PM मोदी को राहुल की चुनौती, वाराणसी में ‘तिकड़ी’ से मुकाबला करके दिखाएं!

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने कर्नाटक में चुनाव प्रचार के दौरान विपक्षी एकजुटता पर बड़ा बयान दिया है. उन्होंने कहा है कि अगर विपक्षी एकजुट हो जाएं तो बीजेपी 2019 में नहीं जीत पाएगी.

इतना ही नहीं, राहुल गांधी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के चुनाव हारने का भी दावा किया. उन्होंने कहा कि वाराणसी में अगर सपा-बसपा और कांग्रेस मिलकर लड़ें तो पीएम मोदी भी चुनाव नहीं जीत पाएंगे. राहुल ने कहा कि यदि तीनों पार्टियां साथ आती हैं तो मोदी शायद वाराणसी सीट भी हार जाएं. राहुल ने कहा, ‘मैं उन्हें चुनौती देता हूं कि वह तीनों दलों के खिलाफ खड़े होकर दिखाएं.’

बीजेपी का पलटवार

विपक्षी एकजुटता पर राहुल के इस बड़े बयान के बाद बीजेपी ने भी पलटवार किया. बीजेपी प्रवक्ता अनिल बलूनी ने कहा कि राहुल गांधी को अपनी मां और खुद की सीट की चिंता करनी चाहिए, उन्हें मोदी के बारे में परेशान नहीं होना चाहिए.

अमेठी और रायबरेली बचा लें राहुल

अनिल बलूनी ने कहा कि राहुल गांधी और सोनिया गांधी ने अपने संसदीय क्षेत्रों में कुछ नहीं किया है. ये तय है कि 2019 में दोनों अपनी सीट नहीं बचा पाएंगे.

बता दें कि नरेंद्र मोदी ने 2014 में यूपी की वाराणसी सीट से सांसद का चुनाव लड़ा था. मोदी के खिलाफ दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने भी चुनाव लड़ा था, लेकिन बड़े अंतर से सभी विरोधियों को परास्त किया था.

अब जबकि सपा-बसपा और कांग्रेस के गठबंधन से गोरखपुर और फूलपुर लोकसभा उपचुनाव में बीजेपी को झटका लगा है, तो राहुल गांधी को उम्मीद है कि विपक्षी एकजुटता व्यक्तिगत तौर पर मोदी को हराने में भी कामयाब रहेगी. हालांकि, बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह कह चुके हैं कि मोदी के डर से सांप-नेवलों और कुत्तों की जोड़ी साथ में चुनाव लड़ रही है, लेकिन 2019 में बीजेपी को ही जीत मिलेगी.

 

You May Also Like

English News