WWC17 Final : कप्तान मिताली राज सिर्फ 9 रन से वर्ल्ड कप और 2 कदम से विश्व रिकॉर्ड से चूकीं…

भारतीय महिला क्रिकेट टीम की कप्तान मिताली राज 2017 आईसीसी महिला वर्ल्ड कप में यादगार रिकॉर्ड बनाने से चूक गईं। वो वर्ल्ड कप जीतने के अपने सपने को पूरा नहीं कर सकी और साथ ही विशेष उपलब्धि भी हासिल करने से चूक गईं। WWC17 Final :  कप्तान मिताली राज सिर्फ 9 रन से वर्ल्ड कप और 2 कदम से विश्व रिकॉर्ड से चूकीं...WWC17: भारत को हराकर इंग्लैंड चौथी बार बना वर्ल्ड चैम्पियन….

लॉर्ड्स के ऐतिहासिक मैदान पर इंग्लैंड के खिलाफ फाइनल में मिताली 17 रन बनाकर रनआउट हो गईं। उन्होंने अपनी पारी में तीन दर्शनीय चौके जमाए, लेकिन वह टूर्नामेंट में सबसे ज्यादा रन बनाने के रिकॉर्ड से केवल दो रनों से चूक गईं। 

मिताली ने मौजूदा टूर्नामेंट में 9 मैच खेले, जिसमें एक शतक और तीन अर्धशतकों की मदद से 409 रन बनाए। 34 वर्षीया मिताली का सर्वश्रेष्ठ स्कोर 109 रन रहा। इस दौरान उनकी औसत 45.44 की रही जबकि स्ट्राइक रेट 70.15 का रहा। वो टूर्नामेंट में सर्वाधिक रन बनाने के मामले में दूसरे स्थान पर रहीं। 

इंग्लैंड की ओपनर टैमी बीयूमोंट टूर्नामेंट में सबसे ज्यादा रन बनाने के मामले में शीर्ष स्थान पर रहीं। दाएं हाथ की बल्लेबाज ने 9 मैचों में एक शतक और एक अर्धशतक की मदद से 410 रन बनाए। बीयूमोंट का सर्वश्रेष्ठ स्कोर 148 रन रहा जबकि उनकी औसत 45.55 और स्ट्राइक रेट 76.92 का रहा।
 
2017 महिला वर्ल्ड कप में सर्वाधिक रन बनाने के मामले में तीसरे स्थान पर ऑस्ट्रेलिया की ऑलराउंडर एलिसा पैरी रही, जिन्होंने 8 मैचों में 5 अर्धशतकों की मदद से 404 रन बनाए। उनकी औसत 80.80 और स्ट्राइक रेट 77.54 का रहा। पैरी का सर्वश्रेष्ठ स्कोर 71 रन रहा। 

कप्तान मिताली के नाम दर्ज हुआ शर्मनाक रिकॉर्ड

चौथे क्रम पर इंग्लैंड की विकेटकीपर बल्लेबाज साराह टेलर हैं, जिन्होंने 9 मैचों में एक शतक व दो अर्धशतकों की मदद से 396 रन बनाए। दाएं हाथ की बल्लेबाज का सर्वश्रेष्ठ स्कोर 147 रन रहा जबकि उनकी औसत 49.50 रही और स्ट्राइक रेट 99 का रहा।

शीर्ष पांच में आखिरी स्थान भारत की पूनम राउत का है, जिन्होंने फाइनल में 86 रन की बेहतरीन पारी खेली। राउत ने टूर्नामेंट में 9 मैच खेले, जिसमें एक शतक व दो अर्धशतकों की मदद से 381 रन बनाए। उनका सर्वश्रेष्ठ स्कोर 106 रन। दाएं हाथ की महिला बल्लेबाज की औसत 42.33 रही जबकि उनका स्ट्राइक रेट 67.43 का रहा।

इसके अलावा मिताली के नाम एक शर्मनाक रिकॉर्ड भी दर्ज हो गया है। वो महिला वर्ल्ड कप के फाइनल में रनआउट होने वाली विश्व की पहली महिला बल्लेबाज बन गई हैं। हालांकि, पुरुष क्रिकेट में भी तीन कप्तान ऐसे रहे, जो फाइनल में रनआउट हुए थे। उल्लेखनीय है कि इस लिस्ट में सभी कप्तान ऑस्ट्रेलिया के हैं। इयान चैपल (1975), एलन बॉर्डर (1987) और रिकी पोंटिंग (2007) में रनआउट हुए थे।

You May Also Like

English News