Politics: कासगंज हिंसा पर भड़की मायावती, योगी सरकार को ठहराया जिम्मेदार!

नई दिल्ली: उत्तर प्रदेश के कासगंज हिंसा में गणतंत्र दिवस के मौके पर हुई हिंसा पर बसपा सुप्रीमो ने बीजेपी सरकार की कड़ी आलोचना करते हुए दोषियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की मांग की है। रविवार को जारी एक बयान में उन्होंने कहा कि बीजेपी शासित राज्यों में कानून व्यवस्था का बुरा हाल है।


कासंगज में गणतंत्र दिवस पर हुई हिंसा का जिक्र करते हुए प्रदेश की कानून.व्यवस्?था की तुलना जंगलराज से की। उन्होंने कहा कि बीजेपी और इनके सहयोगी संगठनों के अपराधीकरण का दुष्परिणाम देश में हर जगह हिंसा के रूप में नजर आ रहा है।

मेरठ में मां-बेटे की हत्या पर भी उन्होंने योगी सरकार को घेरते हुए कहा कि सरकारी गवाहों की रक्षा करने में सरकार विफल साबित हो रही है।

फिल्म पद्मावत पर सुप्रीम कोर्ट के स्पष्ट निर्देश के बावजूद आरएसएस और सरकार के ढुलमुल रवैये ने प्रदेश और देश में कानून व्यवस्था को बिगडऩे दिया।

इससे ये साफ हो जाता है कि बीजेपी व इनकी सरकारें किसी न किसी रूप में जातिवादी व सांप्रदायिक हिंसा व हिंसक प्रवृति को बढ़ावा देते रहना चाहती हैं। बीजेपी नेताओं से आपराधिक मुकदमें वापस लेने की भी बसपा सुप्रीमो ने कड़ी निंदा की है।

You May Also Like

English News