UN में उठा भारत, पाकिस्तान में बच्चियों से रेप का मामला सभी शर्मिंदा!

नई दिल्ली: संयुक्त राष्ट्र ने हाल में पाकिस्तान और भारत में बच्चियों के साथ हुई रेप की घटनाओं को हृदय विदारक बताया है। संयुक्त राष्ट्र के प्रवक्ता ने कहा यह अंतरराष्ट्रीय संस्था शिक्षा और महिला सशक्तिकरण के जरिये इस मुद्दे पर ध्यान देने का प्रयास कर रही है।


यूएन प्रवक्ता भारत और पाकिस्तान में हाल ही में घटी रेप की घटनाओं पर सवालों का जवाब दे रहे थे। नई दिल्ली में पिछले सप्ताह घटी दिल दहलाने वाली घटना में 28 साल के एक आदमी ने आठ महीने की अपनी चचेरी बहन के साथ रेप किया। वहीं पाकिस्तान में पिछले महीने एक सीरियल किलर ने सात साल की बच्ची का कथित तौर पर पाशविक तरीके से दुष्कर्म के बाद हत्या कर दी।

घटना के बाद पूरे देश में लोगों का गुस्सा सामने आया। संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंटोनियो गुटेरस के प्रवक्ता स्टीफन दुजारिक ने इस जघन्य घटनाक्रम पर दोनों देशों के लिए संयुक्त राष्ट्र की सलाह पर पूछे गए सवालों के जवाब में कहा कि मुझे लगता है आपने जिन दो मामलों का जिक्र किया वे हृदय विदारक हैं।

उन्होंने कहा कि यह बात स्पष्ट है कि इस धरती पर कोई भी देश महिलाओं व लड़कियों के खिलाफ हिंसा के अभिशाप से अछूता नहीं है। बद्री की बहन पूनम मौजूद थी।

पूनम,पुलिस और पड़ोसियों ने दोनों बच्चों को किसी तरह उनकी मां की मौत की खबर दी। मां की मौत की खबर सुनते ही दोनों बच्चे बिलख-बिलख कर रोने लगे। पड़ोसियों ने किसी तरह दोनों बच्चों को संभाला। दोनों बच्चोंं और मकान मालिक ने पुलिस को बताया कि बद्री नारायण अक्सर पत्नी से झगड़त रहता था और मंजू व बच्चों के साथ मारपीट भी करता था।

You May Also Like

English News