प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी – TOS News https://tosnews.com Latest Hindi Breaking News and Features Mon, 03 Sep 2018 12:30:37 +0000 en-US hourly 1 https://wordpress.org/?v=4.9.8 https://tosnews.com/wp-content/uploads/2017/03/tosnews-favicon-45x45.png प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी – TOS News https://tosnews.com 32 32 प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 21 अगस्त को लॉन्च करेंगे इंडिया पोस्ट पेमेंट्स बैंक https://tosnews.com/%e0%a4%aa%e0%a5%8d%e0%a4%b0%e0%a4%a7%e0%a4%be%e0%a4%a8%e0%a4%ae%e0%a4%82%e0%a4%a4%e0%a5%8d%e0%a4%b0%e0%a5%80-%e0%a4%a8%e0%a4%b0%e0%a5%87%e0%a4%82%e0%a4%a6%e0%a5%8d%e0%a4%b0-%e0%a4%ae%e0%a5%8b-9/140611 Mon, 06 Aug 2018 08:33:38 +0000 https://tosnews.com/?p=140611 प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 21 अगस्त को इंडिया पोस्ट पेमेंट्स बैंक को लॉन्च करेंगे। एक अधिकारी ने बताया है कि इसके बाद हर जिले में

The post प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 21 अगस्त को लॉन्च करेंगे इंडिया पोस्ट पेमेंट्स बैंक appeared first on TOS News.

]]>
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 21 अगस्त को इंडिया पोस्ट पेमेंट्स बैंक को लॉन्च करेंगे। एक अधिकारी ने बताया है कि इसके बाद हर जिले में कम से कम एक शाखा होगी जो ग्रामीण क्षेत्रों में वित्तीय सेवाओं पर फोकस करेगा।प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 21 अगस्त को इंडिया पोस्ट पेमेंट्स बैंक को लॉन्च करेंगे। एक अधिकारी ने बताया है कि इसके बाद हर जिले में कम से कम एक शाखा होगी जो ग्रामीण क्षेत्रों में वित्तीय सेवाओं पर फोकस करेगा।  संचार मंत्रालय के वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि प्रधानमंत्री ने आईपीपीबी को लॉन्च करने के लिए 21 अगस्त तक समय दिया है। इनमें से बैंक की दो शाखाएं पहले से ही ऑपरेशनल हो चुकी हैं। शेष 648 शाखाएं देश भर में हर जिले में लॉन्च होगी। अधिकारी ने कहा कि IPPB 1.55 लाख डाकघर शाखाओं के जरिये ग्रामीण इलाकों के लोगों को बैंकिंग और वित्तीय सेवाएं उपलब्ध कराएगा।   सरकार की ओर से इस पेमेंट बैंक का इस्तेमाल नरेगा के भत्तों को बांटने, सब्सिडी और पेंशन आदि देने के काम में इस्तेमाल किया जाएगा। इसके जरिये कस्टमर फोन रीचार्ज, बिजली के बिल का भुगतान, कॉलेज की फीस भरने, डीटीएस सर्विस सहित करीब 100 फर्मों के भुगतान कर सकेंगे।  अधिकारी ने कहा कि सरकार इस साल के अंत 1.55 लाख डाकघर शाखाओं को IPPB सेवाओं से जोड़ने का प्रयास कर रही है। इससे देश का सबसे बड़ा बैंकिंग नेटवर्क अस्तित्व में आएगा जिसकी गांवों के स्तर तक मौजूदगी होगी।  आईपीपीबी के मुख्य कार्यकारी अधिकारी सुरेश सेठी ने पिछले सप्ताह कहा था कि 650 शाखाओं के साथ IPPB शुरू होगी। इसके अतिरिक्त डाकघरों में 3,250 एक्सेस पॉइंट होंगे और साथ ही 11,000 डाकिये होंगे। ये ग्रामीण और शहरी इलाकों दोनों में घर के दरवाजे पर बैंकिंग सेवाएं उपलब्ध कराएंगे। IPPB को 17 करोड़ डाक बचत बैंक खाते को अपने खाते से जोड़ने की अनुमति है। इसके जरिए ग्राहकों की सुविधा बढ़ जाएगी और वो कोर बैंकिंग से जुड़ जाएंगे

संचार मंत्रालय के वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि प्रधानमंत्री ने आईपीपीबी को लॉन्च करने के लिए 21 अगस्त तक समय दिया है। इनमें से बैंक की दो शाखाएं पहले से ही ऑपरेशनल हो चुकी हैं। शेष 648 शाखाएं देश भर में हर जिले में लॉन्च होगी। अधिकारी ने कहा कि IPPB 1.55 लाख डाकघर शाखाओं के जरिये ग्रामीण इलाकों के लोगों को बैंकिंग और वित्तीय सेवाएं उपलब्ध कराएगा।

सरकार की ओर से इस पेमेंट बैंक का इस्तेमाल नरेगा के भत्तों को बांटने, सब्सिडी और पेंशन आदि देने के काम में इस्तेमाल किया जाएगा। इसके जरिये कस्टमर फोन रीचार्ज, बिजली के बिल का भुगतान, कॉलेज की फीस भरने, डीटीएस सर्विस सहित करीब 100 फर्मों के भुगतान कर सकेंगे।

अधिकारी ने कहा कि सरकार इस साल के अंत 1.55 लाख डाकघर शाखाओं को IPPB सेवाओं से जोड़ने का प्रयास कर रही है। इससे देश का सबसे बड़ा बैंकिंग नेटवर्क अस्तित्व में आएगा जिसकी गांवों के स्तर तक मौजूदगी होगी।

आईपीपीबी के मुख्य कार्यकारी अधिकारी सुरेश सेठी ने पिछले सप्ताह कहा था कि 650 शाखाओं के साथ IPPB शुरू होगी। इसके अतिरिक्त डाकघरों में 3,250 एक्सेस पॉइंट होंगे और साथ ही 11,000 डाकिये होंगे। ये ग्रामीण और शहरी इलाकों दोनों में घर के दरवाजे पर बैंकिंग सेवाएं उपलब्ध कराएंगे। IPPB को 17 करोड़ डाक बचत बैंक खाते को अपने खाते से जोड़ने की अनुमति है। इसके जरिए ग्राहकों की सुविधा बढ़ जाएगी और वो कोर बैंकिंग से जुड़ जाएंगे

The post प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 21 अगस्त को लॉन्च करेंगे इंडिया पोस्ट पेमेंट्स बैंक appeared first on TOS News.

]]>
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के प्रयास से अयोध्या और जनकपुर का रिश्ता मजबूत :योगी आदित्यनाथ https://tosnews.com/%e0%a4%aa%e0%a5%8d%e0%a4%b0%e0%a4%a7%e0%a4%be%e0%a4%a8%e0%a4%ae%e0%a4%82%e0%a4%a4%e0%a5%8d%e0%a4%b0%e0%a5%80-%e0%a4%a8%e0%a4%b0%e0%a5%87%e0%a4%82%e0%a4%a6%e0%a5%8d%e0%a4%b0-%e0%a4%ae%e0%a5%8b-8/123469 Sat, 12 May 2018 10:27:36 +0000 https://tosnews.com/?p=123469 उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने आज रामनगरी अयोध्या के रामकथा पार्क में जनकपुर-अयोध्या बस सेवा का स्वागत किया। इस बस सेवा का उद्घाटन

The post प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के प्रयास से अयोध्या और जनकपुर का रिश्ता मजबूत :योगी आदित्यनाथ appeared first on TOS News.

]]>
उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने आज रामनगरी अयोध्या के रामकथा पार्क में जनकपुर-अयोध्या बस सेवा का स्वागत किया। इस बस सेवा का उद्घाटन प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शुक्रवार को नेपाल के जनकपुर में किया था। आज नेपाल-भारत मैत्री बस सेवा अयोध्या पहुंची।मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने भाजपा सरकार की योजनाओं के बारे में कहा कि पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए स्वदेश दर्शन प्रसाद व रामायण सर्किट जैसी योजनाओं को आरंभ किया गया। इसी उदृेश्य को पूर्ण करने के लिए अयोध्या, नंदीग्राम, श्रंगवेरपुर, चित्रकूट व श्रीलंका को जोड़ा जा रहा है। जनकपुर का भी अयोध्या से जुडऩा, इसी कड़ी का हिस्सा है। इसके बाद उन्होंने कहा कि अयोध्या में सरयू स्नान का भी महत्व है। इसे जन-जन तक पहुंचाने के लिए प्रतिदिन शाम को सरयू की आरती के कार्यक्रम को सरकार ने आरंभ किया है। वर्षों से रुकी रामलीला के मंचन की परंपरा को भी फिर से शुरू किया गया।  सीएम योगी आदित्यनाथ ने वहां से आए यात्रियों का स्वागत किया। इस दौरान वहां एक प्रदर्शनी भी आयोजित की गई है। उन्होंने मैत्री बस से आए तीन दर्जन नेपाली मेहमानों का अभिनंदन करते हुए कहा, सचमुच यह हमारे लिए सौभाग्य का क्षण है। जिसमें बड़ी संख्या में लगी रामायण से सम्बंधित झांकियों ने सभी का मन मोह लिया। सीएम योगी आदित्यनाथ ने बस सेवा के अयोध्या पहुंचने के मौके पर सीएम भारतीय डाक विभाग के प्रकाशित स्पेशल कवर का अनावरण भी किया। यह स्पेशल कवर पिछले वर्ष दीपावली के अवसर पर अयोध्या में सरयू तट पर आयोजित दीपोत्सव कार्यक्रम पर आधारित है। पीएम मोदी ने इस बस सेवा का उद्घाटन करते हुए कहा था कि जनकपुर और अयोध्या जोड़े जा रहे हैं। यह बस सेवा नेपाल और भारत में तीर्थ पर्यटन को बढ़ावा देने से संबंधित रामायण सर्किट का हिस्सा है।  इस मौके पर नेपाल से आने वाले मंत्री सरोज कुमार सिंह कुशवाहा एवं ऊषा यादव सहित रामजन्मभूमि न्यास के अध्यक्ष- शीर्ष पीठ मणिरामदास जी की छावनी के महंत नृत्यगोपालदास, उत्तर प्रदेश की पर्यटन मंत्री डॉ. रीता बहुगुणा जोशी, जिला के प्रभारी मंत्री एवं प्रदेश के औद्योगिक विकास मंत्री सतीश महाना, अविवि के कुलपति आचार्य मनोज दीक्षित, सांसद लल्लू सिंह, विधायक वेदप्रकाश गुप्त आदि ने भी विचार रखे और मैत्री बस सेवा की शुरुआत के साथ अयोध्या और जनकपुर के युगों पुराने संबंध को नए सिरे से रोशन होने को लेकर उत्साह प्रकट किया।   सरयू पूजन एवं रामकी पैड़ी का निरीक्षण   अयोध्या यात्रा के दौरान मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सरयू के सहस्त्रधारा घाट पर पुण्यसलिला का पूजन एवं दुग्धाभिषेक के बाद आरती की। पूजन का संयोजन सरयू की नित्य महाआरती कराने वाली संस्था आंजनेय सेवा संस्थान से जुड़े महंत मनीषदास एवं रामकथा मर्मज्ञ संत चंद्रांशु ने किया। मुख्यमंत्री ने सरयू के इसी घाट से लगी रामकीपैड़ी का भी अधिकारियों के साथ निरीक्षण किया और पैड़ी में सरयू का प्रवाह सुनिश्चित करने के लिए प्रस्तावित योजना पर चर्चा की।    जनकपुर-अयोध्या-जनकपुर बस सेवा के स्वागत कार्यक्रम में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि हजारों वर्ष पहले से अयोध्या और जनकपुर का रिश्ता रहा है। भारत में कई प्रधानमंत्री आए और चले गए, लेकिन इस रिश्ते को मजबूत करने के बारे में किसी ने भी नहीं सोचा। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के प्रयास से यह मैत्री बस सेवा शुरू हो गई है, उनको बहुत धन्यवाद।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि मैत्री बस सेवा का यह अभियान भारत-नेपाल रूपी दो शरीर और एक आत्मा की विरासत को आगे बढ़ाने वाला है। जनकपुर से अयोध्या पहुंची मैत्री बस सेवा की अगवानी के बाद रामकथा पार्क में योगी आदित्यनाथ सभा को संबोधित कर रहे थे। 

जनकपुर-अयोध्या-जनकपुर बस सेवा के स्वागत कार्यक्रम में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि हजारों वर्ष पहले से अयोध्या और जनकपुर का रिश्ता रहा है। भारत में कई प्रधानमंत्री आए और चले गए, लेकिन इस रिश्ते को मजबूत करने के बारे में किसी ने भी नहीं सोचा। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के प्रयास से यह मैत्री बस सेवा शुरू हो गई है, उनको बहुत धन्यवाद। योगी आदित्यनाथ ने कहा कि भारत नेपाल सांस्कृतिक सबन्धों को पीएम मोदी ने नया आयाम दिया । अयोध्या जनकपुर सीधी बस सेवा के लिये पीएम का आभार व्यक्त करता हूं। हज़ारो वर्ष पहले नेपाल व भारत सांस्कृतिक व सामाजिक सबन्धों से जुड़े है। एक ऐतिहासिक क्षण है। लोग बदले लेकिन हमारे सम्बन्ध आज भी अटूट है। महराज दशरथ व जनक जी का अटूट सम्बन्ध था।

सांस्कृतिक सम्बन्ध राजनीतिक सम्बन्धो से बड़े हो गए है। अयोध्या के जनकपुर व काठमांडू का काशी के साथ अटूट सम्बन्ध है। नेपाल से आये अतिथियों को अयोध्या के संस्कृति से रूबरू होने का मौका मिलेगा। भारत सरकार ने राम-जानकी मार्ग को पूर्ण करने का जिम्मा भी लिया है। मार्ग बन जाने पर जनकपुर से अयोध्या पहुंचने में 10 से 12 घंटे की जगह मात्र  6 से 7 घंटे ही लगेंगे। दीपोत्सव के दौरान अयोध्या के विकास के लिए 133 करोड़ की परियोजनाओं का शिलान्यास हुआ था। रामजानकी मार्ग पर भी काम शुरू हुआ था। भारत-नेपाल के संबंधों को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने नया आयाम दिया है। बस सेवा के माध्यम से पुरानी सांझी परंपरा को आगे बढ़ाने का प्रयास प्रधानमंत्री जी ने किया है। हमें खुशी है कि सांस्कृतिक संबंधों की नई कड़ी आज से शुरू हो रही है। अयोध्या-जनकपुरधाम के लिए बस सेवा शुरू होना दोनों राष्ट्रों के संबंधों को और मजबूत करेगा। 

मुख्यमंत्री ने इस मौके पर अयोध्या-जनकपुर एवं पशुपतिनाथ-काशी विश्वनाथ की विरासत का जिक्र करते हुए भारत और नेपाल के सांस्कृतिक संबंधों को अटूट बताया और विश्वास जताया कि दोनों देश विकास में भी एक-दूसरे के प्रबल सहयोगी सिद्ध होंगे। इससे पहले सीएम योगी आदित्यनाथ ने जनकपुर से आने वाले मेहमानों को नेपाली में अनूदित रामचरितमानस की प्रति एवं उत्तरीय भेंट कर उनका स्वागत किया। काठमांडू को काशी और जनकपुर को अयोध्या से सड़क मार्ग से जोड़ने से न सिर्फ सांस्कृतिक संबंध मजबूत होंगे बल्कि विकास की यात्रा भी आरंभ होगी। अयोध्या और जनकपुर हजारों वर्ष पूर्व जुड़े थे। अयोध्या और जनकपुर के संबंधों को और प्रगाढ़ बनाने के लिए दोनों शहरों को बस सेवा से जोड़ा जाए, यह प्रयास प्रधानमंत्री प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के कार्यकाल में हुआ और फलीभूत भी हुआ।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने भाजपा सरकार की योजनाओं के बारे में कहा कि पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए स्वदेश दर्शन प्रसाद व रामायण सर्किट जैसी योजनाओं को आरंभ किया गया। इसी उदृेश्य को पूर्ण करने के लिए अयोध्या, नंदीग्राम, श्रंगवेरपुर, चित्रकूट व श्रीलंका को जोड़ा जा रहा है। जनकपुर का भी अयोध्या से जुडऩा, इसी कड़ी का हिस्सा है। इसके बाद उन्होंने कहा कि अयोध्या में सरयू स्नान का भी महत्व है। इसे जन-जन तक पहुंचाने के लिए प्रतिदिन शाम को सरयू की आरती के कार्यक्रम को सरकार ने आरंभ किया है। वर्षों से रुकी रामलीला के मंचन की परंपरा को भी फिर से शुरू किया गया।

सीएम योगी आदित्यनाथ ने वहां से आए यात्रियों का स्वागत किया। इस दौरान वहां एक प्रदर्शनी भी आयोजित की गई है। उन्होंने मैत्री बस से आए तीन दर्जन नेपाली मेहमानों का अभिनंदन करते हुए कहा, सचमुच यह हमारे लिए सौभाग्य का क्षण है। जिसमें बड़ी संख्या में लगी रामायण से सम्बंधित झांकियों ने सभी का मन मोह लिया। सीएम योगी आदित्यनाथ ने बस सेवा के अयोध्या पहुंचने के मौके पर सीएम भारतीय डाक विभाग के प्रकाशित स्पेशल कवर का अनावरण भी किया। यह स्पेशल कवर पिछले वर्ष दीपावली के अवसर पर अयोध्या में सरयू तट पर आयोजित दीपोत्सव कार्यक्रम पर आधारित है। पीएम मोदी ने इस बस सेवा का उद्घाटन करते हुए कहा था कि जनकपुर और अयोध्या जोड़े जा रहे हैं। यह बस सेवा नेपाल और भारत में तीर्थ पर्यटन को बढ़ावा देने से संबंधित रामायण सर्किट का हिस्सा है।  इस मौके पर नेपाल से आने वाले मंत्री सरोज कुमार सिंह कुशवाहा एवं ऊषा यादव सहित रामजन्मभूमि न्यास के अध्यक्ष- शीर्ष पीठ मणिरामदास जी की छावनी के महंत नृत्यगोपालदास, उत्तर प्रदेश की पर्यटन मंत्री डॉ. रीता बहुगुणा जोशी, जिला के प्रभारी मंत्री एवं प्रदेश के औद्योगिक विकास मंत्री सतीश महाना, अविवि के कुलपति आचार्य मनोज दीक्षित, सांसद लल्लू सिंह, विधायक वेदप्रकाश गुप्त आदि ने भी विचार रखे और मैत्री बस सेवा की शुरुआत के साथ अयोध्या और जनकपुर के युगों पुराने संबंध को नए सिरे से रोशन होने को लेकर उत्साह प्रकट किया। 

सरयू पूजन एवं रामकी पैड़ी का निरीक्षण 

अयोध्या यात्रा के दौरान मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सरयू के सहस्त्रधारा घाट पर पुण्यसलिला का पूजन एवं दुग्धाभिषेक के बाद आरती की। पूजन का संयोजन सरयू की नित्य महाआरती कराने वाली संस्था आंजनेय सेवा संस्थान से जुड़े महंत मनीषदास एवं रामकथा मर्मज्ञ संत चंद्रांशु ने किया। मुख्यमंत्री ने सरयू के इसी घाट से लगी रामकीपैड़ी का भी अधिकारियों के साथ निरीक्षण किया और पैड़ी में सरयू का प्रवाह सुनिश्चित करने के लिए प्रस्तावित योजना पर चर्चा की।

जनकपुर-अयोध्या-जनकपुर बस सेवा के स्वागत कार्यक्रम में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि हजारों वर्ष पहले से अयोध्या और जनकपुर का रिश्ता रहा है। भारत में कई प्रधानमंत्री आए और चले गए, लेकिन इस रिश्ते को मजबूत करने के बारे में किसी ने भी नहीं सोचा। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के प्रयास से यह मैत्री बस सेवा शुरू हो गई है, उनको बहुत धन्यवाद।

The post प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के प्रयास से अयोध्या और जनकपुर का रिश्ता मजबूत :योगी आदित्यनाथ appeared first on TOS News.

]]>
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भ्रष्टाचार को लेकर कांग्रेस पर जमकर बोला हमला… https://tosnews.com/%e0%a4%aa%e0%a5%8d%e0%a4%b0%e0%a4%a7%e0%a4%be%e0%a4%a8%e0%a4%ae%e0%a4%82%e0%a4%a4%e0%a5%8d%e0%a4%b0%e0%a5%80-%e0%a4%a8%e0%a4%b0%e0%a5%87%e0%a4%82%e0%a4%a6%e0%a5%8d%e0%a4%b0-%e0%a4%ae%e0%a5%8b-7/122209 Sun, 06 May 2018 05:26:13 +0000 https://tosnews.com/?p=122209 प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भ्रष्टाचार को लेकर शनिवार को कांग्रेस पर जमकर हमला बोला। उन्होंने कहा कि कांग्रेस सबसे ज्यादा बोली लगाने वाले नेता

The post प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भ्रष्टाचार को लेकर कांग्रेस पर जमकर बोला हमला… appeared first on TOS News.

]]>
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भ्रष्टाचार को लेकर शनिवार को कांग्रेस पर जमकर हमला बोला। उन्होंने कहा कि कांग्रेस सबसे ज्यादा बोली लगाने वाले नेता को कर्नाटक में मुख्यमंत्री बनाने की बात कर रही है। सिद्धारमैया सरकार भ्रष्टाचार का ऐसा टैंक बन गई है, जिसका पाइप दिल्ली में जाकर खुलता है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भ्रष्टाचार को लेकर कांग्रेस पर जमकर बोला हमला...शनिवार को मोदी ने गड़ाग रैली में कांग्रेस के शीर्ष नेतृत्व पर टिकटों, पार्टी में पदों और मुख्यमंत्री पद के लिए बोली लगाने का आरोप लगाया। 

उन्होंने कहा कि हेलीकॉप्टर, कोयला, राष्ट्रमंडल खेल और कई अन्य घोटालों के बाद अब कांग्रेस ने निविदा प्रक्रिया अपना ली है। कांग्रेस टिकट वितरण, नेताओं के चयन और मुख्यमंत्री के चयन में बोलियां लगा रही है। कर्नाटक के नेताओं को बड़े नेताओं ने बता दिया है कि जो हर महीने सबसे ज्यादा धन दिल्ली पहुंचाने का वादा करेगा, वही सीएम बनेगा। 

हार सामने देख बढ़ गई है बेचैनी
महाराष्ट्र, गोवा, गुजरात, राजस्थान, मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़, यूपी, उत्तराखंड, हिमाचल और त्रिपुरा में हारने के बाद भी कांग्रेस परेशान नहीं हुई थी। अब जब कर्नाटक में हार सामने खड़ी है तो बेचैन हो रहे हैं। दरअसल, कांग्रेस नेताओं ने राज्य में एक टैंक बनाया। जनता से लूटे पैसे का एक हिस्सा इस टैंक में डाला जाता है और बाकी यहां के नेता अपने साथ ले जाते हैं। इस टैंक का पाइप दिल्ली में जाकर खुलता है। उन्होंने कहा, ‘आप सावधान हो जाइए। अगर कांग्रेस राज्य की सत्ता में लौटी तो लूट के अलावा कोई काम नहीं करेगी।’

संत कवि शरीफा को याद किया
मोदी ने फिर सीएम सिद्धारमैया पर निशाना साधते हुए कर्नाटक सरकार को ‘सीधा रुपैया सरकार’ बताया। उन्होेंने संत कवि शरीफा को याद करते हुए कहा कि पैसा खराब चीज है, लेकिन राज्य सरकार के लिए ‘बाप बड़ा न भइया, सबसे बड़ा रुपइया’ है। सिद्धारमैया ने इस कहावत को अपने मुताबिक बदलकर ‘बाप भी बड़ा, भइया भी बड़ा और इससे भी ऊपर रुपइया, सीधा-सीधा रुपइया’ कर लिया है।

महादयी के बहाने सोनिया पर हमला
गोवा और कर्नाटक के बीच विवाद का कारण बनी महादयी नदी के मुद्दे पर पीएम ने कहा कि तत्कालीन कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने गोवा विधानसभा चुनाव के वक्त कहा था कि उनकी पार्टी महादयी का जल कर्नाटक के साथ नहीं बांटने देगी। अब कांग्रेस महादयी के मसले पर कर्नाटक के लोगों को उकसा रही है। कांग्रेस महादयी विवाद को अटकाना, लटकाना और लोगों को भटकाना चाहती है। कांग्रेस सरकार ने विवाद का समाधान निकालने के बजाय मामले को न्यायाधिकरण के पास भेज दिया।

देवगौड़ा की पार्टी कांग्रेस को बचा रही
इससे पहले तुमकुर जनसभा में मोदी ने कांग्रेस और जद (एस) के बीच साठगांठ का आरोप लगाया। उन्होंने कहा कि पर्दे के पीछे दोनों पार्टियों के बीच समझौता हो गया है। एसडी देवगौड़ा की जद (एस) कांग्रेस को बचा रही है। देश पर एक परिवार के नेतृत्व में सबसे ज्यादा समय शासन करने वाली पार्टी ने गरीबों और किसानों को नजरअंदाज किया। तुमकुर को हेमवती नदी का पानी नहीं मिल पा रहा। सिंचाई के क्षेत्र में 30 साल से कोई काम नहीं हुआ। कांग्रेस की रुचि केवल कालाधन भरने में है।

The post प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भ्रष्टाचार को लेकर कांग्रेस पर जमकर बोला हमला… appeared first on TOS News.

]]>
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ट्वीट करते हुए कहा- परमाणु अप्रसार के प्रति भारत की गंभीरता को दोहराया https://tosnews.com/%e0%a4%aa%e0%a5%8d%e0%a4%b0%e0%a4%a7%e0%a4%be%e0%a4%a8%e0%a4%ae%e0%a4%82%e0%a4%a4%e0%a5%8d%e0%a4%b0%e0%a5%80-%e0%a4%a8%e0%a4%b0%e0%a5%87%e0%a4%82%e0%a4%a6%e0%a5%8d%e0%a4%b0-%e0%a4%ae%e0%a5%8b-6/101392 Sun, 21 Jan 2018 05:04:34 +0000 https://tosnews.com/?p=101392 परमाणु समूहों में शामिल किया जाना भारत के अप्रसार के प्रति प्रतिबद्धता का सबूत है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ट्वीट कर परमाणु अप्रसार के प्रति भारत की

The post प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ट्वीट करते हुए कहा- परमाणु अप्रसार के प्रति भारत की गंभीरता को दोहराया appeared first on TOS News.

]]>

परमाणु समूहों में शामिल किया जाना भारत के अप्रसार के प्रति प्रतिबद्धता का सबूत है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ट्वीट कर परमाणु अप्रसार के प्रति भारत की गंभीरता को दोहराया है। प्रधानमंत्री ने कहा कि प्रतिष्ठित परमाणु समूहों में भारत को शामिल किए जाने से देश में अप्रसार को सख्ती से लागू किए जाने की प्रतिबद्धता की पुष्टि हुई है। पीएम ने यह बात भारत के आस्ट्रेलिया समूह (एजी) का सदस्य बनने की मौके पर कही है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ट्वीट करते हुए कहा- परमाणु अप्रसार के प्रति भारत की गंभीरता को दोहरायाऐश्वर्या, सानिया, सिंधु समेत 112 महिलाओं को राष्ट्रपति ने किया सम्मानित

पीएम ने कहा, इससे परमाणु अप्रसार के क्षेत्र में भारत का कद बढ़ा है। साथ ही इससे अहम औद्योगिक मामलों में बढ़त मिलेगी। मोदी ने ट्वीट में ऑस्ट्रेलिया और और निर्यात नियंत्रण से जुड़े ऑस्ट्रेलिया समूह के सदस्य देशों को भारत का समर्थन करने के लिए धन्यवाद भी दिया। उन्होंने कहा है कि पिछले दो साल में एमटीसीआर समझौता और ऑस्ट्रेलिया समूह में भारत की सदस्यता से एक बार फिर परमाणु अप्रसार को लेकर देश की साख वैश्विक शांति और सुरक्षा को लेकर प्रतिबद्धता की पुष्टि हुई है।

The post प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ट्वीट करते हुए कहा- परमाणु अप्रसार के प्रति भारत की गंभीरता को दोहराया appeared first on TOS News.

]]>
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के म्यांमार दौरे से चीन की और भी बढीं टेंशन…. https://tosnews.com/myanmar-tour-of-china-also-increased-tension-of-prime-minister-narendra-modi/71003 Wed, 06 Sep 2017 07:18:11 +0000 https://tosnews.com/?p=71003 कूटनीति के माहिर खिलाड़ी माने जाने वाले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के म्यांमार दौरे ने चीन की टेंशन बढ़ा दी है. दिलचस्प बात यह है

The post प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के म्यांमार दौरे से चीन की और भी बढीं टेंशन…. appeared first on TOS News.

]]>
कूटनीति के माहिर खिलाड़ी माने जाने वाले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के म्यांमार दौरे ने चीन की टेंशन बढ़ा दी है. दिलचस्प बात यह है कि वह चीन में आयोजित ब्रिक्स समिट में हिस्सा लेने के बाद सीधे म्यांमार पहुंचे हैं. चीन के सरकारी अखबार ग्लोबल टाइम्स ने 16 अगस्त 2017 को भारत और म्यांमार के बीच बढ़ती नजदीकी पर गहरी चिंता जाहिर की थी. चीनी अखबार ने कहा था कि भारत अपनी एक्ट ईस्ट पॉलिसी के जरिए म्यांमार में चीन के प्रभाव को कम करना चाहता है. हालांकि इस बार चीन ने इस पर चुप्पी साध रखी है. फिलहाल उसकी ओर से इस बाबत कोई विरोधी प्रतिक्रिया नहीं आई है.प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के म्यांमार दौरे से चीन की और भी बढीं टेंशन....ओबामा की योजना को ट्रंप ने किया रद्द, 7 हजार भारतीय होंगे प्रभावित

अगर इतिहास पर नजर दौड़ाएं, तो म्यांमार भारत के मुकाबले चीन के ज्यादा करीब रहा है. जहां भारत और म्यांमार के बीच द्विपक्षीय व्यापार करीब 2.2 अरब डॉलर का हैं, वहीं चीन और म्यामांर के बीच द्विपक्षीय व्यापार कुल 9.5 अरब डॉलर का है. साल 2016-2017 में ही दोनों देशों के बीच द्विपक्षीय व्यापार छह अरब डॉलर का रहा है. इसके अलावा रक्षा के क्षेत्र में भी म्यांमार और चीन एक-दूसरे के बेहद करीब हैं. इससे साफ है कि म्यांमार भारत की बजाय चीन के ज्यादा करीब है. हालांकि भारत और म्यांमार के बीच 1,642 किमी की सीमा है. इसके अलावा बंगाल की खाड़ी में भी दोनों देशों की समुद्री सीमाएं मिलती हैं.

मोदी की एक्ट ईस्ट पॉलिसी का अहम पिलर है म्यांमार

पूर्ववर्ती भारत की सरकारों का म्यांमार के प्रति रूखा रवैया रहा है, जिसका फायदा उठाकर चीन ने म्यांमार में अपना प्रभुत्व स्थापित किया. हालांकि प्रधानमंत्री नरेंद्र के सत्ता में आने के बाद दोनों देशों के बीच रिश्ते की नई शुरुआत होने लगी. पीएम मोदी ने म्यांमार को भारत की एक्ट ईस्ट पॉलिसी का अहम पिलर करार दिया. इस एक्ट ईस्ट पॉलिसी का मकसद दक्षिण पूर्व आसियान देशों के साथ भारत के आर्थिक और रणनीतिक संबंधों को मजबूत करना है. म्यांमार एक ऐसा आसियान देश हैं, जिसकी जमीनी सीमा भारत से मिलती है. लिहाजा म्यांमार को भारत का गेटवे टू आसियान कहा जाता है.

आंग सान सू की सरकार से पहले म्यांमार में सैन्य सरकार थी, जिसके चीन से गहरे रिश्ते थे. इस बीच चीन ने म्यांमार मं अपनी गहरी जड़े जमा लीं. सू की के सत्ता में आने के बाद भारत और म्यांमार के बीच रिश्ते बेहदतर होने की उम्मीद बढ़ी. इसकी वजह यह था कि सू की की शिक्षा भारत में ही हुई. उनको भारत समर्थक माना जाता है. हालांकि सत्ता में आने के बाद सू की ने भी भारत से पहले चीन का दौरा किया था.

इसके चलते माना जा रहा था कि म्यांमार में चीन ने मजबूत पैठ बना ली है. लिहाजा वहां भारत को पैर जमा पाना मुश्किल है, लेकिन मोदी सरकार ने पड़ोसी देश म्यांमार की अहमियत समझी और उसको रक्षा सहयोग का प्रस्ताव दिया. इससे चीन तिलमिला गया और चीनी अखबार ने इस पर तीखी प्रतिक्रिया दी. चीन ने कहा कि भारत ने म्यांमार में चीन को मात देने के लिए यह प्रस्ताव दिया है.

The post प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के म्यांमार दौरे से चीन की और भी बढीं टेंशन…. appeared first on TOS News.

]]>
अभी-अभी: JeM ने दी पहली बार मोदी सरकार को केमिकल हमले की धमकी, खौफ में आया पूरा देश… https://tosnews.com/%e0%a4%85%e0%a4%ad%e0%a5%80-%e0%a4%85%e0%a4%ad%e0%a5%80-jem-%e0%a4%a8%e0%a5%87-%e0%a4%a6%e0%a5%80-%e0%a4%aa%e0%a4%b9%e0%a4%b2%e0%a5%80-%e0%a4%ac%e0%a4%be%e0%a4%b0-%e0%a4%a6%e0%a5%80-%e0%a4%ae/53949 Mon, 17 Jul 2017 09:29:31 +0000 https://tosnews.com/?p=53949 प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को निशाना बनाने के लिए प्रतिबंधित आतंकी संगठन जैश ए मोहम्मद ने मुस्लिम युवाओं को

The post अभी-अभी: JeM ने दी पहली बार मोदी सरकार को केमिकल हमले की धमकी, खौफ में आया पूरा देश… appeared first on TOS News.

]]>
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को निशाना बनाने के लिए प्रतिबंधित आतंकी संगठन जैश ए मोहम्मद ने मुस्लिम युवाओं को भड़काने के लिए इजरायल दौरे, भीड़ द्वारा मुस्लिम युवाओं की हत्या और कश्मीर मुद्दे को हथियार बनाया है. अपने दो नए वीडियो संदेशों में आतंकी संगठन ने कश्मीर से कन्याकुमारी तक हमले की धमकी दी है. साथ ही केमिकल, मेडिसिन और पेट्रोलियम पदार्थों को हथियार के रूप में यूज करने को कहा है.  

अभी-अभी: JeM ने दी पहली बार दी मोदी सरकार को केमिकल हमले की धमकी, खौफ में आया पूरा देश...

इसी हफ्ते सामने आए दोनों वीडियो संदेशों के बाद सुरक्षा एजेंसियों ने सतर्कता बढ़ा दी है. यह संदेश सादी के नाम से प्रसारित किया जा रहा है. बता दें कि जैश ए मोहम्मद सरगना मसूद अजहर अपने लिए ”सादी” नाम का यूज करता है. सुरक्षा एजेंसियों का दावा है कि इस मैसेज को अजहर ने खुद लिखा है और इसे उसके ही साथी तलाह ने इसकी रिकॉर्डिंग की है.

बता दें कि पठानकोट हमले के लिए आतंकी तलाह को मास्टरमाइंड माना जाता है. जैश ए मोहम्मद के इस वीडियो के बाद सुरक्षा एजेंसियों के होश तब उड़ गए जब अमरनाथ यात्रियों पर हमला हुआ, जिसमें आठ लोग मारे गए और यूपी विधानसभा में विस्फोटक पावडर मिला. यह विस्फोटक पावडर पीईटीएन था, जो एक प्लास्टिक विस्फोटक है, जिसकी 100 ग्राम मात्रा एक कार के चिथड़े उड़ाने के लिए काफी है.

अपने ऑडियो मैसेज में आतंकी संगठन ने अपने गुर्गो से हमले के लिए नए तरीके के हथियार उपयोग करने को कहा है. इनमें व्हीकल, इलेक्ट्रिसिटी, पेट्रोल, फर्टिलाइजर, रेत और दवाएं शामिल हैं. संसद हमले के मास्टरमाइंड ने परंपरागत हथियारों बंदूक, ग्रेनेड और बुलेट के बजाय हमले के लिए नए हथियार यूज करने पर जोर दिया है.

ऑडियो में मसूद अजहर को इस बात पर जोर देते हुए सुना जा सकता है. अजहर कहता है कि अब बम, बुलेट, बंदूक, ग्रेनेड लॉन्चर या जिहाद की इस लड़ाई में ट्रेनिंग की जरुरत नहीं है. उसने आगे से नए तरीकों के हमले का इशारा किया है, जिसमें व्हीकल, पेट्रोल, फर्टिलाइजर, इलेक्ट्रिसिटी का उपयोग हो सकता है. इसके साथ ही वह यह भी कहता है कि जिहादियों को अब किसी मास्टरमाइंड की जरूरत नहीं है. जिहादी अब खुद प्रेरित हैं.

JeM के रडार पर मोदी, योगी

 यूपी विधानसभा में मिला पीईटीएन मेडिकल यूज में भी काम में आता है. इसका उपयोग हृदय की बीमारियों में किया जाता है, जैसे एंजिना पेक्टोरिस. लेंटोनिट्रेस जैसी दवाओं में पीईटीएन की बड़ी मात्रा पाई जाती है और इसके तत्व मार्केट में आसानी से उपलब्ध हैं. जैश ए मोहम्मद के ऑडियो संदेश की कॉपी मेल टुडे के पास उपलब्ध है, सुरक्षा एजेंसियां भी इसकी जांच कर रही है.

जैश ए मोहम्मद के इस ऑडियो मैसेज में मोदी और योगी का नाम कई बार आता है. मसूद अजहर ने मोदी के इजरायल दौरे पर आक्रोश जताया और हिंदुओं और यहूदियों को पहला दुश्मन बताते हुए इनके खिलाफ हमले करने की धमकी दी. साथ ही सरकार और हिंदुओं को हाल ही में हरियाणा की एक ट्रेन में मुस्लिम युवक जुनैद की हत्या के लिए जिम्मेदार ठहराया.

सुरक्षा बलों ने कश्मीर घाटी के त्राल में शनिवार को जैश ए मोहम्मद के तीन आतंकियों को मार गिराया. तीनों आतंकियों का मारा जाना जैश ए मोहम्मद के लिए बड़ा झटका है, जो एक बार फिर से सिर उठाने की कोशिश कर रहा है.

The post अभी-अभी: JeM ने दी पहली बार मोदी सरकार को केमिकल हमले की धमकी, खौफ में आया पूरा देश… appeared first on TOS News.

]]>
आज राज्यों के मुख्य सचिवों से विचार-विमर्श करेंगे पीएम मोदी https://tosnews.com/%e0%a4%86%e0%a4%9c-%e0%a4%b0%e0%a4%be%e0%a4%9c%e0%a5%8d%e0%a4%af%e0%a5%8b%e0%a4%82-%e0%a4%95%e0%a5%87-%e0%a4%ae%e0%a5%81%e0%a4%96%e0%a5%8d%e0%a4%af-%e0%a4%b8%e0%a4%9a%e0%a4%bf%e0%a4%b5%e0%a5%8b/52061 Mon, 10 Jul 2017 05:13:53 +0000 https://tosnews.com/?p=52061 प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज राज्यों और केंद्रशासित प्रदेश के मुख्य सचिवों से सामाजिक और आर्थिक मुद्दों पर चर्चा करेंगे. इस बैठक का आयोजन नीति

The post आज राज्यों के मुख्य सचिवों से विचार-विमर्श करेंगे पीएम मोदी appeared first on TOS News.

]]>
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज राज्यों और केंद्रशासित प्रदेश के मुख्य सचिवों से सामाजिक और आर्थिक मुद्दों पर चर्चा करेंगे. इस बैठक का आयोजन नीति आयोग ने किया है.आज राज्यों के मुख्य सचिवों से विचार-विमर्श करेंगे पीएम मोदी

अपनी विदेश यात्रा से वापस आने

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज राज्यों और केंद्रशासित प्रदेश के मुख्य सचिवों से सामाजिक और आर्थिक मुद्दों पर चर्चा करेंगे. इस बैठक का आयोजन नीति आयोग ने किया है. अपनी विदेश यात्रा से वापस आने के तुरंत बाद, पीएम मोदी काम में जुट गए है. रविवार को राज्य के प्रमुख अधिकारियों के साथ ‘स्टेट ऐज ड्राइवर फॉर ट्रांसफॉर्मिंग इंडिया’ पर सम्मेलन के बारे में विस्तार से चर्चा की.

बता दें कि पीएम मोदी की राज्य अधिकारियों के साथ पहली मीटिंग नहीं है. पीएम मोदी विकास कार्यों की निगरानी के लिए ‘प्रगति’ (प्रो-एक्टिव गवर्नेंस एंड टाइमली इम्प्लीमेंट) मंच पर नियमित रूप से उनके साथ बातचीत कर रहे हैं. केंद्र सरकार राज्य से समन्वय  सुनिश्चित करके क्षेत्रीय असंतुलन और असमानता को दूर करने के लिए  परियोजनाओं को लाने के लिए उत्सुक है. विभिन्न विकास मानकों पर सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन और खराब प्रदर्शन करने वाले राज्यों को नीती आयोग के सीईओ अमिताभ कांत द्वारा प्रस्तुत किए जाने वाली प्रजेंटेशन में हाइलाइट किया जाएगा.

 आधिकारिक बयान में कहा गया कि बैठक में राज्यों एवं केंद्रशासित प्रदेशों के वित्त, स्वास्थ्य, कृषि और उद्योग के प्रमुख सचिव हिस्सा लेंगे. इसमें सामाजिक और आर्थिक क्षेत्र में की गई पहल पर चर्चा होगी. बैठक में कृषि सुधार, स्वास्थ्य एवं पोषण और विकास के मुद्दों पर चर्चा होगी. के तुरंत बाद, पीएम मोदी काम में जुट गए है. रविवार को राज्य के प्रमुख अधिकारियों के साथ ‘स्टेट ऐज ड्राइवर फॉर ट्रांसफॉर्मिंग इंडिया’ पर सम्मेलन के बारे में विस्तार से चर्चा की.

बता दें कि पीएम मोदी की राज्य अधिकारियों के साथ पहली मीटिंग नहीं है. पीएम मोदी विकास कार्यों की निगरानी के लिए ‘प्रगति’ (प्रो-एक्टिव गवर्नेंस एंड टाइमली इम्प्लीमेंट) मंच पर नियमित रूप से उनके साथ बातचीत कर रहे हैं.

केंद्र सरकार राज्य से समन्वय  सुनिश्चित करके क्षेत्रीय असंतुलन और असमानता को दूर करने के लिए  परियोजनाओं को लाने के लिए उत्सुक है. विभिन्न विकास मानकों पर सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन और खराब प्रदर्शन करने वाले राज्यों को नीती आयोग के सीईओ अमिताभ कांत द्वारा प्रस्तुत किए जाने वाली प्रजेंटेशन में हाइलाइट किया जाएगा.

 आधिकारिक बयान में कहा गया कि बैठक में राज्यों एवं केंद्रशासित प्रदेशों के वित्त, स्वास्थ्य, कृषि और उद्योग के प्रमुख सचिव हिस्सा लेंगे. इसमें सामाजिक और आर्थिक क्षेत्र में की गई पहल पर चर्चा होगी. बैठक में कृषि सुधार, स्वास्थ्य एवं पोषण और विकास के मुद्दों पर चर्चा होगी.

The post आज राज्यों के मुख्य सचिवों से विचार-विमर्श करेंगे पीएम मोदी appeared first on TOS News.

]]>
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी: जर्मनी ने भारत के लिए एनएसजी सदस्यता का समर्थन किया https://tosnews.com/%e0%a4%aa%e0%a5%8d%e0%a4%b0%e0%a4%a7%e0%a4%be%e0%a4%a8%e0%a4%ae%e0%a4%82%e0%a4%a4%e0%a5%8d%e0%a4%b0%e0%a5%80-%e0%a4%a8%e0%a4%b0%e0%a5%87%e0%a4%82%e0%a4%a6%e0%a5%8d%e0%a4%b0-%e0%a4%ae%e0%a5%8b-3/43353 Wed, 31 May 2017 06:13:22 +0000 https://tosnews.com/?p=43353 प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और जर्मनी की चांसलर एंजेला मर्केल की संयुक्त अध्यक्षता में मंगलवार को यहां चौथे चरण के द्विवार्षिक अंतर-सरकारी विमर्श (आईजीसी) किया

The post प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी: जर्मनी ने भारत के लिए एनएसजी सदस्यता का समर्थन किया appeared first on TOS News.

]]>
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और जर्मनी की चांसलर एंजेला मर्केल की संयुक्त अध्यक्षता में मंगलवार को यहां चौथे चरण के द्विवार्षिक अंतर-सरकारी विमर्श (आईजीसी) किया गया. इसके बाद जर्मनी ने पुन: पुष्टि की कि वह परमाणु आपूर्तिकर्ता समूह (एनएसजी) सहित अंतर्राष्ट्रीय निर्यात नियंत्रण व्यवस्था में भारत की सदस्यता का समर्थन करता है. बैठक के बाद जारी एक संयुक्त बयान के मुताबिक, दोनों नेताओं ने वैश्विक (परमाणु) अप्रसार प्रयासों को मजबूत करने के प्रति प्रतिबद्धता जताई. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी: जर्मनी ने भारत के लिए एनएसजी सदस्यता का समर्थन कियायह भी पढ़े: वेंकैया नायडू ने कैसा क्यों कहा: नहीं बनना राष्ट्रपति या उपराष्ट्रपति, ऊषा-पति होकर ही खुश हूं

बयान में कहा गया, जर्मनी मिसाइल प्रौद्योगिकी नियंत्रण व्यवस्था में भारत की सदस्यता का स्वागत करता है. संयुक्त बयान के मुताबिक, जर्मनी अन्य निर्यात नियंत्रण व्यवस्थाओं, एनएसजी, ऑस्ट्रेलिया ग्रुप और वासेनार व्यवस्था, का हिस्सेदार बनने के भारत के प्रयासों का स्वागत करता है. भारत के जल्द ही इन व्यवस्थाओं का सदस्य बनने का समर्थन करता है.

चीन ने दिए अपने रुख पर अटल रहने के संकेत
सियोल में बीते साल जून महीने में चीन ने भारत के एनएसजी सदस्य बनने की राह में तकनीकी अड़ंगा लगा दिया था. उसका कहना था कि इसके लिए भारत को परमाणु अप्रसार संधि (एनपीटी) पर हस्ताक्षर करना होगा. इस साल फिर चीन ने अपने रुख पर अटल रहने के संकेत दिए हैं. स्रोत के मुताबिक, मोदी तथा मर्केल ने संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद के व्यापक सुधार की आपात जरूरत की पुन: पुष्टि की.

बयान में कहा गया, दोनों देशों ने सुधार और विस्तार के बाद संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद में एक दूसरे की सदस्यता का पूर्ण समर्थन किया.

The post प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी: जर्मनी ने भारत के लिए एनएसजी सदस्यता का समर्थन किया appeared first on TOS News.

]]>
अभी-अभी: सामने आया प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नाम पर ठगी का ये बड़ा जाल, पार्टी में मचा हाहाकार… https://tosnews.com/%e0%a4%b8%e0%a4%be%e0%a4%ae%e0%a4%a8%e0%a5%87-%e0%a4%86%e0%a4%af%e0%a4%be-%e0%a4%aa%e0%a5%8d%e0%a4%b0%e0%a4%a7%e0%a4%be%e0%a4%a8%e0%a4%ae%e0%a4%82%e0%a4%a4%e0%a5%8d%e0%a4%b0%e0%a5%80-%e0%a4%a8/39303 Tue, 09 May 2017 05:37:41 +0000 http://www.tosnews.in/?p=39303 जानकारी पाकर उड़े पीएमओ के होश: प्रधानमंत्री कार्यालय (पीएमओ) की शिकायत मिलने के बाद सीबीआई ने अज्ञात लोगों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज की है। शिकायत

The post अभी-अभी: सामने आया प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नाम पर ठगी का ये बड़ा जाल, पार्टी में मचा हाहाकार… appeared first on TOS News.

]]>
जानकारी पाकर उड़े पीएमओ के होश: प्रधानमंत्री कार्यालय (पीएमओ) की शिकायत मिलने के बाद सीबीआई ने अज्ञात लोगों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज की है। शिकायत में कहा गया है कि एक गिरोह प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा शुरु की गई नई ऋण योजनाओं का झूठा लालच देकर लोगों से ठगी कर रहा है। यह मामला तब सामने आया जब हिमाचल प्रदेश के सोलन के मूल निवासी ने पीएमओ में संपर्क किया। युवक ने बताया कि एक महिला ने खुद को ट्रस्ट फंड ऋण योजना का प्रोसेसिंग ऑफिसर बताकर उसके साथ धोखाधड़ी की।अभी-अभी: सामने आया प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नाम पर ठगी का ये बड़ा जाल, पार्टी में मचा हाहाकार...यह भी पढ़े:> अभी अभी: पंखे से लटका मिला सबसे बड़े भारतीय क्रिकेटर का शव, खेल संग पूरे देश में मचा हड़कंप

शिकायतकर्ता ने अपनी शिकायत में संदेह जताया है कि चूंकि प्रधानमंत्री द्वारा दी जाने वाली ऋृण योजना और फर्जी ट्रस्ट द्वारा दी जाने वाली स्कीम लगभग-लगभग समान है। इसी का फायदा उठाकर गिरोह सीधे-साधे लोगों को अपनी ठगी का शिकार बना रहा है। इस जाल में काफी लोग फंस गए हैं। क्योंकि फर्जी ट्रस्ट का विज्ञापन प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की ऋृण योजना से काफी मेल खाती है।

‘द इंडियन एक्सप्रेस’ के मुताबिक, पीएमओ के उप सचिव मयूर माहेश्वरी से शिकायत मिलने के बाद सीबीआई ने अज्ञात लोगों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज कर ली है। माहेश्वरी ने कुछ महीने पहले सीबीआई के संयुक्त निदेशक को एक पत्र भेजा था, लेकिन मामला अब दर्ज किया गया। जांच अधिकारी प्रेम कुमार गौतम के साथ सीबीआई ने इस मामले की प्रारंभिक जांच की। मामले को आईपीसी की धारा 420 और 66-डी आईटी अधिनियम के तहत दर्ज किया गया है।

यह भी पढ़े:> अभी-अभी: इस सबसे बड़े भारतीय क्रिकेटर ने अपनी पत्नी की गोली मारकर की हत्या, मिली फांसी की सजा…

माहेश्वरी ने ‘इंडियन एक्सप्रेस’ से बातचीत में कहा कि मनजीत सिंह नाम के एक युवक ने पीएमओ में शिकायत दी है। शिकायतकर्ता सोलन में बीजेपी का कार्यकर्ता है। उन्होंने बताया कि सिंह ने शिकायत में लिखा है कि उसे एक महिला द्वारा संदेश मिला कि पीएम मोदी ने हाल ही में ट्रस्ट फंड ऋण योजना की शुरूआत की है। इस योजना के तहत वे 1.5 करोड़ रुपये का ऋण ले सकते हैं। इसके बाद सिंह ने महिला संबंधित योजना के प्रोसेसिंग महिला अधिकारी से संपर्क किया।

The post अभी-अभी: सामने आया प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नाम पर ठगी का ये बड़ा जाल, पार्टी में मचा हाहाकार… appeared first on TOS News.

]]>
आज से खत्म हो सकता है ‘ट्रिपल तलाक’ कानून, पीएम मोदी का पूरा होगा वादा https://tosnews.com/%e0%a4%96%e0%a4%a4%e0%a5%8d%e0%a4%ae-%e0%a4%b9%e0%a5%8b-%e0%a4%b8%e0%a4%95%e0%a4%a4%e0%a4%be-%e0%a4%b9%e0%a5%88-%e0%a4%9f%e0%a5%8d%e0%a4%b0%e0%a4%bf%e0%a4%aa%e0%a4%b2-%e0%a4%a4%e0%a4%b2/30076 Thu, 30 Mar 2017 05:41:20 +0000 http://hindi.tosnews.com/?p=30076 नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का सपना आज पूरा हो सकता है। सुप्रीम कोर्ट आज तीन तलाक, निकाह-हलाला और बहुविवाह पर सुनवाई करेगा। बता

The post आज से खत्म हो सकता है ‘ट्रिपल तलाक’ कानून, पीएम मोदी का पूरा होगा वादा appeared first on TOS News.

]]>
नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का सपना आज पूरा हो सकता है। सुप्रीम कोर्ट आज तीन तलाक, निकाह-हलाला और बहुविवाह पर सुनवाई करेगा। बता दें कि मुस्लिम महिलाएं लगातार पीएम मोदी से अपील करती रही हैं कि तीन तलाक को खत्म किया जाए। पिछली सुनवाई में ऑल इंडिया मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड (एआईएमपीएलबी) ने सुप्रीम कोर्ट से कहा कि मुसलमानों में प्रचलित तीन तलाक, निकाह हलाला और बहुविवाह की प्रथाओं को चुनौती देने वाली याचिकाएं विचारयोग्य नहीं हैं। साथ ही ये कोर्ट के दायरे में नहीं आते हैं। आपको बता दें कि सुप्रीम कोर्ट में ट्रिपल तलाक को असंवैधानिक करार देने वाली विभिन्न याचिकाएं दाखिल हुई।

बड़ी खबर: आज से खत्म हो सकता है ‘तीन तलाक’ कानून, पीएम मोदी का पूरा होगा वादा

बड़ी खबर: सुप्रीम कोर्ट के इस फैसले से थम जाएगा पूरा देश, कोहराम मचना हुआ तय

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का सपना आज पूरा हो सकता

सुप्रीम कोर्ट पहले ही यह स्पष्ट कर चुका है कि वह तीन तलाक संबंधी कानूनी प्रस्तावों पर केवल विचार विमर्श करेगा। कोर्ट इस बात पर फैसला नहीं करेगा कि मुस्लिम पर्सनल लॉ के तहत तलाक पर अदालतें नजर रखेंगी या नहीं। वहीं मुस्लिम बोर्ड ने का कहना है कि इस्लामी कानून, जिसकी बुनियाद अनिवार्य तौर पर पवित्र कुरान एवं उस पर आधारित सूत्रों पर पड़ी है, की वैधता संविधान के खास प्रावधानों पर परखी नहीं जा सकती है।

इनकी संवैधानिक व्याख्या जबतक जरूरी न हो जाए, तबतक उसकी दिशा में आगे बढ़ने से न्यायिक संयम बरतने की जरूरत है। मुस्लिम लॉ बोर्ड का कहना है याचिकाओं में उठाये गए मुद्दे विधायी दायरे में आते हैं, और चूंकि तलाक निजी मामला है इसलिए उसे मौलिक अधिकारों के तहत लाकर लागू नहीं किया जा सकता। बोर्ड ने दावा किया कि याचिकाएं गलत समझ के चलते दायर की गई हैं और यह चुनौती मुस्लिम पर्सनल कानून की गलत समझ पर आधारित है। बोर्ड का कहना है कि संविधान हर धार्मिक वर्ग को धर्म के मामलों में अपनी चीजें खुद संभालने की इजाजत देता है।

एआईएमपीएलबी ने शीर्ष अदालत में अपने लिखित हलफनामे में कहा, शुरू में यह स्पष्ट किया जाता है कि वर्तमान याचिकाएं विचारयोग्य नहीं हैं क्योंकि याचिकाकर्ता निजी पक्षों के खिलाफ मौलिक अधिकारों को लागू करने की मांग करते हैं। यह भी स्पष्ट किया जाता है कि 14,15 और 21 अनुच्छेदों के तहत गारंटित संरक्षण की उपलब्धता की मंशा विधायिका और कार्यपालिका के विरूद्ध है न कि निजी व्यक्तियों के विरूद्ध है।
 

The post आज से खत्म हो सकता है ‘ट्रिपल तलाक’ कानून, पीएम मोदी का पूरा होगा वादा appeared first on TOS News.

]]>