OMG:मालइका अरोड़ा ने इसलिए दिया था अरबाज खान को तलाक, सुनकर दंग रह जाइयेगा आप!

मुम्बई: आईपीएल सट्टेबाजी में बॉलीवुड अभिनेता और निर्माता अरबाज खान का नाम सामने आने के बाद अब एक और बड़ा खुलासा हुआ है। बताया जा रहा है कि उनकी पहली पत्नी मालइका अरोड़ा ने सट्टेबाजी की लत से परेशान होकर ही अरबाज खान का साथ छोड़ा था।


वहीं अरबाज खान का नाम सामने आते ही समन जारी होने के बाद शुक्रवार को वह ठाणे क्रइम ब्रांच ऑफिस में जवाब देने के लिए हाजिर हुए। इस दौरान सीनियर पुलिस इंस्पेक्टर प्रदीप शर्मा के सवालों का जवाब देते हुए अरबाज ने बताया कि वह पिछले छह सालों से सट्टा खेल रहे हैं। प्रदीप शर्मा की अगुवाई वाली 5 सदस्यों की टीम के सामने अरबाज ने बताया कि उनके सट्टेबाजी के बारे में घर के सभी सदस्यों को जानकारी थी।

गौरतलब है कि पुलिस ने 15 मई को सट्टेबाजी गिरोह का भंडाफोड़ किया था। आईपीएल मैच में सट्टा लगाने के आरोप में सोनू जालान उर्फ सोनू मलाड को 29 मई को गिरफ्तार किया गया था। पुलिस को सोनू मलाड के घर से एक डायरी मिली थी। डायरी में अरबाज खान समेत कई कॉन्ट्रेक्टर, बिल्डर और बॉलीवुड सेलिब्रेटीज के भी नाम सामने आए हैं जिनमें एक अरबाज खान भी हैं।

बता दें कि फिल्म स्टार सलमान खान के छोटे भाई अरबाज खान न सिर्फ एक अभिनेता हैं बल्कि फिल्म निर्देशक भी हैं। उनके निर्देशन में दबंग, दबंग-2 और डॉली की डोली जैसी फिल्में बनी हैं। 15 मई को एंटी एक्सटॉर्शन सेल ने मुंबई में बुकी सोनू जालान के चार साथियों की गिरफ्तारी कर सट्टेबाजी रैकेट का भंडाफोड़ किया। इनसे पूछताछ के आधार पर एईसी ने 29 मई को सोनू जालान को धर.दबोचा।

सोनू के घर से मिली डायरी में अभिनेता अरबाज खान समेत कई बॉलीवुड हस्तियोंए ठेकेदारों और बिल्डरों के नाम दर्ज हैं। करीब 100 से ज्यादा सटोरियों के मोबाइल नंबर भी इसमें हैं। शनिवार को एईसी ने फिल्म सरकार के प्रोड्यूसर पराग संघवी से भी पूछताछ की। करीब 600 करोड़ रुपये के सट्टेबाजी मामले में जल्द ही डायरी में दर्ज बाकी लोगों को भी तलब किया जाएगा।

बुकी सोनू जालान आईपीएल में सट्टेबाजी रैकेट का सबसे बड़ा नाम है। उसने पुलिस को दिए बयान में अंडरवल्र्ड से संबंधों की जानकारी दी है। इससे संदेह पैदा हो गया है कि क्या अरबाज खान को ब्लैकमेल कर पैसे ऐंठे गए। अब पुलिस सोनू की डायरी में हाथ से लिखे नोट्स का उसके बयान से मिलान करेगी।

डायरी में पाकिस्तान के एक नेता का नाम भी है। सूत्रों का कहना है कि अरबाज को चेतावनी दी गई कि अगर बकाया पैसे नहीं मिले तो उनकी सट्टेबाजी की आदत सार्वजनिक कर दी जाएगी। इस दौरान अरबाज ने सोनू को 3 करोड़ रुपये से ज्यादा का भुगतान किया।

वहीं सोनू की डायरी में पाकिस्तान के एक नेता का नाम होने से पुलिस ने इसे गंभीरता से लिया है। हालांकि एंटी एक्सटॉर्शन सेल के मुखिया वरिष्ठ इंस्पेक्टर प्रदीप शर्मा का कहना है कि अभी कुछ भी कहना जल्दबाजी होगी। हमें सबूतों और बयानों की जांच करनी होगी। प्राथमिक अनुमान है कि जालान के सट्टेबाजी रैकेट में कुल 1000 करोड़ रुपये का लेनदेन हुआ है।

You May Also Like

English News