Terrorist Encounter: पांच घंटे के आपरेशन में पांच आतंकी मारे गये, सुरक्ष बलों को मिली बड़ी कामयाबी!

जम्मू: जम्मू- कश्मीर में सुरक्षाबलों को एक और बड़ी कामयाबी मिली हैए शोपियां में रविवार तड़के से जारी एनकाउंटर में कुल 5 आतंकियों को मार गिराया गया है। सभी आतंकियों के शव को बरामद कर लिया गया है। इस मुठभेड़ में बुरहान वानी गैंग के सक्रिय आतंकी सद्दाम पडार को भी मार गिराया गया है।


डीजीपी एसपी वैद ने पांच आतंकियों के मारे जाने की पुष्टि कर दी है। मारे गए आतंकियों में प्रोफेसर से आतंकी बना शख्स भी शामिल है। जानकारी के अनुसार सुरक्षाबलों को सूचना मिली थी कि शोपियां के बाडीगाम इलाके में हिजबुल के कई बड़े आतंकी कमांडर छिपे हुए हैं। जिसके बाद सेना की 3 और 34 राष्ट्रीय राइफल के साथ सीआरपीएफ और जम्मू कश्मीर पुलिस के स्पेशल ऑपरेशन ग्रुप के जवानों ने इलाके को सीज कर सर्च ऑपरेशन शुरू कर दिया।

इस दौरान एक घर में छिपे आतंकियों ने घेरा सख्त होता देख फायरिंग कर भागने का प्रयास किया। हालांकि जवानों ने ताबड़तोड़ जबावी कार्रवाई करते हुए आतंकियों को घेरे रखा। करीब 5 घंटों तक चली इस मुठभेड़ में पांच आतंकियों को मार गिराया गया। इस दौरान सेना और एसओजी के एक-एक जवान भी गोली लगने से जख्मी हो गए। जिन्हें इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती करा दिया गया है। मारे गए आतंकियों में सद्दाम के साथ-ाथ डॉक्टर मुहम्मद रफी भट्ट, बिलाल मौलवी और आदिल मलिक भी शामिल है।

रफी भट्ट कश्मीर यूनिवर्सिटी के प्रोफेसर था। जो शुक्रवार से लापता था। एसएसपी शोपियां शैलेंद्र मिश्रा ने उनकी पत्नी और मां को एनकाउंटर स्थल पर बुला कर सरेंडर करवाने की अपील की। हालांकि प्रोफेसर ने उनकी भी बात नहीं मानी। एसएसपी ने खुद भी काफी देर तक लाउडस्पीकर के माध्यम से आतंकियों से सरेंडर करने अपील करते रहे।

लेकिन आतंकियों ने उनकी बात को अनसुनी करते हुए अंधाधुंध फायरिंग जारी रखी। जम्मू.कश्मीर पुलिस के डीजीपी एसपी वैद्य ने ट्वीट कर बताया कि मारे गए पांच आतंकियों के शव बरामद कर लिए गए हैं। दो जवानों के घायल होने के बाद मौके पर पैरामिलिट्री फोर्स को मोर्चा संभालने के लिए भेजा गया है। मौके पर 23 पारा कमांडों, 3 राष्ट्रीय राइफल्स, 34 राष्ट्रीय राइफल्स की टीम ऑपरेशन में शामिल हो गई है।

बता दें किए इससे पहले शनिवार को घाटी में बड़ी वारदात की साजिश को नाकाम करते हुए सुरक्षाबलों ने शनिवार को छत्ताबल इलाके में लश्कर कमांडर समेत कुल तीन आतंकियों को छह घंटे चली मुठभेड़ में मार गिराया था। पुलिस के अनुसार दरबार खुलने पर ग्रीष्मकालीन राजधानी श्रीनगर में आत्मघाती हमले की तैयारी से आतंकी आए थे।

You May Also Like

English News