VIDEO: तीसरे फ्लोर पर लटका हुआ था बच्चा, देखिए क्या किया इन तीन पुलिस ऑफिसर ने

नई दिल्ली: एक पुलिस ऑफिसर का वीडियो वायरल हो रहा है. जिसे देखकर हर कोई उनकी तारीफ कर रहा है. उनकी बहादुरी से एक बच्चे का जान बच गई. इजिप्ट इंटीरियर मिनिस्ट्री ने एक वीडियो जारी किया है. जिसमें एक पुलिस ऑफिसर ने बिल्डिंग से गिरे बच्चे की जान बचाई. Al Arabiya की खबर के मुताबिक, 5 साल का बच्चा अपार्टमेंट के तीसरे फ्लोर पर लटक रहा था. BBC News की खबर के मुताबिक, तीन पुलिस ऑफिसर बैंक को गार्ड कर रहे थे उस उन्होंने बच्चे को लटका देखा. जिसके बाद उन्होंने बच्चे को बचाने के लिए प्लान बनाया. VIDEO: तीसरे फ्लोर पर लटका हुआ था बच्चा, देखिए क्या किया इन तीन पुलिस ऑफिसर ने

देखते ही एक पुलिस ऑफिसर बचाने के लिए कोई चीज ढूंढने निकला वहीं दूसरे ऑफिसर ने पास से एक कारपेट उठाया और फैला दिया. उतने में ही बच्चे का हाथ छूट गया और वो नीचे गिरता नजर आया. उतने में तीसरे ऑफिसर ने बच्चे को पकड़ लिया और उसकी जान बचाने में कामयाब रहे. बच्चा पूरी तरह सही सलामत है.

इजिप्ट गवर्नमेंट ने प्रेस स्टेटमेंट में बताया कि बच्चा बिलकुल ठीक है. जिस ऑफिसर ने बच्चे को पकड़ा था, उनके तोड़ी बहुत चोट आई. जिसके बाद उन्हें पास के ही लोकल हॉस्पिटल ले जाया गया. वो अब बिलकुल ठीक हैं. अभी तक ये पता नहीं चल पाया है कि बच्चा बालकनी से कैसे गिरा और उस वक्त बच्चे के माता पिता कहां थे. अल अरेबिया ने तीन ऑफिसर्स का पता लगा लिया है. उनके नाम कामिल फती जैद, हसन सैयद अली और सबरी माहरूस अली है. ये हादसा 17 फरवरी को हुआ था.

देखें वीडियो-

إنقاذ ثلاثة أمناء شرطة لطفل سقط من شرفة منزل بأسيوط

مديرية أمن أسيوط:-( يقظة وبطولة ثلاثة أمناء شرطة أثناء خدمتهم تنقذ حياة طفل عقب سقوطه من شرفة إحدى الشقق السكنية بالطابق الثالث ) فى ضوء المسئولية الإجتماعية الواقعة على عاتق رجال الشرطة والتى يُعد درء المخاطر عن المواطنين أحد أبرز أوجهها .. وأثناء قيام كلٍ من:1. أمين الشرطة / كميل فتحى جيد- سن 45 .2. أمين الشرطة / حسن سيد على- سن 38 .3. أمين شرطة / صبرى محروس عزيز- سن 39 "من قوة قسم شرطة ثانى أسيوط". بأعمال تأمين المنشآت أسفل أبراج الوطنية الكائنة بشارع الجمهورية بدائرة القسم تلاحظ لهم قيام أحد الأطفال "يبلغ من العمر 5 سنوات" بالتدلى من شرفة إحدى الشقق السكنية بالطابق الثالث ومحاولته التشبث بسورها مما أدى لسقوطه.. فبادروا بإلتقاطه والإمساك به حيث لم يُصب الطفل بأية إصابات فى حين نتج عن ذلك إصابة أمين الشرطة الأول..نُقل على إثرها إلى مستشفى الشرطة بأسيوط لتلقى العلاج اللازم.

Posted by ‎الصفحة الرسمية لوزارة الداخلية‎ on Montag, 19. Februar 2018

You May Also Like

English News