UP निकाय चुनावों की सफलता से गुजरात में जीत की परचम लिखेगी भाजपा…

यूपी में नगरीय निकाय के चुनावों में सफलता को भाजपा गुजरात में भुनाएगी। 14 नगर निगमों के नवनिर्वाचित महापौरों की 5 दिसंबर को दिल्ली में प्रधानमंत्री से मुलाकात कराई जाएगी। इसके बाद उन्हें गुजरात के प्रमुख शहरों में भेजा जाएगा। राहुल गांधी के संसदीय क्षेत्र की अमेठी व जायस नगर पंचायतों के अध्यक्ष भी उनके साथ रहेंगे। राहुल पर निशाना साधने के लिए उन्हें भी गुजरात भेजा जाएगा।UP निकाय चुनावों की सफलता से गुजरात में जीत की परचम लिखेगी भाजपा...Gujarat Election: अब गुजरात में चुनावी रेली करने जा रहीं है मायावती, जानिए पूरा कार्यक्रम!

भाजपा की प्रदेश पदाधिकारियों की रविवार को हुई बैठक में नगरीय निकायों के चुनाव की समीक्षा के साथ ही गुजरात चुनाव में इसे भुनाने पर चर्चा हुई। तय हुआ कि सभी 14 महापौरों (मेयरों) व अमेठी और जायस नगर पंचायतों के अध्यक्षों को 5 दिसंबर को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से दिल्ली में मिलाया जाएगा। उनके साथ सीएम योगी आदित्यनाथ और भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष डॉ. महेंद्र नाथ पांडेय रहेंगे।

महापौरों व अमेठी और जायस के नगर पंचायत अध्यक्षों को  6 से 11 दिसंबर तक उन्हें गुजरात चुनाव के प्रचार के लिए भेजने की तैयारी है। कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी के संसदीय क्षेत्र की अमेठी व जायस नगर पंचायतों में भाजपा के अध्यक्ष चुने गए हैं। उन्हें राहुल पर निशाना साधने के लिए इस्तेमाल किया जाएगा। वे बताएंगे कि कांग्रेस प्रदेश में तो खारिज हो ही चुकी है, अमेठी के लोग भी उससे पीछा छुड़ा रहे हैं। बैठक में निकाय चुनाव की विस्तार से समीक्षा की गई।

अध्यक्षता कर रहे प्रदेश अध्यक्ष डॉ. महेंद्र नाथ पांडेय ने इस जीत के लिए सभी कार्यकर्ताओं को बधाई दी। इसी के साथ हर क्षेत्र से विस्तृत रिपोर्ट लेने का फैसला हुआ। यह रिपोर्ट तीन स्तरीय होगी-वोटर लिस्ट से नाम गायब होने समेत प्रशासनिक स्तर पर क्या चूक रहीं, संगठन के स्तर पर किस तरह का काम हुआ और जनप्रतिनिधियों के स्तर पर कहां-कहां असहयोग व बगावत की स्थिति आई। तय हुआ कि क्षेत्रीय स्तर पर पर 6, 7 और 8 दिसंबर को निकाय चुनावों की गहन समीक्षा होगी। बैठक में प्रदेश महामंत्री (संगठन) सुनील बंसल, महामंत्री विजय बहादुर पाठक, प्रदेश मंत्री अनूप गुप्ता, रंजना उपाध्याय, विद्या सागर समेत अधिकतर पदाधिकारी मौजूद थे।

तीन तलाक पीड़ित महिलाओं की लेंगे मदद

तय हुआ है कि सभी जिलों, खास तौर से महानगरों में तीन तलाक पीड़ित महिलाओं के सम्मेलन करके उनमें से कुछ को गुजरात भेजा जाए ताकि वे वहां बता सकें कि इस मुद्दे पर पीएम नरेंद्र मोदी व केंद्र की भाजपा सरकार ने क्या किया है।

उनका किस तरह उत्पीड़न हुआ है और केंद्र सरकार की दखल के बाद कैसे स्थिति बदल रही है। वे बताएंगी कि प्रदेश की योगी सरकार में उन्हें कोई दिक्कत नहीं है। गुजरात की महिलाएं भी वहां भाजपा का समर्थन करें।

अटल के जन्मदिन से लोकसभा चुनाव की तैयारियों का आगाज
प्रदेश पदाधिकारियों की बैठक में फैसला लिया गया कि 25 दिसंबर को पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी के जन्मदिन पर बूथ स्तरीय सम्मेलन किए जाएं। इसे लोकसभा चुनाव 2019 की तैयारियों का आगाज माना जा रहा है।

बूथ सम्मेलनों के समन्वय की जिम्मेदारी प्रदेश उपाध्यक्ष जेपीएस राठौर, प्रदेश मंत्री गोविंद नारायण शुक्ला तथा प्रदेश मंत्री महेशचंद्र श्रीवास्तव को दी गई है। जनवरी के आखिर में आगरा में प्रदेश कार्यसमिति की बैठक करने और फरवरी से पार्टी का सदस्यता अभियान शुरू करने पर भी चर्चा हुई। तय हुआ कि मोर्चो का मंडल स्तर और प्रकोष्ठों, विभागों और प्रकल्पों का जिला स्तर तक विस्तार किया जाए। यह काम दिसंबर में पूरा कर लिया जाए।

मेयरों का प्रशिक्षण 23-24 को

प्रदेश के नवनिर्वाचित मेयरों का प्रशिक्षण व सम्मेलन 23-24 दिसंबर को लखनऊ में होगा। सभी मेयरों से एक माह के 5 प्रमुख कामों का एजेंडा पूछा जाएगा। इसी तरह पालिका परिषदों व नगर पंचायतों के अध्यक्ष से दो-दो काम पूछे जाएंगे जिन्हें वे प्राथमिकता के आधार पर पूरा करेंगे। बैठक में कहा गया कि अब प्रदेश और केंद्र में भाजपा की सरकार है।

ऐसे में सभी निकायों में स्वच्छता को लेकर ऐसा काम किया जाए ताकि एक माह में बदलाव दिखाई दे। स्मार्ट सिटी योजना को भी चुनौती के रूप में लिया जाए तथा एजेंडा बनाकर इस तरह काम करें कि जनता में अलग संदेश जाए। क्षेत्रीय अध्यक्ष निकायों के काम पर नजर रखेंगे। वे प्रदेश सरकार के स्तर के काम प्रदेश अध्यक्ष को बताएंगे और संगठन के समन्वय से उनका हल निकाला जाएगा।
 
सहकारिता चुनाव प्रभावी ढंग ले लड़ेगी भाजपा
बैठक में तय हुआ कि सहकारिता चुनाव को मजबूती के साथ प्रभावी तरीके से लड़ा जाएगा। इसके लिए प्रदेश महामंत्री विद्या सागर सोनकर की अध्यक्षता में सुभाष यदुवंशी, शंकर गिरि व कुछ अन्य नेताओं की कमेटी समन्वय का काम करेगी।

सिकंदरा उपचुनाव में बड़ी जीत का लक्ष्य

कानपुर देहात की सिकंदरा विधानसभा सीट पर उपचुुनाव को लेकर भी चर्चा हुई। प्रदेश अध्यक्ष डॉ. महेंद्रनाथ पांडेय ने कहा कि यह सीट बड़े अंतर से जीतनी है।

इसके लिए प्रदेश महामंत्री व कानपुर-बुंदेलखंड के प्रभारी विजय बहादुर पाठक, क्षेत्रीय अध्यक्ष मानवेंद्र सिंह, प्रदेश मंत्री सुरेश अवस्थी, संतोष सिंह, गीता शाक्य तथा रंजना उपाध्याय को जिम्मेदारी दी गई है।

पार्टी ने वहां दिवंगत विधायक मथुरा प्रसाद पाल के बेटे अजीत पाल को उम्मीदवार बनाया है। वे सोमवार को नामांकन पत्र दखिल करेंगे। प्रदेश अध्यक्ष उनका नामांकन कराने जाएंगे।

You May Also Like

English News