OMG : दुनिया पर पहला Sex Bot वेश्यालय खोला गया, जानिए इसके पीछे की वजह व तर्क!

रूस: दुनिया में महिलाओं के यौन शोषण को रोकने के लिए कानून से लेकर तमाम कोशिशें की जा रही हैं। अब इसी की रोकथाम को लेकर बड़ी अजीबो-गरीब खबर रुस से आयी है। इस खबर के बारे में बताने से पहले आपको बता दें कि रुस में फीफा वल्र्स कप शुरु होने वाला है। इस वल्र्ड कप को देखने के लिए रुस मेें करीब 10 लाख विदेशी पहुंचेंगे। ऐस में रूस में पहला रोबोट सेक्स ब्रॉथल यानि रोबोट सेक्स वेश्यालय खोला गया है।


मॉस्को में रोबॉट सेक्स ब्रॉथल खोला गया है जो कि दुनिया का पहला रोबॉट सेक्स ब्रॉथल है। द डॉल्स होटेल नाम के इस ब्रॉथल में हूबहू इंसान की तरह दिखने वाले कई रोबॉट होने का दावा किया जा रहा है। बताया जा रहा है कि वे एक आदमी की सेक्स इच्छा को संतुष्ट करने में माहिर हैं।

महिला शोषण में आएगी कमी करीब 24 से 40 डॉलर लगभग 1600 से 2800 रुपये तक खर्च कर कोई भी मॉस्को के व्यस्त व्यवसाई इलाके में खुले इस लीगल ब्रॉथल में रोबॉट के साथ एक घंटे का वक्त बिता सकता है। इस ब्रॉथल के फाउंडर दिमित्रिव एलेक्जेंद्रोव का मानना है कि उनके इस कदम से रूस में महिलाओं के खिलाफ हो रहे शोषण में भी कमी आएगी।

उन्होंने कहा कि रूस में महिलाओं के साथ हिंसक व्यवहार होता है। मुझे उम्मीद है कि इस ब्रॉथल के आने से इस समस्या में कमी आएगी। आर्टिफिशियल ब्रेन से सुज्जित होंगी सेक्स बॉट इस ब्रोथल की सेक्स बोट यानी सेक्स रोबोट को अत्याधुनिक तरीके से बनाया गया है जिनके मैकेनिकल मूव्ज होंगे, यानी जो हिल डुल सकेंगी।

इसके साथ ही इनमें आर्टीफिशयल ब्रेन होगा जो इंसानी संकेतों के अनुसार सेक्स इच्छा को संतुष्ट कर सकेंगी। इस सेक्स ब्रॉथल को खोलने वाले मालिकों का आशा है कि इस टूर्नामेंट के तहत वो विदेशी पर्यटकों के साथ साथ प्लेयर्स को भी आकर्षित कर सकेंगे। इसके अलावा इन सेक्स बॉट की हाइजीन का भी पूरा ध्यान रखा गया है ताकि इससे किसी तरह का इंफेक्शन का खतरा न हों। सभार- बोल्डस्काई, वनइण्डिया

You May Also Like

English News