Ram Mandir: सीएम योगी आदित्यनाथ ने राम मंदिर निर्माण पर दिया बड़ा बयान, जानिए आपभी!

अयोध्या: वर्ष 2019 का चूनाव करीब आ रहा है। ऐसे में फिर से राम मंदिर का मुद्दा गरमाने लगा है। मुख्यमंत्री बनने के बाद छठवीं बार अयोध्या पहुंचे योगी आदित्यनाथ को सोमवार को संतों के तीखे सवालों का सामना करना पड़ा। संतों ने कहा कि राष्ट्रपति, प्रधानमंत्री, मुख्यमंत्री से लेकर मेयर तक भाजपा का हैए आखिर अब कब बनेगा राम मंदिर।


इस पर सीएम योगी ने उन्हें मर्यादा का पाठ पढ़ाया और कहा कि मंदिर जरूर बनेगाए लेकिन मर्यादा में रहकर ही मर्यादा पुरुषोत्तम का मंदिर बनेगा। रामजन्मभूमि न्यास के अध्यक्ष महंत नृत्यगोपाल दास के जन्मोत्सव में आयोजित संत सम्मेलन में पहुंचे योगी ने कहा कि भगवान राम मर्यादा के प्रतीक हैं संत मर्यादा के प्रतिनिधि। सभी समस्याओं के समाधान का सम्यक प्रयास मर्यादा में रहकर करना होगा।

सीएम ने समझाते हुए कहा कि हम दुनिया के सबसे बड़े लोकतंत्र हैं। न्यायपालिकाए विधायिकाए कार्यपालिका की अपनी भूमिका होती है। हमें उन मर्यादाओं को भी ध्यान में रखना होगा।योगी ने कहा कि रामभक्तों पर गोली चलवाने वाले लोग अब राम मंदिर की बात करते हैं। इमरजेंसी में लोकतंत्र की हत्या करने वाले लोग लोकतंत्र की दुहाई देते हैं।

उनके हृदय परिवर्तन को हम अपनी जीत मानते हैं। सीएम योगी आदित्यनाथ जब मंच पर पहुंचे तो भीड़ ने नारा लगाया कि योगीजी मंदिर का निर्माण करो। फिर शीर्ष संतों ने सवाल खड़ा किया कि राममंदिर कब बनेगा। परमानंद सरस्वती ने कहा कि अब क्या बचा है प्रधानमंत्री, राष्ट्रपति, मुख्यमंत्री, सांसद, विधायक से लेकर मेयर तक भाजपा के हैंए फिर भी सरकार राममंदिर बनाने से परहेज क्यों कर रही है।

पूर्व सांसद डॉण् रामविलास वेदांती ने कहा कि विस चुनाव में योगी ने हर मंच से सरकार बनने पर मंदिर निर्माण का एलान किया था। अब भाजपा मंदिर नहीं बनाती है तो वह रसातल की ओर चली जाएगी। संत यह भी ऐलान करते दिखे कि जैसे बिना कोर्ट और सरकार के आदेश के बाबरी ढांचा ध्वंस किया गयाए उसी तरह राममंदिर का निर्माण करने में भी अब रामभक्त पीछे नहीं रहेंगें।

सीएम ने संतों की भावना से खुद को जोड़ते हुए कहा कि मंदिर निर्माण बहुसंख्यक समाज की भावना है। धैर्य रखिएए इसका समाधान जल्द निकलेगा। यह मामला मर्यादित तरीके से पटाक्षेप की ओर जा रहा है। कुछ लोग रामभक्तों को भड़काने वाला अनावश्यक बयान दे रहे हैं ताकि सामाजिक सौहार्द बिगड़े।

संतों को सावधान रहना होगा कि कुछ लोग एक तरफ कोर्ट में अर्जी लगाते हैं कि 2019 से पहले राममंदिर का निर्माण न हो, वही आज पूछते हैं कि राममंदिर कब बन रहा है। योगी ने कहा कि राम अखंड ब्रह्मांड के स्वामी हैं। राम की जब कृपा होगी तब राममंदिर बनकर रहेगाए इसमें संदेह नहीं होना चाहिए। हम उन षडयंत्रों को समझें जिन लोगों ने बार.बार अवरोध पैदा किया।

You May Also Like

English News