अखिलेश यादव का आरोप, उत्तर प्रदेश में व्यवस्था पर ताकतवर लोगों का कब्जा

समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव ने प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार पर बेहद गंभीर आरोप जड़ा है। उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने कहा कि उत्तर प्रदेश की पूरी व्यवस्था ताकतवर लोगों के कब्जे में हैं। यह चंद ताकतवर लोग ही प्रदेश सरकार चला रहे हैं।समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव ने प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार पर बेहद गंभीर आरोप जड़ा है। उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने कहा कि उत्तर प्रदेश की पूरी व्यवस्था ताकतवर लोगों के कब्जे में हैं। यह चंद ताकतवर लोग ही प्रदेश सरकार चला रहे हैं।   अखिलेश यादव ने कहा कि ताकतवर लोगों ने प्रदेश की व्यवस्था पर कब्जा कर लिया है और अपने लाभ के लिए नीतियां बनवा रहे हैं। अब ऐसे लोगों को साइकिल चलाकर परास्त किया जाएगा। अखिलेश यादव के पार्टी मुख्यालय में कार्यकर्ताओं को संबोधित किया। उन्होंने कहा कि वर्तमान नेतृत्व में खुशहाली आना असंभव है। जो ज्यादा मुनाफा कमाते हैं वहीं नीतियां भी तय करने लगे हैं। समाजवादी पब्लिक सेक्टर को ताकत देने के पक्ष में हैं। भारत के कामगारों की दक्षता का कोई मुकाबला नहीं है। किसानों की जमीन का चार गुना मुआवजा मिलना चाहिए।  पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा कि मीडिया कॉरपोरेट के हाथों में चला गया है। ताकतवर लोगों ने व्यवस्था पर कब्जा कर लिया है और गरीबों की आवाज दबाई जा रही है। भाजपा ने नौजवानों का सपना तोड़ दिया है। रोजगार के लिए दर-दर भटक रहे हैं। दुनिया में इस समय सबसे दुखी देश भारत है। ऐसी आशंका है कि एक पीढ़ी बिना किसी काम के और अपनी ऊर्जा का इस्तेमाल किए बगैर बर्बाद हो जाएगी। अखिलेश यादव ने कहा कि भाजपा अपने वादों पर कहीं खरी नहीं उतरी है। जनता में इसे लेकर बहुत आक्रोश है। 2019 ही पहला अवसर है, लक्ष्य स्पष्ट है। लोकतंत्र बचाना प्राथमिकता है।   भाजपा वाले बात घुमाने में माहिर, गूगल को भी घुमा देते हैं : अखिलेश यादव यह भी पढ़ें अखिलेश ने भाजपा पर हिन्दुस्तान को अविकसित देश बनाने की साजिश रचने का आज आरोप लगाया। उन्होंने कहा भाजपा को सत्ता से हटाने को लोकतांत्रिक और प्रगतिशील लोगों को एकजुट होना पड़ेगा। भाजपा धर्म के नाम पर उलझाकर और समाज में नफरत फैलाकर हिन्दुस्तान को अविकसित देश बनाने का षडयंत्र रच रही है। भाजपा समाज को खतरनाक स्थिति में पहुंचा रही है। देश को नए प्रधानमंत्री की चाहत है और संविधान की रक्षा तथा देश बचाने के लिए ऐसा होना जरूरी भी है।  अखिलेश यादव से इंटक के प्रदेश अध्यक्ष अशोक सिंह के साथ बड़ी संख्या में आए श्रमिकों ने मुलाकात की। इस दौरान दौड़, शारीरिक परीक्षा और साक्षात्कार के बाद चुने जाने के बावजूद भी पुलिस भर्ती से बाहर काफी अनुसूचित जाति/जनजाति तथा पिछड़े वर्ग के नौजवानों ने भी उनसे मुलाकात की। पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा कि श्रमिकों, नौजवानों के साथ अन्याय नहीं होने दिया जाएगा। कामगारों और किसानों की समस्या के निदान के बिना देश आगे नहीं बढ़ेगा।   लखनऊ में सपा राष्ट्रीय कार्यकारिणी आज, तैयार होगा चुनावी रोडमैप यह भी पढ़ें इससे पहले अखिलेश ने ट्वीट किया था, भाजपा गरीबी, बेकारी, भुखमरी, बिजली-पानी, सड़क, ऋण माफी, कृषि-भुगतान, चिकित्सा, भ्रष्टाचार व अपराध जैसे मुद्दों पर असफल होने की वजह से वैमनस्य फैलाकर जनता का ध्यान भटका रही है। हम सभी समाजवादी उन नकारात्मक लोगों को कभी सफल नहीं होने देंगे जो देश को तोडऩे के लिए नफरत फैला रहे हैं।  डिजिटल सेंधमारी   सीएम योगी आदित्यनाथ नोएडा न जाते तो यूपी में चार चुनाव न हारते : अखिलेश यादव यह भी पढ़ें अखिलेश यादव ने कहा कि आज जिस तरह 'डिजिटल सेंधमारी' कर के गरीबों के हक का राशन लूटा जा रहा है, लोगों के मोबाइल में अनैतिक प्रवेश किया जा रहा है और बैंकों से पैसा निकाला जा रहा है, उसने साबित कर दिया है कि 'डिजिटल सिक्युरिटी' की फुलप्रूफ व्यवस्था के बिना भारत में 'डिजिटल इंडिया' का सपना जुमला ही साबित होगा। इंटक के प्रदेश अध्यक्ष अशोक सिंह ने कहा कि आज आजादी, किसानों, नौजवानों के हितों को खतरा है।

अखिलेश यादव ने कहा कि ताकतवर लोगों ने प्रदेश की व्यवस्था पर कब्जा कर लिया है और अपने लाभ के लिए नीतियां बनवा रहे हैं। अब ऐसे लोगों को साइकिल चलाकर परास्त किया जाएगा। अखिलेश यादव के पार्टी मुख्यालय में कार्यकर्ताओं को संबोधित किया। उन्होंने कहा कि वर्तमान नेतृत्व में खुशहाली आना असंभव है। जो ज्यादा मुनाफा कमाते हैं वहीं नीतियां भी तय करने लगे हैं। समाजवादी पब्लिक सेक्टर को ताकत देने के पक्ष में हैं। भारत के कामगारों की दक्षता का कोई मुकाबला नहीं है। किसानों की जमीन का चार गुना मुआवजा मिलना चाहिए।

पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा कि मीडिया कॉरपोरेट के हाथों में चला गया है। ताकतवर लोगों ने व्यवस्था पर कब्जा कर लिया है और गरीबों की आवाज दबाई जा रही है। भाजपा ने नौजवानों का सपना तोड़ दिया है। रोजगार के लिए दर-दर भटक रहे हैं। दुनिया में इस समय सबसे दुखी देश भारत है। ऐसी आशंका है कि एक पीढ़ी बिना किसी काम के और अपनी ऊर्जा का इस्तेमाल किए बगैर बर्बाद हो जाएगी। अखिलेश यादव ने कहा कि भाजपा अपने वादों पर कहीं खरी नहीं उतरी है। जनता में इसे लेकर बहुत आक्रोश है। 2019 ही पहला अवसर है, लक्ष्य स्पष्ट है। लोकतंत्र बचाना प्राथमिकता है।

अखिलेश ने भाजपा पर हिन्दुस्तान को अविकसित देश बनाने की साजिश रचने का आज आरोप लगाया। उन्होंने कहा भाजपा को सत्ता से हटाने को लोकतांत्रिक और प्रगतिशील लोगों को एकजुट होना पड़ेगा। भाजपा धर्म के नाम पर उलझाकर और समाज में नफरत फैलाकर हिन्दुस्तान को अविकसित देश बनाने का षडयंत्र रच रही है। भाजपा समाज को खतरनाक स्थिति में पहुंचा रही है। देश को नए प्रधानमंत्री की चाहत है और संविधान की रक्षा तथा देश बचाने के लिए ऐसा होना जरूरी भी है।

अखिलेश यादव से इंटक के प्रदेश अध्यक्ष अशोक सिंह के साथ बड़ी संख्या में आए श्रमिकों ने मुलाकात की। इस दौरान दौड़, शारीरिक परीक्षा और साक्षात्कार के बाद चुने जाने के बावजूद भी पुलिस भर्ती से बाहर काफी अनुसूचित जाति/जनजाति तथा पिछड़े वर्ग के नौजवानों ने भी उनसे मुलाकात की। पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा कि श्रमिकों, नौजवानों के साथ अन्याय नहीं होने दिया जाएगा। कामगारों और किसानों की समस्या के निदान के बिना देश आगे नहीं बढ़ेगा।

इससे पहले अखिलेश ने ट्वीट किया था, भाजपा गरीबी, बेकारी, भुखमरी, बिजली-पानी, सड़क, ऋण माफी, कृषि-भुगतान, चिकित्सा, भ्रष्टाचार व अपराध जैसे मुद्दों पर असफल होने की वजह से वैमनस्य फैलाकर जनता का ध्यान भटका रही है। हम सभी समाजवादी उन नकारात्मक लोगों को कभी सफल नहीं होने देंगे जो देश को तोडऩे के लिए नफरत फैला रहे हैं।

डिजिटल सेंधमारी

अखिलेश यादव ने कहा कि आज जिस तरह ‘डिजिटल सेंधमारी’ कर के गरीबों के हक का राशन लूटा जा रहा है, लोगों के मोबाइल में अनैतिक प्रवेश किया जा रहा है और बैंकों से पैसा निकाला जा रहा है, उसने साबित कर दिया है कि ‘डिजिटल सिक्युरिटी’ की फुलप्रूफ व्यवस्था के बिना भारत में ‘डिजिटल इंडिया’ का सपना जुमला ही साबित होगा। इंटक के प्रदेश अध्यक्ष अशोक सिंह ने कहा कि आज आजादी, किसानों, नौजवानों के हितों को खतरा है।

You May Also Like

English News