PAK के इस गेंदबाज ने बनाया वर्ल्ड रिकॉर्ड, खाली था दुबई का स्टेडियम

पाकिस्तान अपने दर्शकों के बीच खेलने को तरस गया है. श्रीलंका के खिलाफ मौजूदा टेस्ट सीरीज का दूसरा और आखिरी मैच दुबई में खेला जा रहा है. इस डे-नाइट टेस्ट के अंतिम दिन पाकिस्तान को जीत के लिए और 119 रन चाहिए और उसके 5 विकेट बचे हैं.PAK के इस गेंदबाज ने बनाया वर्ल्ड रिकॉर्ड, खाली था दुबई का स्टेडियमटीम इंडिया ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ गुवाहाटी में सीरीज जीत के लिए इस इरादे से खेलेंगी मैच

खेल के चौथे दिन बाएं हाथ से स्पिन गेंदें करने वाले हारिस सोहेल ने न सिर्फ यादगार ओवर किया, बल्कि वर्ल्ड रिकॉर्ड बना डाला. लेकिन हैरान कर देने वाली बात यह है कि हारिस के उस वर्ल्ड रिकॉर्ड पर तालियां बजाने के लिए स्टेडियम में एक भी दर्शन नजर नहीं आ रहा था. 

दरअसल, श्रीलंका अपनी दूसरी पारी में 95 रन पर 7 विकेट गंवा चुका था. ऐसे में कप्तान सरफराज अहमद ने 26वें ओवर में हारिस को याद किया. कमाल की बात यह है कि महज एक टेस्ट का अनुभव रखने वाले 28 साल के हारिस ने उसी ओवर में श्रीलंका के बाकी बचे तीनों विकेट झटक लिए. श्रीलंकाई टीम 96 रनों पर ऑल आउट हो गई.

मजे की बात यह रही कि हारिस उस पारी में एक ही ओवर फेंके थे कि श्रीलंका की पूरी टीम सिमट गई. उन्होंने उस ओवर की पहली, चौथी और आखिरी गेंद पर विकेट निकाले. यानी एक ओवर के स्पेल में तीन विकेट लेने वाले हारिस टेस्ट क्रिकेट के इकलौते गेंदबाज बन गए. इससे पहले तीन ऐसे गेंदबाज हो चुके हैं, जो पारी के एक ओवर के स्पेल में 2-2 विकेट लिये.

टेस्ट क्रिकेट में एक ओवर के स्पेल में सर्वाधिक विकेट

1. हारिस सोहेल (पाकिस्तान) विरुद्ध श्रीलंका, 2017, तीन विकेट (दुबई) 

2. गॉर्डन व्हाइट (द. अफ्रीका) विरुद्ध इंग्लैंड, 1910, दो विकेट (केपटाउन)

3. हीथ स्ट्रीक (जिम्बाब्वे) विरुद्ध श्रीलंका, 1998, दो विकेट (कैंडी)

4. रामनरेश सरवन (वेस्टइंडीज) विरुद्ध भारत, 2002, दो विकेट (ब्रिजटाउन)

पाकिस्तान की कोशिश हुई थी बेकार…

पहले ही संकेत मिल चुके थे कि पाकिस्तान-श्रीलंका सीरीज का आयोजन यूएई में किया जाएगा. हालांकि पाकिस्तान बोर्ड (पीसीबी) ने श्रीलंका बोर्ड को मनाने की पुरजोर कोशिश की थी कि श्रीलंकाई टीम दौरे के कुछ मैच पाकिस्तान में खेले. गौरतलब है कि श्रीलंका के खिलाड़ियों पर 2009 में लाहौर में एक आतंकी समूह द्वारा हमला किया गया था, जिसमें कई खिलाड़ी और अधिकारी घायल हो गए थे. उसके बाद से पाकिस्तान में बहुत ज्यादा अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट मैचों का आयोजन नहीं हुआ है. केवल जिंबाब्वे ने 2015 में सीमित ओवरों की सीरीज के लिए पाकिस्तान का दौरा किया था.

You May Also Like

English News