PAK ने चीन की कड़ी शर्तों के कारण पीओके के बांध को CPEC में नहीं किया शामिल

पाकिस्तान के एक वरिष्ठ अधिकारी का कहना है कि चीन की कड़ी शर्तों के चलते उसने डियामेर-भाषा बांध को चीन पाकिस्तान आर्थिक गलियारे (सीपीईसी) में शामिल करने का प्रयास छोड़ दिया.PAK ने चीन की कड़ी शर्तों के कारण पीओके के बांध को CPEC में नहीं किया शामिलAuction: चित्रकार लिओनार्दो दा विंची की पेंटिंग 2940 करोड़ रुपए में नीलाम !

14 अरब डालर की है परियोजना

एजेंसी की खबर के मुताबिक, डियामेर-भाषा बांध पाक अधिकृत कश्मीर (पीओके) में स्थित 14 अरब डालर की परियोजना है. भारत के विरोध के चलते पाकिस्तान को सिंधु नदी पर स्थित इस परियोजना के लिए विश्व बैंक जैसे वित्तीय संस्थानों से धन जुटाने में दिक्कत आ रही है. बता दें कि भारत को पीओके से गुजरने वाली सीपीईसी परियोजना पर गहरी आपत्ति है.

बांध के लिए नहीं मिलेगा पैसा 

एक्सप्रेस ट्रिब्यून ने जल संसाधन सचिव शुमैल ख्वाजा के हवाले से लिखा है कि इस बांध के लिए न तो विश्व बैंक, एडीबी और न ही चीन पैसा देगा इसलिए सरकार ने जल भंडार का निर्माण अपने संसाधनों से ही करने का फैसला किया है.

बता दें कि पाकिस्तान ने बांध परियोजना को वापस लेने का फैसला ऐसे समय में किया है जबकि चीन के साथ उसकी संयुक्त सहयोग समिति (जेसीसी) की सातवीं बैठक 21 नवंबर को इस्लामाबाद में होनी है. जेसीसी सीपीईसी की शीर्ष निर्णय लेने वाली समिति है.

You May Also Like

English News