OMG: दिल्ली के ठग ने लखनऊ के कारोबारी को लगाया 74 लाख का चूना, जानिए कैसे?

लखनऊ: हसनगंज इलाके मेें रहने वाले एक चावल कारोबारी को दिल्ली के एक जालसाज ने 74 लाख रुपये का चूना लगा दिया। आरोपी ने कारोबारी से 24 ट्रक चावल मंगवाया और महज 18 लाख का भुगतान किया और फिर गायब हो गया। ठगी का शिकार हुए कारोबारी ने इसकी शिकायत दिल्ली पुलिस में की पर वहां कुछ नहीं हुआ। अब इस मामले में पीडि़त ने हसनगंज कोतवाली में एफआईआर दर्ज करायी है।


हसनगंज के निरालानगर इलाके में कारोबारी कृष्ण कुमार अग्रवाल अपने परिवार के साथ रहते हैं। उनकी डालीगंज रेलवे क्रासिंग के पास आरजी उद्योग के नाम से चावल की फैक्ट्री है। कृष्ण कुमार का कहना है कि नवम्बर वर्ष 2017 में दिल्ली निवासी प्रवेश जैन उनके पास पहुंचे। उन्होंने कृष्ण कुमार से उनकी फैक्ट्री से चावल खरीदने की बात कही।

प्रवेश ने अपना पहचान पत्र भी दिया। इसके बाद प्रवेश ने कारोबारी से दिल्ली माल सप्लाई करने के लिए कहा और माल डिलेवरी के बाद बैंक खाते में रुपये जमा करने के लिए कहा। इसके बाद 8 नवम्बर 2017 से लेकर एक जनवरी के बीच प्रवेश जैन ने कृष्ण कुमार अग्रवाल से 24 ट्रक यानि 4460 कुंतल चावल दिल्ली मंगवाया। कृष्ण कुमार का कहना है कि प्रवेश ने दो डिलेवरी के लिए 13.35 लाख रुपये का भुगतान भी किया।

इसके बाद उसने भुगतान बंद कर दिया। कृष्ण कुमार ने जब इस बारे में प्रवेश जैन से सम्पर्क किया तो उसने बताया कि उसकी तबियत खराब है और अस्पताल में भर्ती है। अस्पताल से आने के बाद वह बाकी 74 लाख रुपये का भुगतान कर देगा। कुछ समय गुजरने के बाद भी जब कृष्ण कुमार को बकाया रुपये नहीं मिले तो उन्होंने फिर से प्रवेश से सम्पर्क किया तो उसका फोन बंद मिला।

फोन बंद मिलने पर कृष्ण कुमार को कुछ शक हुआ। उन्होंने अपने एक प्रतिनिधि को छानबीन के लिए दिल्ली भेजा। छानबीन में इस बात का पता चला कि प्रवेश जैन किराये की दुकान लेकर धंधा कर रहा था और फिलहाल अब उसकी दुकान बंद है।

इस बात का पता चलने पर कारोबारी को यकीन हो गया कि प्रवेश ने उसके साथ ठगी की है। कारोबारी ने इस संबंध में दिल्ली के लोहारी गेट पुलिस से लिखित शिकायत भी की थी पर पुलिस ने मामला लखनऊ का बताकर टाल दिया था। अब इस मामले में पीडि़त कारोबारी ने हसनगंज कोतवाली में प्रवेश जैन के खिलाफ धोखाधड़ी और अमानत में खयानत की रिपोर्ट दर्ज करायी है।

You May Also Like

English News