#action – TOS News https://tosnews.com Latest Hindi Breaking News and Features Sat, 11 Aug 2018 09:10:27 +0000 en-US hourly 1 https://wordpress.org/?v=4.9.8 https://tosnews.com/wp-content/uploads/2017/03/tosnews-favicon-45x45.png #action – TOS News https://tosnews.com 32 32 Big News: सीएम योगी देवरिया संरक्षण गृह घटना से बेहद नाराज, एक्शन के मूड में! https://tosnews.com/big-news-%e0%a4%b8%e0%a5%80%e0%a4%8f%e0%a4%ae-%e0%a4%af%e0%a5%8b%e0%a4%97%e0%a5%80-%e0%a4%a6%e0%a5%87%e0%a4%b5%e0%a4%b0%e0%a4%bf%e0%a4%af%e0%a4%be-%e0%a4%b8%e0%a4%82%e0%a4%b0%e0%a4%95%e0%a5%8d/140739 Tue, 07 Aug 2018 06:29:28 +0000 https://tosnews.com/?p=140739 लखनऊ: उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने देवरिया शहर स्थित बालिका एवं नारी संरक्षण गृह में लड़कियों से कथित रूप से वेश्यावृत्ति कराये जाने

The post Big News: सीएम योगी देवरिया संरक्षण गृह घटना से बेहद नाराज, एक्शन के मूड में! appeared first on TOS News.

]]>
लखनऊ: उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने देवरिया शहर स्थित बालिका एवं नारी संरक्षण गृह में लड़कियों से कथित रूप से वेश्यावृत्ति कराये जाने के सनसनीखेज खुलासे के बाद सख्त कार्रवाई करते हुए आज जिलाधिकारी को हटा दिया और तत्कालीन जिला प्रोबेशन अधिकारी (डीपीओ) को निलम्बित कर दिया।

प्रदेश की महिला एवं परिवार कल्याण मंत्री रीता बहुगुणा जोशी ने इस मामले पर मुख्यमंत्री से मुलाकात के बाद संवाददाताओं को बताया कि योगी के आदेश पर देवरिया के जिलाधिकारी सुजीत कुमार को हटा दिया गया है। वह एक वर्ष से वहां के जिलाधिकारी थे। उन्हें उस संरक्षण गृह को बंद करने के लिये कई बार पत्र लिखे गये लेकिन उन्होंने कोई ठोस कार्रवाई नहीं की।

जांच रिपोर्ट आने के बाद उनके खिलाफ कार्रवाई होगी। उन्होंने बताया कि संरक्षण गृह को बंद करने का आदेश दिये जाने से छह महीने बाद तक देवरिया के डीपीओ रहे अभिषेक पाण्डेय को निलम्बित कर दिया गया है। उनके बाद दो अधिकारियों नीरज कुमार और अनूप सिंह को उनके विभाग का अतिरिक्त प्रभार दिया गया था। इन दोनों के खिलाफ विभागीय कार्रवाई का निर्देश दिया गया है।

रीता ने माना कि इस मामले में स्थानीय प्रशासनिक स्तर पर ढिलाई जरूर हुई है। उन्होंने बताया कि मुख्यमंत्री ने महिला एवं बाल कल्याण विभाग की अपर मुख्य सचिव रेणुका कुमार और अपर पुलिस महानिदेशक अंजू गुप्ता को हेलीकॉप्टर से मौके पर भेजा है। वे संरक्षण गृह से मुक्त करायी गयी सभी बच्चियों से अलग-अलग बात करके कल तक रिपोर्ट देंगी। उसके आधार पर कार्रवाई। किसी भी दोषी को बख्शा नहीं जाएगा।

मंत्री ने बताया कि बिहार के मुजफ्फरपुर काण्ड के बाद मुख्यमंत्री योगी ने गत तीन अगस्त को सभी जिलाधिकारियों को अपने-अपने यहां चल रहे समस्त संरक्षण गृहों का निरीक्षण कर अपनी रिपोर्ट भेजने के निर्देश दिये थे। मगर मुख्यमंत्री ने ऐसा ना होने पर नाराजगी जाहिर की है। उन्होंने बताया कि मुख्यमंत्री ने अब सभी जिलाधिकारियों को शासन को अपनी रिपोर्ट देने के लिये 12 घंटे की मोहलत दी है।

मालूम हो कि मां विंध्यवासिनी महिला प्रशिक्षण एवं समाज सेवा संस्थान द्वारा देवरिया शहर कोतवाली क्षेत्र में संचालित बाल एवं महिला संरक्षण गृह में रहने वाली एक लड़की ने रविवार को महिला थाने पहुंचकर संरक्षण गृह में रह रही लड़कियों को कार से अक्सर बाहर ले जाये जाने और सुबह लौटने पर उनके रोने की बात बतायी थी।

इस शिकायत पर पुलिस ने संबंधित संस्थान परिसर में छापा मारकर 24 लड़कियों को मुक्त कराया। साथ ही संस्थान परिसर को सील करते हुए वहां की अधीक्षका कंचनलता, संचालिका गिरिजा त्रिपाठी तथा उसके पति मोहन त्रिपाठी को गिरफ्तार कर लिया। संरक्षण गृह में 42 लड़कियों का पंजीयन कराया गया है जिनमें से 18 अभी लापता हैं। उनकी तलाश की जा रही है।(Input Webvarta)

The post Big News: सीएम योगी देवरिया संरक्षण गृह घटना से बेहद नाराज, एक्शन के मूड में! appeared first on TOS News.

]]>
Action:कांग्रेस की इस नेता को धमकी देने वाला चढ़ा पुलिस के हत्थे! https://tosnews.com/action%e0%a4%95%e0%a4%be%e0%a4%82%e0%a4%97%e0%a5%8d%e0%a4%b0%e0%a5%87%e0%a4%b8-%e0%a4%95%e0%a5%80-%e0%a4%87%e0%a4%b8-%e0%a4%a8%e0%a5%87%e0%a4%a4%e0%a4%be-%e0%a4%95%e0%a5%8b-%e0%a4%a7%e0%a4%ae/134175 Thu, 05 Jul 2018 08:53:11 +0000 https://tosnews.com/?p=134175 मुम्बई: कांग्रेस पार्टी की नेता व प्रवक्ता प्रियंका चतुर्वेदी को कई दिनों से सोशल मीडिया पर धमकी देने वाले शख्स को पुलिस ने गिरफ्तार कर

The post Action:कांग्रेस की इस नेता को धमकी देने वाला चढ़ा पुलिस के हत्थे! appeared first on TOS News.

]]>
मुम्बई: कांग्रेस पार्टी की नेता व प्रवक्ता प्रियंका चतुर्वेदी को कई दिनों से सोशल मीडिया पर धमकी देने वाले शख्स को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया गया है। उनको को ट्विटर पर कई दिनों से धमकी दी जा रही थी और अपशब्दों का प्रयोग किया जा रहा है।


कांग्रेस प्रवक्ता ने इस बात की शिकायत मुम्बई गोरेगांव पुलिस की थी। वहीं गृह मंत्रालय ने भी इस मामले का संज्ञान लिया था। गृह मंत्रालय के आदेश पर मुंबई पुलिस ने मामला दर्ज किया था। गिरीश नाम के युवक के 1605 ट्विटर अकाउंट से चतुर्वेदी को धमकी दी थी। ट्विटर से आरोपी शख्स की जानकारी मांगी गई थी।

जिसके बाद अहमदाबाद से गोरेगांव पुलिस ने आरोपी गिरीश को गिरफ्तार किया गया है। उसपर पॉक्सो एकट के तहत मामला दर्ज किया गया है। इससे पहले गृह मंत्रालय ने प्रियंका चतुर्वेदी को अभद्र ट्वीट भेजने वाले के खिलाफ कड़ी कार्रवाई करने का निर्देश दिया था। मंत्रालय ने मंगलवार को मुंबई पुलिस से कहा है कि ट्वीट भेजने वाले शख्स की पहचान कर फौरन इस मामले में एफआईआर दर्ज करें।

कानून के तहत उस शख्स के खिलाफ जल्द कार्रवाई करने को कहा गया था। गृह मंत्रालय ने ट्वीटर को भी उस शख्स के एकाउंट के बारे में पूरी जानकारी देने को कहा गया था। गौरतलब है कि कांग्रेस की सचिव स्तर की कार्यकर्ता और प्रवक्ता को ट्वीटर ट्रोल में किसी शख्स ने धमकी दी।

इतना ही नहीं उस शख्स ने प्रियंका की बेटी को लेकर भी अभद्र टिप्पणी की। ट्वीट करने वाले के डीपी की जगह भगवान राम का चित्र है और प्रोफाइल जय श्री राम के नाम से बनी है। प्रियंका ने ट्वीटर पर उसे राम के नाम पर अश्लील बात करने के लिए करारा जवाब दिया। साथ ही मुंबई पुलिस में शिकायत भी दर्ज कराई थी।

The post Action:कांग्रेस की इस नेता को धमकी देने वाला चढ़ा पुलिस के हत्थे! appeared first on TOS News.

]]>
Molestation:यूपी पुलिस के इस दारोगा पर लगाया महिला से शोषण का आरोप, एसएसपी ने किया लाइन हाजिर ! https://tosnews.com/120989-2/120989 Thu, 26 Apr 2018 07:37:17 +0000 https://tosnews.com/?p=120989 लखनऊ: एक तरफ महिला सुरक्षा की बात हो रही है, वहीं दूसरी तरफ सुरक्षा की जिम्मेदारी लेने वाले पुलिस वालों पर ही महिला उत्पीडऩ का

The post Molestation:यूपी पुलिस के इस दारोगा पर लगाया महिला से शोषण का आरोप, एसएसपी ने किया लाइन हाजिर ! appeared first on TOS News.

]]>
लखनऊ: एक तरफ महिला सुरक्षा की बात हो रही है, वहीं दूसरी तरफ सुरक्षा की जिम्मेदारी लेने वाले पुलिस वालों पर ही महिला उत्पीडऩ का आरोप लग रहा है। ताजा मामला है कि उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ का। हजरतगंज के जीपीओ पहुंची एक महिला ने हजरतगंज कोतवाली में तैनात दारोगा भूपेन्द्र सिंह पर प्यार के जाल में फंसाकर धोखा देने का गंभीर आरोप लगाया है। फिलहाल एसएसपी ने दारोगा को लाइन हाजिर करते हुए सीओ हजरतगंज को जांच के आदेश दे दिये हैं।


अलीगढ़ जनपद की रहने वाली एक युवती का कहना है कि वह एक सरकारी विभाग में तैनात है। बुधवार को हजरतगंज के जीपीओ पहुंची महिला ने हजरतगंज कोतवाली में तैनात दारोगा भूपेन्द्र सिंह पर गंभीर आरोप लगाया। युवती का कहना है कि उसकी और दारोगा की जान-पहचान फेसबुक के माध्यम से हुई थी।

इसके बाद दारोगा ने उसको अपने प्यार के जाल में फंसा लिया और शादी करने की बात कही। युवती का आरोप है कि इसके बाद दारोगा ने हजरतगंज के एक होटल में उसके साथ शारीरिक संबंध बनाये। वर्ष 2016 में दारोगा ने उसके साथ मंदिर में शादी कर ली। इसके बाद दोनों लोग एक साथ लखनऊ में बतौर पति-पत्नी रहने लगे।

कुछ समय गुजरने के बाद दारोगा का युवती से मोहभंग हो गया और दारोगा ने उससे दूरी बना ली। युवती का आरोप है कि इस बीच दारोगा व उसके घरवालों ने कौशाम्बी जनपद में एक युवती से उसको शादी तय कर दी। युवती को जब इस बात का पता चला तो वह कौशाम्बी में लड़की वालों से बात की। इस पर दारोगा का रिश्ता टूटा गया। इसके बाद दारोगा व उसके परिवार के लोग महिला को परेशान करने लगे।

पति व ससुराल वालों की प्रताडऩा से तंग युवती ने 29 अप्रैल वर्ष 2017 को इस बात की शिकायत एसएसपी लखनऊ से की थी। एसएसपी के आदेेश पर जांच करायी गयी तो दारोगा ने अपनी गलती मानते हुए पीडि़ता के साथ आगे से कोई गलत व्यवहार न करने की बात कही और अपनी शिकायत वापस लेने के लिए कहा।

दारोगा के आश्वासन पर युवती ने अपनी शिकायत वापस ले ली थी। युवती का आरोप है कि इसके बाद 10 फरवरी को उसके साथ फिर से मारपीट की गयी और उसको घर से निकाल दिया गया। युवती का कहना है कि अब उसको जान से मारने की धमकी मिल रही है। वहीं इस संबंध में एसएसपी दीपक कुमार ने दारोगा को लाइन हााजिर करते हुए पूरे मामले की जांच का आदेश सीओ हजरतगंज को दे दिया है।

The post Molestation:यूपी पुलिस के इस दारोगा पर लगाया महिला से शोषण का आरोप, एसएसपी ने किया लाइन हाजिर ! appeared first on TOS News.

]]>
Angry Yogi: शिकायत सुन योगी का गुस्सा पहुंचा सातवें आसमान पर, जमकर लगायी फटकार! https://tosnews.com/angry-yogi-%e0%a4%b6%e0%a4%bf%e0%a4%95%e0%a4%be%e0%a4%af%e0%a4%a4-%e0%a4%b8%e0%a5%81%e0%a4%a8-%e0%a4%af%e0%a5%8b%e0%a4%97%e0%a5%80-%e0%a4%95%e0%a4%be-%e0%a4%97%e0%a5%81%e0%a4%b8%e0%a5%8d%e0%a4%b8/120568 Tue, 24 Apr 2018 05:09:27 +0000 https://tosnews.com/?p=120568 प्रतापगढ़: प्रदेश सरकार की योजना की जमीन हकीकत जाने के लिए सूबे के सीएम योगी आदित्यनाथ कल प्रतापगढ़ जनपद पहुंचे। ग्राम स्वराज अभियान के तहत

The post Angry Yogi: शिकायत सुन योगी का गुस्सा पहुंचा सातवें आसमान पर, जमकर लगायी फटकार! appeared first on TOS News.

]]>
प्रतापगढ़: प्रदेश सरकार की योजना की जमीन हकीकत जाने के लिए सूबे के सीएम योगी आदित्यनाथ कल प्रतापगढ़ जनपद पहुंचे। ग्राम स्वराज अभियान के तहत प्रतापगढ़ जिले की पट्टी विधानसभा के कंधई मधुपुर गांव में सोमवार शाम मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की चौपाल लगायी।सीएम ने जब विकास कार्यों के बारे में पूछा तो लोग अधिकारियों को चोर कहने लगे।


गांव में शौचालय नहीं बनने पर मुख्यमंत्री ने मंच पर ही जिलाधिकारीए सीडीओ और डीपीआरओ को डांटना शुरू कर दिया। चेतावनी देते हुए कहा कि इस मामले में जवाबदेही तय होगी। सीएम के तेवर देख अफसरों के पसीने छूट गए। सोमवार को सुबह 11.50 बजे पुलिस लाइन में उतरने के बाद मुख्यमंत्री विकास भवन में विकास कार्यों की समीक्षाए जिला अस्पताल का निरीक्षण और पट्टी के चंदौका में पीएमजीएसवाई सड़क की गुणवत्ता देखने के बाद शाम करीब सवा सात बजे कंधई मधुपुर गांव में चौपाल लगाने पहुंचे।

सीएम को अपने बीच पाकर लोग नारेबाजी करने लगे। स्वागत कार्यक्रम के बाद मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने माइक संभाला और मोदी सरकार के कामकाज गिनाने के बाद गांव में हुए विकास कार्यों का जायजा लेना शुरू कर दिया। एक.एक कर उन्होंने सभी योजनाओं की समीक्षा की। उन्होंने भीड़ से पूछा कि क्या सभी के घरों में शौचालय बने हैं। इस पर लोगों ने एक स्वर में ना में जवाब दिया।

यह सुनने के बाद सीएम का मूड उखड़ गया। उन्होंने तुरंत डीएम शंभु कुमारए सीडीओ राजकमल और डीपीआरओ शशिकांत पांडेय को मंच पर बुला लिया और पूछताछ करने लगे। इस पर डीपीआरओ ने बताया कि गांव में पांच सौ शौचालय बने हैं। इस पर भीड़ फिर नारेबाजी करने लगी। गुस्साए सीएम ने तीनों अफसरों को फटकार लगाते हुए कहा कि शेष लोगों के घरों में शौचालय क्यों नहीं बने।

उन्होंने कहा कि इस मामले में सबकी जवाबदेही तय होगी। कहा सुबह तक सभी लाभार्थियों के खाते में शौचालय की धनराशि पहुंच जानी चाहिए। राशनकार्ड के बारे में पूछने पर जिला पूर्ति अधिकारी गोलमाल जवाब देने लगे। राशनकार्डों के सत्यापन के बारे में भी वह जवाब नहीं दे सके। इस पर सीएम ने उन्हें फटकार लगाते हुए कार्रवाई की चेतावनी दी।

मुख्यमंत्री ने पीडी अरविंद सिंह से प्रधानमंत्री आवास योजना के एक.एक लाभार्थियों को नाम पढ़वाया। वह खुद भी सूची हाथ में लेकर सत्यापन करते रहे। इसी तरह पेंशनए हैंडपंप और पाइप लाइन के बारे में भी पूछने पर लोग हंगामा करते रहे। चौपाल में सीएम के विकास कार्यों के बारे में पूछने पर लोगों ने अफसरों पर आरोपों की बौछार कर दी।

आरोप लगाने लगे कि हर योजना में घूस लेने के बाद ही लाभ दिया जाता है। लोगों ने आवासए शौचालय और हैंडपंप के लिए पैसे मांगने का आरोप लगाते रहे। सीएम पूछते रहे और ग्रामीण अफसरों पर आरोप लगाते रहे। ग्रामीणों के निशाने पर सबसे ज्यादा डीपीआरओ और पीडी रहे। चौपाल के दौरान लोगों का आक्रोश देख अफसरों के प्रति सीएम के तेवर सख्त हो गए। उन्होंने कहा कि सरकार की योजनाओं में किसी तरह का भ्रष्टाचार बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। उन्होंने कहा कि घूसखोर अफसरों को मुकदमा दर्ज कर न सिर्फ जेल भेजा जाएगाए बल्कि उनकी संपत्ति से रिकवरी भी की जाएगी।

The post Angry Yogi: शिकायत सुन योगी का गुस्सा पहुंचा सातवें आसमान पर, जमकर लगायी फटकार! appeared first on TOS News.

]]>
OMG: जब पीडि़त को साथ लेेकर थाने पहुंच गये एसएसपी, जानिए तक क्या हुआ! https://tosnews.com/omg-%e0%a4%9c%e0%a4%ac-%e0%a4%aa%e0%a5%80%e0%a4%a1%e0%a4%bf%e0%a4%bc%e0%a4%a4-%e0%a4%95%e0%a5%8b-%e0%a4%b8%e0%a4%be%e0%a4%a5-%e0%a4%b2%e0%a5%87%e0%a5%87%e0%a4%95%e0%a4%b0-%e0%a4%a5%e0%a4%be%e0%a4%a8/109015 Sun, 25 Feb 2018 07:08:55 +0000 https://tosnews.com/?p=109015 आगरा: लाख दावोंं के बावजूद भी यूपी पुलिस पीडि़त की मदद के बाजय उसको परेशान करने और टकराने में ज्यादा यकीन करती है। ताज नगरी

The post OMG: जब पीडि़त को साथ लेेकर थाने पहुंच गये एसएसपी, जानिए तक क्या हुआ! appeared first on TOS News.

]]>
आगरा: लाख दावोंं के बावजूद भी यूपी पुलिस पीडि़त की मदद के बाजय उसको परेशान करने और टकराने में ज्यादा यकीन करती है। ताज नगरी आगरा में के शाहगंज थाने की पुलिस ने भी एक पीडि़त के साथ ऐसा ही कुछ किया। इसके बाद एसएसपी अमित पाठक पीडि़त को अपने साथ थाने लेकर पहुुंचे और एफआईआर दर्ज कराते हुए पांच पुलिसकर्मियों को लाइन हाजिर कर दिया।

एसएसपी अमित पाठक की इस कार्रवाई से पूरे जिले की फोर्स में हड़कम्प मच गया है। अब किसी की इतनी मचाल नहीं है कि वह पीडि़त को बिना कार्रवाई के थाने से लौटा दे। हुआ यूं कि शनिवार को एक पीडि़त मारपीट की शिकायत लेकर आगरा के शाहगंज थाने पहुंचा था।

उसके साथ कुछ दबंगों ने मारपीट की थी। इसके चलते वह घायल हो गया था। उसने पुलिस से शिकायत की। पीडि़त ने अपने साथ हुई आपबीती बताई तो शाहगंज थाने की पुलिस आरोपियों पर कार्रवाई करने की बजाय उसे थाने से भगा दिया।

इसके बाद पीडि़त अपने परिजनों के साथ इसकी शिकायत लेकर एसएसपी अमित पाठक के पास पहुंच गया। अमित पाठक पीडि़त को लेकर शाहगंज थाने पहुंचे। यहां उन्होंने पहले तो पुलिसकर्मियों को जमकर फटकार लगाई।

इसके बाद इंस्पेक्टर शाहगंज विनय मिश्राए एसएसआई शाहगंज जितेंद्र द्विवेदी और मुंशी संजय समेत 4 को लाइन हाजिर कर दिया। एसएसपी की कार्रवाई से मचा हड़कंप।

The post OMG: जब पीडि़त को साथ लेेकर थाने पहुंच गये एसएसपी, जानिए तक क्या हुआ! appeared first on TOS News.

]]>
Dacoity: लखनऊ मलिहाबाद में फिर डकैतों का धावा, टेलर के घर लूटपाट! https://tosnews.com/%e0%a4%ae%e0%a4%b2%e0%a4%bf%e0%a4%b9%e0%a4%be%e0%a4%ac%e0%a4%be%e0%a4%a6-%e0%a4%ae%e0%a5%87%e0%a4%82-%e0%a4%ab%e0%a4%bf%e0%a4%b0-%e0%a4%a1%e0%a4%95%e0%a5%88%e0%a4%a4%e0%a5%8b%e0%a4%82-%e0%a4%95/102870 Sat, 27 Jan 2018 11:05:57 +0000 https://tosnews.com/?p=102870 लखनऊ: राजधानी में बदमाशों का आतंक थमने का नाम नहीं ले रहा है। 26 जनवरी कर शाम खुद डीजीपी ओपी सिंह मलिहाबाद पहुंचे और पुलिसिंग

The post Dacoity: लखनऊ मलिहाबाद में फिर डकैतों का धावा, टेलर के घर लूटपाट! appeared first on TOS News.

]]>
लखनऊ: राजधानी में बदमाशों का आतंक थमने का नाम नहीं ले रहा है। 26 जनवरी कर शाम खुद डीजीपी ओपी सिंह मलिहाबाद पहुंचे और पुलिसिंग का जायजा लिया। डीजीपी के इस दौरे के बाद रात को ही बदमाशों ने मलिहाबाद के अमानीगंज इलाके में एक टेलर को बंधक बनाकर उसके घर में लूटपाट की वारदात को अंजाम दिया। फिलहाल पुलिस टेलर के घर में हुई लूट की इस घटना को संदिग्ध मान रही है।


मलिहाबाद के अमानीगंज इलाके में टेलर असलम अपने परिवार के साथ रहता है। उसके दो घर हैं और दोनों आमने-सामने बने हैं। एक घर में असलम सिलाई का काम करता है। बताया जाता है कि शुक्रवार की रात असलह सिलाई वाले घर में मौजूद था, जबकि उसकी पत्नी और बेटी दूसरे घर में थीं।

रात करीब तीन बजे असलम पेशाब करने के लिए उठे। इस बीच असलम के घर के बाहर पहले से घात लगाये बैठे बदमाशों ने उसको पकड़ लिया। बदमाशों ने असलम पर असलहा तान दिया औरा उसको पकड़कर बाग के अंदर ले गये। इसके बाद बदमाशों ने असलहे से रुपये और जेवरात के बारे में पूछा।

दो बदमाश असलम को असलहे के बल पर बंधक बनाये रहे, जबकि दो बदमाश असलम के घर में घुस गये। इसके बाद बदमाशों ने असलम के घर से 16 हजार रुपये नकद और एक लाख के जेवरात लूटे और उसको धमकी देते हुए फरार हो गये। पीडि़त असलम का कहना है कि बदमाशों के जाने के बाद यूपी 100 की एक गाड़ी गश्त करते हुए निकली और असलम ने गाड़ी मे मौजूद पुलिस वालों को घटना बतायी। पुलिसकर्मी छानबीन के बाद वापस लौट गये।

शनिवार की सुबह तक जब कोई पुलिस वाला नहीं पहुुंचा तो असलम ने सूचना पुलिस कंट्रोल रूम को दी। एक बार फिर वारदात की सूचना मिलते ही पुलिस के होश उड़ गये। आनन-फानन में एसपी ग्रामीण डा.सतीश कुमार, सीओ मलिहाबाद संतोष सिंह और मलिहाबाद पुलिस भी पहुंच गयी। पुलिस ने छानबीन करते हुए असलम की तहरीर पर रिपोर्ट दर्ज कर ली है। फिलहाल पुलिस असलम के घर में लूट की इस घटना को संदिग्ध बता रही है।

पीडि़त का कहना सभी बदमाश थे नकाबपोश
टेलर असलम का कहना है कि वारदात में शामिल सभी बदमाश नकाबपोश थे और उनके चेहरे गमछे से ढके हुए थे। बदमाश बार-बार उसको गोली मारने की धमकी दे रहे थे। उसने बताया कि असलहे के बल पर बदमाश उसको बाग में ले गये और फिर पर असलहे की नोक पर बंधक बना लिया। उनकी बोली भी सामान्य थी।

पुलिस का कहना क्या बदमाश असलम के घर से निकलने का रहे थे इतजार
टेलर असलम के घर लूटपाट की वारदात को पुलिस संशय में है। पुलिस का कहना है कि टेलर असलम ने जिस तरह पूरी घटना बतायी है उसमें कई छेंद है। ऐसा लग रहा है कि बदमाश असलम के घर के बाहर मौजूद उसके निकलने का इंतजार कर रहे थे। असलम के बयान से लग रहा है कि बदमाशों को इस बात का पता था कि रात में असलम पेशाब करने के लिए अपने घर से निकलेगा।

26 जनवरी की शाम मलिहाबाद पहुंचे थे डीजीपी
चिनहट, काकोरी और मलिहाबाद इलाके में एक के बाद एक डकैती की घटना के बाद प्रदेश के नवनियुक्त डीजीपी ओपी सिंह शुक्रवार की शाम करीब 6 बजे मलिहाबाद कोतवाली पहुंचे। उनके साथ एसएसपी दीपक कुमार सहित अन्य अधिकारी भी मौजूद थे। डीजीपी ने इस दौरान अधिकारियों को ग्रामीण इलाकों में गश्त बढ़ाने और डकैतों को जल्द पकडऩे का आदेश दिया। करीब 25 मिनट रूकने के बाद डीजीपी वापस लौट गये। बड़ी हैरानी की बात यह रही कि डीजीपी के जाने के कुछ ही घंटे के बाद बदमाशों ने मलिहाबाद के अमानीगंज इलाके में वारदात को अंजाम देकर पुलिस को खुली चुनौती दे डाली।

चिनहट और मलिहाबाद कोतवाल पर गिरी गाज
राजधानी लखनऊ में सबसे पहले चिनहट इलाके में 18 जनवरी को एक ठेकेदार के घर में डकैती डाली थी, जबकि एक किसान के घर में भी डकैती डालने की कोशिश की थी। इसके बाद बदमाशों ने 20 जनवरी काकोरी के बनियाखेड़ा और कटौली गांव में डकैती डाली थी। काकोरी के बाद बदमाशों ने 22 जनवरी को मलिहाबाद के मुंशीगंज और सरावां गांव में डकैती डाली थी। अब तक एक भी घटना को खुलासा नहीं हो सका है। 21 जनवरी को एसएसपी ने काकोरी थानाध्यक्ष यशवंत सिंह को निलम्बित कर दिया था। वहीं शनिवार को एसएसपी ने इंस्पेक्टर चिनहट रवीन्द्र नाथ राय और मलिहाबाद प्रभारी अरूण सिंह को भी लाइन हाजिर कर दिया। हुसैनगंज कोतवाली प्रभारी राजकुमार सिंह को चिनहट को प्रभारी बनाया गया है,जबकि क्राइम ब्रांच में तैनात रीतेन्द्र प्रताप सिंह को मलिहाबाद कोतवाली का चार्ज दिया गया है।

अब तक पुलिस के हाथ खाली
चिनहट में 18जनवरी, काकोरी में 20 जनवरी और मलिहबाद में 22 जनवरी को डकैती की घटना को अब तक खुलासा नहीं हो सका है। पुलिस, क्राइम ब्रांच और एसटीएफ की टीमें लगातार डकैतों का सुराग लगने में जुटी हैं ,पर कहीं से कोई सुराग नहीं मिलता दिखा रहा है। वहीं एक के बाद एक घटना से ग्रामीण परेशान हैं तो पुलिस भी रात भर गश्त कर रही है। जेल से रिहा होकर आये डकैतों से लेकर आसपास जनपदों के डकैतों की लोकेशन पता की जा रही है। कुछ संदिग्ध भी पुलिस की हिरासत में है। रात 11 बजे से लेकर सुबह 4 बजे तक पुलिस सरकारी से लेकर प्राइवेट वाहनों से गांव-गांव गश्त कर रही है। पुलिस के अधिकारियोंं का कहना है कि पुलिस की टीम हर संभव कोशिश कर रही है, पर अब तक कोई बड़ी सफलता हाथ नहीं लगी है।

The post Dacoity: लखनऊ मलिहाबाद में फिर डकैतों का धावा, टेलर के घर लूटपाट! appeared first on TOS News.

]]>
पुलिस से नारज दिखे सीएम योगी आदित्यानाथ, लगाई जमकर फटकार, जानिए क्यों? https://tosnews.com/%e0%a4%aa%e0%a5%81%e0%a4%b2%e0%a4%bf%e0%a4%b8-%e0%a4%b8%e0%a5%87-%e0%a4%a8%e0%a4%be%e0%a4%b0%e0%a4%9c-%e0%a4%a6%e0%a4%bf%e0%a4%96%e0%a5%87-%e0%a4%b8%e0%a5%80%e0%a4%8f%e0%a4%ae-%e0%a4%af%e0%a5%8b/102096 Wed, 24 Jan 2018 06:21:20 +0000 https://tosnews.com/?p=102096 लखनऊ: उत्तर प्रदेश की राजधानी और अन्य जनपदों में बढ़ रहे अपराध ग्राफ पर सूबे के मुखिया योगी आदित्यनाथ ने कड़ी नारजगी जतायी है। एक

The post पुलिस से नारज दिखे सीएम योगी आदित्यानाथ, लगाई जमकर फटकार, जानिए क्यों? appeared first on TOS News.

]]>
लखनऊ: उत्तर प्रदेश की राजधानी और अन्य जनपदों में बढ़ रहे अपराध ग्राफ पर सूबे के मुखिया योगी आदित्यनाथ ने कड़ी नारजगी जतायी है। एक सप्ताह में राजधानी में डकैती की तीन बड़ी घटनाओं पर मुख्यमंत्री ने कड़ा रुख अख्तियार किया है। मंगलवार को मुख्यमंत्री ने प्रमुख सचिव गृह अरविंद कुमार के साथ एडीजी कानून-व्यवस्था आनंद कुमार, लखनऊ जोन के एडीजी अभय प्रसाद, आईजी रेंज जय नारायण सिंह और एसएसपी लखनऊ दीपक कुमार को तलब कर वारदात का ब्योरा लिया।


मुख्यमंत्री ने चेतावनी दी कि पुलिस की ढिलाई से सरकार की छवि खराब हो रही है। वारदात का खुलासा कर अपराधियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई करें। उन्होंने कहा कि जो अफसर अपराधियों पर अंकुश नहीं लगा रहे हैं वह पद से हट जाएं। प्रमुख सचिव गृह अरविंद कुमार व एडीजी कानून-व्यवस्था आनंद कुमार ने बताया कि मुख्यमंत्री ने कुछ जिलों में हुए अपराध पर चिंता व्यक्त की है।

वहां के अधिकारियों से जल्द हालात काबू करने को कहा गया है। काकोरी और मलिहाबाद में हुई घटनाओं में बदमाशों की शिनाख्त हो गई है। उन्हें पकडऩे के लिए पुलिस टीमें बनाई गई हैं। सरकार ने हाल के दिनों में हुई घटनाओं के साथ साथ पूर्व में डकैती की अनसुलझी घटनाओं की भी रिपोर्ट तलब की है।

अधिकारियों ने मुख्यमंत्री को भरोसा दिलाया कि जल्द ही पूरे मामले का खुलासा हो जाएगा। सीएम योगी ने अधिकारियों से पूछा कि कैसे लखनऊ में एक हफ्ते में तीन डकैती की घटनाएं हो गईं। अपराधियों का पता लगाएं और उनके खिलाफ तत्काल कड़ी कार्रवाई करें। अधिकारियों ने सीएम को बताया कि लखनऊ में हुई घटनाएं घुमंतू प्रवृत्ति के शातिर अपराधियों ने की हैं।

पूरे लखनऊ जोन में रात दस बजे से सुबह चार बजे तक पुलिस की गश्त कराई जा रही है। कुछ महत्वपूर्ण सुराग भी मिले हैं। अपराधी जल्द ही गिरफ्तार किए जाएंगे।

मुख्यमंत्री ने सहारनपुर में दुर्घटना के बाद डायल 100 द्वारा घायल युवक को अस्पताल न ले जाने की घटना पर भी खासी नाराजगी जताई।

पुलिस इतनी संवेदनहीन कैसे हो सकती है? ऐसी घटनाओं से आम लोगों में पुलिस की छवि खराब होती है। अधिकारियों ने मुख्यमंत्री को आश्वस्त किया कि इस मामले में दोषियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी। मथुरा में एक के बाद एक हो रही वारदात पर मुख्यमंत्री ने नाराजगी जताते हुए कहा कि अपराधियों के खिलाफ क्यों कार्रवाई नहीं हो रही है।

The post पुलिस से नारज दिखे सीएम योगी आदित्यानाथ, लगाई जमकर फटकार, जानिए क्यों? appeared first on TOS News.

]]>
Action: हज दफ्तर की दीवार पर भगवा रंग पुतवाने के मामले में सीएम योगी ने लिया एक्शन! https://tosnews.com/action-%e0%a4%b9%e0%a4%9c-%e0%a4%a6%e0%a4%ab%e0%a5%8d%e0%a4%a4%e0%a4%b0-%e0%a4%95%e0%a5%80-%e0%a4%a6%e0%a5%80%e0%a4%b5%e0%a4%be%e0%a4%b0-%e0%a4%aa%e0%a4%b0-%e0%a4%ad%e0%a4%97%e0%a4%b5%e0%a4%be/100348 Tue, 16 Jan 2018 11:41:09 +0000 https://tosnews.com/?p=100348 लखनऊ: उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में विधान भवन के सामने उत्तर प्रदेश राज्य हज समिति के दफ्तर की दीवार के भगवा रंग पुतवाने के

The post Action: हज दफ्तर की दीवार पर भगवा रंग पुतवाने के मामले में सीएम योगी ने लिया एक्शन! appeared first on TOS News.

]]>
लखनऊ: उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में विधान भवन के सामने उत्तर प्रदेश राज्य हज समिति के दफ्तर की दीवार के भगवा रंग पुतवाने के मामले में सीएम योगी आदित्यनाथ ने बड़ा एक्शन लिया है। सीएम ने सचिव आरपी सिंह पर गाज गिरी आरपी सिंह को हज समिति कार्यालय के सचिव पद पर तैनात थे।


प्रदेश के विधान भवन के सामने विधानसभा मार्ग पर राज्य हज समिति के दफ्तर की बाउंड्री वाल पर भगवा रंग चढ़ता देख विपक्ष ने जमकर हल्ला किया था। राज्य संपत्ति विभाग की ओर से पांच जनवरी को हज समिति की बाहरी दीवार को भगवा रंग में रंगा जा रहा था। इसी मामले मे सीएम योगी आदित्यनाथ ने कार्रवाई करते हुए आरपी सिंह को सचिव पद से हटा दिया।

आरपी सिंह को 13 जनवरी को नोटिस भेजा गया था। प्रदेश में भाजपा की सरकार बनने के बाद मुख्यमंत्री पद पर योगी आदित्यनाथ के आसीन होने पर सूबे में सरकारी दफ्तरों को भगवा करने की लहर चल पड़ी थी। प्रदेश के कई सरकारी विभाग को भगवा कर दिया गया था। इस मामले में सरकार की काफी किरकिरी भी हुई थी। विपक्षी पार्टियों ने सरकार पर भगवा रंग करने के मामले में हमला भी बोला था।

लगातर किसरकिरी होने के बाद हज समिति के दफ्तर पर भगवा रंग के मामले में अल्पसंख्यक कल्याण मंत्री लक्ष्मीनारायण चौधरी के निर्देश पर सरकार ने आखिरकार सचिव आरपी सिंह को पद से हटा दिया है।

हज समिति के दफ्तर की बाहरी दीवार को भगवा करने को लेकर सरकार बैकफुट पर आ गई थी। बीते दिनों अल्पसंख्यक कल्याण मंत्री सचिव आरपी सिंह को कारण बताओं नोटिश भी भेजा गया था। जिसमें हज समिति के दफ्तर को बिना सहमति के बगैर भगवाकरण किये जाने के मामले में स्पष्टीकरण मांगा था।

इसी मामले में सीएम योगी ने आज आरपी सिंह को सचिव पद से हटा दिया। हज समिति के दफ्तर का का रंग बदले जाने पर यूपी के मंत्री मोहसिन रजा ने कहा था कि ऐसी चीजों में विवाद की कोई आवश्यकता नहीं है। भगवा एक ऊर्जावान और उज्ज्वल दिखता रंग हैए इससे इमारत सुंदर दिखती है।

The post Action: हज दफ्तर की दीवार पर भगवा रंग पुतवाने के मामले में सीएम योगी ने लिया एक्शन! appeared first on TOS News.

]]>
BJP ने अपने ही सांसद और विधायक को दिया नोटिस, मांगा स्पष्टीकरण , जानिए क्यों ? https://tosnews.com/bjp-%e0%a4%a8%e0%a5%87-%e0%a4%85%e0%a4%aa%e0%a4%a8%e0%a5%87-%e0%a4%b9%e0%a5%80-%e0%a4%b8%e0%a4%be%e0%a4%82%e0%a4%b8%e0%a4%a6-%e0%a4%94%e0%a4%b0-%e0%a4%b5%e0%a4%bf%e0%a4%a7%e0%a4%be%e0%a4%af%e0%a4%95/100345 Tue, 16 Jan 2018 10:35:15 +0000 https://tosnews.com/?p=100345 लखनऊ: अनुशासनहीनता को लेकर BJP के नेताओं की अब क्लास लगाना शुरू हो गयी है। प्रदेश अध्यक्ष डॉ.महेन्द्र नाथ पांडेय ने सीतापुर और लखीमपुर के

The post BJP ने अपने ही सांसद और विधायक को दिया नोटिस, मांगा स्पष्टीकरण , जानिए क्यों ? appeared first on TOS News.

]]>
लखनऊ: अनुशासनहीनता को लेकर BJP के नेताओं की अब क्लास लगाना शुरू हो गयी है। प्रदेश अध्यक्ष डॉ.महेन्द्र नाथ पांडेय ने सीतापुर और लखीमपुर के नेताओं को कारण बताओ नोटिस जारी कर एक सप्ताह में स्पष्टीकरण मांगा है।


प्रदेश में सांसदों और विधायकों की अनुशासनहीनता से खराब हो रही पार्टी की छवि पर पार्टी के शीर्ष नेतृत्व की नाराजगी के बाद प्रदेश नेतृत्व ने कदम उठाया है। सीतापुर में शनिवार को महोली में कंबल वितरण के दौरान स्थानीय विधायक शशांक त्रिवेदी और धौरहरा की सांसद रेखा वर्मा के बीच विवाद हो गया था।

एक दूसरे से धक्का मुक्की और आरोप प्रत्यारोप सार्वजनिक हुए थे। लखीमपुर में सहकारिता चुनाव में आरक्षण को लेकर भाजपा विधायक योगेश वर्मा की ओर से पार्टी के चुनाव प्रभारी श्यामू पांडेय और विधायक रामकुमार वर्मा से मारपीट व धक्का मुक्की का मामला भी सामने आया था।

प्रदेश अध्यक्ष ने सीतापुर व लखीमपुर की घटनाओं में हुई अनुशासनहीनता पर स्थानीय इकाइयों से पूरी रिपोर्ट मांगी थी। रिपोर्ट के आधार पर सोमवार को पांडेय ने कारण बताओ नोटिस जारी करने के निर्देश दिए।

प्रदेश महामंत्री विद्यासागर सोनकर ने अनुशासनहीनता के लिए लखीमपुर व सीतापुर मामले में सांसदए विधायक व अन्य नेताओं को कारण बताओ नोटिस जारी किया है।

The post BJP ने अपने ही सांसद और विधायक को दिया नोटिस, मांगा स्पष्टीकरण , जानिए क्यों ? appeared first on TOS News.

]]>
Action: एनएचएम भर्ती गड़बड़ी में बड़ी कार्रवाई, महाप्रबंधक को किया गया निलम्बित! https://tosnews.com/96023-2/96023 Wed, 27 Dec 2017 10:53:45 +0000 https://tosnews.com/?p=96023 लखनऊ: राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन यानि एनएचएम भर्ती में हुई गड़बड़ी पर योगी सरकार ने कड़ा एक्शन लिया है। मामले में महाप्रबंधक को जिम्मेदार मानते

The post Action: एनएचएम भर्ती गड़बड़ी में बड़ी कार्रवाई, महाप्रबंधक को किया गया निलम्बित! appeared first on TOS News.

]]>
लखनऊ: राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन यानि एनएचएम भर्ती में हुई गड़बड़ी पर योगी सरकार ने कड़ा एक्शन लिया है। मामले में महाप्रबंधक को जिम्मेदार मानते हुए उन्हें सस्पेंड पर दिया गया है। दरअसल  4688 भर्तियों में भारी गड़बड़ी सामने आई है। इसमें 3 और 8 अंक वाले का तो चयन हो गयाए लेकिन 18 और 64 नंबर पाने वाले अभ्यर्थी चयन सूची से बाहर हो गए।

अभ्यर्थियों ने इस पर सवाल उठाए तो एनएचएम के अफसरों ने अपना दामन बचाने के लिए कहा कि यह अंतिम चयन सूची नहीं है। नया रिजल्ट 24 घंटे बाद जारी होने की बात कही जा रही है। एनएचएम ने 22 जुलाई को एएनएम, स्टाफ नर्स, लैब टेक्नीशियनए लैब अटेंडेंट व पीआरओ की भर्तियों के लिए ऑनलाइन आवेदन मांगे थे।

5 नवंबर को परीक्षा हुई और 22 दिसंबर को रिजल्ट घोषित हो गया।एनएचएम ने परीक्षा कराने वाली कोलकाता की एजेंसी को क्लीनचिट दे दी है। एनएचएम ने भर्ती परीक्षा कराने के लिए कोलकाता के इंस्टीट्यूट ऑफ एजुकेशन एंड एग्जामिनेशन मैनेजमेंट को ठेका दिया था। इसी एजेंसी ने परीक्षा कराई और रिजल्ट एनएचएम के अधिकारियों को दिया। मिशन के अधिकारियों ने भी रिजल्ट जांचे बिना इसे सरकारी वेबसाइट पर अपलोड करा दिया। अब परिणाम में सामने आई गड़बडिय़ों को लेकर एजेंसी और एनएचएम पर उंगलियां उठ रहीं हैं।

एनएचएम के महाप्रबंधक एचआर संदीप सक्सेना ने दावा किया कि जिस एजेंसी को परीक्षा कराने की जिम्मेदारी दी गई थीए उसका चयन भारत सरकार ने किया है। इसलिए किसी गड़बड़ी की संभावना नहीं है। अभी जो परिणाम जारी किए गए हैं वह अंतिम नहीं हैं। स्क्रीनिंग के बाद 24 घंटे के अंदर अंतिम मेरिट सूची जारी की जाएगी।गड़बड़ी सामने आने के बाद एनएचएम ने अपना बचाव करते हुए तर्क दिया कि जिलेवार मेरिट बनाई गई है। हर जिले में अलग.अलग कार्यक्रम जैसे बाल स्वास्?थ्यए नॉन कम्युनिकेबल डिजीज आदि के लिए विज्ञापन जारी किया गया था।

कई जनपदों में पद अधिक थे और आवेदन कम इसलिए वहां मेरिट काफी कम की गई है। एनएचएम के महाप्रबंधक संदीप सक्सेना ने कहा कि स्क्रीनिंग के बाद 24 घंटे के अंदर अंतिम मेरिट सूची जारी कर दी जाएगी।

मामले पर प्रमुख सचिव चिकित्सा स्वास्थ्य प्रशांत त्रिवेदी का कहना है कि रिजल्ट जारी करने में लापरवाही बरतने पर राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन के महाप्रबंधक एचआर के खिलाफ कार्रवाई होगी। अंतिम सूची फिर से जारी की जाएगी। मामले पर चिकित्सा स्वास्थ्य मंत्री सिद्घार्थनाथ सिंह ने कहा कि एचआर स्तर से लापरवाही हुई है। बिना कट ऑफ के रिजल्ट जारी कर दिया गया था। अब सही किया जा रहा है। लापरवाह अधिकारियों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।

The post Action: एनएचएम भर्ती गड़बड़ी में बड़ी कार्रवाई, महाप्रबंधक को किया गया निलम्बित! appeared first on TOS News.

]]>