Violence: फेसबुक पर की गयी एक टिप्पणी के बाद आजमगढ़ में उपद्रव, देखिए तस्वीरें!

आजमगढ़: यूपी के आजमगढ़ में सोशल साइट पर अभद्र धार्मिक टिप्पणी किए जाने से शनिवार को हालत बिगड़ गए। टिप्पणी को लेकर विरोध में उग्र भीड़ ने जमकर बवाल काटा। वहीं उपद्रवियों ने सरायमीर चौकी में आग लगा दी। आगे की स्लाइड्स में देखेंण्ण्ण्उपद्रवियों की बढ़ती भीड़ देख पुलिस व प्रशासनिक अधिकारी मौके पर पहुंच गए थे। उग्र भीड़ को नियंत्रित करने के हलिए पुलिस को लाठीचार्ज, हवाई फायरिंग और आंसू गैस के गोले छोडने पड़े। पुलिस ने 15 उपद्रवियों को गिरफ्तार कर लिया।

सरायमीर कस्बे के पठानटोला मुहल्ला निवासी उबैदुर्ररहमान ने शुक्रवार को सरायमीर थाने में कस्बे के नई बाजार मुहल्ला निवासी अमित कुमार साहू के विरुद्ध रिपोर्ट दर्ज कराई थी। पीडि़त का आरोप था कि सोशल साइट पर अमित साहू ने उनके धर्म के खिलाफ अभद्र टिप्पणी की है। पुलिस केस दर्ज कर अमित साहू को गिरफ्तार कर लिया था।शनिवार को अमित का चालन करने के लिए लिखापढ़ी हो रही थी कि एआईएमआईएम के जिलाध्यक्ष कलीम जमईए नदीमए मुमताज कुरैशी के नेतृत्व में समुदाय विशेष के लोगों ने बाजार बंद कराना शुरू कर दिया।

हजारों की संख्या में लोगों ने थाने का घेराव कर लिया और अमित के खिलाफ एनएसए लगाने की मांग करने लगे। घटना की सूचना मिलने पर एसडीएम निजामाबाद बागीश शुक्लाए सीओ फूलपुर रविशंकर प्रसाद के अलावा फूलपुरए दीदारगंज और निजामाबाद थाने की पुलिस पहुंच गई। थाना परिसर में अभी अधिकारियों से बातचीत चल ही रही थी कि बाहर मौजूद भीड़ ने थाने पर पथराव कर दिया। पथराव में एसडीएम बागीश शुक्ला के अलावा सिपाही मनोज यादव, जितेंद्र मिश्रा, अंब्रीश, सहादुर यादव आदि घायल हो गए। पत्थर लगने से एसडीएम सहित कई पुलिसवालों और अन्य लोगों को वाहन भी क्षतिग्रस्त हो गए। पुलिस लाठी भांजतेए हवाई फायरिंग करते और आंसू गैस का गोला छोड़ते हुए उपद्रवियों को खदेड़ा। उपद्रवी जगह.जगह घरों में छिप गए।

पुलिस मामला शांत समझकर थाने लौटने लगी। इसके बाद उपद्रवियों घरों से बाहर निकलकर दूसरे समुदाय के छोटेलाल जायसवालए ताड़क चक्की वाले को दुकान के बाहर खींचकर पीटने लगे। दुकानों में तोडफ़ोड़ करते हुए पुलिस चौकी में आग लगा दी। इससे दूसरे समुदाय के लोग भी एकत्र होने लगे। मामला सांप्रदायिक होने लगा।

इसके बाद पीएसी लेकर एसपी अजय कुमार साहनी मौके पर पहुंच गए। पुलिस को देख उपद्रवी फरार हो गए। इस दौरान एक घर में छिपे 15 उपद्रवियों को शटर तोड़कर गिरफ्तार कर लिया गया। शेष अन्य की गिरफ्तारी के लिए दबिश दी जा रही है।एसपी अजय कुमार साहनी का कहना है कि हिस्ट्रीशीटर कलीम जामई के नेतृत्व में कार्यकर्ता थाने का घेराव कर गिरफ्तार आरोपी अमित पर एनएसए लगाने की मांग कर रहे थे।

अधिकारियों ने प्रक्रिया पूरी कर धारा बढ़ाने की बात कहीए बावजूद इसके कुछ नेताओं के उकसाने पर उपद्रवियों ने थाने पर पथराव और तोडफ़ोड़ करते हुए सौहार्द बिगाडना चाह रहा थे। ऐसे 15 लोगों को गिरफ्तार कर लिया गया है। शेष की गिरफ्तारी के लिए दबिश दी जा रही है। माहौल बिलकुल शांत है।

You May Also Like

English News