Rose Day 2018: जानिए क्यों मनाया जाता है ये दिन, पीछे है दिलचस्प किस्सा

रोज डे के साथ वेलेंटाइन वीक की शुरुआत होती है। इस दिन लव बर्डस एक दूसरे को गुलाब का फूल देकर अपने प्रेम का इजहार करते हैं। सिर्फ प्रेमी-प्रेमिका ही नहीं जो लोग अभी तक सिंगल है वो भी इसमें डुबकी लगा इस दिन को अपनी फीलिंग का इजहार करने के लिए अच्छा दिन मानाते हैं। सालों से इस दिन को हम मनाते आ रहे हैं, लेकिन क्या आपने कभी सोचा है कि हम क्यों मनाते हैं यह दिन? क्या है इसके पीछे की कहानी? अगली स्लाइड में जानें इसके बारे में…Rose Day 2018: जानिए क्यों मनाया जाता है ये दिन, पीछे है दिलचस्प किस्सा

रोज डे मनाने को लेकर एक कहानी बताई जाती है। अगर आप ROSE के अक्षरों को ठीक तरीके से व्यवस्थित करते हैं तो यह बन जाता है ‘EROS’ जो प्रेम के देवता है।  ग्रीक माइथोलॉजी बताती है कि प्रेम की देवी Venus का भी गुलाब पसंदीदा फूल हैं।

रोज डे को लेकर कहा जाता है कि मुगल बेगम नूरजहां को लाल गुलाब सबसे अधिक प्रिय था। कहते हैं कि नूरजहां के दिल को खुश करने के लिए उनके शौहर रोज टनों के हिसाब से ताजे गुलाब उनके महल भिजवाया करते थे। 

तो अगर आप को भी सच्चे प्यार की तालाश है तो प्यार की बारिश में भीगने के लिए खुद को तैयार कर लें। क्योंकि कल से रोज डे के साथ वेलेंटाइन वीक की शुरुआत हो रही हैं तो आप भी जिसे लंबे समय से चाहते हैं और अपने प्यार का इजहार नहीं कर पा रहे हैं तो एक फूलों का गुलदस्ता खरीद लें और कल ही अपने प्यार के हाथ में थमा दें।

You May Also Like

English News