Paytm अप्रैल के अंत तक करेगा म्युचुअल फंड इंडस्ट्री में एंट्री

नई दिल्ली। एसेट मैनेजमेंट कंपनियां जिनके पास 18 मिलियन निवेशक हैं, को जल्द ही पेटीएम के रूप में एक डिस्ट्रीब्यूटर मिलने वाला है। पेटीएम दावा करता है कि उसका कस्टमर बेस एसेट मैनेजमेंट कंपनियों के निवेशकों से 16 गुना ज्यादा है।

पेटीएम के मुताबिक कंपनी का यूजर बेस 300 मिलियन से भी ज्यादा है। कंपनी अपना म्युचुअल फंड्स डिस्ट्रीब्यूशन बिजनेस डिजिटल प्लेटफॉर्म के साथ इस महीने के अंत तक शुरू करने वाली है। पहले चरण में कंपनी की एंड्रॉयड और आईओएस एप म्युचुअल फंड निवेशकों को 15 सबसे बड़ी एसेट मैनेजमेंट कंपनियों में से 12 में निवेश करने का मौका देगी। इस साल अगस्त तक कंपनी का लक्ष्य इस आंकड़े को बढ़ाकर 25 फंड हाउसेज तक करने का है।

म्युचुअल फंड्स का वितरण पेटीएम मनी के जरिए किया जाएगा। यह वन97 कम्यूनिकेशन्स की वेल्थ मैनेजमेंट यूनिट है। कंपनी पेटीएम, मोबाइल वॉलेट और पेटीएम पेमेंट्स बैंक का भी स्वामित्व रखती है। आपको बता दें कि पेटीएम के जरिए किये जाने वाले कुल लेनदेन में आधा से अधिक की हिस्सेदारी छोटे शहरों की है। 

पेटीएम केवल डायरेक्ट प्लान की बिक्री करेगा जिनकी एक्सपेंस रेश्यो कम होती है। ऐसा इसलिए क्योंकि इसमें डिस्ट्रिब्यूटर का कमीशन शामिल नहीं होता। डायरेक्ट प्लान की शुरुआत उन निवेशकों के लिए की गई थी जो बिना डिस्ट्रिब्यूटर के निवेश करना चाहते थे, लेकिन अब यह वही निवेश सलाहाकार पेश कर सकते हैं जो भारतीय प्रतिभूति एवं विनिमय बोर्ड (सेबी) के पास पंजीकृत हैं। पेटीएम मनी सेबी रजिस्टर्ड निवेश सलाहकार है।

You May Also Like

English News