#ayodha – TOS News https://tosnews.com Latest Hindi Breaking News and Features Tue, 14 Aug 2018 12:12:41 +0000 en-US hourly 1 https://wordpress.org/?v=4.9.8 https://tosnews.com/wp-content/uploads/2017/03/tosnews-favicon-45x45.png #ayodha – TOS News https://tosnews.com 32 32 Big News: सुलाह की राह पर चले मौलाना सलमान को बोर्ड से निकाला गया, जानिए क्यों! https://tosnews.com/big-news-%e0%a4%b8%e0%a5%81%e0%a4%b2%e0%a4%be%e0%a4%b9-%e0%a4%95%e0%a5%80-%e0%a4%b0%e0%a4%be%e0%a4%b9-%e0%a4%aa%e0%a4%b0-%e0%a4%9a%e0%a4%b2%e0%a5%87-%e0%a4%ae%e0%a5%8c%e0%a4%b2%e0%a4%be%e0%a4%a8/106135 Sun, 11 Feb 2018 11:45:29 +0000 https://tosnews.com/?p=106135 लखनऊ: अयोध्या विवाद को कोर्ट से बाहर सुलझाने का फॉर्मूला देने वाले मौलाना सलमान नदवी को ऑल इंडिया मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड से बाहर निकाल

The post Big News: सुलाह की राह पर चले मौलाना सलमान को बोर्ड से निकाला गया, जानिए क्यों! appeared first on TOS News.

]]>
लखनऊ: अयोध्या विवाद को कोर्ट से बाहर सुलझाने का फॉर्मूला देने वाले मौलाना सलमान नदवी को ऑल इंडिया मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड से बाहर निकाल दिया गया है। नदवी ने अयोध्या विवाद को सुलझाने के लिए सुझाव दिया था कि मंदिर के लिए मस्जिद को शिफ्ट किया जा सकता है।


उनके इस बयान से नाराज बोर्ड ने उन्हें बाहर का रास्ता दिखा दिया। जानकारी के मुताबिक नदवी हैदराबाद में चल रही बोर्ड की मीटिंग में उन्हें बाहर करने का फैसला लिया गया। सलमान नदवी ने कोर्ट के बाहर इस विवाद को सुलझाने की पैरवी की थी।

मुस्लिम समाज के प्रतिनिधि मंडल की तरफ से मौलाना नदवी श्री श्री रविशंकर से मिलने पहुंचे थे। वहां उन्होंने कहा था कि दोनों पक्ष साथ बैठकर फैसला करें। उन्होंने यह भी कहा था कि मस्जिद को वहां से शिफ्ट करके वहां मंदिर बनाया जाना चाहिए।

सलमान को बाहर निकाले जाने के खबर पर ऑल इंडिया मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड के सदस्य कासिम इलियास ने कहा कि बोर्ड अपने पुराने स्टैंड पर कायम है। मस्जिद न ही हटाई जाएगी और न ही शिफ्ट की जाएगी।

सलमान नदवी बोर्ड के स्टैंड से अलग जा रहे थे इसलिए उन्हें बोर्ड से निकाला गया है। इस बयान के अलावा उनके बोर्ड के साथ रिश्ते भी खटास भरे हो गए थे। हैदराबाद में होने वाली बैठक से पहले उन्होंने कहा था कि बोर्ड पर कुछ लोगों का कब्जा हो चला है। इन लोगों को उन्होंने आरएसएस का एजेंट करार दिया था।

The post Big News: सुलाह की राह पर चले मौलाना सलमान को बोर्ड से निकाला गया, जानिए क्यों! appeared first on TOS News.

]]>
Hearing: अयोध्या मामले में आज से होगी सुनवाई, क्या होगा फैसला, भविष्य ही तय करेंगा! https://tosnews.com/hearing-%e0%a4%85%e0%a4%af%e0%a5%8b%e0%a4%a7%e0%a5%8d%e0%a4%af%e0%a4%be-%e0%a4%ae%e0%a4%be%e0%a4%ae%e0%a4%b2%e0%a5%87-%e0%a4%ae%e0%a5%87%e0%a4%82-%e0%a4%86%e0%a4%9c-%e0%a4%b8%e0%a5%87-%e0%a4%b9/105356 Thu, 08 Feb 2018 04:41:34 +0000 https://tosnews.com/?p=105356 नई दिल्ली: देश कर राजनीति से लेकर धर्म और अस्था का मुद रहे अयोध्या विवाद एक बार फिर चर्चा में है। इस विवाद में फैसला

The post Hearing: अयोध्या मामले में आज से होगी सुनवाई, क्या होगा फैसला, भविष्य ही तय करेंगा! appeared first on TOS News.

]]>
नई दिल्ली: देश कर राजनीति से लेकर धर्म और अस्था का मुद रहे अयोध्या विवाद एक बार फिर चर्चा में है। इस विवाद में फैसला देने के लिए 8 फरवरी से सुनवाई शुरू करने जा रहा है। विश्व हिंदू परिषद को उम्मीद है कि इस बार सुनवाई नहीं टलेगी और लगभग तीन शताब्दी से अधिक समय से चल रहे इस विवाद को 21वीं सदी में समाधान मिल ही जाएगा।


बावजूद इसके यह आशंकाएं भी लोगों को परेशान कर रही हैं कि क्या न्यायालय के लिए इस मामले पर फैसला करना बहुत आसान है और क्या उस निर्णय को सभी पक्ष स्वीकार कर लेंगे। आशंका व्यक्त करने वालों के अपने तर्क हैं। इनका कहना है कि 2010 में उच्च न्यायालय का फैसला आने के पहले जो न्यायालय के निर्णय को स्वीकार करने की बात कर रहे थे वही बाद में पलट गए।

हाशिम अंसारी जैसे पक्षकार जिन्होंने फैसले के तुरंत बाद उसे स्वीकार करने की बात ही नहीं कही थी बल्कि यह भी कहा था कि बहुत हो गया। अब वह इस मामले को आगे नहीं बढ़ाना चाहते को भी बाद में अपना नजरिया बदलने को मजबूर होना पड़ा। हालांकि कहा यह भी जाता है कि हाशिम को कुछ बड़े लोगों के दबाव में अपना बयान बदलना पड़ा था।

जो भी हो लेकिन उदाहरण यही मिलते हैं कि न्यायालय का निर्णय जिसके प्रतिकूल गया तो वह सर्वोच्च न्यायालय चला गया। भले ही सभी पक्षकार सार्वजनिक रूप से कह रहे हों कि श्रीराम जन्मभूमि बनाम बाबरी मस्जिद विवाद राजनीतिक नहीं है। पर सच यही है कि इस विवाद ने आज पूरी तरह राजनीति को प्रभावित कर रखा है।

अगर यह कहा जाए कि इस मुद्दे का पूरी तरह राजनीतिकरण हो चुका है तो भी गलत नहीं होगी। इसलिए भी इस मामले का फैसला बहुत सरल नहीं रह गया है। सुनवाई के चलते अयोध्या और श्रीराम मंदिर मुद्दा देश और प्रदेश के सियासी पारे को भी चढ़ाएगा।

खास तौर से उत्तर प्रदेश में इस मुद्दे पर जबर्दस्त राजनीतिक हलचल रहने की उम्मीद है। कारण, राजनीतिक दल किसी न किसी बहाने इस मुद्दे को धार देकर सियासी समीकरणों को अपने पक्ष में दुरुस्त करने की कोशिश जरूर करेंगे। सुप्रीम कोर्ट का फैसला क्या होगा और उसे सभी पक्ष स्वीकार करेंगे या नहीं यह तो भविष्य में पता चलेगा लेकिन अगले कुछ दिनों तक यह मुद्दा सड़क से लेकर सदन तक छाया रहेगाए इसमें दो राय नहीं है।

एक तो संयोग से जिस दिन सुनवाई शुरू हो रही है उसी दिन प्रदेश में विधान मंडल सत्र शुरू हो रहा है। दिल्ली में संसद का सत्र चल ही रहा है। स्वाभाविक रूप से सदनों में भी यह मामला किसी न किसी रूप में जरूर गूंजेगा।

The post Hearing: अयोध्या मामले में आज से होगी सुनवाई, क्या होगा फैसला, भविष्य ही तय करेंगा! appeared first on TOS News.

]]>
Politics: सुनवाई टली, पर बयानबाजी हुई तेज, बीजेपी ने राहुल को बताया बाबर भक्त! https://tosnews.com/politics-%e0%a4%b8%e0%a5%81%e0%a4%a8%e0%a4%b5%e0%a4%be%e0%a4%88-%e0%a4%9f%e0%a4%b2%e0%a5%80-%e0%a4%aa%e0%a4%b0-%e0%a4%ac%e0%a4%af%e0%a4%be%e0%a4%a8%e0%a4%ac%e0%a4%be%e0%a4%9c%e0%a5%80-%e0%a4%b9/91392 Wed, 06 Dec 2017 07:14:09 +0000 https://tosnews.com/?p=91392 नई दिल्ली: अयोध्या के राम मंदिर- बाबरी मस्जिद विवाद की सुनवाई को भले ही सुप्रीम कोर्ट ने 8 फरवरीए 2018 तक के लिए टाल दिया

The post Politics: सुनवाई टली, पर बयानबाजी हुई तेज, बीजेपी ने राहुल को बताया बाबर भक्त! appeared first on TOS News.

]]>
नई दिल्ली: अयोध्या के राम मंदिर- बाबरी मस्जिद विवाद की सुनवाई को भले ही सुप्रीम कोर्ट ने 8 फरवरीए 2018 तक के लिए टाल दिया है। बावजूद इसके इस मुद्दे पर राजनीति और राजनीति से भरे बयानबाजी तेज हो गयें हैं।

बीजेपी के प्रवक्ता जीवीएल नरसिम्हा राव ने कांग्रेस और राहुल गांधी पर तीखा हमला बोला है। बाबरी विध्वंस की 25वीं बरसी के मौके पर ट्वीट करते हुए नरसिम्हा राव ने राहुल गांधी को बाबर भक्त और खिलजी का रिश्तेदार बता डाला। नर सिम्हा ने ट्विट किया की अयोध्या में राम मंदिर का विरोध करने के लिए राहुल गांधी ने ओवैसियों और जिलानियों से हाथ मिला लिया है।

राहुल गांधी निश्वित रूप से एक बाबर भक्त और खिलजी के रिश्तेदार हैं। बाबर ने राम मंदिर को नष्ट कर दिया और खिलजी ने सोमनाथ को लूट लिया। नेहरू वंश दोनों इस्लामी आक्रमणकारियों के पक्ष मे! इस पर प्रतिक्रिया देते हुए कांग्रेस प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने कहा कि गुजरात में हार सामने देखकर बीजेपी बौखला गई है।

मंगलवार को सुप्रीम कोर्ट में अयोध्या मसले की सुनवाई के दौरान सुन्नी वक्फ बोर्ड की ओर से अधिवक्ता कपिल सिब्बल ने मामले की सुनवाई को 2019 के आम चुनाव तक टालने की मांग की थी। माना जा रहा है नरसिम्हा राव ने कपिल सिब्बल की इस दलील को लेकर ही कांग्रेस और राहुल गांधी पर हमला बोला है। सिब्बल ने अदालत में कहा था कि अभी तक कागजी कार्रवाई भी पूरी नहीं हुई है। कोर्ट के फैसले का देश में बड़ा असर पड़ेगा और मामले में जल्द सुनवाई की जरूरत नहीं है।

The post Politics: सुनवाई टली, पर बयानबाजी हुई तेज, बीजेपी ने राहुल को बताया बाबर भक्त! appeared first on TOS News.

]]>
Ram Mandir: आरएसएस प्रमुख का राम मंदिर मुद्दे पर आया बड़ा बयान, जानिए क्या कहा! https://tosnews.com/ram-mandir-%e0%a4%86%e0%a4%b0%e0%a4%8f%e0%a4%b8%e0%a4%8f%e0%a4%b8-%e0%a4%aa%e0%a5%8d%e0%a4%b0%e0%a4%ae%e0%a5%81%e0%a4%96-%e0%a4%95%e0%a4%be-%e0%a4%b0%e0%a4%be%e0%a4%ae-%e0%a4%ae%e0%a4%82%e0%a4%a6/88778 Fri, 24 Nov 2017 15:23:39 +0000 https://tosnews.com/?p=88778 कर्नाटक: अयोध्या मामले को लेकर मध्यस्थता की पहल को लेकर एक बड़ा झटका लगा है। आरएसएस के प्रमुख मोहन भागवत ने राम मंदिर निर्माण पर

The post Ram Mandir: आरएसएस प्रमुख का राम मंदिर मुद्दे पर आया बड़ा बयान, जानिए क्या कहा! appeared first on TOS News.

]]>
कर्नाटक: अयोध्या मामले को लेकर मध्यस्थता की पहल को लेकर एक बड़ा झटका लगा है। आरएसएस के प्रमुख मोहन भागवत ने राम मंदिर निर्माण पर बड़ा बयान दिया है। शुक्रवार को उन्होंने कहा है कि अयोध्या में सिर्फ राम मंदिर बनेगा। वहां कोई दूसरा ढांचा नहीं खड़ा होगा। हम राम मंदिर जरूर बनाएंगे। यह लोकलुभावन घोषणा नहीं है बल्कि हमारी आस्था का सवाल है। इसमें कोई बदलाव नहीं होगा।


कर्नाटक के उडुपी शहर में विश्व हिंदू परिषद विहिप के धर्म संसद के उद्घाटन भाषण में भागवत ने कहा कि यह मामला कोर्ट में है लेकिन इसमें कोई संशय नहीं रहना चाहिए कि अयोध्या में भव्य राम मंदिर का निर्माण किया जाएगा। बरसों के प्रयासों और बलिदान के बाद राम मंदिर का निर्माण अब संभव लग रहा है।

उन्होंने कहा कि अयोध्या में राम की जन्मभूमि पर बनने वाला मंदिर वहां पहले मौजूद मंदिर की तरह ही भव्य होगा। जिसे तोड़कर मुगल शासक बाबर ने मस्जिद का निर्माण करवाया था। राम मंदिर के निर्माण में उन्हीं पत्थरों का इस्तेमाल किया जाएगा जिन्हें इस उद्देश्य के लिए वहां रखा गया है। यह निर्माण उन लोगों की देखरेख में होगा जो पिछले 25 सालों से राम जन्मभूमि आंदोलन की अगुवाई कर रहे हैं।

लेकिन साथ ही यह भी कहा कि मंदिर बनाने से पहले हमें सावधान रहना होगा और इस मामले में जनता को जागरूक बनाने का काम करना होगा। उन्होंने कहा कि हम अपने लक्ष्य को हासिल करने के बेहद करीब है और इस समय हमें ज्यादा सतर्क रहना होगा।

तीन दिन तक चलने वाली धर्म संसद में राम मंदिर के अलावा धर्म परिवर्तन और गोरक्षा के मुद्दों पर भी चर्चा की जाएगी। इस दौरान जाति और लिंग के आधार पर भेदभाव को खत्म करने और हिंदू समाज में समरसता कायम करने के तरीकों पर भी विचार.विमर्श किया जाएगा। विहिप की इस संसद में देश भर से साधु,संतों, मठ प्रमुखों और विहिप के 2000 से ज्यादा प्रतिनिधि भाग ले रहे हैं।

The post Ram Mandir: आरएसएस प्रमुख का राम मंदिर मुद्दे पर आया बड़ा बयान, जानिए क्या कहा! appeared first on TOS News.

]]>
अभी-अभी: अयोध्या मुद्दे को सुलझाने के लिए शिया वक्फ बोर्ड ने पेश किया प्रस्ताव! https://tosnews.com/87548-2/87548 Mon, 20 Nov 2017 07:43:46 +0000 https://tosnews.com/?p=87548 लखनऊ: अब अयोध्या में राम मंदिर मुद्दे को लेकर सोमवार को शिया वक्फ बोर्ड ने एक प्रस्ताव तैयार किया है। इस प्रस्ताव में कहा गया

The post अभी-अभी: अयोध्या मुद्दे को सुलझाने के लिए शिया वक्फ बोर्ड ने पेश किया प्रस्ताव! appeared first on TOS News.

]]>
लखनऊ: अब अयोध्या में राम मंदिर मुद्दे को लेकर सोमवार को शिया वक्फ बोर्ड ने एक प्रस्ताव तैयार किया है। इस प्रस्ताव में कहा गया है कि अयोध्या में भगवान श्रीराम का भव्य मंदिर बनाया जाए और लखनऊ में मस्जिद बनाई जाए।


बोर्ड ने इसके साथ ही एक सुझाव भी दिया है कि इस मस्जिद का नाम किसी शासक पर रखे जाने की बजाय इसे मस्जिद-ए-अमन नाम दिया जाए। शिया वक्फ बोर्ड के अध्यक्ष वसीम रिजवी ने अयोध्या विवाद का हल निकालने के लिए एक प्रस्ताव तैयार किया है।

इसमें कहा गया है कि अयोध्या में विवादित जमीन पर भगवान श्रीराम का मंदिर बनाया जाए ताकि हिंदुओं और मुसलमानों के बीच का विवाद सदा के लिए खत्म हो जाए और देश में अमन कायम हो। इसके साथ ही मस्जिद को अयोध्या में न बनाकर लखनऊ में बनाई जाए। रिजवी के मुताबिक लखनऊ के हुसैनाबाद में घंटा घर के सामने शिया वक्फ बोर्ड की जमीन है जिस पर मस्जिद बनाई जाए।

शिया वक्फ बोर्ड ने अयोध्या के विवादित मामले का र्फामूला 18 नवम्बर को सुप्रीम कोर्ट में जमा करा दिया है। शिया सेंट्रल वक्फ बोर्ड के इस मसौदे पर साइन करने वालों में दिगंबर अखाड़े के सुरेश दास, हनुमान गढ़ी के धर्मदास, निर्मोही अखाड़े के भास्कर दास शामिल हैं। इसके अलावा राम विलास वेदांती, गोपालदास और नरेंद्र गिरी ने भी इसे अपना समर्थन दिया है।

The post अभी-अभी: अयोध्या मुद्दे को सुलझाने के लिए शिया वक्फ बोर्ड ने पेश किया प्रस्ताव! appeared first on TOS News.

]]>
Big News: अभी- अभी श्रीश्री रविशंकर ने की यूपी के सीएम योगी से मुलाकात! https://tosnews.com/big-news-%e0%a4%85%e0%a4%ad%e0%a5%80-%e0%a4%85%e0%a4%ad%e0%a5%80-%e0%a4%b6%e0%a5%8d%e0%a4%b0%e0%a5%80%e0%a4%b6%e0%a5%8d%e0%a4%b0%e0%a5%80-%e0%a4%b0%e0%a4%b5%e0%a4%bf%e0%a4%b6%e0%a4%82%e0%a4%95/86442 Wed, 15 Nov 2017 05:10:22 +0000 https://tosnews.com/?p=86442 लखनऊ: राम मंदिर मामले में आम सहमति बनाने के लिए ऑर्ट ऑफ लिविंग के संस्थापक और आध्यात्मिक गुरू श्रीश्री रविशंकर बुधवार को लखनऊ पहुंचे।

The post Big News: अभी- अभी श्रीश्री रविशंकर ने की यूपी के सीएम योगी से मुलाकात! appeared first on TOS News.

]]>
लखनऊ: राम मंदिर मामले में आम सहमति बनाने के लिए ऑर्ट ऑफ लिविंग के संस्थापक और आध्यात्मिक गुरू श्रीश्री रविशंकर बुधवार को लखनऊ पहुंचे। उन्होंने सुबह मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से मुलाकात की। कुछ देर बाद पंडित अमरनाथ मिश्र के आवास पर कुछ मुस्लिम संगठनों के प्रतिनिधियों से रामजन्मभूमि व बाबरी मस्जिद के मुद्दे पर चर्चा करेंगे।


अयोध्या में राम मंदिर निर्माण और राम मंदिर और बाबरी मस्जिद विवाद के पटाक्षेप में लगे आध्यात्मिक गुरू श्री श्री रविशंकर के आड़े तमाम चुनौतियां हैं। राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघए विश्व हिन्दू परिषद और राम मंदिर न्यास के पदाधिकारी भी अभी श्री श्री की मुहिम पर निगाह गड़ाए बैठे हैं। राम मंदिर निर्माण के लिए बाबरी मस्जिद विवादित ढांचा विध्वंस में आरोपी बनाए गए सूत्र के अनुसार अभी सब कुछ भविष्य की गर्त में है।

डा राम विलास वेदांती का भी कहना है कि राम मंदिर निर्माण की दिशा में कोई भी आम सहमति बनने की स्थिति आने से पहले आयोध्या तथा राम मंदिर आंदोलन से जुड़े साधु संतों को विश्वास में लेना होगा। बजरंग दल के संस्थापक अध्यक्ष और राज्यसभा सांसद विनय कटियार ने कहा कि मुकदमा अदालत में चल रहा है। अदालत से जो भी निर्णय आएगाए उसका मान रखेंगे।

इसलिए सभी पक्षकारों या लोगों को चाहिए कि वह अदालत में शपथ.पत्र के साथ अपनी बात रखें। विनय कटियार ने कहा कि कोई भी समझौता तीन शर्तों के साथ ही हो सकता है। पहला राम मंदिर अयोध्या में अपने स्थान पर बनेगा। दूसरी शर्त यह है कि राम मंदिर की जमीन बंटने नहीं देंगे। राम मंदिर की भूमि का टुकड़ा होना हमें स्वीकार्य नहीं है। श्री श्री के प्रस्तावए प्रयास के बारे में पूछे जाने पर कटियार ने कहा कि उनके प्रयास का स्वागत हैए लेकिन निर्णय तो अदालत से आना है।

जब उच्चतम न्यायालय अपना फैसला सुनाएगा तब देखेंगे। विश्व हिन्दू परिषद के राष्ट्रीय महासचिव ने कहा कि श्री श्री रविशंकर या कोई भी देश का नागरिक राष्ट्र से जुड़ी समस्याओं में अपना योगदान दे सकता है। उसका प्रयास हमेशा स्वागत योग्य है। रहा सवाल मंदिर निर्माण का तो वह होगा। श्री श्री के प्रयास के बारे में पूछे जाने पर चंपत राय ने कहा कि उन्हें नहीं पता रविशंकर के पास कौन सा समाधान है वह जिनसे मिल रहे हैं राय शुमारी कर रहे हैं। वह कौन लोग हैं,उनकी कानूनी स्थिति क्या है?

The post Big News: अभी- अभी श्रीश्री रविशंकर ने की यूपी के सीएम योगी से मुलाकात! appeared first on TOS News.

]]>
सीएम योगी का बड़ा दावा 2019 तक रामराज का सपना होगा पूरा, देखिए अयोध्या की तस्वीरें भी! https://tosnews.com/%e0%a4%b8%e0%a5%80%e0%a4%8f%e0%a4%ae-%e0%a4%af%e0%a5%8b%e0%a4%97%e0%a5%80-%e0%a4%95%e0%a4%be-%e0%a4%ac%e0%a4%a1%e0%a4%bc%e0%a4%be-%e0%a4%a6%e0%a4%be%e0%a4%b5%e0%a4%be-2019-%e0%a4%b8%e0%a5%87-%e0%a4%b0/80712 Wed, 18 Oct 2017 14:23:41 +0000 https://tosnews.com/?p=80712 अयोध्या: राम की नगरी में आज सीएम योगी आदित्यनाथ की मौजूदगी में त्रता युग की तरह दीपावली का जश्न मनाया गया। इस दौरान सीएम योगी

The post सीएम योगी का बड़ा दावा 2019 तक रामराज का सपना होगा पूरा, देखिए अयोध्या की तस्वीरें भी! appeared first on TOS News.

]]>
अयोध्या: राम की नगरी में आज सीएम योगी आदित्यनाथ की मौजूदगी में त्रता युग की तरह दीपावली का जश्न मनाया गया। इस दौरान सीएम योगी ने कहा कि 2019 तक पूरे प्रदेश में रामराज का सपना भी कर लिया जायेगा।


मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने अयोध्या में दीपावली की पूर्व संध्या पर भगवान राम के अयोध्या आगमन पर उनका स्वागत करते हुए कहा कि अयोध्या हमेशा नकारात्मक चर्चा का केंद्र रही है। यह कार्यक्रम नकारात्मक चर्चा को सकारात्मक की ओर ले जाने का एक कदम है।

उन्होंने कहा कि अयोध्या का विकास चार चरणों में पूरा किया जाएगा दीपावली पर यह पहले चरण का आयोजन है। इस मौके पर 135 करोड़ की लागत से विभिन्न योजनाओं का शिलान्यास किया गया। मुख्यमंत्री ने कहा कि सरकार प्रदेश को दुनिया के पर्यटन का हब बनाएगी और इसकी शुरूआत हो चुकी है।

अयोध्या पुराना वैभव प्राप्त करे इस ओर कार्य किए जा रहे हैं। योगी ने कहा कि केंद्र सरकार के प्रयासों से हर किसी की अपनी छत और हर हाथ को रोजगार की परिकल्पना को साकार करने के लिए तेजी से काम किए जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि जिसके पास अपना घर होए घर में रोशनी हो, हर हाथ को काम हो, यही राम राज्य है, और राम राज्य का यह सपना उत्तर प्रदेश में 2019 तक पूरा हो जाएगा।

मुख्यमंत्री ने कहा कि अयोध्या और अन्य पर्यटक स्थलों के विकास के लिए यूपी सरकार पूरी तरह प्रयासरत है। नदियों की संस्कृति और उनके जीवन को बचाने के लिए नदियों की आरती का कार्यक्रम शुरू किया है। इस मौके पर सरयू नदी के तटों पर दो लाख से अधिक मिट्टी के दीपकों से रोशनी की गई। बताया जा रहा है कि अयोध्या में इस तरह का भव्य आयोजन अपनेआप में एक रिकॉर्ड है।

The post सीएम योगी का बड़ा दावा 2019 तक रामराज का सपना होगा पूरा, देखिए अयोध्या की तस्वीरें भी! appeared first on TOS News.

]]>
Big News: इस बार अनौखी होगी अध्योध्या में दिवाली, जानिए कैसे? https://tosnews.com/big-news-%e0%a4%87%e0%a4%b8-%e0%a4%ac%e0%a4%be%e0%a4%b0-%e0%a4%85%e0%a4%a8%e0%a5%8c%e0%a4%96%e0%a5%80-%e0%a4%b9%e0%a5%8b%e0%a4%97%e0%a5%80-%e0%a4%85%e0%a4%a7%e0%a5%8d%e0%a4%af%e0%a5%8b%e0%a4%a7/78760 Tue, 10 Oct 2017 07:17:34 +0000 https://tosnews.com/?p=78760 फैजाबाद: दिवाली के मौके पर 18 अक्टूबर को अयोध्या में होने वाले दीपोत्सव कार्यक्रम में राम की पैड़ी पर 1,71000 दीप जलाए जाएंगे। कार्यक्रम में

The post Big News: इस बार अनौखी होगी अध्योध्या में दिवाली, जानिए कैसे? appeared first on TOS News.

]]>
फैजाबाद: दिवाली के मौके पर 18 अक्टूबर को अयोध्या में होने वाले दीपोत्सव कार्यक्रम में राम की पैड़ी पर 1,71000 दीप जलाए जाएंगे। कार्यक्रम में राज्यपाल राम नाईक, मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, पर्यटन मंत्री डॉ. रीता बहुगुणा जोशी सहित स्थानीय सांसद, विधायक व बड़ी संख्या में श्रद्धालु तथा पर्यटक शामिल होंगे।


प्रमुख सचिव पर्यटन अवनीश अवस्थी ने सोमवार को राजभवन में राज्यपाल के समक्ष अयोध्या के पर्यटन विकास के लिए तैयार नव्य अयोध्या का प्रस्तुतीकरण दिया। राज्यपाल ने प्रस्तुतीकरण की सराहना करते हुए कहा कि अयोध्या को पर्यटन स्थल बनाने के लिए श्रद्धालुओं व पर्यटकों के लिए उच्च कोटि की सुविधाएं तैयार की जाएं। अवस्थी ने बताया कि दीपोत्सव कार्यक्रम में अयोध्या की हेरिटेज वॉक, भगवान श्रीराम के अयोध्या आगमन को दर्शाते हुए भव्य शोभायात्रा, रामकथा पार्क में पूजन-वंदन और श्रीराम के प्रतीकात्मक राज्याभिषेक का आयोजन किया जाएगा।

इसके बाद राज्यपाल व मुख्यमंत्री द्वारा अयोध्या के विकास से जुड़ी योजनाओं का शिलान्यास, प्रधानमंत्री आवास योजना, नए बिजली कनेक्शन तथा अन्य योजनाओं के लाभार्थियों को स्वीकृति पत्र आदि का वितरण होगा। सरयू नदी पर बने नए घाट में राज्यपाल एवं मुख्यमंत्री द्वारा आरती की जाएगी तथा नदी तट पर लेजर शो का आयोजन होगा। कार्यक्रम में इंडोनेशिया और थाईलैंड के कलाकार रामलीला का मंचन भी करेंगे।

अवस्थी ने बताया कि पर्यटन विभाग द्वारा अयोध्या को पर्यटन मानचित्र पर लाने के लिए रामकथा गैलरी, सरयू तट का विकास, रानी हो का स्मारक, घाटों का सुधार विशेषकर गुप्तार घाट जहां भगवान श्रीराम ने जल समाधि ली थीए दिगंबर अखाड़ा परिसर में बहुउद्देश्यीय प्रेक्षागृह का निर्माण, राम की पैड़ी, पर्यटकों के ठहरने के स्थल, सुरक्षा की दृष्टि से सीसीटीवीए पुलिस बूथ, आवागमन के साधन सहित अन्य नागरिक सुविधाएं जैसे शौचालय, जल निकासी के साथ-साथ एनजीटी से अनापत्ति प्रमाण पत्र मिलने पर सरयू तट पर भगवान श्रीराम की भव्य प्रतिमा का निर्माण भी कराया जाएगा।

उन्होंने बताया कि अयोध्या के समेकित पर्यटन विकास के लिए 195,89 करोड़ की डीपीआर केंद्रीय पर्यटन मंत्रालय को भेजी गई थी। केंद्र नेे 133,70 करोड़ की राशि स्वीकृत कर राज्य सरकार को भेज दी है। इस वर्ष अयोध्या में छोटी दिवाली यादगार होगी। 18 अक्टूबर की सुबह 7 से 9 बजे तक राम भजनों के साथ हेरिटेज वॉक होगा तो लंका विजय के बाद भगवान श्रीराम, सीता और लक्ष्मण के दोपहर 2 बजे अयोध्या पहुंचने पर जगह-जगह उनका भव्य स्वागत किया जाएगा। लंका विजय के बाद भगवान राम 2 बजे अयोध्या पहुंचेंगे। साकेत महाविद्यालय से अयोध्या के मुख्य मार्गों से होते हुए राम की शोभायात्रा शाम 4 बजे रामकथा पार्क पहुंचेगी जहां राज्यपाल और मुख्यमंत्री योगी उनका स्वागत करेंगे।

 

The post Big News: इस बार अनौखी होगी अध्योध्या में दिवाली, जानिए कैसे? appeared first on TOS News.

]]>
Breaking: अभी-अभी रामजन्मभूति के प्रमुख पक्षकार महंत भास्कार दास का निधन https://tosnews.com/breaking-%e0%a4%85%e0%a4%ad%e0%a5%80-%e0%a4%85%e0%a4%ad%e0%a5%80-%e0%a4%b0%e0%a4%be%e0%a4%ae%e0%a4%9c%e0%a4%a8%e0%a5%8d%e0%a4%ae%e0%a4%ad%e0%a5%82%e0%a4%a4%e0%a4%bf-%e0%a4%95%e0%a5%87-%e0%a4%aa/73675 Sat, 16 Sep 2017 05:57:53 +0000 https://tosnews.com/?p=73675 फैजाबाद: रामजन्मभूमि के प्रमुख पक्षकार व निर्मोही अखाड़ा के सरपंच महंत भास्कर दास का लंबी बीमारी के बाद अयोध्या में निधन हो गया। मंगलवार को

The post Breaking: अभी-अभी रामजन्मभूति के प्रमुख पक्षकार महंत भास्कार दास का निधन appeared first on TOS News.

]]>
फैजाबाद: रामजन्मभूमि के प्रमुख पक्षकार व निर्मोही अखाड़ा के सरपंच महंत भास्कर दास का लंबी बीमारी के बाद अयोध्या में निधन हो गया। मंगलवार को सांस लेने में तकलीफ और ब्रेन स्ट्रोक होने के बाद उन्हें देवकाली स्थित निजी चिकित्सालय में भर्ती कराया गया था। तभी से उनकी हालत नाजुक बनी हुई थी। 89 वर्षीय महंत भास्कर दास 1959 से राम जन्मभूमि के मुकदमे जुड़े थे। अयोध्या के तुलसीदास घाट पर आज उनका अंतिम संस्कार किया जाएगा। उनको श्रृद्घांजली देने के लिए यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ भी जा सकते हैं।


महंत के करीबियों ने बताया कि वह काफी अरसे से बीमार चल रहे थे। अचानक तबीयत खराब होने पर उन्हें फैजाबाद के हर्षण हृदय संस्थान में ऐडमिट कराया गया था। सुबह करीब चार बजे के आसपास उन्होंने अंतिम सांस ली। भास्कर दास का इलाज कर रहे डाक्टर अरुण कुमार जायसवाल ने बताया कि उनको लकवे का अटैक हुआ।

अधिक उम्र होने की वजह से उनकी हालत और नाजुक हो गई थी। पिछले कुछ दिनों से बाबा महंत दास को सांस लेने में दिक्कत हो रही थी जिसके बाद उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया था। उन्हें बाहर भेजने के लिए सलाह दी गई थी पर वे धार्मिक कारणों से लखनऊ और दिल्ली इलाज के लिए नहीं जाना चाहते थे। उत्तराधिकारी पुजारी राम दास के बताया मंगलवार को सांस लेने में तकलीफ व ब्रेन स्ट्रोक होने के बाद उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया था।

इसके बाद से ही हालत खराब होती गई। शनिवार सुबह उन्होंने आखरी सांस ली। महंत के निधन की सूचना के बाद उनके शिष्यों का जमावड़ा अयोध्या स्थित मंदिर में लगने लगा है। निर्मोही अखाड़ा के महंत भास्कर दास रामजन्मभूमि केस में मुख्य पक्षकार थे। 89 वर्षीय महंत भास्कर दास 1959 से राम जन्मभूमि के मुकदमे जुड़े थे। महंत को अंतिम विदाई देने के लिए उनके शिष्य आश्रम पहुंचने लगे हैं। फैजाबाद के सांसद लल्लू सिह और पूर्व कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष डॉ निर्मल खत्री ने भी उनको श्रद्धांजलि दी। भास्कर दास के निधन का नाका हनुमानगढ़ी में साफ असर दिख रहा है।

शोक में सभी दुकानें बंद कर दी गई हैं। आरएसएस के उच्च स्तरीय पदाधिकारी डॉ अनिल मिश्र, राम कुमार राय, डॉ बिक्रमा प्रसाद पांड, डॉ शिव कुमार अम्वेश, अयोध्या के विधायक वेद प्रकाश गुप्त और बीजेपी नेता कमलेश श्रीवास्तव ने भी उन्हें श्रद्धांजलि दी है। 1993 में महंत भास्कर दास निर्मोही अखाड़े के उपसरपंच बन गए थे।

फिर 1993 में ही सीढ़ीपुर मंदिर के महंत रामस्वरूप दास के निधन के बाद उनके स्थान पर भास्कर दास को निर्मोही अखाड़े का सरपंच बना दिया गया। तब से यही निर्मोही अखाड़े के महंत रहे। 1949 में वह राम जन्मभूमि बनाम बाबरी मस्जिद केस से जुड़े। 1986 में भास्कर दास के गुरु भाई बाबा बजरंग दास का निधन हो गया। जिसके बाद इन्हें हनुमान गढ़ी का महंत बना दिया गया।

भास्कर दास फैजाबाद में निर्मोही अखाड़ा के महंत रहे। राम जन्मभूमि में हाईकोर्ट ने तिहाई हिस्सा निर्मोही अखाड़े को दिया है। उन्होंने 1959 में अयोध्या राम जन्म भूमि के स्वामित्व का दावा दायर किया था। इसके साथ ही मुस्लिम पक्षकार हाशिम अंसारी से भी संबंध काफी मधुर थे। महंत भास्कर दास ने आपसी भाई चारे का हमेशा खयाल रखा।

The post Breaking: अभी-अभी रामजन्मभूति के प्रमुख पक्षकार महंत भास्कार दास का निधन appeared first on TOS News.

]]>
अयोध्या में विवादित स्थल से दूर बनेगी मस्जिदे अमन: शिया वक्फ बोर्ड https://tosnews.com/%e0%a4%85%e0%a4%af%e0%a5%8b%e0%a4%a7%e0%a5%8d%e0%a4%af%e0%a4%be-%e0%a4%ae%e0%a5%87%e0%a4%82-%e0%a4%b5%e0%a4%bf%e0%a4%b5%e0%a4%be%e0%a4%a6%e0%a4%bf%e0%a4%a4-%e0%a4%b8%e0%a5%8d%e0%a4%a5%e0%a4%b2/65584 Mon, 21 Aug 2017 16:54:30 +0000 https://tosnews.com/?p=65584 लखनऊ: अयोध्या स्थित बाबरी मस्जिद-राम जन्मभूमि मंदिर मामले को लेकर रोज नयी-नयी बातें निकल कर सामने आ रही है। अब उत्तर प्रदेश शिया सेंट्रल वक्फ

The post अयोध्या में विवादित स्थल से दूर बनेगी मस्जिदे अमन: शिया वक्फ बोर्ड appeared first on TOS News.

]]>
लखनऊ: अयोध्या स्थित बाबरी मस्जिद-राम जन्मभूमि मंदिर मामले को लेकर रोज नयी-नयी बातें निकल कर सामने आ रही है। अब उत्तर प्रदेश शिया सेंट्रल वक्फ बोर्ड का दावा उच्चतम न्यायालय ने स्वीकार कर लिया है। न्यायालय अगर बोर्ड के हक में निर्णय करता है तो बोर्ड जमीन राम मंदिर के लिए दे देगा।

यह बात सोमवार को शिया वक्फ बोर्ड के चेयरमैन वसीम रिजवी ने कही। इंदिरा भवन स्थित बोर्ड कार्यालय में पत्रकारों को सम्बोधित करते हुए श्री रिजवी ने कहा कि, बोर्ड विवादित स्थल के स्थान पर मुस्लिम बहुल इलाके में बाबर या मीर बाकी के नाम नहीं बल्कि मस्जिदे अमन के नाम से दूसरी मस्जिद का निर्माण कराएगा।

श्री रिजवी ने कहा कि इस मस्जिद का निर्माण मीर बाकी ने कराया था। वर्ष 1944 से पहले यह मस्जिद शिया वक्फ बोर्ड में थी, जबकि इसे बाद में सुन्नी वक्फ बोर्ड में दर्ज कर लिया गया। इसलिए अब सुन्नी वक्फ बोर्ड का विवादित स्थल पर बनी मस्जिद पर दावा गलत है।

उन्होंने कहा कि बोर्ड देश में अमन-चैन चाहता है, इसलिए विवादित स्थल पर शरई पहलू जानने के लिए ईरान व इराक के वरिष्ठï धर्मगुरुओं से राय मंगाई। वरिष्ठ धर्मगुरु आयतुल्लाह मकारिम शीराजी ने कहा कि, अगर मस्जिद को लेकर कोई विवाद है तो उस पर आपस में समझौता करें या फिर जो कानूनी तरीका हो उसे अपनाए जबकि आयतुल्लाह अली फातिमी ने कहा कि, आपसी झगड़े से बचें हो सके तो विवादित स्थल से दूर दूसरी मस्जिद बना ली जाए।

The post अयोध्या में विवादित स्थल से दूर बनेगी मस्जिदे अमन: शिया वक्फ बोर्ड appeared first on TOS News.

]]>