SBI : ग्राहकों को नई सुविधा, अब 25,000 रु. तक कर सकेंगे मनी ट्रांसफर

भारतीय स्टेट बैंक (एसबीआई) ने ऐसी मनी ट्रांसफर सर्विस पेश की है जिसमें ग्राहक को पैसे भेजने के लिए बेनिफिशयरी को जोड़ने की जरूरत नहीं होगी।भारतीय स्टेट बैंक (एसबीआई) ने ऐसी मनी ट्रांसफर सर्विस पेश की है जिसमें ग्राहक को पैसे भेजने के लिए बेनिफिशयरी को जोड़ने की जरूरत नहीं होगी।  इस सेवा का नाम ''क्विक ट्रांसफर'' है। हालांकि इसमें ग्राहकों को 25,000 रुपया तक भेजने की ही सुविधा होगी, जिसमें प्रति ट्रांजैक्शंस 10,000 रुपये की लिमिट तय की गई है।  इसके जरिए ग्राहक रेमिटेंस के लिए आवेदन कर सकते हैं। हालांकि, इस सेवा का लाभ केवल वही ग्राहक उठा सकते हैं जिन्होंने एसबीआई की इंटरनेट बैंकिंग फैसिलिटी के लिए सब्सक्राइब किया हुआ है।  ऐसे कर सकेंगे यूज  इस सेवा का इस्तेमाल केवल वहीं लोग कर सकते हैं जो एसबीआई की इंटरनेट बैंकिंग सर्विस का इस्तेमाल कर रहे हैं। यह सेवा बैंक के इंटरनेट पोर्टल ऑनलाइनएसबीआई डॉट इन के क्विकएसबीआई पर उपलब्ध है।    राशि खाते में होगी तुरंत क्रेडिट   यदि बेनिफिशयरी का अकाउंट एसबीआई में है तो भेजी जाने वाली राशि खाते में तुरंत क्रेडिट हो जाएगी। वहीं अगर बेनिफिशयरी का खाता किसी और बैंक में है तो पैसा इमिडिएट पेमेंट सर्विस (आईएमपीएस) या नेशनल इलेक्ट्रॉनिक फंड्स ट्रांसफर (एनईएफटी) में से किसी भी ऑप्शन से ट्रांसफर किया जा सकता है।  क्या कर सकते हैं  बैंक ने बताया कि कोशिश करें कि पैसे हमेशा किसी जान पहचान के बेनिफिशयरी को ही ट्रांसफर करें।  यूपीआई के जरिए भुगतान करने पर पेमेंट कलेक्ट रिक्वेस्ट को जरूर चेक करें।  क्या न करें  बैंक ने बताया है कि पब्लिक डिवाइसेज के जरिए ट्रांजैक्शन न करें।   ओपन और फ्री नेटवर्क से ट्रांजेक्शन न करें।

इस सेवा का नाम ”क्विक ट्रांसफर” है। हालांकि इसमें ग्राहकों को 25,000 रुपया तक भेजने की ही सुविधा होगी, जिसमें प्रति ट्रांजैक्शंस 10,000 रुपये की लिमिट तय की गई है।

इसके जरिए ग्राहक रेमिटेंस के लिए आवेदन कर सकते हैं। हालांकि, इस सेवा का लाभ केवल वही ग्राहक उठा सकते हैं जिन्होंने एसबीआई की इंटरनेट बैंकिंग फैसिलिटी के लिए सब्सक्राइब किया हुआ है।

ऐसे कर सकेंगे यूज

इस सेवा का इस्तेमाल केवल वहीं लोग कर सकते हैं जो एसबीआई की इंटरनेट बैंकिंग सर्विस का इस्तेमाल कर रहे हैं। यह सेवा बैंक के इंटरनेट पोर्टल ऑनलाइनएसबीआई डॉट इन के क्विकएसबीआई पर उपलब्ध है।

राशि खाते में होगी तुरंत क्रेडिट 

यदि बेनिफिशयरी का अकाउंट एसबीआई में है तो भेजी जाने वाली राशि खाते में तुरंत क्रेडिट हो जाएगी। वहीं अगर बेनिफिशयरी का खाता किसी और बैंक में है तो पैसा इमिडिएट पेमेंट सर्विस (आईएमपीएस) या नेशनल इलेक्ट्रॉनिक फंड्स ट्रांसफर (एनईएफटी) में से किसी भी ऑप्शन से ट्रांसफर किया जा सकता है।

क्या कर सकते हैं

बैंक ने बताया कि कोशिश करें कि पैसे हमेशा किसी जान पहचान के बेनिफिशयरी को ही ट्रांसफर करें।

यूपीआई के जरिए भुगतान करने पर पेमेंट कलेक्ट रिक्वेस्ट को जरूर चेक करें।

क्या न करें

बैंक ने बताया है कि पब्लिक डिवाइसेज के जरिए ट्रांजैक्शन न करें। 

ओपन और फ्री नेटवर्क से ट्रांजेक्शन न करें।

You May Also Like

English News