arrested – TOS News https://tosnews.com Latest Hindi Breaking News and Features Sat, 11 Aug 2018 09:10:27 +0000 en-US hourly 1 https://wordpress.org/?v=4.9.8 https://tosnews.com/wp-content/uploads/2017/03/tosnews-favicon-45x45.png arrested – TOS News https://tosnews.com 32 32 Big News: सेना का नायब सूबेदार निकला वाहन चोर, चोरी की सात गाडिय़ां बरामद! https://tosnews.com/big-news-%e0%a4%b8%e0%a5%87%e0%a4%a8%e0%a4%be-%e0%a4%95%e0%a4%be-%e0%a4%a8%e0%a4%be%e0%a4%af%e0%a4%ac-%e0%a4%b8%e0%a5%82%e0%a4%ac%e0%a5%87%e0%a4%a6%e0%a4%be%e0%a4%b0-%e0%a4%a8%e0%a4%bf%e0%a4%95/141206 Thu, 09 Aug 2018 09:33:36 +0000 https://tosnews.com/?p=141206 लखनऊ: कैण्ट पुलिस ने सेना में नायब सूबेदार को गिरफ्तार किया है। आरोपी कैण्ट इलाके में स्कूटी व बाइक चोरी करता था। पुलिस ने उसके

The post Big News: सेना का नायब सूबेदार निकला वाहन चोर, चोरी की सात गाडिय़ां बरामद! appeared first on TOS News.

]]>
लखनऊ: कैण्ट पुलिस ने सेना में नायब सूबेदार को गिरफ्तार किया है। आरोपी कैण्ट इलाके में स्कूटी व बाइक चोरी करता था। पुलिस ने उसके पास से चोरी की तीन स्कूटी और चार बाइक बरामद की है। आरोपी फरवरी 2017 से अपनी ड्यूटी से गायब था।

सीओ कैण्ट तनु उपाध्याय ने बताया कि कैण्ट इलाके में कुछ माह से वाहन चोरी की घटनाएं बढ़ गयी थीं। इस घटना के खुलासे के लिए पुलिस की एक टीम लगायी गयी थी। छानबीन में पुलिस को वाहन चोरी का एक सीसीटीवी फुटेज मिला। फुटेज में चोर हेलमेट लगाये था। इस आधार पर पुलिस ने अपनी छानबीन को आगे बढ़ाया।

मंगलवार की रात पुलिस ने मुखबिर की सूचना पर आउड्रम रोड लाइन मोड़ से एक स्कूटी सवार संदिग्ध व्यक्ति को पकड़ा। पुलिस ने जब उससे स्कूटी के पेपर मांगे तो वह एक भी पेपर नहीं दिखा सका। इस बीच पुलिस को वाहन चोरी के फुटेज में दिखे रहे चोर का हुलिया स्कूटी सवार के हुलिये से मिलता हुआ दिखा।

शक होने पर पुलिस ने जब पूछताछ की तो आरोपी ने बताया कि उक्त स्कूटी चोरी की है। पूछताछ में उसने अपना नाम अम्बेडकरनगर निवासी सुनील कुमार यादव बताया। इसके बाद पुलिस ने आरोपी की निशानदेही पर एमईएस जंगल से चोरी की दो स्कूटी और चार बाइक बरामद की। सभी गाडिय़ां कैण्ट इलाके से चोरी की गयी थीं।

बीते वर्ष फरवरी माह से ड्यूटी से गायब है आरोपी
सीओ कैण्ट ने बताया कि पकड़ा गया आरोपी सुनील कुमार सेना में नायब सूबेदार है। कुछ समय पहले तक उसकी पोस्टिंग लखनऊ में थी। इसके बाद उसका तबादला आसाम कर दिया गया था। आसाम पहुंचने के बाद आरोपी बीमारी की छुट्टïी लेकर आया था और फरवरी 2017 से आरोपी वापस अपनी ड्यूटी पर ही नहीं गया। इस पर सेना में उसको भगौड़ा घोषित कर दिया था।

सेना के क्वार्टर में किराये पर रह रहा था आरोपी
इंस्पेक्टर कैण्ट ने बताया कि आरोपी सुनील कुमार यादव आसाम से आने के बाद लखनऊ के कैण्ट इलाके में सेना के क्वार्टर में किराये पर रह रहा था। सीओ का कहना है कि इस बात की उम्मीद है कि आरोपी ने और भी कई वाहन चोरी कर बेचे हैं, पर उसने पूछताछ में इस बात का खुलासा नहीं किया है।

The post Big News: सेना का नायब सूबेदार निकला वाहन चोर, चोरी की सात गाडिय़ां बरामद! appeared first on TOS News.

]]>
Shameful: रिश्तों को कलंकित करने वाली घटना, पिता गिरफ्तार! https://tosnews.com/shameful-%e0%a4%b0%e0%a4%bf%e0%a4%b6%e0%a5%8d%e0%a4%a4%e0%a5%8b%e0%a4%82-%e0%a4%95%e0%a5%8b-%e0%a4%95%e0%a4%b2%e0%a4%82%e0%a4%95%e0%a4%bf%e0%a4%a4-%e0%a4%95%e0%a4%b0%e0%a4%a8%e0%a5%87-%e0%a4%b5/140756 Tue, 07 Aug 2018 07:03:23 +0000 https://tosnews.com/?p=140756 लखनऊ: रिश्तों को कलंकित करने वाली एक घटना तहजीब के शहर लखनऊ में घटी है। यह शर्मनाक घटना हसनगंज इलाके में हुई। यहां रहने वाली

The post Shameful: रिश्तों को कलंकित करने वाली घटना, पिता गिरफ्तार! appeared first on TOS News.

]]>
लखनऊ: रिश्तों को कलंकित करने वाली एक घटना तहजीब के शहर लखनऊ में घटी है। यह शर्मनाक घटना हसनगंज इलाके में हुई। यहां रहने वाली एक 15 साल की किशोरी ने अपने ही पिता पर दुराचार करने का गंभीर आरोप लगाया है। फिलहाल पुलिस ने इस मामले में रिपोर्ट दर्ज कर ली है और आरोपी को गिरफ्तार भी कर लिया है। पकड़े गये आरोपी की उम्र 55 साल है।


हसनगंज के खदरा इलाके में एक 55 वर्षीय पूड़ी विक्रेता अपने परिवार के साथ रहता है। बताया जाता है कि उसकी पत्नी घरों में चौका-बर्तन का काम करती है। रविवार की दोपहर आरोपी घर पहुंचा। उस वक्त उसकी 15 साल की बेटी घर पर अकेली थी। आरोप है कि बेटी को अकेला देख आरोपी पर हवस का भूत ऐसा सवार हुआ कि उसने रिश्तों की मर्यादा को तोड़ते हुए अपनी नाबालिग बेटी के साथ दुराचार किया।

सिर्फ इतना ही नहीं आरोपी ने बेटी को इस बारे में किसी को कुछ न बताने की धमकी भी दी। शाम को जब किशोरी की मां अपने काम से वापस घर लौटी तो बेटी का हाल देख वह घबरा गयी। किशोरी की मां ने जब उससे बातचीत की तो किशोरी ने अपने साथ हुई हैवानियत के बारे में मां को बताया। बेटी की बात सुन मां के पैरों तले जमीन ही खिसक गयी। उसने फौरन सूचना पुलिस कंट्रोल रूम को दी।

सूचना मिलते ही हसनगंज पुलिस भी मौके पर पहुंच गयी। मामले की गंभीरता को देखते हुए हसनगंज पुलिस ने फौरन ही इस मामले में आरोपी पिता के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कर ली। देर रात को ही हसनगंज पुलिस ने आरोपी पिता को गिरफ्तार कर लिया। सोमवार को हसनगंज पुलिस ने किशोरी का मेडिकल परीक्षण भी कराया है।

तीन साल पहले जेल से छुटकर आया है आरोपी
इंस्पेक्टर हसनगंज ने बताया कि आरोपी पहले से ही आपराधिक प्रवृति का रहा है। कुछ समय पहले वह हत्या के एक मामले में ठाकुरगंज से गिरफ्तार हुआ था। इसके बाद उसको जेल भेज दिया गया था। काफी साल जेल में रहने के बाद तीन साल पहले ही आरोपी जेल से छूटकर आया है। मौजूदा समय में वह मेडिकल कालेज के पास पूड़ी सब्जी का ठेला लगाता है।

मोहल्ले वाले आरोपी की हरकत सुन रह गये दंग
सोमवार की सुबह आरोपी की इस हरकत की खबर पूरे इलाके में फैल गयी। हर कोई आरोपी की इस हरकत को सुनकर दंग था। लोगों के बीच इस बात की चर्चा थी कि जेल में रहने के बावजूद भी आरोपी अपनी हरकतों से बाज नहीं आया और अब उसने इस तरह बेटी के साथ हैवानियत को अंजाम देकर रिश्तों को भी कलंकित कर दिया है।

The post Shameful: रिश्तों को कलंकित करने वाली घटना, पिता गिरफ्तार! appeared first on TOS News.

]]>
Big News: लखनऊ जिला जेल में बेचा जा रहा है नशीला पदार्थ, सनसनीखेज खुलासा! https://tosnews.com/big-news-%e0%a4%b2%e0%a4%96%e0%a4%a8%e0%a4%8a-%e0%a4%9c%e0%a4%bf%e0%a4%b2%e0%a4%be-%e0%a4%9c%e0%a5%87%e0%a4%b2-%e0%a4%ae%e0%a5%87%e0%a4%82-%e0%a4%ac%e0%a5%87%e0%a4%9a%e0%a4%be-%e0%a4%9c%e0%a4%be/140125 Fri, 03 Aug 2018 12:55:31 +0000 https://tosnews.com/?p=140125 लखनऊ: राजधानी की जिला जेल में खुलेआम नशीला पदार्थ बेचने का कारोबार चल रहा है। इस बात का खुलासा उस वक्त हुआ जब पुलिस ने

The post Big News: लखनऊ जिला जेल में बेचा जा रहा है नशीला पदार्थ, सनसनीखेज खुलासा! appeared first on TOS News.

]]>
लखनऊ: राजधानी की जिला जेल में खुलेआम नशीला पदार्थ बेचने का कारोबार चल रहा है। इस बात का खुलासा उस वक्त हुआ जब पुलिस ने एक मादक पदार्थ तस्कर को गिरफ्तार किया। उसने बताया कि कचहरी पेशी पर आने वाले एक अपराधी को नशीला पदार्थ सप्लाई करता था। इसके बाद उक्त अपराधी वहीं नशीला पदार्थ जेल मेें ले जाकर बेचता था। पुलिस ने पकड़े गये तस्कर के पास जेल में बंद अपराधी की बाइक भी मिली है।


एसपी पश्चिम विकास चंद्र त्रिपाठी ने बताया कि शुक्रवार को वजीरगंज पुलिस कचहरी परिसर में बने लॉकअप की चेकिंग कर वापस लौट रहे थे। इस बीच पुलिस को गेट नम्बर चार के पास एक संदिग्ध युवक नज़र आया। पुलिस जैसे ही उसकी तरफ बढ़ी आरोपी युवक पुलिस को देखते ही भागने लगा। इस पर पुलिस ने आरोपी युवक को दौड़ाकर पकड़ लेसा दफ्तर के पास से पकड़ लिया।

पुलिस ने जब उसकी तलाशी ली तो उसके पास से 50 पुडिय़ा स्मैक और 27 पुडिय़ा गांजा मिला। पूछताछ में पकड़े गये आरोपी ने अपना नाम हुसैनगंज निवासी विकास बताया। पुलिस ने आरोपी के पास से एक बाइक भी बरामद की।

जेल में सप्लाई होता था नशीला पदार्थ
पूछताछ में पकड़े गये विकास ने बेहद ही चौकाने वाला खुलासा किया। उसने बताया कि जेल में बंद एक अपराधी राजा भारती जब भी कोर्ट पेशी पर आता था तो वह उससे मिलने के लिए कचहरी परिसर में बने लॉकअप में आता था। वहीं पर वह राजा भारती को नशीला पदार्थ देता था। इसके बाद आरोपी राजा वहीं नशीला पदार्थ लेकर जेल में बंद बंदियों के हाथ बेचता था। आरोपी विकास के पास से मिली बाइक भी हिस्ट्रीशीटर राजा भारती कि है जो उसकी मां के नाम पर है।

जेल की सुरक्षा व्यवस्था पर फिर उठे सवाल
जेल में मादक पदार्थ की सप्लाई और उसकी बिक्री ने एक बार फिर जेलों की सुरक्षा-व्यवस्था पर सवाल खड़ कर दिये हैं। हाल में ही माफिया डान मुन्ना बजरंगी की बागपत जेल में दिनदहाड़े गोली मारकर हत्या के बाद प्रदेश की जेलों की सुरक्षा व्यवस्था पर सवाल खड़े हुए थे। जेल में खराब सुरक्षा व्यवस्था पर घिरी योगी सरकार ने जेल में सुधार और बेहतर सुरक्षा व्यवस्था के लिए एक कैमिटी का गठन किया था। अभी कैमिटी अपना काम कर रही है। इस बीच लखनऊ जिला जेल में मादक पदार्थ की सप्लाई और उसकी बिक्री का मामला बेहत ही गंभीर है। सवाल उठने लगा है पेशी पर आने वाला आरोपी कैसे बिना चेकिंग के जेल के अंदर मादक पदार्थ ले जा सकता है। कहीं इस पूरे खेल में जेल विभाग से जुड़े लोगों की मिलीभगत तो नहीं है।

The post Big News: लखनऊ जिला जेल में बेचा जा रहा है नशीला पदार्थ, सनसनीखेज खुलासा! appeared first on TOS News.

]]>
मिल गया #SanskritiRai को न्याय, हत्या का पुलिस ने किया खुलासा, जानिए कैसी हुई थी वारदात! https://tosnews.com/%e0%a4%ae%e0%a4%bf%e0%a4%b2-%e0%a4%97%e0%a4%af%e0%a4%be-sanskritirai-%e0%a4%95%e0%a5%8b-%e0%a4%a8%e0%a5%8d%e0%a4%af%e0%a4%be%e0%a4%af-%e0%a4%b9%e0%a4%a4%e0%a5%8d%e0%a4%af%e0%a4%be-%e0%a4%95%e0%a4%be/135669 Fri, 13 Jul 2018 05:10:41 +0000 https://tosnews.com/?p=135669 लखनऊ: पालीटेक्निक की छात्रा#SanskritiRai का लखनऊ पुलिस ने आखिरकार खुलासा कर दिया। संस्कृति राय की हत्या लूट के इरादे से की गयी थी। पुलिस ने

The post मिल गया #SanskritiRai को न्याय, हत्या का पुलिस ने किया खुलासा, जानिए कैसी हुई थी वारदात! appeared first on TOS News.

]]>
लखनऊ: पालीटेक्निक की छात्रा#SanskritiRai का लखनऊ पुलिस ने आखिरकार खुलासा कर दिया। संस्कृति राय की हत्या लूट के इरादे से की गयी थी। पुलिस ने इस मामले में एक आरोपी को गिरफ्तार किया है, जबकि तीन आरोपी अभी फरार हैं। पुलिस ने पकड़े गये आरोपी के पास से संस्कृति राय का लूटा गया बैग, 2200 रुपये, कापी और अन्य कुछ दस्तावेज बरामद किये हैं। इस वारदात में शामिल फरार आरोपियों की तलाश में पुलिस टीम लगी है।


एडीजी जोन राजीव कृष्णा ने बताया कि पालीटेक्निक छात्रा संस्कृति राय की हत्या के मामले में छानबीन कर रही पुलिस को मोबाइल फोन रिकार्ड, सीसीटीवी कैमरों की फुटेज और मुखबिर से कई अहम सुराग मिले थे। पुलिस ने कई लोगों से अलग-अलग बिन्दु पर बातचीत की। शुरू से ही पुलिस इस मामले में यह बात मान कर छानबीन कर रही थी कि संस्कृति की हत्या के पीछे शायद लूट मकसद हो सकता है, पर पुलिस के पास इस बात को साबित करने के लिए कोई सुबूत नहीं था।

वहीं दूसरी तरफ इस मामले की छानबीन एसटीएफ को दे दी गयी। एसटीएफ की टीम ने छानबीन शुरू की पर उसको कोई खास सफलता हाथ नहीं लगी। इस बीच गाजीपुर पुलिस को इस बात का सुराग मिला कि संस्कृति राय मुंशी पुलिया से एक आटो में बैठकर बादशाहनगर रेलवे स्टेशन के लिए निकली थी। पुलिस ने जब सर्विलांस की मदद ली तो कुछ नम्बर पुलिस के हाथ निकले। इस आधार पर काम करते हुए पुलिस को सीतापुर के रामपुर कला के रहने वाले राजेश रैदास के बारे में पता चला।

पुलिस ने जब उसका इतिहास खंगाला तो जानकारी मिली कि वह पेशेवर अपराधी है और उसके खिलाफ 11 आपराधिक मामले दर्ज हैं और वह रामपुर कला का हिस्स्ट्रीशीटर है। राजेश मौजूदा समय में अलीगंज गल्लीमण्डी के पास झोपट-पट्टी में रहता है। इस आधार पर बुधवार की रात गाजीपुर पुलिस ने राजेश रैदास को उठाया। पूछताछ शुरू की गयी तो पहले तो उसने पुलिस को गुमराह किया। इसके बाद पुलिस जब उसके घर पहुंची और तलाशी ली तो पुलिस को राजेश के घर से संस्कृति राय का बैग, 2200 रुपये, बैग में रखी नोटबुक, घरवालों के कुछ फोटोग्राफ और अन्य दस्तावेज मिल गये।

इसके बाद पुलिस ने राजेश से कड़ाई से पूछताछ की तो उसने अपने तीन साथियों संग मिलकर लूट के इरादे से संस्कृति राय की हत्या करने की बात कुबूल ली। एडीजी जोन ने बताया कि इस हत्या में शामिल अन्य आरोपियों की तलाश की जा रही है। एक आरोपी यूपी से भागा हुआ है, पुलिस की टीम उसकी धर-पकड़ के लिए राज्य से भरा गयी है। एडीजी जोन ने संस्कृति राय की हत्या का खुलासा करने वाली पुलिस टीम को 20 हजार रुपये का नकद इनाम देने की घोषणा की है।

इस तरह की गयी थी हत्या
एडीजी जोन राजीव कृष्णा ने बताया कि पकड़े गये आरोपी राजेश के साथ उसके तीन साथी एक आटो में सवार थे। संस्कृति राय को आटो में बैठाने से एक घंटा पहले सभी ने मिलकर गल्लामण्डी के पास देशी शराब के ठेके पर शराब पी थी। इसके बाद आरोपियों ने लूट का प्लान बनाया। वह लोग आटो लेकर मुंशी पुलिया पहुंचे। साढ़े आठ बजे के करीब संस्कृति राय बैग लेकर मुंशी पुलिया पहुंची। वह बादशाहनगर रेलवे स्टेशन जाने के लिए सवारी तलाश रही थी। इस बीच आरोपी उसके पास आटो लेकर पहुंच गये। संस्कृति राय ने बादशाहनगर रेलवे स्टेशन जाने की बात कही। इस पर पीछे बैठे दो लोग उतर गये। संस्कृति राय पीछे वाली सीट पर बैठ गयी। आटो चालक ने इसके बाद उन दोनों लोगों को फिर से बैठा लिया जो लोग उतर गये थे और चालक ने दोनों सवारी बताया।

आरोपियों ने इस रूट का किया था प्रयोग
आईजी रेंज सुजीत पाण्डेय ने बताया कि मुंशी पुलिया से आटो चलने के कुछ ही देर के बाद आरोपियों ने संस्कृति राय को पकड़ लिया था। इसके बाद आरोपियों ने उसका मुंह कसकर दबा दिया, ताकि वह शोर न मचा सके। मुंशी पुलिया के बाद आरोपी कलेवा, सी ब्लाक, अम्रपाली चौराहा, सेक्टर 25, टेढ़ी पुलिया, भिठौली होते हुए घैला पुल पहुंचे थे। भिठौली के पास आरोपियों ने संस्कृति राय से उसका बैग छीनने की कोशिश की भी, पर उसने विरोध कर दिया था। इस पर एक आरोपी ने संस्कृति राय पर असलहा तान दिया था। असलहा देख संस्कृति राय सहम गयी थी और आरोपी उसको लेकर घैला पुल तक पहुंच गये थे।

आरोपियों ने पुल की रेलिंग से टकराया था संस्कृति का सिर
पकड़े गये आरोपियों ने बताया कि घैला पुल के पास एक सुनसान जगह पर उन लोगों ने आटो को रोक दिया। इसके बाद आरोपियों ने फिर से संस्कृति राय से बैग छीनने की कोशिश की, पर उसने फिर से विरोध कर दिया। विरोध होने पर आरोपियों ने पुल की रेलिंग से संस्कृति राय का सिर टकरा दिया था, जिससे उसको गंभीर चोट लगी थी और वह बेहोश हो गयी थी। इसके बाद आरोपियों ने उसका बैग छीना और उसको पुल के दूसरी तरह अधमरी हालत में छोड़कर फरार हो गये।

8 लाख मोबाइल नम्बर को खंगाला गया था
एडीजी जोन राजीव कृष्णा ने बताया कि संस्कृति राय हत्याकाण्ड पुलिस के बहुत बड़ी चुनौती थी। पुलिस के पास इस हत्या के खुलासे के लिए कोई सुबूत और साक्ष्य नहीं थे। संस्कृति की हत्या पूरी तरह ब्लाइंड मर्डर केस था। इस घटना को लेकर पुलिस ने 278 आटो चालकों, 372 ओला, ऊबर चालकों और संस्कृति राय से जुड़े दर्जनों लोगों से पूछताछ की थी। वहीं संस्कृति राय के घर से लेकर घटनास्थल के पीछे 9 मोबाइल टावर लगे थे। पुलिस ने सभी मोबाइल टावरों से करीब 8 लाख मोबाइल फोन का डाटा बीटीसी से निकाला था। एक-एक कर खंगालने के बाद पुलिस ने 8 लाख लोगों के मोबाइल फोन से 20 हजार नम्बर को अलग किया था। इसके बाद इन 20 हजार लोगों के मोबाइल नम्बर की मदद से संस्कृति राय के मोबाइल फोन और आरोपियों के मोबाइल फोन की लोकेशन मिलान करायी गयी, तब जाकर कुछ नम्बर सामने आये। 15 किलोमीटर के दायरे में पुलिस ने कंट्रोल रूम के सीसीटीवी कैमरे से लेकर प्राइवेट लोगों के कैमरों की फुटेज निकाली थी।

दो फुटेज में पैदल जाते दिखी थी संस्कृति
एडीजी ने बताया कि इन्दिरानगर से मुंशी पुलिया के बीच दो जगह संस्कृति राय की फुटेज पुलिस को मिली थी। पहली फुटेज रात 8.27 मिनट और दूसरी फुटेज 8.31 मिनट की थी। दोनों फुटेज में संस्कृति राय बैग टांगे हुए पैदल जाते दिख रही थी। उसके आगे और पीछे कोई भी संदिग्ध नहीं नज़र आया।

अकेले महिलाओं के सफर पर उठे फिर सवाल
एक तरफ जहां पुलिस ने संस्कृति राय की हत्या का खुलासा कर दिया है, वहीं इस खुलासे ने शहर में महिलाओं के सफर पर भी सवाल खड़े कर दिये हैं। खासकर रात के वक्त अकेली सफर करने वाली महिलाओं की सुरक्षा सवाल के घेरे में है। बदमाशों ने जिस तरह तेज तर्रार पालीटेक्निक की छात्रा संस्कृति राय को अपना शिकार बनाया, उससे यह साफ जाहिर होता है कि शहर में रात के वक्त अकेले महिलाओं का सफर करना सुरक्षित नहीं है। इस सनसनीखेज हत्या का खुलासा करने वाले अधिकारी भी इस बात को मान रहे हैं कि रात के वक्त चलने वाले आटो व कैब वालों की निगरानी बेहद जरूरी है। खुद एडीजी जोन ने बताया कि अब पुलिस को इस बात की जिम्मेदारी दी जा रही है कि वह शहर में आटो, टैम्पो व कैब चलाने वालों का सत्यापन करे और उनकी समय-समय पर चेकिंग भी करे। वहीं उन्होंने बताया कि शहर में कुछ जगहों पर सीसीटीवी कैमरे लगाने की आवश्यकता है। उसके लिए भी काम शुरू किया जा रहा है। पुलिस हाईवे पर कुछ जगहों पर कैमरे लगाने की सोच रही है।

The post मिल गया #SanskritiRai को न्याय, हत्या का पुलिस ने किया खुलासा, जानिए कैसी हुई थी वारदात! appeared first on TOS News.

]]>
Big News: मथुरा में हुआ शिक्षक भर्ती में बड़ा घोटाला, एसटीएफ ने 16 को किया गिरफ्तार! https://tosnews.com/big-news-%e0%a4%ae%e0%a4%a5%e0%a5%81%e0%a4%b0%e0%a4%be-%e0%a4%ae%e0%a5%87%e0%a4%82-%e0%a4%b9%e0%a5%81%e0%a4%86-%e0%a4%b6%e0%a4%bf%e0%a4%95%e0%a5%8d%e0%a4%b7%e0%a4%95-%e0%a4%ad%e0%a4%b0%e0%a5%8d/131021 Wed, 20 Jun 2018 01:46:19 +0000 https://tosnews.com/?p=131021 लखनऊ: उत्तर प्रदेश में वर्ष 2016-17 में बेसिक शिक्षा विभाग मथुरा मेें की गयी शिक्षकों की भर्ती में बड़ी घोटालेबाजी गयी थी। इस धांधली का

The post Big News: मथुरा में हुआ शिक्षक भर्ती में बड़ा घोटाला, एसटीएफ ने 16 को किया गिरफ्तार! appeared first on TOS News.

]]>
लखनऊ: उत्तर प्रदेश में वर्ष 2016-17 में बेसिक शिक्षा विभाग मथुरा मेें की गयी शिक्षकों की भर्ती में बड़ी घोटालेबाजी गयी थी। इस धांधली का खुलासा मंगलवार को यूपी एसटीएफ ने किया है। एसटीएफ ने मथुरा बीएसए दफ्तर में तैनात कनिष्ठï लिपिक सहित 16 लोगों को गिरफ्तार किया है। पकड़े गये आरोपियों ने 13 शिक्षक और दो कम्प्यूटर आपरेटर शामिल हैं। आरोपियों के पास से चार लाख रुपये नकद, पांच मोबाइल फोन, एक कम्प्यूटर और नियुक्ति के संबंध में दस्तावेज मिले हैं। शिक्षक भर्ती में आपात्र लोगों से 10-10 लाख रुपये लेकर उनकी भर्ती की गयी थी।


एडीजी कानून-व्यवस्था आनंद कुमार ने बताया कि कुछ समय पहले इस बात की शिकायत मिली थी कि मथुरा जनपद में वर्ष 2016-17 में हुई जूनियर और प्राइमरी टीचर भर्ती में बड़े पैमाने पर धोखाधड़ी की गयी थी। कई लोगों को फर्जी दस्तावेज के आधार पर नियुक्ति दे दी गयी थी। इस शिकायत को गंभीरता से लेते हुए एसटीएफ को छानबीन के लिए लगाया था।

एसटीएफ ने जब अपनी छानबीन शुरू की तो भर्ती संबंधित पूरी प्रक्रिया में गड़बड़ी मिली। कई चयनित लोगों के दस्तावेज फर्जी पाये गये। इस छानबीन के आधार पर एसटीएफ ने मंगलवार को मथुरा बीएसए दफ्तर में तैनात कनिष्ठï लिपिक मथुरा निवासी महेश शर्मा, सहित मथुरा निवासी मनीश कुमार शर्मा, विंदेश कुमार, देवेन्द्र शिकरवार, दीप करन, मनोज कुमार वर्मा, तेजवीर सिंह, पायल शर्मा, भूपेन्द्र कुमार, योगेन्द्र सिंह, चिंदानंद उर्फ चेतन, मोहित भारद्वाज, सुभाष, रवेन्द्र सिंह और पुष्पेन्द्र सिंह को गिरफ्तार किया। एसटीएफ ने पकड़े गये आरोपियों के पास से चार लाख रुपये, पांच मोबाइल फोन, एक कम्प्यूटर और नियुक्ति संबंधित दस्तावेज मिले।

बीएसए दफ्तर को किया गया सील
एडीजी कानून-व्यवस्था आनंद कुमार ने बताया कि पकड़े गये कनिष्ठï लिपिक महेश शर्मा ने इस धांधलेबाजी में और भी कई लोगों के शामिल होने की बात बतायी है। फिलहाल एसटीएफ मथुरा बीएसए आफिस को सील कर दिया है। एडीजी ने बताया कि अब बीएसए दफ्तर को बीएसए की मौजूदगी में खोला जायेगा और फिर सारे दस्तावेजों की एक-एक कर जांच की जायेगी।

10-10 लाख रुपये लेकर की गयी थी भर्ती
आईजी एसटीएफ ने वर्ष 2016-17 में शिक्षा विभाग में शिक्षकों की भर्ती की जिम्मेदारी कुछ जिलों बीएसए को दी गयी थी। उस वक्त मथुरा जनपद में संजीव कुमार सिंह बीएसए थे। मथुरा जनपद में 257 शिक्षिकोंं की भर्ती हुई थी। इस भर्ती में कई ऐसा लोगों को नौकरी दी गयी थी जो नौकरी की शर्तों को पूरा नहीं करते थे। छानबीन में इस बात का पता चला है कि ऐसा लोगों से 10-10 लाख रुपये लेकर उनको नियुक्ति पत्र दिया गया था। एडीजी ने बताया कि इस मामले में मथुरा के बीएसए की भूमिका की भी जांच की जा रही है।

पकड़े गये कुछ टीचर भी करते थे दलाली
एडीजी कानून-व्यवस्था ने बताया कि एसटीएफ के हत्थे चढ़े कुछ टीचर चेतन, सुभाष, रवेन्द्र सिंह और पुष्पेन्द्र सिंह भी इस धांधली के खेल में शामिल है। उन लोगों ने न सिर्फ फर्जी दस्तावेज के आधार पर नौकरी हासिल की थी, बल्कि इस खेल में दलाली का भी काम किया था।

अब अन्य जिलों में हुई भर्ती की भी हो सकती है जांच
एडीजी कानून-व्यवस्था ने बताया कि शिक्षक भर्ती के संबंध में मथुरा जनपद से शिकायत मिली थी। इस आधार पर छानबीन की गयी और गैंग को पकड़ा गया। अब उस वक्त अन्य जिलों मेें हुई भर्ती पर सवाल उठने लगे हैं। ऐसे में अगर जरूरत पड़ी तो बाकी जिलों में हुई भर्ती की भी जांच करायी जायेगी।

अब तक 100 से अधिक शिक्षक मिले फर्जी
एडीजी आनंद कुमार ने बताया कि अभी तक की गयी जांच में इस बात का पता चला है कि 100 लोग गलत ढंग से नियुक्त हुए थे। उन्होंने बताया कि अभी जांच चल रही तो संख्या और भी बढ़ सकती है। उन्होंने इस बात का भी खुलासा किया हैइ कई शिक्षक तो ऐसे मिले हंै जिन्होंने नौकरी के आवेदन तक नहीं किया था और उनको रुपये लेकर नौकरी दे दी गयी थी।

6 माह से सभी शिक्षक स्कूलों में पढ़ा रहे थे
एडीजी कानून-व्यवस्था आनंद कुमार ने बताया कि फर्जी ढंग से नियुक्ति पाये सभी शिक्षकों को 6 माह पहले अलग-अलग स्कूल में ज्वाइन कराया गया था। इसके बाद पहली ज्वाइनिंग के बाद सभी को दूसरे स्कूल में तबादला कर दिया गया था। उन्होंने बताया कि तबादले के पीछे शायद मकसद यह था कि फर्जी नियुक्ति पाये शिक्षकों के बारे में किसी को कुछ पता न चल सके। 6 माह से सभी शिक्षक अपना वेतन भी पाने लगे थे। उन्होंने बताया कि फर्जी नियुक्ति हासिल करने वाले सैकड़ों शिक्षकों ने वेतन लेकर सरकारी खजाने का नुकसान भी पहुंचाया है।

The post Big News: मथुरा में हुआ शिक्षक भर्ती में बड़ा घोटाला, एसटीएफ ने 16 को किया गिरफ्तार! appeared first on TOS News.

]]>
Rape: एसएसबी जवान ने महिला से किया दुराचार, आरोपी गिरफ्तार! https://tosnews.com/rape-%e0%a4%8f%e0%a4%b8%e0%a4%8f%e0%a4%b8%e0%a4%ac%e0%a5%80-%e0%a4%9c%e0%a4%b5%e0%a4%be%e0%a4%a8-%e0%a4%a8%e0%a5%87-%e0%a4%ae%e0%a4%b9%e0%a4%bf%e0%a4%b2%e0%a4%be-%e0%a4%b8%e0%a5%87-%e0%a4%95%e0%a4%bf/130826 Tue, 19 Jun 2018 04:37:28 +0000 https://tosnews.com/?p=130826 लखनऊ: उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ के विभूतिखण्ड इलाके में रहने वाले एसएसबी के एक जवान ने मकान में किराये पर रहने वाली एक महिला

The post Rape: एसएसबी जवान ने महिला से किया दुराचार, आरोपी गिरफ्तार! appeared first on TOS News.

]]>
लखनऊ: उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ के विभूतिखण्ड इलाके में रहने वाले एसएसबी के एक जवान ने मकान में किराये पर रहने वाली एक महिला से दुराचार किया। घटना के दो दिन बाद तक दोनों परिवारों के बीच पंचायत चली। जब कोई नतीजा नहीं निकला तो पीडि़त महिला ने आरोपी के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज करायी। विभूतिखण्ड पुलिस ने आरोपी एसएसबी जवान को गिरफ्तार कर लिया है।


लखीमपुर जनपद निवासी शिवमंगल सिंह एसएसबी में जवान के पद पर तैनात है। मौजूदा समय वह गोमतीनगर स्थित एसएसबी मुख्यालय में ड्यूटी कर रहा है। शिवमंगल सिंह विभूतिखण्ड के विजयीपुर इलाके में एक मकान में किराये पर रहता है। उसी मकान में एक महिला भी अपने पति के साथ किराये पर रहती है।

बताया जाता है कि 14 जून को महिला घर पर अकेली थी। उसका पति कहीं बाहर गया था। महिला को अकेला देख शिवमंगल की नियत खराब हो गयी। पहले तो वह बहाने से महिला के घर के अंदर पहुंचा। इसके बाद उसने महिला से दुराचार किया।

आरोपी ने महिला को मुंह खोलने पर जान से मारने की धमकी दी। पति के लौटने पर महिला ने अपने साथ हुई घटना के बारे में बताया। इसके बाद दोनों परिवार के लोग जमा हुए। बातचीत और समझौते का दौर चला पर कोई नतीजा नहीं निकल सका।

रविवार को पीडि़त महिला शिकायत लेकर विभूतिखण्ड पुलिस के पास पहुंची। मामला महिला से जुड़ा था तो पुलिस ने फौरन एफआईआर दर्ज कर ली। इस मामले में बीती रात विभूतिखण्ड पुलिस ने आरोपी एसएसबी जवान शिवमंगल सिंह को गिरफ्तार कर लिया।

The post Rape: एसएसबी जवान ने महिला से किया दुराचार, आरोपी गिरफ्तार! appeared first on TOS News.

]]>
Big News: बदमाशों ने दारोगा को मारी गोली, दो बदमाश गिरफ्तार! https://tosnews.com/big-news-%e0%a4%ac%e0%a4%a6%e0%a4%ae%e0%a4%be%e0%a4%b6%e0%a5%8b%e0%a4%82-%e0%a4%a8%e0%a5%87-%e0%a4%a6%e0%a4%be%e0%a4%b0%e0%a5%8b%e0%a4%97%e0%a4%be-%e0%a4%95%e0%a5%8b-%e0%a4%ae%e0%a4%be%e0%a4%b0/126648 Mon, 28 May 2018 07:31:17 +0000 https://tosnews.com/?p=126648 चंदौली: उत्तर प्रदेश के चंदौली जिले के अलीनगर थाने के लौंदा पुलिस चौकी प्रभारी 45 वर्षीय संतोष कुमार को रविवार की देर रात बाइक सवार

The post Big News: बदमाशों ने दारोगा को मारी गोली, दो बदमाश गिरफ्तार! appeared first on TOS News.

]]>
चंदौली: उत्तर प्रदेश के चंदौली जिले के अलीनगर थाने के लौंदा पुलिस चौकी प्रभारी 45 वर्षीय संतोष कुमार को रविवार की देर रात बाइक सवार बदमाशों ने बरहुली पुलिया के पास गोली मार दी। चौकी प्रभारी रात्रि गश्त के दौरान बाइक सवार तीन युवकों से पूछताछ कर रहे थे। गोली मारने के बाद एक बदमाश बाइक लेकर फरार हो गया। वहीं पैदल भाग रहे दो बदमाशों को ग्रामीणों ने पकड़कर जमकर धुनाई के बाद पुलिस के हवाले कर दिया। घटना की जानकारी होने पर एसपी समेत पुलिस फोर्स पहुंच गई। बांयी तरफ सीने में गोली लगने से जख्मी दरोगा संतोष कुमार को ट्रामा सेंटर वाराणसी भर्ती कराया गया है।


इलाहाबाद के मूल निवासी एसआई संतोष कुमार अलीनगर थाने के लौंदा पुलिस चौकी पर प्रभारी के पद पर तैनात है। वह रविवार की रात बाइक से रात्रि गश्त पर निकले थे। साथ में दूसरी बाइक पर सिपाही पंकज और राजेंद्र भी थे। नेशनल हाईवे पर रेवसा गांव के सामने चौकी प्रभारी संतोष सिंह बरहुली झंडापर मोड़ से मुड़ गए।

वहीं दोनों सिपाही को आगे के मोड़ बरहुली वर से गश्त करते हुए आने को कहा। रास्ते में पुलिया के समीप एक बाइक पर तीन युवकों को देख चौकी प्रभारी संतोष कुमार ने रोक लिया। युवकों ने पूछताछ में खुद को कमालपुर कस्बा का निवासी बताया। गाड़ी का कागजात मांगने पर एक युवक डिक्की खोलने लगा। डिक्की से तमंचा निकालकर दरोगा संतोष कुमार पर फायरिंग कर दी।

गोली सीने पर लगने से संतोष कुमार लहूलुहान हो गए। गोली की आवाज सुनकर ग्रामीणों की नींद खुल गई और घटनास्थल की ओर दौड़ पड़े। इसी बीच एक बदमाश बाइक लेकर फरार हो गया। पैदल भाग रहे दो बदमाशों को ग्रामीणों ने दौड़कर पकड़ लिया। ग्रामीणों ने दोनों बदमाशों की जमकर धुनाई की। सिपाहियों की सूचना पर एसपी संतोष सिंह, सीओ सदर प्रदीप सिंह चंदेल, अलीनगर थाना प्रभारी अतुल नारायण सिंह मयफोर्स पहुंच गए।

पुलिस ने तत्काल एम्बुलेंस मंगाकर घायल दरोगा और दोनों बदमाशों को जिला अस्पताल भिजवाया। जहां हालत नाजुक देख डॉक्टरों ने दरोगा संतोष कुमार को ट्रामा सेंटर वाराणसी रेफर कर दिया।

एसपी संतोष सिंह ने बताया कि गिरफ्तार दो आरोपितों से पूछताछ की जा रही है। वहीं फरार बदमाश की तलाश जारी है। उन्होंने बताया कि आरोपितों के आपराधिक रिकॉर्ड भी खंगाले जा रहे हैं। गिरफ्तार बदमाश की पहचान कृष्णा विश्वकर्मा निवासी कमालपुर थाना धीना और पंकज जायसवाल कमालपुर थाना धीना के रूप में हुई है। फरार हो गया बदमाश अभिषेक मौर्या मागलपुरए धीना थाना का निवासी है।बाइक पुलिस के कब्जे में है

The post Big News: बदमाशों ने दारोगा को मारी गोली, दो बदमाश गिरफ्तार! appeared first on TOS News.

]]>
Dacoit:तीन जिलों में डकैती डालने वाला 50 हजार रुपये का इनामी डकैत एसटीएफ के हत्थे चढ़ा! https://tosnews.com/dacoit%e0%a4%a4%e0%a5%80%e0%a4%a8-%e0%a4%9c%e0%a4%bf%e0%a4%b2%e0%a5%8b%e0%a4%82-%e0%a4%ae%e0%a5%87%e0%a4%82-%e0%a4%a1%e0%a4%95%e0%a5%88%e0%a4%a4%e0%a5%80-%e0%a4%a1%e0%a4%be%e0%a4%b2%e0%a4%a8%e0%a5%87/126430 Sun, 27 May 2018 06:51:18 +0000 https://tosnews.com/?p=126430 लखनऊ: यूपी के बाराबंकी फिर लखनऊ और उसके बाद फर्रूखाबाद जनपद में ताबड़तोड़ डकैती व हत्या की वारदात को अंजाम देने वाले बावरिया गैंग के

The post Dacoit:तीन जिलों में डकैती डालने वाला 50 हजार रुपये का इनामी डकैत एसटीएफ के हत्थे चढ़ा! appeared first on TOS News.

]]>
लखनऊ: यूपी के बाराबंकी फिर लखनऊ और उसके बाद फर्रूखाबाद जनपद में ताबड़तोड़ डकैती व हत्या की वारदात को अंजाम देने वाले बावरिया गैंग के 50 हजार रुपये के इनामी बदमाश को शुक्रवार को एसटीएफ ने रामपुर जनपद से गिरफ्तार किया। पकड़े गये डकैत के पास से काकोरी इलाके से लूटे गये कुछ जेवरात और एक तमंचा मिला। इस मामले में लखनऊ पुलिस और एटीएफ ने पांच बदमाशों को पहले ही पकड़ा था।


एसटीएफ से मिली जानकारी के अनुसार जनवरी माह में बाराबंकी, लखनऊ और फर्रूखाबाद जनपद में एक साथ कई घरों में डकैती और हत्या की घटनाएं घटी थीं। इन घटनाओं का खुलासा करते हुए लखनऊ की कृष्णानगर पुलिस ने 3 फरवरी को मुठभेड़ के दौरान चार बदमाशों राजेश उर्फ पेटला, मनोज उर्फ छोटू उर्फ राकेश, राजू उर्फ रमेश तथा महेन्द्र को गिरफ्तार किया था।

पकड़े गये बदमाशों ने अपने पूरे गैंग के साथ मिलकर बाराबंकी, लखनऊ व फर्रूखाबाद जनपद मेें डकैती की वारदात को अंजाम देने की बात कुबूली थी। मौके से डकैतों के कुछ साथी भागने में सफल भी रहे थे। इसके बाद एसटीएफ ने 7 फरवरी को गैंग के लीडर विनोद को गिरफ्तार किया था। डकैतों के इस गैंग में शामिल बदमाश कालिया, रामवीर और दयाराम फरार चल रहे थे। फरार डकैतों की गिरफ्तारी पर इनाम भी घोषित किया गया था।

रामपुर अपने रिश्तेदार के घर जाते वक्त दबोचा गया डकैत
फरार डकैत 50 हजार रुपये के इनामी हरियाणा निवासी दयाराम के बारे में एसटीएफ को इस बात की सूचना मिली कि उसका रामपुर जनपद में अपने एक रिश्तेदार के घर आना-जाना रहता है। शुक्रवार को एसटीएफ को सूचना मिली कि आरोपी दयाराम रामपुर आने वाला है। इस सूचना पर एसटीएफ की टीम ने गडढ़ा कालोनी के पास घेराबंदी करते हुए डकैत दयाराम को गिरफ्तार कर लिया गया। मौजूदा समय में आरोपी दयाराम राजस्थान में रह रहा था।

चिनहट इलाके से बरामद हुए जेवरात व तमंचा
पकड़े गये बदमाश दयाराम ने एसटीएफ को बताया कि उसने डकैती के दौरान मिले कुछ जेवरात और एक तमंचा चिनहट के सतरिख इलाके में एक खाली प्लाट में छुपाकर रखा गया है। इसके बाद एसटीएफ की टीम आरोपी को लेकर लखनऊ पहुंची और उसकी निशानदेही पर से काकोरी इलाके से लूटे गये कुछ जेवरात और एक तमंचा बरामद किया गया।

कई अन्य राज्यों में डकैती की वारदात को अंजाम देने की बात कुबूली
एसटीएफ का कहना है कि पूछताछ में पकड़े गये डकैत दयाराम ने बताया कि उसने अपने गैंग के साथ मिलकर उत्तराखण्ड, हरियाणा व राजस्थान में भी कई घटनाओं को अंजाम दिया है। बीते वर्ष नवम्बर व दिसम्बर माह मेें बाराबंकी और फिर जनवरी माह में लखनऊ के चिनहट, काकोरी, मलिहाबाद और फर्रूखाबाद जनपद में डकैती की घटनाओंं को अंजाम दिया था।

The post Dacoit:तीन जिलों में डकैती डालने वाला 50 हजार रुपये का इनामी डकैत एसटीएफ के हत्थे चढ़ा! appeared first on TOS News.

]]>
Big Breaking: सहारनपुर में की जा रही थी दंगा भड़काने की कोशिश, मेरठ पुलिस ने किया चौकाने वाला खुलासा! https://tosnews.com/big-breaking-%e0%a4%b8%e0%a4%b9%e0%a4%be%e0%a4%b0%e0%a4%a8%e0%a4%aa%e0%a5%81%e0%a4%b0-%e0%a4%ae%e0%a5%87%e0%a4%82-%e0%a4%95%e0%a5%80-%e0%a4%9c%e0%a4%be-%e0%a4%b0%e0%a4%b9%e0%a5%80-%e0%a4%a5%e0%a5%80/123726 Sun, 13 May 2018 09:04:55 +0000 https://tosnews.com/?p=123726 मेरठ: यूपी के सहारनपुर जनपद में भीम आर्मी के जिलाध्यक्ष के भाई सचिन वालिया की मौत के बाद कुछ लोग दंगा भड़काने की साजिश रच

The post Big Breaking: सहारनपुर में की जा रही थी दंगा भड़काने की कोशिश, मेरठ पुलिस ने किया चौकाने वाला खुलासा! appeared first on TOS News.

]]>
मेरठ: यूपी के सहारनपुर जनपद में भीम आर्मी के जिलाध्यक्ष के भाई सचिन वालिया की मौत के बाद कुछ लोग दंगा भड़काने की साजिश रच रहे थे। इस बात का खुलसा करते हुए मेरठ पुलिस ने इस मामले में छह लोगों को गिरफ्तार किया है। इनके कब्जे से सात मोबाइल फोन बरामद हुए हैं।
पकड़े गये लोग के मोबाइलों की व्हाट्सएप और मैसेंजर चैटिंग में हिंसा भड़काने की साजिश पता चला है।

यह लोग करीब 20 से ज्यादा व्हाट्स एप ग्रुप पर माहौल खराब कर दंगा भड़काने की साजिश में लोगों को इस मुहिम से जोड़ रहे थे। रविवार को मेरठ पुलिस लाइन सभागार में एडीजी प्रशांत कुमार, आईजी रामकुमार वर्मा और एसएसपी राजेश पांडे ने इसका खुलासा किया। पकड़े गए आरोपी राहुल, नितिन, दीपक, बंटी, सत्यवीर और रविंदर हैं।

एडीजी के मुताबिक जानकारी मिली थी कि कुछ लोग सचिन वालिया की मृत्यु से आहत हैं और एक गिरोह बनाकर किसी बड़ी घटना को अंजाम देने की फिराक में हैं। मामले को देखते हुए क्राइम ब्रांच, सर्विलांस सेल, साइबर सेल और नागरिक पुलिस की संयुक्त टीम बनाकर अधिक जानकारी एकत्र की गई। पुलिस ने सबसे पहले राहुल और नितिन को गिरफ्तार किया।

इनके मोबाइल की छानबीन की गई तो चैटिंग और वॉइस रिकॉर्डिंग के आधार पर सहारनपुर में फिर से दंगा भड़काने की प्लानिंग की पुष्टि हुई। पूछताछ में दोनों आरोपियों ने पुलिस को बताया कि सोशल मीडिया के माध्यम से शुरुआत में 14- 15 साथियों ने सचिन वालिया की मौत का बदला लेने का प्लान बनाया। इसके तहत सहारनपुर में जातीय हिंसा को बढ़ावा देने के मकसद से तैयारी शुरू की गई। इस तैयारी में अवैध असलाह और गाडिय़ों की भी व्यवस्था की गई।

The post Big Breaking: सहारनपुर में की जा रही थी दंगा भड़काने की कोशिश, मेरठ पुलिस ने किया चौकाने वाला खुलासा! appeared first on TOS News.

]]>
Weapon Smugglers: अपराधियों को असलहा देने वाला गैंग को लखनऊ पुलिस ने पकड़ा गया! https://tosnews.com/weapon-smugglers-%e0%a4%85%e0%a4%aa%e0%a4%b0%e0%a4%be%e0%a4%a7%e0%a4%bf%e0%a4%af%e0%a5%8b%e0%a4%82-%e0%a4%95%e0%a5%8b-%e0%a4%85%e0%a4%b8%e0%a4%b2%e0%a4%b9%e0%a4%be-%e0%a4%a6%e0%a5%87%e0%a4%a8/121940 Wed, 02 May 2018 11:02:07 +0000 https://tosnews.com/?p=121940 लखनऊ: अपराधियों को बिहार के मूगेर से असलहा लाकर सप्लाई करने वाले चार असलह तस्करों को राजधानी लखनऊ की कृष्णानगर पुलिस ने गिरफ्तार किया है।

The post Weapon Smugglers: अपराधियों को असलहा देने वाला गैंग को लखनऊ पुलिस ने पकड़ा गया! appeared first on TOS News.

]]>
लखनऊ: अपराधियों को बिहार के मूगेर से असलहा लाकर सप्लाई करने वाले चार असलह तस्करों को राजधानी लखनऊ की कृष्णानगर पुलिस ने गिरफ्तार किया है। पुलिस ने पकड़े गये तस्करों के पास एक पिस्टल, दो तमंचे, कारतूस, 1.07 लाख रुपये और तस्करी के लिए प्रयोग की जाने वाली कार भी बरामद की है।


एसपी पूर्वी सर्वेश कुमार मिश्र ने बताया कि कृष्णानगर पुलिस ने बीती रात मुखबिर की सूचना पर डीआरएम आफिस के पास इलाके से एक आल्टो कार सवार चार असलह तस्करों को गिरफ्तार किया है। पुलिस ने उनके पास से एक पिस्टल, दो तमंचे, 27 कारतूस और 1.07 लाख रुपये बरामद किये।

पूछताछ की गयी तो पकड़े गये आरोपियों ने अपना नाम ठाकुरगंज निवासी शहंशाह खान,अफताब, शहनवाज और सलीम बताया। तस्करों के गैंग का लीडर शहंशाह है। उसने बताया कि वह बिहार से कुछ लोगों से असलहा मंगवा कर राजधानी और उसके आसपास के इलाके में बेचता था। गैंग लीडर शहंशाह के खिलाफ चौक कोतवाली में हत्या के प्रयास और आम्र्स एक्ट के तहत पहले से भी रिपोर्ट दर्ज है।

पूछताछ मेेंं पकड़े गये आरोपियों ने बताया कि वह लोग असलहा तस्करी कर अब तक मोटी रकम कमा चुके हैं। आरोपी शाहखर्ची और अपने शौक पूरे करने के लिए असलहों की सप्लाई करते थे। इंस्पेक्टर कृष्णानगर अंजनी पाण्डेय ने बताया कि पकड़े गये आरोपियों ने इस धंधे से जुड़े कुछ लोगों के नाम भी पुलिस को बताये हैं। पुलिस की टीम उन लोगों के बारे में पता लगा रही है।

20 हजार में पिस्टल और 5 हजार में तमंचा बेचते थे
एसपी पूर्वी सर्वेश कुमार मिश्र ने बताया कि आरोपी बिहार के मूगेर से अलसहा मंगवाते थे। इसके बाद एक पिस्टल को यह लोग 20 हजार रुपये और तमंचे को 5 हजार रुपये में बेचते थे। पुलिस पकड़े गये आरोपियों से इस बात का भी पता लगा रही है कि इन लोगों ने किन-किन लोगों के हाथ अब तक असलहे बेचे हैं। उन्होंने बताया कि अगर जरुरत पड़ी तो पूछताछ के लिए आरोपियों को पुलिस रिमाण्ड पर लिया जायेगा।

The post Weapon Smugglers: अपराधियों को असलहा देने वाला गैंग को लखनऊ पुलिस ने पकड़ा गया! appeared first on TOS News.

]]>