loot – TOS News https://tosnews.com Latest Hindi Breaking News and Features Sun, 12 Aug 2018 05:38:15 +0000 en-US hourly 1 https://wordpress.org/?v=4.9.8 https://tosnews.com/wp-content/uploads/2017/03/tosnews-favicon-45x45.png loot – TOS News https://tosnews.com 32 32 बड़ी खबर: कैश वैन लूट व हत्या का पुलिस ने किया खुलासा, बदमश के घर तक पहुंची! https://tosnews.com/%e0%a4%ac%e0%a4%a1%e0%a4%bc%e0%a5%80-%e0%a4%96%e0%a4%ac%e0%a4%b0-%e0%a4%95%e0%a5%88%e0%a4%b6-%e0%a4%b5%e0%a5%88%e0%a4%a8-%e0%a4%b2%e0%a5%82%e0%a4%9f-%e0%a4%b5-%e0%a4%b9%e0%a4%a4%e0%a5%8d%e0%a4%af/140259 Sat, 04 Aug 2018 11:34:24 +0000 https://tosnews.com/?p=140259 लखनऊ: राजभवन के पास कैश वैन लूट और गार्ड की गोली मारकर हत्या करने वाले बदमाश तक आखिरकार पुलिस पहुंच गयी। इस सनसनीखेज वारदात को

The post बड़ी खबर: कैश वैन लूट व हत्या का पुलिस ने किया खुलासा, बदमश के घर तक पहुंची! appeared first on TOS News.

]]>
लखनऊ: राजभवन के पास कैश वैन लूट और गार्ड की गोली मारकर हत्या करने वाले बदमाश तक आखिरकार पुलिस पहुंच गयी। इस सनसनीखेज वारदात को कृष्णानगर के भोलाखेड़ा के रहने वाली विनीत तिवारी ने अंजाम दिया था। शनिवार की दोपहर पुलिस टीम ने उसके घर कृष्णानगर पर छापेमारी की और वहां से घटना में प्रयुक्त बाइक, पिस्टल की मैगजीन, जूते, बैग सहित अन्य दस्तावेज बरामद कर लिये। आरोपी विनीत मूल रूप से रायबरेली जनपद का रहने वाला है। फिलहाल आरोपी विनीत, पत्नी व बच्चों संग भागा हुआ है और पुलिस की टीम उसकी तलाश में जुटी है।


एसएसपी कलानिधि नैथानी ने बताया कि राजभवन के पास एक्सिस बैंक के सामने 30 जुलाई की रात कैश वैन के गार्ड इंद्रमोहन, कस्टोडियन उमेश और चालक रामसेवक को गोली मारकर एक बाइक सवार बदमाश 6.44 लाख रुपये से भरा बैग लूट ले गये थे। गोली लगने से गार्ड इंद्रमोहन की मौत हो गयी थी। इस सनसनीखेज घटना के बाद पुलिस को बदमाश का सीसीटीवी फुटेज कई जगहों से मिला था।

पुलिस ने बदमाश की सूचना देने वाले को पहले 50 हजार रुपये और फिर एक लाख रुपये इनाम देने की घोषणा की थी। पुलिस को अपनी छानबीन में बदमाश की आखिरी फुटेज हुसैनगंज इलाके में मिली थी। इस आधार पर पुलिस हुसैनगंज व उसके आगे के इलाके में छानबीन और संदिग्ध लुटेरे की तलाश में लगी थी। शनिवार की सुबह पुलिस को सूचना मिली कि जिस लुटेरे को पुलिस तलाश रही है कि वह लुटेरा कृष्णानगर के भोलाखेड़ा इलाके में अमित सिंह के मकान में परिवार संग डेढ़ साल से किराये पर रह रहा है।

लुटेरे का नाम विनीत तिवारी है और वह मूल रूप से रायबरेली जनपद का रहने वाला है। इस सूचना के बाद एसएसपी सहित भारी पुलिस बल विनीत के घर पहुंचा। छापेमारी के दौरान पुलिस को आरोपी के घर से घटना में प्रयोग की गयी टीवीएस स्पोट्र्स बाइक, एक मैगजीन, घटना के वक्त प्रयोग किया गया बैग और पहने हुए जूते मिले।

पुलिस को घर पर विनीत तो नहीं मिला, पर उसकी मां व बहन पुलिस के हाथ लग गये। मां व बहन से की गयी पूछताछ में पुलिस को पता चला कि विनीत मौजूदा समय में कुछ भी नहीं कर रहा था। एसएसपी ने बताया कि आरोपी विनीत के खिलाफ रायबरेली जनपद में हत्या का मामला भी दर्ज है और वह उस मामले में फरार चल रहा है। फिलहाल विनीत अपनी पत्नी व बच्चों संग भागा हुआ है और पुलिस उसकी तलाश में लगी है। एसएसपी का दावा है कि अब जल्द ही विनीत को गिरफ्तार कर लिया जायेगा। पुलिस की एक टीम विनीत की तलाश में रायबरेली भी भेजी गयी है।

The post बड़ी खबर: कैश वैन लूट व हत्या का पुलिस ने किया खुलासा, बदमश के घर तक पहुंची! appeared first on TOS News.

]]>
Breaking: इस बदमाश की सूचना देने वाले को मिलेगा 50 हजार रुपये का इनाम! https://tosnews.com/breaking-%e0%a4%87%e0%a4%b8-%e0%a4%ac%e0%a4%a6%e0%a4%ae%e0%a4%be%e0%a4%b6-%e0%a4%95%e0%a5%80-%e0%a4%b8%e0%a5%82%e0%a4%9a%e0%a4%a8%e0%a4%be-%e0%a4%a6%e0%a5%87%e0%a4%a8%e0%a5%87-%e0%a4%b5%e0%a4%be/139505 Wed, 01 Aug 2018 05:47:59 +0000 https://tosnews.com/?p=139505 लखनऊ: हजरतगंज स्थित राजभवन के पास कैश वैन से लाखों रुपये की लूट को अकेले अंजाम देने वाला अकेला लुटेरा पुलिस की सारी सुरक्षा-व्यवस्था को

The post Breaking: इस बदमाश की सूचना देने वाले को मिलेगा 50 हजार रुपये का इनाम! appeared first on TOS News.

]]>
लखनऊ: हजरतगंज स्थित राजभवन के पास कैश वैन से लाखों रुपये की लूट को अकेले अंजाम देने वाला अकेला लुटेरा पुलिस की सारी सुरक्षा-व्यवस्था को तोड़ता हुआ बिना हेलमेट के ही फरार हो गया और शहर की पुलिस उसका पता नहीं लगा चकी। पुलिस ने बदमाश की फोटो जारी की है और उसकी सूचना देने वाले को 50 हजार रुपये का इनाम देने का भी ऐलान किया है। कोई भी व्यक्ति फोटो देखकर अगर बदमाश को पहचान लेता है तो वह 94544401502 पर सूचना दे सकता है। इस सनसनीखेज वारदात के पीछे सीतापुर, बाराबंकी और लखनऊ के पेशेवर लुटेरों पर पुलिस को शक है। पुलिस की टीमें सीतापुर और बाराबंकी भी भेजी गयी हैं।


बताया जाता है कि एक्सिस बैंक के बाहर लूट की वारदात को अंजाम देने के बाद बाइक सवार बदमाश सिर पर सफेद रंग का रूमाल बांधे हुए बिना हेलमेट के ही एक्सिस बैंक से आगे राजभवन चौराहे, एसपी ट्रैफिक दफ्तर, सीएम आवास के सामने गोल्फ क्लब चौराहे और फिर वहां से सीधे सिविल अस्पताल की तरफ तेजी से बाइक से भागा था।

लुटेरे की फुटेज पुलिस को सिविल अस्पताल तक मिली है। इसके बाद सिविल अस्पताल के बाद बाइक सवार लुटेरा गायब हो गया। फुटेज में सिविल अस्पताल तक लुटेरे के दिखने के बाद पुलिस की टीम नरही पहुंची और वहां लगे सीसीटीवी कैमरे चेक किया, पर लुटेरे की फुटेज नहीं मिल सकी। आशंका जतायी जा रही है कि सिविल अस्पताल के बाद आरोपी लुटेरे किसी गली में मुड़ गया और फिर वहां से कहीं और निकल गया।

मंगलवार को एसपी पूर्वी सर्वेश कुमार, सीओ हजरतगंज अभय कुमार, इंस्पेक्टर महानगर विकास पाण्डेय ने बदमाश के भागने के संभावित रास्ते पर लगे सीसीटीवी कैमरे की फुटेज देखी। खुद एसएसपी कलानिधि नैथानी भी डीजीपी आफिस के पास लुटेरे की तलाश में कैमरे की फुटेज देखते हुए निकले। उन्होंने बताया कि अभी तक बदमाश की जो भी फुटेज सामने आयी है, उससे बदमाश का चेहरा तो साफ दिख रहा है, पर उसकी पहचान नहीं हो सकी है।

देर रात घटनास्थल पहुंची एसटीएफ की टीम
कैश वैन के गार्ड की गोली मारकर हत्या और लाखों की लूट के मामले में डीजीपी के आदेश पर सोमवार की रात करीब 8 बजे एसटीएफ की एक टीम घटनास्थल पर पहुंची। इस टीम का नेतृत्व खुद एसएसपी एसटीएफ अभिषेक सिंह कर रहे थे। उनके साथ सीओ आलोक सिंह, एएसपी विशाल विक्रम सिंह और सीओ आईपी सिंह मौजूद थे। एसटीएफ की टीम ने घटनास्थल का निरीक्षण करने के साथ ही घायल वैन के चालक रामसेवक से बातचीत भी की। फिलहाल एसटीएफ के हाथ भी लखनऊ पुलिस की तरह की पूरी तरह खाली है।

बिना हेलमेट घूमता रहा बदमाश कहीं नहीं हुआ चालान
दिनदहाड़े हाई सिक्योरिटी जोन में लाखों की लूट की वारदात को अंजाम देकर लुटेरे ने राजधानी पुलिस को खुली चुनौती दी है। इस पूरी घटना में सबसे हैरानी की बात यह रही कि बाइक सवार लुटेरे बिना हेलमेट के शहर के सबसे वीआईपी इलाके से गुजर गया और किसी भी पुलिस वाले ने उसको रोकने की जहमत तक नहीं उठायी। इस वक्त शहर में हेलमेट का अभियान जोर शोर पर चल रहा है। रोज दर्जनों लोगों के चालान भी हो रहे है। हर चौराहे पर पुलिसकर्मी बिना हेलमेट पहने लोगों को रोक रही है। ऐसे में यह सवाल उठाना लाजमी है कि बाइक सवार लुटेरा कैसे बिना हेलमेट के हजरतगंज इलाके से गुजर गया।

पुलिस व फारेंसिक टीम ने किया घटना रीकंस्ट्रक्शन
कैश वैन लूट की घटना की सारी कडिय़ां जोडऩे के लिए मंगलवार को पुलिस व फारेंसिक टीम ने फिर से घटनास्थल पर पहुंची। इस दौरान एफएसएल के अधिकारी, एसपी पूर्वी सर्वेश कुमार मिश्र और इंस्पेक्टर हजरतगंज आनंद शाही मौजूद थे। पुलिस ने घटना के चश्मदीद और घायल वैन चालक रामसेवक की मदद से घटनाक्रम का नाट्य रूपांतरण किया। इस दौरान पुलिस कैश वैन की जगह पुलिस की एक जीप को खड़ा किया और चालक के बताये गये घटनाक्रम को फिर से रीकंस्ट्रक्ट किया। मौके पर मौजूद एफएसएल के अधिकारी ने बताया कि क्राइम सीन का रीकंस्ट्रक्शन इसलिए किया गया है ताकि चालक ने जो भी बयान दिये हैं, वह आपस में मेल खा रहे हैं या नहीं। मौके से मिले खोखे और बदमाश के असलहे का भी फारेंसिक परीक्षण कराया जायेगा। इसके बाद पुलिस रीकंस्ट्रक्शन और बैलेस्टिक रिपोर्ट पुलिस को सौंप देगी।

टीवीएस अपाचे या फिर टीवीएस स्टार बाइक को लेकर संशय
दिनदहाड़े लुट की इस वारदात को अंजाम देने वाले लुटेरे ने सफेद रंग की टीवीएस कम्पनी की बाइक का प्रयोग किया था। यह बाइक अपाचे है या फिर टीवीएस स्टार यह बात अभी साफ नहीं हो सकी है। पुलिस सफेद रंग की दोनों ही मॉडल की बाइक के बारे में पता लगा रही है।

The post Breaking: इस बदमाश की सूचना देने वाले को मिलेगा 50 हजार रुपये का इनाम! appeared first on TOS News.

]]>
Big Breaking: लखनऊ राजभवन के सामने दिनदहाड़े तीन को गोली मारकर लूटे गये लाखों रुपये! https://tosnews.com/big-breaking-%e0%a4%b2%e0%a4%96%e0%a4%a8%e0%a4%8a-%e0%a4%b0%e0%a4%be%e0%a4%9c%e0%a4%ad%e0%a4%b5%e0%a4%a8-%e0%a4%95%e0%a5%87-%e0%a4%b8%e0%a4%be%e0%a4%ae%e0%a4%a8%e0%a5%87-%e0%a4%a6%e0%a4%bf%e0%a4%a8/139086 Mon, 30 Jul 2018 13:49:09 +0000 https://tosnews.com/?p=139086 लखनऊ: राजधानी के हाई सिक्योरिटी जोन राजभवन के पास सोमवार दिनदहाड़े बाइक सवार बदमाश ने कैश सिक्योरिटी वैन के गार्ड व कस्टोडियन को गोली मारी

The post Big Breaking: लखनऊ राजभवन के सामने दिनदहाड़े तीन को गोली मारकर लूटे गये लाखों रुपये! appeared first on TOS News.

]]>
लखनऊ: राजधानी के हाई सिक्योरिटी जोन राजभवन के पास सोमवार दिनदहाड़े बाइक सवार बदमाश ने कैश सिक्योरिटी वैन के गार्ड व कस्टोडियन को गोली मारी और लाखों रुपये से भरा बैग लूट ले गया। वैन के चालक ने किसी तरह एक बैग बचाया और सड़क पर शोर मचाता हुआ दौड़ा तो बदमाश ने उसको भी गोली मार दी। घायल गार्ड व कस्डोडियन को इलाज के लिए ट्रामा सेंटर में भर्ती कराया गया, जहां गार्ड की मौत हो गयी। इस सनसनीखेज वारदात की सूचना मिलते ही मौके पर डीजीपी ओपी सिंह, एडीजी कानून-व्यवस्था से लेकर अन्य कई आलाधिकारी मौके पर पहुंचे। पुलिस व क्राइम ब्रांच की टीम लुटेरे की तलाश में लगी है।


विभूतिखण्ड इलाके में एसआईपीएल नाम की कैश सिक्योरिटी एजेंसी है। यह एजेंसी लोगों व कारोबारियों के रुपये लेकर बैंक में जमा करने का काम करती है। बताया जाता है कि सोमवार को सिक्योरिटी एजेंसी की एक बुलेरो गाड़ी कई जगहों से कैश जमा करने के बाद करीब 3 बजे राजभवन स्थित एक्सिस बैग पहुंची। बुलेरो गाड़ी में चालक मलिहाबाद निवासी रामसेवक, गार्ड 50 वर्षीय सीतापुर निवासी इंद्रमोहन और कस्टोडियन नाका निवासी उमेश मौजूद थे। चालक रामसेवक का कहना है कि उन लोगों ने बुलेरो गाड़ी को कानून मंत्री ब्रजेश पाठक के बंगले के बगल में पार्क किया।

वह लोग अभी बुलेरो गाड़ी में मौजूद ही थे कि एक नकाबपोश बदमाश वहां पहुंचा। गाड़ी के पास पहुंचते ही उसने गार्ड इंद्रमोहन को गोली मार दी। दो गोली गार्ड के सीने पर लगी और कस्टोडियन उमेश के पैर पर लगी। गोली चलते ही चालक रामसेवक गाड़ी से नीचे उतरा और रुपये से भरा एक बैग निकालने लगा। इस बीच बदमाश ने कस्टेडियन उमेश को भी गोली मार दी और गाड़ी में रखा रुपये से भरा एक बैग लूट लिया।

उधर चालक रामसेवक शोर मचाते हुए बैंक की तरफ भागा तो बदमाश ने उसका भी पीछा किया और बैंक के सामने चालक पर गोली चला दी। असलहे से निकले कुछ छर्रे चालक के पेंट में लगे। शोर होते ही आसपास मौजूद लोग मदद के लिए दौड़े तो बदमाश अपनी सफेद रंग की अपाचे बाइक यूपी 32 बीके 7608 पर सवार होकर हजरतगंज की तरफ भाग खड़ा हुआ।

मौके पर पहुंची पुलिस ने सभी घायल को इलाज के लिए सिविल अस्पताल में भर्ती कराया, जहां से इंद्रमोहन और उमेश को ट्रामा सेंटर भेज दिया गया, जबकि चालक रामसेवक को प्राथमिक उपाचार के बाद छुट्टी दे दी गयी। वहीं ट्रामा सेंटर में घायल गार्ड इंद्रमोहन की मौत हो गयी। उधर दिनदहाड़े राजभवन के पास हुई लूट की सूचना मिलते ही मौके पर डीजीपी ओपी सिंह, एडीजी कानून-व्यवस्था आनंद कुमार, एडीजी जोन राजीव कृष्णा, आईजी रेंज सुजीत पाण्डेय, एसएसपी कलानिधिक नैथानी, क्राइम ब्रांच सहित कई थानों की फोर्स मौके पर पहुंच गयी।

पुलिस और क्राइम ब्रांच की कई टीमें बदमाश की तलाश में लगा दी गयी है। आईजी सुजीत पाण्डेय ने बताया कि पुलिस को लुटेरे के बारे में अहम सुराग मिला है और जल्द ही उसको गिरफ्तार कर लिया जायेगा। लूटे गये बैग में कितने रुपये थे, अभी इसकी अधिकारिक पुष्टिï नहीं हुई है। बताया जाता है कि लूटे गये बैग में 20 से 22 लाख रुपये थे।

कस्टेक्शन कम्पनी अधिकारी ने बदमाश से छीना असलहा, बदमाश ले गया बैग
वैन चालक रामसेवक जब मदद के लिए शोर मचाते हुए बैंक की तरफ भाग रहा था, उसी वक्त अनौरा निवासी कंस्ट्रक्शन कम्पनी अधिकारी प्रभात कुमार पाण्डेय अपनी गाड़ी से गुजर रहे थे। चालक का शोर सुन वह मदद के लिए नीचे उतरे तो बदमाश ने प्रभात पर असलहा तान दिया। इस पर प्रभात ने हिम्मत दिखायी और हाथ मारकर बदमाश का असलहा गिरा दिया। प्रभात का कहना है कि असलहा गिरते ही बदमाश ने दूसरा असलहा निकाल लिया और प्रभात पर तान दिया। दूसरा असलहा देखते ही प्रभात थोड़ा सहम गया और पीछे हट गया। इस पर बदमाश पास में ही खड़ी अपनी बाइक से बैठकर भाग निकला। इसके बाद मौके पर जब पुलिस पहुंची तो प्रभात ने बदमाश को गिरा हुआ असलहा उठाकर पुलिस को सौप दिया। प्रभात पाण्डेय ने बताया कि बदमाश उनका बैग भी लूट कर ले गया है। बैग में जरूरी दस्तावेज रखे थे।

सिद्घार्थनगर की रहने वाली गीता ने भी मचाया शोर
कानून मंत्री ब्रजेश पाठक के घर के पास जहां पर कैश वैन खड़ी थी, वहीं पास में ही सिद्घार्थनगर निवासी गीता अपने दो बच्चों के साथ बैठी थी। उसने बताया कि उसने जैसे ही गोली चलने की आवाज सुनी तो वह दौड़कर मौके पर पहुंची। उसने देखा कि एक बदमाश गोली मारकर बैग लूटकर भाग रहा था। इस पर गीता ने मदद के लिए शोर भी मचाया। गीता का कहना है कि शोर होने पर लोग तो पहुंचे पर किसी ने घायलों को अस्पताल पहुंचाने की जहमत नहीं उठायी। गीता का यह भी आरोप है कि इतनी वीआईपी जगह पर घटना के आधे घंटे के बाद पुलिस मौके पर पहुंची। पुलिस ने भी घायलों को अस्पताल पहुंचने में काफी समय गुजार दिया।

बदमाश की बाइक को नम्बर निकला फर्जी
पुलिस को चश्मदीद और सीसीटीवी की मदद से बदमाश की बाइक को जो नम्बर मिला वह फर्जी मिला। अपाचे बाइक पर बदमाश ने स्पलेंडर बाइक का नम्बर लगा रहा था। यूपी 32 बीके 7068 टीवीएस बाइक का मिला, जबकि यूपी 32 जीके 7068 एक स्कूटर का निकला।

बैंक के गेट पर लगे कैमरे में दिखा बदमाश
एसपी पूर्वी सर्वेश कुमार मिश्र ने बताया कि एक्सिस बैंक के गेट के सामने लगे सीसीटीवी कैमरे की फुटेज में बदमाश की फुटेज कैद हुई है। बदमाश का चेहरा ढका मिला है, जिसकी वजह से उसकी शिनाख्त नहीं हो सकी। फिलहाल पुलिस फुटेज के आधार पर छानबीन कर रही है।

रेकी पर वारदात को अंजाम दिया गया
इस घटना की छानबीन मेें लगे पुलिस अधिकारियों का कहना है कि जिस तरह से वारदात को अंजाम दिया गया है, उससे साफ जाहिर होता है। वारदात को पूरी रेेकी कर अंजाम दिया गया है। बदमाश को इस बात का पहले से पता था कि कैश वैन मुख्य सड़क पर न खड़ी होकर सर्विस लेन पर खड़ी होती है। यहां तक कि उसको वैन के बैंक पहुंचने का भी समय पता था। पुलिस इस बात का मान रही है कि बदमाश को कैश वैन के पूरे मूवमेंट के बारे में पहले से पता था। इसलिए पुलिस की एक टीम उन जगहों पर भी भेजी गयी है, जहां से वैन में कैश उठाया था।

The post Big Breaking: लखनऊ राजभवन के सामने दिनदहाड़े तीन को गोली मारकर लूटे गये लाखों रुपये! appeared first on TOS News.

]]>
मिल गया #SanskritiRai को न्याय, हत्या का पुलिस ने किया खुलासा, जानिए कैसी हुई थी वारदात! https://tosnews.com/%e0%a4%ae%e0%a4%bf%e0%a4%b2-%e0%a4%97%e0%a4%af%e0%a4%be-sanskritirai-%e0%a4%95%e0%a5%8b-%e0%a4%a8%e0%a5%8d%e0%a4%af%e0%a4%be%e0%a4%af-%e0%a4%b9%e0%a4%a4%e0%a5%8d%e0%a4%af%e0%a4%be-%e0%a4%95%e0%a4%be/135669 Fri, 13 Jul 2018 05:10:41 +0000 https://tosnews.com/?p=135669 लखनऊ: पालीटेक्निक की छात्रा#SanskritiRai का लखनऊ पुलिस ने आखिरकार खुलासा कर दिया। संस्कृति राय की हत्या लूट के इरादे से की गयी थी। पुलिस ने

The post मिल गया #SanskritiRai को न्याय, हत्या का पुलिस ने किया खुलासा, जानिए कैसी हुई थी वारदात! appeared first on TOS News.

]]>
लखनऊ: पालीटेक्निक की छात्रा#SanskritiRai का लखनऊ पुलिस ने आखिरकार खुलासा कर दिया। संस्कृति राय की हत्या लूट के इरादे से की गयी थी। पुलिस ने इस मामले में एक आरोपी को गिरफ्तार किया है, जबकि तीन आरोपी अभी फरार हैं। पुलिस ने पकड़े गये आरोपी के पास से संस्कृति राय का लूटा गया बैग, 2200 रुपये, कापी और अन्य कुछ दस्तावेज बरामद किये हैं। इस वारदात में शामिल फरार आरोपियों की तलाश में पुलिस टीम लगी है।


एडीजी जोन राजीव कृष्णा ने बताया कि पालीटेक्निक छात्रा संस्कृति राय की हत्या के मामले में छानबीन कर रही पुलिस को मोबाइल फोन रिकार्ड, सीसीटीवी कैमरों की फुटेज और मुखबिर से कई अहम सुराग मिले थे। पुलिस ने कई लोगों से अलग-अलग बिन्दु पर बातचीत की। शुरू से ही पुलिस इस मामले में यह बात मान कर छानबीन कर रही थी कि संस्कृति की हत्या के पीछे शायद लूट मकसद हो सकता है, पर पुलिस के पास इस बात को साबित करने के लिए कोई सुबूत नहीं था।

वहीं दूसरी तरफ इस मामले की छानबीन एसटीएफ को दे दी गयी। एसटीएफ की टीम ने छानबीन शुरू की पर उसको कोई खास सफलता हाथ नहीं लगी। इस बीच गाजीपुर पुलिस को इस बात का सुराग मिला कि संस्कृति राय मुंशी पुलिया से एक आटो में बैठकर बादशाहनगर रेलवे स्टेशन के लिए निकली थी। पुलिस ने जब सर्विलांस की मदद ली तो कुछ नम्बर पुलिस के हाथ निकले। इस आधार पर काम करते हुए पुलिस को सीतापुर के रामपुर कला के रहने वाले राजेश रैदास के बारे में पता चला।

पुलिस ने जब उसका इतिहास खंगाला तो जानकारी मिली कि वह पेशेवर अपराधी है और उसके खिलाफ 11 आपराधिक मामले दर्ज हैं और वह रामपुर कला का हिस्स्ट्रीशीटर है। राजेश मौजूदा समय में अलीगंज गल्लीमण्डी के पास झोपट-पट्टी में रहता है। इस आधार पर बुधवार की रात गाजीपुर पुलिस ने राजेश रैदास को उठाया। पूछताछ शुरू की गयी तो पहले तो उसने पुलिस को गुमराह किया। इसके बाद पुलिस जब उसके घर पहुंची और तलाशी ली तो पुलिस को राजेश के घर से संस्कृति राय का बैग, 2200 रुपये, बैग में रखी नोटबुक, घरवालों के कुछ फोटोग्राफ और अन्य दस्तावेज मिल गये।

इसके बाद पुलिस ने राजेश से कड़ाई से पूछताछ की तो उसने अपने तीन साथियों संग मिलकर लूट के इरादे से संस्कृति राय की हत्या करने की बात कुबूल ली। एडीजी जोन ने बताया कि इस हत्या में शामिल अन्य आरोपियों की तलाश की जा रही है। एक आरोपी यूपी से भागा हुआ है, पुलिस की टीम उसकी धर-पकड़ के लिए राज्य से भरा गयी है। एडीजी जोन ने संस्कृति राय की हत्या का खुलासा करने वाली पुलिस टीम को 20 हजार रुपये का नकद इनाम देने की घोषणा की है।

इस तरह की गयी थी हत्या
एडीजी जोन राजीव कृष्णा ने बताया कि पकड़े गये आरोपी राजेश के साथ उसके तीन साथी एक आटो में सवार थे। संस्कृति राय को आटो में बैठाने से एक घंटा पहले सभी ने मिलकर गल्लामण्डी के पास देशी शराब के ठेके पर शराब पी थी। इसके बाद आरोपियों ने लूट का प्लान बनाया। वह लोग आटो लेकर मुंशी पुलिया पहुंचे। साढ़े आठ बजे के करीब संस्कृति राय बैग लेकर मुंशी पुलिया पहुंची। वह बादशाहनगर रेलवे स्टेशन जाने के लिए सवारी तलाश रही थी। इस बीच आरोपी उसके पास आटो लेकर पहुंच गये। संस्कृति राय ने बादशाहनगर रेलवे स्टेशन जाने की बात कही। इस पर पीछे बैठे दो लोग उतर गये। संस्कृति राय पीछे वाली सीट पर बैठ गयी। आटो चालक ने इसके बाद उन दोनों लोगों को फिर से बैठा लिया जो लोग उतर गये थे और चालक ने दोनों सवारी बताया।

आरोपियों ने इस रूट का किया था प्रयोग
आईजी रेंज सुजीत पाण्डेय ने बताया कि मुंशी पुलिया से आटो चलने के कुछ ही देर के बाद आरोपियों ने संस्कृति राय को पकड़ लिया था। इसके बाद आरोपियों ने उसका मुंह कसकर दबा दिया, ताकि वह शोर न मचा सके। मुंशी पुलिया के बाद आरोपी कलेवा, सी ब्लाक, अम्रपाली चौराहा, सेक्टर 25, टेढ़ी पुलिया, भिठौली होते हुए घैला पुल पहुंचे थे। भिठौली के पास आरोपियों ने संस्कृति राय से उसका बैग छीनने की कोशिश की भी, पर उसने विरोध कर दिया था। इस पर एक आरोपी ने संस्कृति राय पर असलहा तान दिया था। असलहा देख संस्कृति राय सहम गयी थी और आरोपी उसको लेकर घैला पुल तक पहुंच गये थे।

आरोपियों ने पुल की रेलिंग से टकराया था संस्कृति का सिर
पकड़े गये आरोपियों ने बताया कि घैला पुल के पास एक सुनसान जगह पर उन लोगों ने आटो को रोक दिया। इसके बाद आरोपियों ने फिर से संस्कृति राय से बैग छीनने की कोशिश की, पर उसने फिर से विरोध कर दिया। विरोध होने पर आरोपियों ने पुल की रेलिंग से संस्कृति राय का सिर टकरा दिया था, जिससे उसको गंभीर चोट लगी थी और वह बेहोश हो गयी थी। इसके बाद आरोपियों ने उसका बैग छीना और उसको पुल के दूसरी तरह अधमरी हालत में छोड़कर फरार हो गये।

8 लाख मोबाइल नम्बर को खंगाला गया था
एडीजी जोन राजीव कृष्णा ने बताया कि संस्कृति राय हत्याकाण्ड पुलिस के बहुत बड़ी चुनौती थी। पुलिस के पास इस हत्या के खुलासे के लिए कोई सुबूत और साक्ष्य नहीं थे। संस्कृति की हत्या पूरी तरह ब्लाइंड मर्डर केस था। इस घटना को लेकर पुलिस ने 278 आटो चालकों, 372 ओला, ऊबर चालकों और संस्कृति राय से जुड़े दर्जनों लोगों से पूछताछ की थी। वहीं संस्कृति राय के घर से लेकर घटनास्थल के पीछे 9 मोबाइल टावर लगे थे। पुलिस ने सभी मोबाइल टावरों से करीब 8 लाख मोबाइल फोन का डाटा बीटीसी से निकाला था। एक-एक कर खंगालने के बाद पुलिस ने 8 लाख लोगों के मोबाइल फोन से 20 हजार नम्बर को अलग किया था। इसके बाद इन 20 हजार लोगों के मोबाइल नम्बर की मदद से संस्कृति राय के मोबाइल फोन और आरोपियों के मोबाइल फोन की लोकेशन मिलान करायी गयी, तब जाकर कुछ नम्बर सामने आये। 15 किलोमीटर के दायरे में पुलिस ने कंट्रोल रूम के सीसीटीवी कैमरे से लेकर प्राइवेट लोगों के कैमरों की फुटेज निकाली थी।

दो फुटेज में पैदल जाते दिखी थी संस्कृति
एडीजी ने बताया कि इन्दिरानगर से मुंशी पुलिया के बीच दो जगह संस्कृति राय की फुटेज पुलिस को मिली थी। पहली फुटेज रात 8.27 मिनट और दूसरी फुटेज 8.31 मिनट की थी। दोनों फुटेज में संस्कृति राय बैग टांगे हुए पैदल जाते दिख रही थी। उसके आगे और पीछे कोई भी संदिग्ध नहीं नज़र आया।

अकेले महिलाओं के सफर पर उठे फिर सवाल
एक तरफ जहां पुलिस ने संस्कृति राय की हत्या का खुलासा कर दिया है, वहीं इस खुलासे ने शहर में महिलाओं के सफर पर भी सवाल खड़े कर दिये हैं। खासकर रात के वक्त अकेली सफर करने वाली महिलाओं की सुरक्षा सवाल के घेरे में है। बदमाशों ने जिस तरह तेज तर्रार पालीटेक्निक की छात्रा संस्कृति राय को अपना शिकार बनाया, उससे यह साफ जाहिर होता है कि शहर में रात के वक्त अकेले महिलाओं का सफर करना सुरक्षित नहीं है। इस सनसनीखेज हत्या का खुलासा करने वाले अधिकारी भी इस बात को मान रहे हैं कि रात के वक्त चलने वाले आटो व कैब वालों की निगरानी बेहद जरूरी है। खुद एडीजी जोन ने बताया कि अब पुलिस को इस बात की जिम्मेदारी दी जा रही है कि वह शहर में आटो, टैम्पो व कैब चलाने वालों का सत्यापन करे और उनकी समय-समय पर चेकिंग भी करे। वहीं उन्होंने बताया कि शहर में कुछ जगहों पर सीसीटीवी कैमरे लगाने की आवश्यकता है। उसके लिए भी काम शुरू किया जा रहा है। पुलिस हाईवे पर कुछ जगहों पर कैमरे लगाने की सोच रही है।

The post मिल गया #SanskritiRai को न्याय, हत्या का पुलिस ने किया खुलासा, जानिए कैसी हुई थी वारदात! appeared first on TOS News.

]]>
सिंगापुर से लौट लखनऊ में कर रहा था लूट, पुलिस ने किया गिरफ्तार! https://tosnews.com/%e0%a4%b8%e0%a4%bf%e0%a4%82%e0%a4%97%e0%a4%be%e0%a4%aa%e0%a5%81%e0%a4%b0-%e0%a4%b8%e0%a5%87-%e0%a4%b2%e0%a5%8c%e0%a4%9f-%e0%a4%b2%e0%a4%96%e0%a4%a8%e0%a4%8a-%e0%a4%ae%e0%a5%87%e0%a4%82-%e0%a4%95/132825 Fri, 29 Jun 2018 06:56:39 +0000 https://tosnews.com/?p=132825 लखनऊ: सिंगापुर से नौकरी कर लौटा एक युवक अपने साथी के साथ शहर भर में लोगों से मोबाइल फोन लूट की वारदात को अंजाम दे

The post सिंगापुर से लौट लखनऊ में कर रहा था लूट, पुलिस ने किया गिरफ्तार! appeared first on TOS News.

]]>
लखनऊ: सिंगापुर से नौकरी कर लौटा एक युवक अपने साथी के साथ शहर भर में लोगों से मोबाइल फोन लूट की वारदात को अंजाम दे रहा था। ठाकुरगंज पुलिस ने दोनों लुटेरों को गिरफ्तार कर किया है। पुलिस ने उनके पास से लूटे गये 15 मोबाइल फोन, तमंचा, एक हाईस्पीड बाइक और एक स्कूटी बरामद की है। बरामद की गयी बाइक लूट की रकम से खरीदी गयी थी।


सीओ चौक दुर्गा प्रसाद ने बताया कि मोबाइल फोन लूट की घटनाओं को गंभीरता से लेते हुए ठाकुरगंज पुलिस की टीम को बदमाशों की धर-पकड़ के लिए लगाया गया था। सर्विलांस और मुखबिर की मदद से पुलिस दो लुटेरों के बारे में पता चला। गुरुवार की सुबह ठाकुरगंज पुलिस ने मेहंदी घाट के पास दो लुटेरों को पकड़ा।

पुलिस ने उनके पास से लूटे गये 15 मोबाइल फोन, तमंचा, एक केटीएम बाइक और एक स्कूटी बरामद की। पूछताछ की गयी तो पकड़े गये लुटेरों ने अपना नाम ठाकुरगंज मल्लाहीटोला निवासी शिवम और ठाकुरगंज दौलतगंज निवासी शाबाज बताया। अब पुलिस बरामद मोबाइल फोन के आईएमईआई नम्बर की मदद से उनके मालिकों के बारे में पता लगा रही है। पुलिस का कहना है कि आरोपियों के पास से मिली केटीएम बाइक लूट के रुपये से खरीदी गयी है।

ढाई माह पहले ही सिंगापुर से लौटा है शिवम
सीओ चौक दुर्गा प्रसाद ने बताया कि पकड़ा गया लुटेरा शिवम सिंगापुर मेें पानी के जहाज में साफ-सफाई का काम करता था। करीब ढाई माह पहले ही वह सिंगापुर से लौटा था। वहीं पकड़ा गया आरोपी शाबाज पेशे से बढ़ई है। वह पहले भी चोरी के मामले में सआदतगंज से जेल जा चुका है।

रोज कहीं न कहीं वारदात को देते थे अंजाम
इंस्पेक्टर ठाकुरगंज दीपक दूबे ने बताया कि पकड़े गये दोनों लुटेरे बेहद शातिर हैं। यह लोग रोज शहर के किसी न किसी इलाके में मोबाइल लूट की वारदात को अंजाम देते थे। आरोपियों ने अब तक 25 लूट की वारदात को अंजाम देने की बात कुबूली है। आरोपियों ने बताया कि वह लोग लूटे गये मोबाइल फोन अपने ही जानने वालों को सस्ते दामों में बेच दिया करता था। लूटे गये मोबाइल फोन बेचकर मिले रुपये से दोनों आरोपी मौज-मस्ती करते थे।

The post सिंगापुर से लौट लखनऊ में कर रहा था लूट, पुलिस ने किया गिरफ्तार! appeared first on TOS News.

]]>
Murder Case: पढि़ए कैसे नौकर ने की कारोबारी की पत्नी की हत्या, दिल में आ गया था लालच! https://tosnews.com/murder-case-%e0%a4%aa%e0%a4%a2%e0%a4%bf%e0%a4%bc%e0%a4%8f-%e0%a4%95%e0%a5%88%e0%a4%b8%e0%a5%87-%e0%a4%a8%e0%a5%8c%e0%a4%95%e0%a4%b0-%e0%a4%a8%e0%a5%87-%e0%a4%95%e0%a5%80-%e0%a4%95%e0%a4%be%e0%a4%b0/105123 Tue, 06 Feb 2018 12:39:34 +0000 https://tosnews.com/?p=105123 लखनऊ: यूपी की राजधानी नाका इलाके में 20 जनवरी को हुई कारोबारी की पत्नी की हत्या का खुलासा करते हुए पुलिस ने जेल बंदीरक्षक के

The post Murder Case: पढि़ए कैसे नौकर ने की कारोबारी की पत्नी की हत्या, दिल में आ गया था लालच! appeared first on TOS News.

]]>
लखनऊ: यूपी की राजधानी नाका इलाके में 20 जनवरी को हुई कारोबारी की पत्नी की हत्या का खुलासा करते हुए पुलिस ने जेल बंदीरक्षक के बेटे को गिरफ्तार किया है। आरोपी ने लूट के इरादे से कारोबारी की पत्नी की हत्या की थी। आरेपी कारोबारी की दुकान पर चार साल से बतौर कर्मचारी काम करता था।


एसपी पश्चिम विकास चंद्र त्रिपाठी ने बताया कि कारोबारी राजीव मेहरोत्रा की पत्नी वीना मेहरोत्रा की हत्या के मामले में शुरू से ही पुलिस को किसी करीबी पर शक था। पुलिस एक-एक करके कारोबारी के जानने वाले और करीबियों से पूछताछ कर रही थी। पुलिस ने जब सर्विलांस की मदद ली तो कारोबारी की दुकान में काम करने वाले कर्मचारी बाराबंकी जनपद निवासी लक्ष्मीकांत गोस्वामी की लोकेशन घटना के समय घटनास्थल पर ही मिली।

बस इसी के बाद पुलिस को लक्ष्मीकांत की भूमिका पर शक हो गया। पुलिस ने इस मामले में लक्ष्मीकांत गोस्वामी को बीती रात गिनरफ्तार किया। पूछताछ की गयी तो उसने पहले पुलिस को गुमराह करने की कोशिश की, पर जब पुलिस ने उसके मोबाइल फोन की लोकेशन कारोबारी के घर होने की बात बतायी तो वह सन्न रह गया।

इसके बाद उसने अपना जुर्म कुबूल लिया। आरोपी ने बताया कि उसके दिल में लालच आ गयी थी और वह कारोबारी के घर में चोरी करना चाह रहा था। 20 जनवरी की दोपहर जब वह चुपके से घर में घुसा तो आहट पाकर कारोबारी की पत्नी वीना ने उसको देख लिया। वीना ने जब आरोपी की इस हरकत का विरोध किया तो आरोपी ने चाकू से वीना की गला रेंत कर हत्या कर दी।

आरोपी घर से हीरे की झुमकी ही लूटकर ले जा सका था। पुलिस ने आरोपी के पास से लूटी गयी झुमकी और खून का धब्बा लगे उसके कपड़े बरामद कर लिये हैं। पकड़े गये आरोपी लक्ष्मीकांत के पिता गोसाईगंज जेल मेंं प्रधान बंदी रक्षक हैं। एसपी पश्चिम ने बताया कि आरोपी चार साल से कारोबारी की दुकान पर काम कर रहा था। वह रोज बाराबंकी से अपनी ड्यूटी पर आता था और ड्यूटी खत्म कर ट्रेन से वापस बाराबंकी चला जाता था।

इस तरह वारदात को दिया था अंजाम
पूछताछ मेें आरोपी ने बताया कि कारोबारी को राजीव को चिटफण्ड कम्पनी से कुछ समय पहले 25 लाख रुपये मिले थे। इस बात की जानकारी उसको थी। घटना के दिन जब वह बाराबंकी से दुकान पहुंचा तो दुकान बंद थी। इस पर वह कारोबारी के घर पहुंच तो कारोबारी और उनकी पत्नी पहली मंजिल पर बने कमरे में थे। वह चुपके से घर के अंदर जाकर छुप गया। कुछ देर के बाद जब कारोबारी दुकान के निकल गये तो वह बाहर निकला।

इस बीच कारोबारी की पत्नी ने उसको देख लिया और उससे घर में आने की वजह से पूछी। इस पर उसने रुपये की जरूरत की बात कही। कारोबारी की पत्नी वीना ने पति से रूपये मांगे के लिए कहा और पति को फोन करने लगीं। इस पर आरोपी ने उनके हाथ से मोबाइल फोन छीन लिया। इस पर कारोबारी की पत्नी ने उसके गुप्तांग पर लाद कर दी, जिससे वह गिर पड़ा और कारोबारी की पत्नी किचन की तरफ दौड़ी।

आरोपी भी पीछे-पीछे किचन तक पहुंचा और किचन में रखे चाकू से पहले कारोबारी की पत्नी की गला रेत कर हत्या कर दी और हाथ की दो कलाई भी काट दी। इसके बाद उसने कमरे में रखी एक आलमारी का लॉकर तोडऩे की कोशिश की पर नाकाम रखा। इसके बाद वह दूसरे कमरे में पहुंचा तो देखा कि आलमारी का लॉकर खुला था।

उसने लॉकर में रखे 20 हजार रुपये और जेवरात से बैग उठा लिया। इसी बीच उसको नीचे दरवाजे पर दस्तक का एहसास हुआ। उसने चुपके से जेवरात और रूपये एक दराज में छुपा दिये। इसके बाद वह छत पर पहुंचा और बगल में बनी कोचिंग का दरवाजा खटखटाया। इस पर कोचिंग पर मौजूद दो लोगों ने दरवाजा खोला दिया। दरवाजा खुलते ही आरोपी दोनों लोगों को धक्का देते हुए वहां से भाग निकला।

The post Murder Case: पढि़ए कैसे नौकर ने की कारोबारी की पत्नी की हत्या, दिल में आ गया था लालच! appeared first on TOS News.

]]>
Loot: लखनऊ में दिनदहाड़े सर्राफ की दुकान में घुसकर लूटपाट! https://tosnews.com/loot-%e0%a4%b2%e0%a4%96%e0%a4%a8%e0%a4%8a-%e0%a4%ae%e0%a5%87%e0%a4%82-%e0%a4%a6%e0%a4%bf%e0%a4%a8%e0%a4%a6%e0%a4%b9%e0%a4%be%e0%a4%a1%e0%a4%bc%e0%a5%87-%e0%a4%b8%e0%a4%b0%e0%a5%8d%e0%a4%b0%e0%a4%be/97968 Fri, 05 Jan 2018 14:44:07 +0000 https://tosnews.com/?p=97968 लखनऊ: राजधानी लखनऊ में एक के बाद एक अपराधिक घटनाओंं ने शहर की सुरक्षा-व्यवस्था पर सवालिया निशान खड़े कर दिये हैं। बीती रात जहां पारा

The post Loot: लखनऊ में दिनदहाड़े सर्राफ की दुकान में घुसकर लूटपाट! appeared first on TOS News.

]]>
लखनऊ: राजधानी लखनऊ में एक के बाद एक अपराधिक घटनाओंं ने शहर की सुरक्षा-व्यवस्था पर सवालिया निशान खड़े कर दिये हैं। बीती रात जहां पारा इलाके में बदमाशों ने एक सर्राफ से लूटपाट की, वहीं शुक्रवार की दोपहर नकाबपोश असलहाधारी बदमाशों ने अलीगंज की पुरनिया चौकी के पास एक सर्राफ की दुकान में घुसकर लाखों की लूट की अंजाम दिया। इस दौरान दुकान में मौजूद एक कर्मचारी ने बदमाशों का विरोध भी किया तो बदमाशों ने उसके सिर पर तमंचे की बट से हमला कर दिया। बदमाश दुकान से 15 लाख के जेवरात लूट ले गये और पुलिस लकीर पीटती रह गयी।


एसपी टीजी हरेन्द्र कुमार ने बताया कि अलीगंज के सेक्टर जी निवासी सचिन रस्तोगी व उसके भाई विपिन रस्तोगी की किशोर ज्वैल्र्स के नाम से सर्राफा की दुकान है। उन्होंने एक साल पहले ही अपने घर के निचले हिस्से में दुकान खोली थी। बताया जाता है कि शुक्रवार की सुबह रोज की तरह दुकान खुली थी। दुकान पर कर्मचारी विशाल और विपिन दोनों मौजूद थे।

दोपहर करीब 3 बजे विपिन खाना खाने के लिए ऊपर चला गया। दुकान में कर्मचारी विशाल अकेला ही मौजूद था। इस बीच दो बाइक सवार तीन बदमाश वहां पहुंचे। सभी बदमाशों ने अपने चेहरे ढक रखे थे और उनके हाथ में असलहा मौजूद था। दुकान में असलहाधारी बदमाशों को देख कर्मचारी विशाल सहम गया।

 

बदमाशों ने विशाल से जेवरात के बारे में पूछा। विशाल ने विरोध किया तो बदमाशों ने उसके सिर पर तमंचे की बट से हमला कर दिया। इसके बाद बदमाशों ने काउंटर में रखे करीब 15 लाख रुपये के हीरे, सोने और चांदी के जेवरात लूटे और कर्मचारी विशाल को जान से मारने की धमकी देते हुए भाग निकले। बदमाशों के भागते ही विशाल ने शोर मचा दिया।

शोर सुन दुकान मालिक विपिन नीचे पहुंचा तो दुकान का हाल देख वह सन्न रह गया। दुकान मालिक सचिन ने लूट की सूचना फौरन पुलिस कंट्रोल रूम को दी। सूचना मिलते ही मौके पर आईजी जोन जयनारायण सिंह, एसएसपी दीपक कुमार सहित अन्य अधिकारी भी पहुंच गये। पुलिस ने छानबीन के लिए फिंगर प्रिंट यूनिट को भी बुला लिया। फिलहाल इस मामले में अलीगंज पुलिस ने सर्राफ की तहरीर पर लूट की रिपोर्ट दर्ज कर ली है। आईजी जोन का कहना है कि बदमाशों की तलाश में पुलिस व क्राइम ब्रांच की टीम को लगा दिया गया है।

सीसीटीवी कैमरे में कैद हुई घटना
सर्राफ की दुकान में घुसकर लूटपाट करने वाले बदमाशों को शायद इस बात का पता था कि दुकान में सीसीटीवी कैमरा लगा है। दुकान में घुसे तीनों बदमाशों के चेहरे पूरी तरह ढके हुए थे। उनके हाथ में असलहे थे। पुलिस ने सीसीटीवी कैमरे की फुटेज अपने कब्जे में ले ली है और उसकी आधार पर बदमाशों की धर-पकड़ में लगी है।

10 मीटर दूरी पर अनियंत्रित होकर गिरा बदमाश
लूटपाट कर दूकान से भागते हुए 10 मीटर दूर पहुंचते ही उनकी बाइक लड़ गयी। जिससे एक बाइक पर सवार तीन बदमाश गिर गए और हाथ में लुटे हुए जेवरात गिर पड़े। तब तक दूसरी बाइक पर सवार बदमाश पीछे से आ गये। वह गिरे हुए जेवरात को उठाकर वहां से फरार हो गये।

The post Loot: लखनऊ में दिनदहाड़े सर्राफ की दुकान में घुसकर लूटपाट! appeared first on TOS News.

]]>
Loot: दिनदहाड़े बैंक में घुसकर लुटेरे 48 लाख रुपये लूट ले गये! https://tosnews.com/loot-%e0%a4%a6%e0%a4%bf%e0%a4%a8%e0%a4%a6%e0%a4%b9%e0%a4%be%e0%a4%a1%e0%a4%bc%e0%a5%87-%e0%a4%ac%e0%a5%88%e0%a4%82%e0%a4%95-%e0%a4%ae%e0%a5%87%e0%a4%82-%e0%a4%98%e0%a5%81%e0%a4%b8%e0%a4%95%e0%a4%b0/97662 Thu, 04 Jan 2018 10:15:06 +0000 https://tosnews.com/?p=97662 बिहार: बिहार के समस्तीपुर जिले के नगर इलाके में गुरुवार को हथियारबंद लुटेरों ने एक बड़ी लूट की वारदात को अंजाम दिया। असलहों से

The post Loot: दिनदहाड़े बैंक में घुसकर लुटेरे 48 लाख रुपये लूट ले गये! appeared first on TOS News.

]]>
बिहार: बिहार के समस्तीपुर जिले के नगर इलाके में गुरुवार को हथियारबंद लुटेरों ने एक बड़ी लूट की वारदात को अंजाम दिया। असलहों से लैस बदमाशों ने एक बैंक पर धावा बोल दिया और वहां से 48 लाख रुपये लूट लिए और फरार हो गए। लुटेरों की संख्या तीन बताई जा रही है।


पुलिस के अनुसार गोला रोड स्थित यूको बैंक की शाखा में गुरुवार को बैंक खुलते ही ग्राहक के रूप में तीन अपराधी आए और हथियार के बल पर मौजूद बैंक कर्मियों को बंधक बनाकर सिर नीचे करवाकर बैठा दिया। उसके बाद शाखा प्रबंधक से चाबी लेकर तिजोरी से रुपये निकालकर फरार हो गए।

सदर पुलिस उपाधीक्षक मोहम्मद तनवीर अहमद ने बताया कि लुटेरे यहां से करीब 48 लाख रुपये लेकर फरार हुए हैं। लुटेरे घटना को अंजाम देने के बाद बैंक में लगे सीसीटीवी की हार्डडिस्क निकालकर अपने साथ ले गए।

सूचना मिलने पर पुलिस ने बैंक में पहुंचकर जांच शुरू कर दी है। तनवीर अहमद ने बताया कि शहर से निकलने वाली सभी सड़कों पर नाकाबंदी कर आने जाने वाले वाहनों की तलाशी ली जा रही है। लुटेरों की गिरफ्तारी के लिए प्रयास किए जा रहे हैं। उल्लेखीय है कि बुधवार को ही मुख्यमंत्री ने राज्य के कानून व्यवस्था दुरुस्त रखने के लिए पुलिस विभाग के अधिकारियों के साथ उच्चस्तरीय बैठक की थी।

The post Loot: दिनदहाड़े बैंक में घुसकर लुटेरे 48 लाख रुपये लूट ले गये! appeared first on TOS News.

]]>
Loot: लखनऊ में इस साल की सबसे बड़ी लूट, सर्राफ से लूटे गये 17 लाख के जेवरात! https://tosnews.com/loot-%e0%a4%b2%e0%a4%96%e0%a4%a8%e0%a4%8a-%e0%a4%ae%e0%a5%87%e0%a4%82-%e0%a4%87%e0%a4%b8-%e0%a4%b8%e0%a4%be%e0%a4%b2-%e0%a4%95%e0%a5%80-%e0%a4%b8%e0%a4%ac%e0%a4%b8%e0%a5%87-%e0%a4%ac%e0%a4%a1/87186 Sat, 18 Nov 2017 08:22:11 +0000 https://tosnews.com/?p=87186 लखनऊ: एक तरफ जहां राजधानी की लखनऊ पुलिस सघन चेकिंग का दावा करती हैए वहीं बाइक सवार लुटेरे पुलिस की इसी चेकिंग का मजाक उठाते

The post Loot: लखनऊ में इस साल की सबसे बड़ी लूट, सर्राफ से लूटे गये 17 लाख के जेवरात! appeared first on TOS News.

]]>
लखनऊ: एक तरफ जहां राजधानी की लखनऊ पुलिस सघन चेकिंग का दावा करती हैए वहीं बाइक सवार लुटेरे पुलिस की इसी चेकिंग का मजाक उठाते दिखते हैं। बाइक सवार लुटेरों का आतंक शहर से खत्म होने का नाम ही नहीं ले रहा है। अब मलिहाबाद इलाके में बाइक सवार तीन असलहाधारी बदमाशों ने एक बड़ी लूट की वारदात को अंजाम दिया। बदमाशों ने बाइक सवार सर्राफ पिता.पुत्र से असलहे के बल पर 14 किलो चांदी और 300 ग्राम सोने के जेवरात लूट ले गये। सूचना के बाद पहुंची पुलिस बदमाशों को इधर.उधर तलाशती रही पर कुछ हाथ नहीं लगा।


माल के अटेर गांव में सर्राफ उमाशंकर अपने परिवार के साथ रहते हैं। उनकी माल के ही ससपन गांव में सर्राफ की दुकान है। बताया जाता है कि शुक्रवार की रात रोज की तरह उमाशंकर अपने बेटे सचिन के साथ दुकान बंद कर बाइक से घर के लिए निकले। वह लोग जैसे ही मलिहाबाद के रहीमाबाद अम्बरखेड़ा स्थित नहर के पास पहुंचेए वैसे ही उनको एक पल्सर बाइक सवार तीन नकाबपोश बदमाशों ने रोक लिया।

बाइक सवार दो बदमाश नीचे उतरे और पिता.पुत्र पर असलहा तान दिया। वहीं एक बदमाश बाइक पर बैठा रहाए पर उसके हाथ मेें भी असलहा मौजूद था। इसके बाद बदमाशों ने सचिन से जेवरात से भरे दो बैग छीनने की कोशिश की। इस पर सचिन और उसके पिता ने विरोध कर दिया। सचिन ने बताया कि इसके बाद बदमाशों ने कई राउंड फायरिंग कर दी।

अचानक फायरिंग से वह लोग सहम गये। इसके बाद बदमाशों ने सचिन के हाथ से दोनों बैग छीने और बाइक पर बैठकर फरार हो गये। लूटे गये बैग में 14 किलो चांदी और 300 ग्राम सोने के जेवरात मौजूद थे। बदमाशोंं के भागने के बाद दोनों पिता.पुत्र ने मदद के लिए शोर मचाया। शोर सुन आसपास के लोग मदद के लिए जमा हो गये।

सूचना मिलते ही मौके पर मलिहाबाद पुलिस भी पहुंच गयी। पुलिस ने जब पीडि़त से बातचीत की तो इतनी बड़ी लूट का पता चला। लाखों की इस लूट की बात सुन पुलिस के हाथ.पैर फूल गये। मलिहाबाद पुलिस ने फौरन जानकारी अधिकारियों को दी। इसके बाद अधिकारियों ने संदिग्धों की तलाश में चेकिंग अभियान चलाया पर कुछ हाथ नहीं लगा।

पास में ही खड़ा डाला चालक देखता रहा
सर्राफ सचिन ने बताया कि जिस जगह पर उन लोगों के साथ लूट की वारदात हुईए वहीं पास में ही एक डाला चालक लकड़ी लाद रहा था। बदमाशों की बाइक उसके डाले के बगले में खड़ी थी। असलहाधारी बदमाश जिस वक्त घटना को अंजाम दे रहे थेए उस वक्त डाला चालक वहीं खड़ा सब कुछ देख रहा था। पीडि़त का कहना है कि डाला चालक ने एक बार भी कुछ बोलने की जहमत नहीं उठायी। उन लोगों का कहना है कि अगर डाला चालक ने शोर मचाया होता तो शायद बदमाश वारदात को अंजाम न देते पाते।

पहले से ही घात लगाये बैठे थे बदमाश
पीडि़त सर्राफ सचिन ने बताया कि वह लोग जब घटनास्थल के पास पहुंचेए वहां पर पहले से ही बाइक सवार लुटेरे मौजूद थे। ऐसा लग रहा है कि बदमाश उन लोगों के आने का इतजार कर रहे थे। घटना के वक्त सचिन के पिता उमाशंकर बाइक चला रहे थे। नहर के पास सड़क खराब होने से जैसे ही उमाशंकर ने बाइक को धीरा कियाए वैसे ही दो असलहाधारी बदमाश सामने आ गये। खुद पुलिस भी इस बात का मान रही है कि बदमाशों ने जिस तरह वारदात को अंजाम दियाए उससे ऐसा लग रहा है कि वारदात को रेकी करने के बाद किया गया है। हो सकता है कि इस घटना के पीछे आसपास के लुटेरों या फिर सीमावर्ती जनपद के लुटेरों का हाथ हो।

The post Loot: लखनऊ में इस साल की सबसे बड़ी लूट, सर्राफ से लूटे गये 17 लाख के जेवरात! appeared first on TOS News.

]]>
Breaking:लखनऊ में 60 से अधिक लूट की वारदात को अंजाम देने वाले पांच लुटेरों गिरफ्तार,जानिए कैसे करते थे लूट! https://tosnews.com/breaking%e0%a4%b2%e0%a4%96%e0%a4%a8%e0%a4%8a-%e0%a4%ae%e0%a5%87%e0%a4%82-60-%e0%a4%b8%e0%a5%87-%e0%a4%85%e0%a4%a7%e0%a4%bf%e0%a4%95-%e0%a4%b2%e0%a5%82%e0%a4%9f-%e0%a4%95%e0%a5%80-%e0%a4%b5%e0%a4%be/82698 Sun, 29 Oct 2017 10:51:22 +0000 https://tosnews.com/?p=82698 लखनऊ: अलीगंज पुलिस को बीती रात बड़ी सफलता उस वक्त हाथ लगी, जब पुलिस ने लूटपाट करने वाले पांच शातिर लुटेरों को गिरफ्तार किया। पुलिस

The post Breaking:लखनऊ में 60 से अधिक लूट की वारदात को अंजाम देने वाले पांच लुटेरों गिरफ्तार,जानिए कैसे करते थे लूट! appeared first on TOS News.

]]>
लखनऊ: अलीगंज पुलिस को बीती रात बड़ी सफलता उस वक्त हाथ लगी, जब पुलिस ने लूटपाट करने वाले पांच शातिर लुटेरों को गिरफ्तार किया। पुलिस ने पकड़े गये लुटेरों के पास से 1.45 लाख रुपये, 10 मोबाइल फोन और घटना में प्रयुक्त दो बाइक बरामद की। आरोपियों ने अब तक राजधानी में 60 से अधिक लूट की वारदात को अंजाम देने की बात कबूली है। इसके अलावा इस गैंग में मई माह में महानगर इलाके में पांच की लूट की एक वारदात को भी अंजाम दिया था।


एसएसपी दीपक कुमार ने बताया कि अलीगंज पुलिस ने बीती रात मुखबिर की सूचना पर बीस फीटा रोड के पास से दो अपाचे बाइक सवार पांच संदिग्धों को पकड़ा। जब सबकी तलाशी ली गयी तो उनके पास से 1.45 लाख रुपये और दस मोबाइल फोन मिले। पूछताछ की गयी तो आरोपियों ने बताया कि उक्त मोबाइल फोन लूट का है।

कड़ाई से पूछताछ के दौरान आरोपियों ने लखनऊ में 60, गाजियाबाद में 80 और एनसीआर इलाके में लूट की 20 वारदातों को अंजाम देने की बात कबूल की। आरोपियों ने अपना नाम गाजियाबाद निवासी आरिफ, आजिम, फैजान, इमरान और रेहान बताया।

पुलिस ने जब छानबीन की तो पता चला कि लुटेरों के इस गैंग ने बीते 20 मई को हजरतगंज के नरही निवासी सुजीत कुमार से वायरलेस चौराहे के पास पांच लाख की लूट की वारदात को अंजाम दिया था। अलीगंज पुलिस का दवा है कि पांच लाख की लूट के अलावा लुटेरों के इस गंैग से अब तक 20 लूट की घटनाओं का पता चल सका है।

इस तरह करते थे लूट
इस गैंग का लीडर आरिफ है। उसकी हसनगंज इलाके में ससुराल हैं और वह किराये के मकान में रहता है। आरिफ ने गाजियाबाद के रहने वाले बाकी लुटेरों के साथ मिलकर अपना गैंग तैयार किया था। इसके बाद सभी लोग हसनगंज इलाके में किराये का कमरा भी दिलाया था। आरिफ गैंग के लोगों को फोन कर शिया कालेज बुलाता था। इसके बाद यह लोग बाइक से घूम-घूमकर लूट की वारदात को अंजाम देते थे। लुटेरों का यह गैंग अपने साथ गमछा और शर्ट भी रखता था, ताकि वारदात के फौरन बाद यह लोग अपना हुलिया बदल ले और पुलिस उन पर शक न कर सके। आरोपी आरिफ ने कभी अपने गैंग के लोगों को अपना मकान भी नहीं दिखाया था। यहां तक कि आरिफ अपना मोबाइल फोन भी हमेशा आफ रखता था। वारदात को अंजाम देने से पहले वह फोन आन कर साथियों को बुलाता था और फिर फोन बंद कर लेता था।

हाईफाई शौक और नशे की लत को पूरा करने के लिए करते थे लूट
एसओ अलीगंज जयशंकर सिंह का कहना है कि बदमाशोंं का यह गैंग हाईफाई शौक रखता है। महंगे कपड़े पहनना, घूमना और नशे की लत को पूरा करने के लिए यह लोग लूट की वारदात को अंजाम देते थे। लूट का सामान गैंग लीडर दिल्ली चोर बाजार में बेच दिया करता था।

लूट की रकम अपने पास नहीं रखता था गैंग लीडर
लुटेरों की लीडर लूट कर जमा की गयी आधी रकम अपने पास रखता था,जबकि आधी रकम बाकी साथियों में बांट दिया करता था। खाते में ज्यादा रुपये न हो इसके लिए लीडर आरिफ कुछ रकम अपने रिश्तेदारों के पास विदेश भेज देता था और फिर वही रकम उन लोगों से अपने खाते में मंगवा लेता था। ऐसा वह इसलिए करता था कि कभी खाता चेक हो तो वह लोग कह सके कि उनके खाते में मौजूद रकम उसके रिश्तेदारों ने विदेश से भेजी है। सिर्फ इतना ही नहीं पकड़े गये लुटेरे लूट की रकम का 20 प्रतिशत हिस्सा जमा करके अपने साथ रखते थे। ऐसा वह इसलिए करते थे ताकि पकड़े जाने पर जमानत में उस रकम का प्रयोग कर सकें।

एक पीडि़ता से मिल इनपुट पर पकड़े गये लुटेरे
अलीगंज पुलिस ने शातिर लुटेरों को पकड़कर जहां एक तरफ गुडवर्क किया है, वहीं इस गुडवर्क की असली सूत्रधार एक महिला को पुलिस ने नज़र अंदाज कर दिया। अगर लूट की शिकार हुई महिला ने बदमाशों की बाइक का नम्बर पुलिस को नहीं दिया होता तो शायद आज पुलिस उनतक नहीं पहुंच सकती। हुआ यूं कि अलीगंज के सेक्टर सी निवासी मधु श्रीवास्तव से बीते 26 अक्टूबर को बाइक सवार बदमाशों ने पर्स लूटा था। उस वक्त मधु ने बदमाशों की बाइक का नम्बर नोट कर लिया और पुलिस को नम्बर दे दिया था। बस मधु से मिले नम्बर के बाद अलीगंज पुलिस लुटेरों के इस गैंग तक पहुंच गयी।

The post Breaking:लखनऊ में 60 से अधिक लूट की वारदात को अंजाम देने वाले पांच लुटेरों गिरफ्तार,जानिए कैसे करते थे लूट! appeared first on TOS News.

]]>