरुवार को दिल का दौरा पड़ने से निधन

The post अन्नाद्रमुक विधायक बोस का दिल का दौरा पड़ने से निधन, तमिलनाडु सरकार पर आई ये भारी मुसीबत appeared first on TOS News.

]]>
तमिलनाडु की सत्ताधारी पार्टी ऑल इंडिया अन्ना द्रविड़ मुनेत्र कज़गम (अन्नाद्रमुक) के विधायक ए. के. बोस का गुरुवार को दिल का दौरा पड़ने से निधन हो गया। वह 69 वर्ष के थे और तीन बार विधायक रह चुके थे। पिछले दो सालों से उनकी तबीयत खराब चल रही थी। गुरुवार को भी तबीयत खराब होने की वजह से उन्हें मदुरई के एक अस्पताल में भर्ती कराया गया था, जहां उन्होंने अंतिम सांस ली। 

तमिलनाडु के मुख्यमंत्री ई. पलानीस्वामी और उपमुख्यमंत्री पन्नीरसेल्वम ने बोस को श्रद्धांजलि दी। गौरतलब है कि बोस के निधन के बाद अन्नाद्रमुक के पास अब विधायकों की संख्या घटकर 116 हो गई है, जबकि विपक्षी पार्टी डीएमके के पास 89 विधायक और अन्य पार्टियों के पास 11 विधायक हैं। इससे निश्चित तौर पर पलानीस्वामी सरकार का बहुमत खतरे में आ गया है, क्योंकि एआईएडीएमके के 18 विधायक पहले से ही अयोग्यता की मार झेल रहे हैं। 

फिलहाल मामले की सुनवाई मद्रास हाईकोर्ट में चल रही है। इन सभी 18 विधायकों को विधानसभा स्पीकर ने अयोग्य करार दिया था, जिसके बाद इन्होंने मद्रास हाईकोर्ट में इसे चुनौती दी थी। इन सभी विधायकों को अन्नाद्रमुक के बागी नेता टीटीवी दिनाकरण के साथ वफादारी निभाने पर अयोग्य घोषित कर दिया गया था। इन सभी विधायकों को स्पीकर पी धनपाल ने अयोग्य ठहरा दिया था जिसके बाद सभी ने इस फैसले के खिलाफ मद्रास हाईकोर्ट का दरवाजा खटखटाया था। 

मद्रास हाईकोर्ट की चीफ जस्टिस इंदिरा बनर्जी ने विधानसभा स्पीकर के फैसले को सही ठहराया था और कहा था कि स्पीकर के पास इसका अधिकार है। वहीं, बेंच के एक दूसरे जज ने ठीक इसके उल्टा फैसला सुनाया था।

हालांकि हाईकोर्ट के इस फैसले के बाद फिलहाल पलानीस्वामी सरकार पर कोई खतरा नहीं है। लेकिन अगर कोर्ट स्पीकर के फैसले को गलत ठहराती है तो विधानसभा में पलानीस्वामी सरकार को बहुमत सिद्ध करना पड़ता, जिसमें पलानीस्वामी को विधायकों की पर्याप्त संख्या जुटाने में परेशानी हो सकती थी।

The post अन्नाद्रमुक विधायक बोस का दिल का दौरा पड़ने से निधन, तमिलनाडु सरकार पर आई ये भारी मुसीबत appeared first on TOS News.

]]>
यूपी: कानून व्यवस्था में बड़ा फेरबदल, IPS व PPS अधिकारियों के हुए तबादले https://tosnews.com/%e0%a4%af%e0%a5%82%e0%a4%aa%e0%a5%80-%e0%a4%95%e0%a4%be%e0%a4%a8%e0%a5%82%e0%a4%a8-%e0%a4%b5%e0%a5%8d%e0%a4%af%e0%a4%b5%e0%a4%b8%e0%a5%8d%e0%a4%a5%e0%a4%be-%e0%a4%ae%e0%a5%87%e0%a4%82-%e0%a4%ac/139941 Fri, 03 Aug 2018 05:50:02 +0000 https://tosnews.com/?p=139941 हाल की घटनाओं से नाराज मुख्यमंत्री ने दो रेंज के आईजी और तीन जिलों के पुलिस कप्तानों को किनारे करते हुए 15 आईपीएस और

The post यूपी: कानून व्यवस्था में बड़ा फेरबदल, IPS व PPS अधिकारियों के हुए तबादले appeared first on TOS News.

]]>

हाल की घटनाओं से नाराज मुख्यमंत्री ने दो रेंज के आईजी और तीन जिलों के पुलिस कप्तानों को किनारे करते हुए 15 आईपीएस और सात पीपीएस अधिकारियों के कार्यक्षेत्र में बदलाव किया है। आगरा व इलाहाबाद रेंज के आईजी को हटा दिया गया है।यूपी: कानून व्यवस्था में बड़ा फेरबदल, IPS व PPS अधिकारियों के हुए तबादले

आगरा में आईजी राजा श्रीवास्तव के स्थान पर जेल मुख्यालय पर तैनात डीआईजी लव कुमार को भेजा गया है। राजा श्रीवास्तव को नया आईजी लोक शिकायत बनाया गया है। आईजी लोक शिकायत मोहित अग्रवाल अब इलाहाबाद के नए आईजी होंगे।

इलाहाबाद में अभी तक आईजी रमित शर्मा को एसआईटी का आईजी बनाया गया है। सुल्तानपुर, अमेठी और गाजीपुर के पुलिस कप्तानों को हटाया गया है। सुल्तानपुर में अमित वर्मा के स्थान पर लखनऊ में एएसपी नार्थ अनुराग वत्स को भेजा गया है।यूपी: कानून व्यवस्था में बड़ा फेरबदल, IPS व PPS अधिकारियों के हुए तबादले

अमित वर्मा को एसपी लॉजिस्टिक की जिम्मेदारी दी गई है। गाजीपुर के एसपी सोमेन वर्मा को भी हटा दिया गया है। उनके स्थान पर यशवीर सिंह को गाजीपुर का नया एसपी बनाया गया है। वहीं अमेठी में एसपी कुंतल किशोर को अनुराग आर्य को भेजा गया है।

सोमेन वर्मा को डीजीपी मुख्यालय पर एसपी क्राइम और कुंतल किशोर को एसपी कानून व्यवस्था बनाया गया है। तीनों जिलों में 2013 बैच के आईपीएस अफसरों को भेजा गया है।

तीनों ही आईपीएस अधिकारियों को पहली बार जिलों की कमान सौंपी गई है। झांसी में एसपी रेलवे हिमांशु कुमार को एसपी रेलवे इलाहाबाद, प्रतीप कुमार मिश्र को एसपी रेलवे इलाहाबाद से एसपी रेलवे झांसी बनाया गया है।

7 पीपीएस को भी दी गई नई तैनाती

प्रांतीय पुलिस सेवा के सात अधिकारियों को भी नई तैनाती दी गई है। प्रवर्तन निदेशालय की प्रतिनियुक्ति से लौटे त्रिगुण बिसेन को हरदोई में अपर पुलिस अधीक्षक पश्चिमी बनाया गया है। यहां तैनात निधि सोनकर को विजलेंस, एसपी प्रोटोकाल आगरा तेज स्वरूप सिंह को उप सेनानायक 42वीं वाहिनी पीएसी इलाहाबाद, प्रशांत कुमार प्रसाद को सीबीसीआईडी से एसपी ट्रैफिक आगरा, असीम चौधरी पुलिस प्रशिक्षण अकादमी, मुरादाबाद से 37वीं वाहिनी पीएसी कानपुर और महेंद्र पाल सिंह को 37वीं वाहिनी पीएसी कानपुर से एसपी प्रोटोकाल आगरा बनाया गया है।

दस अपर पुलिस अधीक्षक भी हटाए गए

पुलिस कप्तान और आईजी के साथ साथ कई जिलों में अपर पुलिस अधीक्षक के कार्य क्षेत्र में भी बदलाव किया गया है। अम्बेडकर नगर में अपर पुलिस अधीक्षक सुरेंद्र कुमार दास (आईपीएस) को पुलिस अधीक्षक नगर पूर्वी कानपुर बनाया गया है। अपर पुलिस अधीक्षक विक्रांत वीर (आईपीएस) को लखनऊ में पुलिस अधीक्षक उत्तरी बनाया गया है। अपर पुलिस अधीक्षक गोंडा मणिलाल पाटीदार (आईपीएस) को अलीगढ़ में एसपी ग्रामीण बनाया गया है।

विवादों के कारण हटाई गई एसपी ट्रैफिक आगरा

शासन ने विवादों में घिरी एसपी ट्रैफिक आगरा सुनीता सिंह को भी हटा दिया है। बुधवार को ही उनके इस्तीफे की खबरें मीडिया में आई थीं। हालांकि उन्होंने इस्तीफे की खबरों का खंडन किया था। डीजीपी मुख्यालय ने भी सुनीता सिंह के इस्तीफे की बात से इंकार किया था।  

The post यूपी: कानून व्यवस्था में बड़ा फेरबदल, IPS व PPS अधिकारियों के हुए तबादले appeared first on TOS News.

]]>
अभी-अभी: यूटी कर्मचारियों के लिए आई बुरी खबर, 3930 फ्लैट्स की योजना पर लटकी तलवार https://tosnews.com/%e0%a4%85%e0%a4%ad%e0%a5%80-%e0%a4%85%e0%a4%ad%e0%a5%80-%e0%a4%af%e0%a5%82%e0%a4%9f%e0%a5%80-%e0%a4%95%e0%a4%b0%e0%a5%8d%e0%a4%ae%e0%a4%9a%e0%a4%be%e0%a4%b0%e0%a4%bf%e0%a4%af%e0%a5%8b%e0%a4%82/139937 Fri, 03 Aug 2018 05:39:37 +0000 https://tosnews.com/?p=139937 यूटी कर्मचारियों के लिए बनाई गई सेल्फ फाइनेंस हाउसिंग स्कीम के तहत 3930 फ्लैट्स के लिए 61.5 एकड़ भूमि देने पर मिनिस्ट्री ऑफ लॉ

The post अभी-अभी: यूटी कर्मचारियों के लिए आई बुरी खबर, 3930 फ्लैट्स की योजना पर लटकी तलवार appeared first on TOS News.

]]>
यूटी कर्मचारियों के लिए बनाई गई सेल्फ फाइनेंस हाउसिंग स्कीम के तहत 3930 फ्लैट्स के लिए 61.5 एकड़ भूमि देने पर मिनिस्ट्री ऑफ लॉ एंड जस्टिस के लीगल अफेयर्स विभाग ने आपत्ति जताई है। मंत्रालय के रुख से अपने आशियाने का इंतजार कर रहे कर्मचारियों को तगड़ा झटका लगा है। हाईकोर्ट ने यूटी प्रशासन को केंद्र के समक्ष दो सप्ताह में पक्ष रखने और केंद्र को यूटी का पक्ष सुनने के बाद अंतिम निर्णय लेने का आदेश दिया है।अभी-अभी: यूटी कर्मचारियों के लिए आई बुरी खबर, 3930 फ्लैट्स की योजना पर लटकी तलवार

वीरवार को हाईकोर्ट में यूटी कर्मियों की याचिका पर सुनवाई के दौरान केंद्र सरकार की ओर से असिस्टेंट सॉलिसिटर जनरल सीनियर एडवोकेट चेतन मित्तल ने केंद्र सरकार का पक्ष रखा। मित्तल ने बताया कि यूटी प्रशासन ने केंद्र को प्रस्ताव भेजा था कि 61.5 एकड़ भूमि हाउसिंग बोर्ड को सौंपी जाए ताकि 3930 फ्लैट्स का निर्माण किया जा सके। इस प्रस्ताव को फाइनेंस मिनिस्ट्री के एक्सपेंडेचर व इकोनॉमिक अफेयर्स विभाग ने अपनी एनओसी दे दी थी। इसके बाद इसे मिनिस्ट्री ऑफ लॉ एंड जस्टिस के लीगल अफेयर्स विभाग के पास भेजा गया। विभाग ने इस प्रस्ताव पर अपनी असहमति जता दी है। अब यह जानकारी प्रशासन को सौंप दी गई है और प्रशासन को अपना पक्ष या अपनी सफाई मंत्रालय के समक्ष रखनी होगी।

यह है मामला
मामला चंडीगढ़ हाउसिंग बोर्ड के माध्यम से चंडीगढ़ प्रशासन के कर्मचारियों को हाउसिंग वेलफेयर स्कीम के तहत चंडीगढ़ हाउसिंग बोर्ड के मकान उपलब्ध करवाने से जुड़ा है। प्रशासन की ओर से इस स्कीम को आरंभ किया गया था और हाउसिंग बोर्ड को इसका जिम्मा सौंपा गया था। हाउसिंग बोर्ड ने इसके लिए योजना तैयार कर मकानों के ड्रा निकाले थे और चयनित लोगों से रकम भी ले ली थी। इसके बाद मामला लटकता चला गया और इस बीच कर्मचारियों का 57 करोड़ रुपया हाउसिंग बोर्ड के पास ही रहा। हाउसिंग बोर्ड और प्रशासन के बीच की तकरार के बाद यह कह दिया गया था कि इस स्कीम को ही रद्द कर दिया जाए।

ये है परेशानी
चंडीगढ़ प्रशासन ने इस स्कीम के लिए दक्षिणी सेक्टरों में जमीन रिजर्व रखी हुई है। जमीन की बढ़ी कीमत के चलते यह स्कीम चंडीगढ़ प्रशासन और चंडीगढ़ हाउसिंग बोर्ड के बीच ही उलझकर रह गई थी। चंडीगढ़ प्रशासन का कहना है कि हाउसिंग बोर्ड ने इस स्कीम के तहत जमीन लेने के लिए प्रशासन के पास पैसे जमा नहीं करवाए, इसलिए प्रशासन ने जमीन जारी नहीं की। दूसरी तरफ चंडीगढ़ हाउसिंग बोर्ड का कहना है कि वर्षों पहले यह स्कीम आई थी, उस समय जमीन के रेट 7920 रुपये गज थी जबकि आज के समय चंडीगढ़ में जमीन का रेट 60 हजार रुपये प्रति गज है।

The post अभी-अभी: यूटी कर्मचारियों के लिए आई बुरी खबर, 3930 फ्लैट्स की योजना पर लटकी तलवार appeared first on TOS News.

]]>
SBI ने चेक भुगतान को लेकर किया बड़ा बदलाव, जानिए आप भी… https://tosnews.com/sbi-%e0%a4%a8%e0%a5%87-%e0%a4%9a%e0%a5%87%e0%a4%95-%e0%a4%ad%e0%a5%81%e0%a4%97%e0%a4%a4%e0%a4%be%e0%a4%a8-%e0%a4%95%e0%a5%8b-%e0%a4%b2%e0%a5%87%e0%a4%95%e0%a4%b0-%e0%a4%95%e0%a4%bf%e0%a4%af%e0%a4%be/138477 Fri, 27 Jul 2018 09:12:09 +0000 https://tosnews.com/?p=138477 परिजनों का चेक कैश कराने घर का कोई सदस्य जाता है तो भी उसे भुगतान नहीं किया जाएगा। भले वह बेटा या बेटी ही

The post SBI ने चेक भुगतान को लेकर किया बड़ा बदलाव, जानिए आप भी… appeared first on TOS News.

]]>
परिजनों का चेक कैश कराने घर का कोई सदस्य जाता है तो भी उसे भुगतान नहीं किया जाएगा। भले वह बेटा या बेटी ही क्यों न हो। फर्जी चेकों के माध्यम से बढ़ रहे भुगतान को देखते हुए स्टेट बैंक ऑफ इंडिया ने अपनी सभी शाखाओं को आदेश जारी कर दिया है।SBI ने चेक भुगतान को लेकर किया बड़ा बदलाव, जानिए आप भी...

इस आदेश के मुताबिक जिसके नाम का चेक है, उसे ही बैंक आना होगा। यदि वह चलने फिरने में असमर्थ है तो उसके अंगूठे का निशान लाना होगा। उसे स्कैन कर आधार कार्ड से मिलान कराने के बाद ही भुगतान किया जाएगा। यह व्यवस्था बुधवार से शुरू भी हो गई है।

सूत्रों के मुताबिक पिछले दो महीनों में एसबीआई की विभिन्न शाखाओं से फर्जी चेक के माध्यम से डेढ़ दर्जन से अधिक फ्रॉड हो चुके हैं। कुछ मामलों में यह भी पाया गया है कि चेक खाताधारक के पास न होकर उसके किसी रिश्तेदार या परिजन के पास थी और उसने कैश करा ली। इसको ध्यान में रखते हुए ही यह नई व्यवस्था शुरू की गई है। इसके तहत किसी भी सीनियर सिटीजन के परिजनों को चेक का भुगतान उसकी मौजूदगी में ही किया जाएगा। एसबीआई मोतीझील के प्रबंधक शाखा परिचालन रोहितकांत मिश्रा ने बताया कि नई व्यवस्था पर अमल करना शुरू कर दिया गया है।

सूत्रों के मुताबिक जिस व्यक्ति के नाम का चेक होगा। उसके आधार का मिलान करने के बाद ही चेक का भुगतान किया जाएगा। यदि व्यक्ति चलने-फिरने में असमर्थ है तो उसके अंगूठे के माध्यम से आधार का इलेक्ट्रिक वेरिफिकेशन करवाया जाएगा।

जल्द ही बियरर (धारक) चेक से होने वाले भुगतान पर भी संबंधित का पहचान प्रमाण पत्र जरूरी होगा। जल्द ही इस संबंध में आरबीआई निर्देश जारी करने वाला है। अभी इस चेक से होने वाले भुगतान पर धारक से भुगतान के संबंध में कोई पूछताछ नहीं की जाती है।

The post SBI ने चेक भुगतान को लेकर किया बड़ा बदलाव, जानिए आप भी… appeared first on TOS News.

]]>
मिशन 2019 फतह के लिए विपक्षी पार्टी का गठबंधन भाजपा के लिए बना बड़ी चुनौती https://tosnews.com/%e0%a4%ae%e0%a4%bf%e0%a4%b6%e0%a4%a8-2019-%e0%a4%ab%e0%a4%a4%e0%a4%b9-%e0%a4%95%e0%a5%87-%e0%a4%b2%e0%a4%bf%e0%a4%8f-%e0%a4%b5%e0%a4%bf%e0%a4%aa%e0%a4%95%e0%a5%8d%e0%a4%b7%e0%a5%80-%e0%a4%aa%e0%a4%be/138468 Fri, 27 Jul 2018 07:43:32 +0000 https://tosnews.com/?p=138468 भाजपा ने मिशन 2019 फतह के लिए जमीनी फीडबैक लेना शुरू कर दिया है। राजधानी में गुरुवार को अवध क्षेत्र के नवनियुक्त पदाधिकारियों को

The post मिशन 2019 फतह के लिए विपक्षी पार्टी का गठबंधन भाजपा के लिए बना बड़ी चुनौती appeared first on TOS News.

]]>
भाजपा ने मिशन 2019 फतह के लिए जमीनी फीडबैक लेना शुरू कर दिया है। राजधानी में गुरुवार को अवध क्षेत्र के नवनियुक्त पदाधिकारियों को बुलाकर पार्टी नेतृत्व ने इस क्षेत्र की 16 लोकसभा सीटों के समीकरण और राजनीतिक स्थिति की समझी। सांसदों के कामकाज और जनता के बीच उनकी छवि की जानकारी हासिल की।मिशन 2019 फतह के लिए विपक्षी पार्टी का गठबंधन भाजपा के लिए बना बड़ी चुनौती

जिलों से आए लोगों के साथ विचार-विमर्श कर सपा-बसपा गठबंधन से बन रहे राजनीतिक समीकरणों की चुनौती भी समझी। नेतृत्व ने माना कि चुनौती बड़ी है, पर कार्यकर्ता हताश न हों। पीएम मोदी की लोगों में विश्वसनीयता और हर वर्ग के लिए किए गए काम के सामने अंतत: विपक्षी गठबंधन अपने मकसद में कामयाब नहीं होगा।

लोकसभा चुनाव का खाका खींचने और हकीकत जानने निकले नेताओं ने काशी और गोरखपुर के बाद अवध क्षेत्र के पदाधिकारियों के साथ बैठक की। पार्टी के राष्ट्रीय महामंत्री संगठन रामलाल ने कहा कि मोदी सरकार की पहचान दुनिया में भारत का सम्मान बढ़ाने, सीमाओं को सुरक्षित रखने और गरीबों के कल्याण के लिए काम करने वाली सरकार की है।

प्रत्येक कार्यकर्ता को अपने-अपने बूथों पर फोकस करना चाहिए। बूथ जीत गए तो चुनाव भी जीत जाएगा। इसलिए अगर गांवों के कार्यकर्ता को उसके बूथ की जिम्मेदारी सही ढंग से सौंप दी जाए तो चुनाव जीतने से कोई नहीं रोक सकता। प्रदेश महामंत्री संगठन सुनील बंसल ने कहा कि बूथ इकाई के गठन में समाज के सभी जाति और वर्गों को शामिल करें।

चुनाव बाद ‘हम बनेंगे प्रधानमंत्री’ की लड़ाई में लग जाएंगे

रामलाल ने कहा कि मोदी सरकार को दोबारा सत्ता में आने से रोकने के लिए नापाक गठबंधन हो रहे है। लेकिन इन अवसरवादी दलों से डरने की जरूरत नहीं है। जनता जानती है कि चुनाव जीतने के बाद ये सब ‘हम बनेंगे प्रधानमंत्री’ की लड़ाई में लग जाएंगे। इसलिए सभी को नीचे तक यह बात पहुंचानी चाहिए। उन्होंने कार्यकर्ताओं का आह्वान किया कि लोकसभा चुनाव में 73 सीटों का लक्ष्य मानकर अभी से योजना बनाकर चुनावी तैयारी में जुटें।

हमारे पास कार्यकर्ताओं की बड़ी पूंजी, सरकार के काम को जनता तक ले जाएंगे

प्रदेश अध्यक्ष महेंद्र नाथ पांडेय ने कहा कि पीएम मोदी ने देश का गौरव पूरी दुनिया में बढ़ाया है। गांव, गरीब, किसान, नौजवान और महिलाओं के हितों को ध्यान में रखकर काम किया है। प्रदेश की योगी सरकार भी लगातार जन अपेक्षा के अनुरूप काम कर रही है। संगठन के लोगों को मोदी और योगी सरकार के कामों को जनता तक ले जाना चाहिए।

उन्होंने कहा कि हमारे पास कार्यकर्ताओं की बड़ी पूंजी है जिनके बल पर हम फिर 2019 में लोकसभा चुनाव जीतेंगें। बैठक में क्षेत्रीय संगठन मंत्री प्रद्युम्न, प्रदेश उपाध्यक्ष और प्रभारी अवध  क्षेत्र जेपीएस राठौर, क्षेत्रीय अध्यक्ष सुरेश तिवारी और क्षेत्र उपाध्यक्ष राजीव मिश्र समेत कई पदाधिकारी शामिल हुए।

The post मिशन 2019 फतह के लिए विपक्षी पार्टी का गठबंधन भाजपा के लिए बना बड़ी चुनौती appeared first on TOS News.

]]>
रैली के दौरान घायल हुई लड़की को PM ने दिया ऑटोग्राफ, अब तक मिल चुके हैं कई शादी के प्रस्ताव https://tosnews.com/%e0%a4%b0%e0%a5%88%e0%a4%b2%e0%a5%80-%e0%a4%95%e0%a5%87-%e0%a4%a6%e0%a5%8c%e0%a4%b0%e0%a4%be%e0%a4%a8-%e0%a4%98%e0%a4%be%e0%a4%af%e0%a4%b2-%e0%a4%b9%e0%a5%81%e0%a4%88-%e0%a4%b2%e0%a4%a1%e0%a4%bc/138447 Fri, 27 Jul 2018 06:48:14 +0000 https://tosnews.com/?p=138447 पश्चिम बंगाल के मिदनापुर में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की रैली के दौरान टेंट का एक हिस्सा गिर गया था। जिसकी वजह से बहुत लोग

The post रैली के दौरान घायल हुई लड़की को PM ने दिया ऑटोग्राफ, अब तक मिल चुके हैं कई शादी के प्रस्ताव appeared first on TOS News.

]]>
पश्चिम बंगाल के मिदनापुर में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की रैली के दौरान टेंट का एक हिस्सा गिर गया था। जिसकी वजह से बहुत लोग घायल हो गए थे। इस हादसे में बाल-बाल बची रीता मुदी को पीएम ने ऑटोग्राफ दिया था। इस ऑटोग्राफ की वजह से वह अपने गांव में सेलिब्रिटी बन गई हैं। बांकुरा के क्रिस्चन कॉलेज की दूसरे वर्ष की छात्रा रीता कोलकाता से 230 किलोमीटर दूर रानीबंध गांव में रहती हैं।रैली के दौरान घायल हुई लड़की को PM ने दिया ऑटोग्राफ, अब तक मिल चुके हैं कई शादी के प्रस्ताव

पीएम मोदी से ऑटोग्राफ मिलने के बाद रीता चर्चा का विषय बन गई हैं और उनके पास अब तक शादी के दो प्रस्ताव मिल चुके हैं। उनके पिछले 10 दिन काफी भाग-दौड़ वाले रहे हैं। उन्होंने कहा, ‘उस दिन जब पीएम मोदी मेरे पास आए तो मैंने उन्हें बताया कि उन्हें देखकर मैं कितनी खुश हूं।’ 16 जुलाई को रीता अपनी मां और बहन के साथ पीएम मोदी को सुनने के लिए मिदनापुर आई थीं। 

रीता और उनका परिवार उस टेंट के नीचे बैठा हुआ था जो गिर गया। इस हादसे में रीता घायल हो गईं और उन्हें अस्पताल ले जाया गया। रैली खत्म होने के बाद पीएम घायलों से मिलने के लिए अस्पताल पहुंचे। रीता ने कहा, ‘मैंने पीएम से ऑटोग्राफ देने का अनुरोध किया। मैंने देखा कि वह थोड़ा हिचकिचाए लेकिन मैंने जोर दिया। इसके बाद पीएम ने कागज के एक टुकड़े पर लिखा कि रीता मुदी तुम सुखी रहो। नरेंद्र मोदी।’

रीता ने बताया, ‘इस घटना के अगले ही दिन से हमारे घर पर लोगों का तांता लग गया। सभी लोग ऑटोग्राफ देखना चाहते थे।’ रीता की मां संध्या ने बताया, ‘लोग मेरे घर पर केवल ऑटोग्राफ देखने के लिए नहीं बल्कि शादी के दो प्रस्ताव भी लेकर आए। जिसमें एक झारखंड के टाटानगर का है। दूल्हे का अपना व्यापार है और उन्होंने कोई मांग नहीं की है। दूसरा प्रस्ताव बांकुरा का है। दूल्हे के पास खेती की जमीन है।’

The post रैली के दौरान घायल हुई लड़की को PM ने दिया ऑटोग्राफ, अब तक मिल चुके हैं कई शादी के प्रस्ताव appeared first on TOS News.

]]>