Vivo X21 Review: ‘अपने सेग्मेंट में दूसरों से एक कदम आगे’

चीनी स्मार्टफोन मेकर वीवो ने भारत में पहला अंडर डिस्प्ले फिंगरप्रिंट स्कैनर वाला स्मार्टफोन X21 लॉन्च कर दिया है. वीवो ऐसी कंपनी है जिसने पहली बार मार्केट में इन डिस्प्ले फिंगरप्रिंट स्कैनर लेकर आ रही है. इससे पहले रिपोर्ट्स आती रहीं कि ऐपल अपने iPhone X में ये टेक्नॉलॉजी दे सकता है, लेकिन ऐसा नहीं हुआ.बैटरी Vivo X21 में 3,200mAh की बैटरी दी गई है और यह फास्ट चार्जिंग सपोर्ट करती है जिसे कंपनी डुअल इंजन फास्ट चार्जिंग कहती है. दरअसल ये क्वॉल्कॉम क्विक चार्ज है.  फुल चार्ज करके मिक्स्ड यूज में इसकी बैटरी पूरे दिन चलती है. हालांकि हेवी यूज भी कर रहे हैं तो 10 घंटे तक आपको बैकअप मिलेगा. हेवी यूज यानी ब्राउजिंग, वीडियो देखना, गेमिंग और सोशल मीडिया का ज्यादा इस्तेमाल.  क्या आपको ये स्मार्टफोन खरीदना चाहिए? इस सेग्मेंट में कुछ दूसरे स्मार्टफोन हैं जो इसे टक्कर देते हैं इनमें से एक है OnePlus 6 जिसे भारत में हाल ही में लॉन्च किया गया है. OnePlus 6  के स्पेसिफिकेशन और कैमरा ज्यादा बेहतर हैं और इस वजह से वो इसपर भारी पड़ता है. लेकिन अगर आपको एक कदम आगे की टेक्नॉलॉजी डिस्प्ले के अंदर फिंगरप्रिंट स्कैनर चाहिए तो मार्केट में इसके अलावा आपको पास दूसरा ऑप्शन है ही नहीं. अगर आप वीवो के फैन हैं तो आप इसे मिस नहीं कर सकते हैं. अंडर डिस्प्ले फिंगरप्रिंट स्कैनर के अलावा ओवरऑल भी यह स्मार्टफोन बेहतरीन है.

Vivo X21 की कीमत 35,990 रुपये है.

हम इस रिव्यू में आप पढ़ेंगे

दूसरे स्मार्टफोन्स से कैसे अलग है Vivo X21

— परफॉर्मेंस के मामले में कंपनी के दावों पर कितना खरा उतरता है ये स्मार्टफोन

— फोटोग्राफी के लिहाज से कैसा परफॉर्म करता है वीवो का ये स्मार्टफोन

— डिस्प्ले, डिजाइन और बिल्ड क्वॉलिटी में कैसा है ये स्मार्टफोन और अपने प्रतिदंवदियों के सामने कहां ठहरता है ये फोन

क्या अंडर डिस्प्ले फिंगरप्रिंट स्कैनर ट्रेंड सेट कर सकता है?

— इन सब के अलावा बैटरी परफॉर्मेंस और ऐप यूजर इंटरफेस के बारे में भी आप इस रिव्यू में बढ़ेंगे

डिजाइन और बिल्ड क्वॉलिटी

इस स्मार्टफोन की बिल्ड क्वॉलिटी शानदार है. Vivo V9 अगर आपने देखा है तो आप इसे उस स्मार्टफोन से रिलेट कर पाएंगे डिजाइन में. हालांकि कंपनी ने इस बार रियर पैनल पर काम किया है और इसे पहले से ज्यादा प्रीमियम बनाया है. इसे होल्ड करना आसान है और यूज करने में अच्छी फील भी आती है.

यह फोन स्लीक यानी पतला है और इसमें ब्लैक एल्यूमिनियम फ्रेम का इस्तेमाल किया गया है. स्मार्टफोन का बैक ग्लास का है और पीछे से इसके सिरे कर्व्ड हैं जिससे इसे होल्ड करना काफी आसान है. दाईं तरफ वॉल्यू रॉकर कीज और लॉक बटन हैं, जबकि बाईं तरफ कोई भी बटन नहीं मिलता है. सिम और मेमोरी कार्ड ट्रे बॉटम में ठीक यूएसबी जैक के बगल में.  रियर पैनल पर आपको डुअल वर्टिकल कैमरा सेटअप मिलता है जिसके नीचे एसईडी फ्लैश है. 

यूएसबी टाइप सी की कमी खलती है, क्योंकि इसमें USB 2.0 दिया गया है. इसके बगल में स्पीकर ग्रिल है. फ्रंट की बात करें तो यहां आपको 90 फीसदी डिस्प्ले मिलती है और ऊपर नॉच दिया गया है जिसमें सेंसर है जो अंधेरे में आपको देख कर अनलॉक होता है. फोन के टॉप में हेडफोन जैक दिया गया है.

कुल मिला कर इस स्मार्टफोन की बिल्ड क्वॉलिटी और डिजाइन प्रीमियम है.

डिस्प्ले

Vivo X21 में फुल एचडी प्लस डिस्प्ले दी गई है जो देखने में काफी अच्छी लगती है. कंपनी ने एमोलेड पैनल यूज किया है.  डिस्प्ले कलरफुल और ब्राइट लगती है बेजल कम से कम रखा गया है, न के बराबर है. डायरेक्ट सनलाइट में भी स्क्रीन के कॉन्टेंट अच्छे से देख और पढ़ सकते हैं. डिस्प्ले में iPhone X जैसा नॉच भी है जहां कंपनी ने सेंसर लगाया है जो फेस अनलॉक के लिए है. यहीं सेल्फी कैमरा और फ्लैश भी है. डिस्प्ले साइज 6.28 इंच है और ऐस्पेक्ट रेश्यो 19:9 की है. 

इस बार कंपनी ने ऑलवेज ऑन डिस्प्ले भी दिया है जिसे आप अपने हिसाब से कस्टमाइज कर सकते हैं. ऑलवेज ऑन डिस्प्ले में आप नोटिफिकेशन्स और टाइम देख सकते हैं. डिस्प्ले बेहतर होने की वजह से ये अच्छा दिखता है. सबसे अच्छी बात ये है कि डिस्प्ले के नीचे की तरफ फिंगरप्रिंट आइकॉन दिखता है जो ऑलवेज ऑन की तरह ही है. आपको यहां अपना फिंगर रखकर फोन को अनलॉक करना है. यहां आपको तीन दिलचस्प एनिमेशन भी मिलते हैं जो देखने में काफी बेहतरीन हैं.

परफॉर्मेंस

अब बात करते हैं कि असल जिंदगी में यह स्मार्टफोन कैसा परफॉर्म करता है. Vivo X21 में कंपनी क्वॉल्कॉम स्नैपड्रैगन 660 प्रोसेसर दिया है. भारत में इसका एक वेरिएंट आया है जिसमें 6GB रैम के साथ 128GB इंटरनल मोमरी वाला है. हालांकि प्रोसेसर फ्लैगशिप नहीं है, लेकिन रोजमर्रा के इस्तेमाल में हमें इस बात कीम महसूस नहीं हुई. एक बात ये भी है कि इसी बजट के OnePlus 6 में Snapdragon 845 प्रोसेसर दिया गया है जो फ्लैगशिप है.

Vivo X21 लैग नहीं करता है और एक ऐप से दूसरे ऐप में स्विच करना आसान है. लोडिंग टाइम कम है और मल्टी टास्किंग के लिए भी ये फोन बेहतर है. मिड रेंज चिपसेट होने के बावजूद यह स्मार्टफोन अच्छा परफॉर्म करता है. इसके लिए इसमें दिए गए रैम और इंटरनल मेमोरी भी जिम्मेदार हैं.

इस स्मार्टफोन पर हमने कई लाइट और हेवी गेम खेले हैं, लेकिन कोई लैग नोटिस नहीं किया है. हालांकि थोड़े देर Asphalt 8 खेलने के बाद फोन गर्म होता है. एक साथ लगभग दर्जनों ऐप्स को बैकग्राउंड में रखकर सोशल मीडिया और ब्राउजिंग भी की है और इसमें भी कोई लैग नहीं मिला.

128GB इंटरनल मेमोरी की वजह से आप मन चाहे ऐप्स और फाइल्स रख सकते हैं, क्योंकि यूजर को प्रयाप्त मेमोरी मिलती है. माइक्रो एसडी कार्ड से भी आप मेमोरी बढ़ा सकते हैं.

लगभग 10 दिन के यूज के बाद हम ये कह सकते हैं कि इसमें अगर स्नैपड्रैगन 845 नहीं है तो भी एंड यूजर यानी आपको कोई खास फर्क नहीं दिखेगा. हां अगर आप पावर यूजर हैं, हेवी यूजर हैं तो आपको फर्क जरूर समझ आएगा.

अडंर डिस्प्ले फिंगरप्रिंट स्कैनर

चूंकि यह टेक्नॉलॉजी नई है इसलिए हमने इसका भी रिव्यू किया है. आम स्टैंडर्ड स्मार्टफोन्स में या तो फ्रंट में या बैक पैनल पर फिंगरप्रिंट स्कैनर मिलता है, लेकिन इस डिवाइस में डिस्प्ले पर ही फिंगरप्रिंट स्कैनर है. डिस्प्ले के नीचे के पोर्शन में आपको एक आइकॉन दिखेगा जिसे प्रेस करके फोन ओपन कर सकते हैं.

फिंगरप्रिंट रजिस्टर करने में थोड़ा वक्त लगता है. एक से ज्यादा फिंगर्स स्कैन कर सकते हैं. अनलॉक करने के लिए आपको सही तरीके से फिंगर प्लेस करके होल्ड करना होता है. कुछ सेकंड्स होल्ड करते ही एनिमेशन दिखेगा और फोन अनलॉक होगा. हमें कई बार इसे अनलॉक करने में कुछ अटेंप्ट्स लेने पड़े यानी एक बार में नहीं खुला, लेकिन ज्यादातर बार यह अनलॉक होता है. इसे कंपनी अगर सॉफ्टवेयर अपडेट के साथ ठीक कर ले तो अच्छी बात है वर्ना कई यूजर्स के लिए यह परेशानी का सबब बन सकता है.

यूजर इंटरफेस

यह स्मार्टफोन एंड्रॉयड 8.1 ओरियो पर आधारित कंपनी के अपने स्किन पर चलता है. इस स्मार्टफोन में iPhone X जैसा ही जेस्चर सपोर्ट भी दिया गया है और दिलचस्प ये है कि यह काम भी शानदार करता है. मुझे लगता है नॉच के बाद अब धीरे धीरे एंड्रॉयड स्मार्टफोन कंपनियां जेस्चर की तरफ शिफ्ट होंगी, क्योंकि जेस्चर यूज करने में आसान है. यूजर इंटरफेस कंपनी के दूसरे हाई एंड स्मार्टफोन जैसा ही है.

कैमरा

Vivo X21 में डुअल रियर कैमरा और सिंगल सेल्फी कैमरा दिया गया है. कैमरा सेटअप वर्टिकल है और प्राइमरी कैमरा 12 मेगापिक्सल का है जिसमे f/1.8 अपर्चर दिया गया है. दूसरा कैमरा 5 मेगापिक्सल का है जिसका अपर्चर f/2.4 है. सेल्फी के लिए इसमे 12 मेगापिक्सल का कैमरा दिया गया है जो f/2.0 अपर्चर वाला है.

 कैमरा इंटरफेस की बात करें तो यहां आपको कई ऑप्शन मिलते हैं. इनमें पोट्रेट मोड, लाइव फोटोडज, एचडीआर, फ्लैश और सेटिंग आइकॉन ये ऊफर की तरफ हैं. बॉटम में फेस ब्यूटी, वीडियो जैसे फीचर्स हैं. फेस ब्यूटी के जरिए सेल्फी को बेहतर किया जा सकता है. सेल्फी भी पोट्रेड मोड पर रख कर क्लिक की जा सकती है. AR स्टीकर्स भी दिए गए हैं जो ठीक ठाक काम करते हैं.

अगर आप प्रोफेशनल फोटोग्राफर नहीं हैं तो आपको इस स्मार्टफोन से क्लिक की गई सभी तस्वीरें शानदार लगेंगी. फोटो को कंप्यूटर पर देखेंगे तो डीटेलिंग भी दिखेगी, जूम करें तो भी क्वॉलिटी नहीं खराब होती है. इसे खासियत कहा जा सकता है. बोके इफेक्ट यानी बैकग्राउंड ब्लर करके क्लिक की गईं तस्वीरें भी अच्छी लगती हैं, लेकिन ज्यादा बेहतर यानी डीटेल वाली तस्वीरों के लिए आपको पोट्रेट मोड ऑफ करना होगा.

एचडीआर मोड बढ़िया है और उलझी हुई तस्वीरों में भी एचडीआर अच्छे से काम करता है. कम रौशनी में कैमरा उतना अच्छा परफॉर्म नहीं करता है, ग्रेन और नॉइज ज्यादा मिलेंगे.

कुल मिला कर इस स्मार्टफोन का कैमरा डिपार्टमेंट बढ़िया है और यह कंपनी के दावों पर खरा उतरता है.बैटरी

Vivo X21 में 3,200mAh की बैटरी दी गई है और यह फास्ट चार्जिंग सपोर्ट करती है जिसे कंपनी डुअल इंजन फास्ट चार्जिंग कहती है. दरअसल ये क्वॉल्कॉम क्विक चार्ज है.  फुल चार्ज करके मिक्स्ड यूज में इसकी बैटरी पूरे दिन चलती है. हालांकि हेवी यूज भी कर रहे हैं तो 10 घंटे तक आपको बैकअप मिलेगा. हेवी यूज यानी ब्राउजिंग, वीडियो देखना, गेमिंग और सोशल मीडिया का ज्यादा इस्तेमाल.

क्या आपको ये स्मार्टफोन खरीदना चाहिए?

इस सेग्मेंट में कुछ दूसरे स्मार्टफोन हैं जो इसे टक्कर देते हैं इनमें से एक है OnePlus 6 जिसे भारत में हाल ही में लॉन्च किया गया है. OnePlus 6  के स्पेसिफिकेशन और कैमरा ज्यादा बेहतर हैं और इस वजह से वो इसपर भारी पड़ता है. लेकिन अगर आपको एक कदम आगे की टेक्नॉलॉजी डिस्प्ले के अंदर फिंगरप्रिंट स्कैनर चाहिए तो मार्केट में इसके अलावा आपको पास दूसरा ऑप्शन है ही नहीं. अगर आप वीवो के फैन हैं तो आप इसे मिस नहीं कर सकते हैं. अंडर डिस्प्ले फिंगरप्रिंट स्कैनर के अलावा ओवरऑल भी यह स्मार्टफोन बेहतरीन है.

 

You May Also Like

English News