Politics: सीएम कुमारस्वामी के शपथ ग्रहण की यह तस्वीरे बयां कर रही है भविष्य की राजनीति, जानिए कैसे?

बैगलोर: कर्नाटक के सीएम एचडी कुमारस्वामी के बुधवार को शपथ ग्रहण समारोह में भविष्य की राजनीति की तस्वीर देखने को मिली। 2019 से पहले विपक्षी एकता के प्रदर्शन के बीच जदएस के नेता एचडी कुमारस्वामी ने बुधवार को कर्नाटक के 24वें मुख्यमंत्री के तौर पर शपथ ली। गठबंधन सरकार में कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष जी परमेश्वर ने भी डिप्टी सीएम के पद की शपथ ली। शुक्रवार को होने वाले बहुमत परीक्षण के बाद मंत्रिमंडल में अन्य सदस्यों को शामिल किया जाएगा।


14 विपक्षी दलों के दिग्गज नेताओं ने इस कार्यक्रम में शामिल होकर पीएम नरेंद्र मोदी के खिलाफ मजबूत मोर्चा बनाने का संदेश दिया। इनमें कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधीए यूपीए की चेयरपर्सन सोनिया गांधी, जदएस सुप्रीमो एचडी देवगौड़ा, पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी आंध्र प्रदेश के सीएम एन चंद्रबाबू नायडू, दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल, केरल के सीएम पिनराई विजयन, यूपी के पूर्व सीएम अखिलेश यादव और बसपा सुप्रीमो मायावती शामिल रहे।

फूलपुर और गोरखपुर के लोकसभा उपचुनाव में साथ आकर भाजपा को करारी शिकस्त देने वाले सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव और बसपा नेता मायावती ने पहली बार कोई मंच साझा किया। दोनों नेता एक साथ बैठे और आपस में गुफ्तगू करते नजर आए। आपको बता दें कि गोरखपुर व फूलपुर उपचुनाव सपा-बसपा ने मिलकर लड़ा था। जिससे कि भाजपा को अपने सबसे मजबूत किले गोरखपुर में करारी हार का सामना करना पड़ा था। वही फूलपुर में भी हार हुई।

भाजपा की इस हार ने 2019 के चुनाव के लिए सपा-बसपा के गठबंधन की संभावनाओं को और मजबूत कर दिया। इसके अलावा अभी कुछ दिनों पहले ही बैंगलौर में बसपा सुप्रीमो मायावती ने बयान दिया था कि सीटों का बंटवारा होते ही सपा-बसपा गठबंधन की घोषणा कर दी जाएगी। कर्नाटक के सीएम के शपथ ग्रहण समारोह में अन्य नेताओं में एनसीपी नेता शरद पवार, माकपा महासचिव सीताराम येचुरीए राजद के नेता तेजस्वी यादव भी शामिल थे।

2019 से पहले विपक्षी एकता के प्रदर्शन के बीच जदएस के नेता एचडी कुमारस्वामी ने बुधवार को कर्नाटक के 24वें मुख्यमंत्री के तौर पर शपथ ली। गठबंधन सरकार में कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष जी परमेश्वर ने भी डिप्टी सीएम के पद की शपथ ली। शुक्रवार को होने वाले बहुमत परीक्षण के बाद मंत्रिमंडल में अन्य सदस्यों को शामिल किया जाएगा। 14 विपक्षी दलों के दिग्गज नेताओं ने इस कार्यक्रम में शामिल होकर पीएम नरेंद्र मोदी के खिलाफ मजबूत मोर्चा बनाने का संदेश दिया।

You May Also Like

English News