अगर करेंगे ये काम, तो कभी नहीं लेनी पड़ेगी आपको नींद की गोली…

अनिद्रा के लिए उपायअगर करेंगे ये काम, तो कभी नहीं लेनी पड़ेगी आपको नींद की गोली... क्‍या आपको भी रोजाना नींद के लिए संघर्ष करना पड़ता है? काम करते समय नींद आती है लेकिन सो नहीं पाते? बिस्‍तर पर सोने जाते हैं लेकिन आंखे बंद करने के बाद नींद नहीं आती? सोते हुए दिमाग में बहुत सारे विचार आते हैं? नींद की कमी के कारण आपका स्‍वभाव भी चिड़चिड़ा हो गया है, हर बात पर आपको गुस्‍सा आने लगा है और अगले दिन का काम भी प्रभावित होने लगा है तो सतर्क हो जाएं। क्‍योंकि यह इनसोमनिया यानी अनिद्रा का संकेत हो सकता है। इस समस्‍या से बचने के लिए लोग नींद की गोलियों का सेवन करने लगते हैं। लेकिन इससे आपके स्‍वास्‍थ्‍य पर विपरीत असर पड़ने लगता है। लेकिन परेशान न हो क्‍योंकि कुछ योगासन की मदद से आप इस समस्‍या से बच सकते हैं। जी हां इन योगासनों को अपने रूटीन में शामिल कर देखिए, यकीनन आपको अच्‍छी नींद आएगी और आप तरो-ताजा भी महसूस करेंगे।

शवासनअगर करेंगे ये काम, तो कभी नहीं लेनी पड़ेगी आपको नींद की गोली...शवासन को करने से तन और मन दोनों ही तनावमुक्‍त रहते हैं, जिससे आपको सुकून की नींद आती है। इस आसन को करना बेहद ही आसान है। इसे करने के लिए आप चटाई बिछाकर पीठ के बल लेट जाएं और हाथ-पांव को थोड़ा बाहर की तरफ सीधा रखें। अपने शरीर के हर अंग को रिलैक्स होने दें। इस आसन को आप किसी भी समय कर सकते हैं।

विपरीत करणी योगअगर करेंगे ये काम, तो कभी नहीं लेनी पड़ेगी आपको नींद की गोली...इस आसान को करने से आपकी हार्ट बीट सही चलती है और दिमाग की नसें भी सही काम करती है। इस आसन को आप सोने से पहले या फिर शाम को भी कर सकते है। इसे करने के लिए आप चटाई पर पीठ के बल लेट जाएं और इसके बाद अपने पैरों को जितना हो सके ऊपर तक उठाएं और स्ट्रेच करें। इसमें पैर मुड़़ने नहीं चाहिए। आपके हाथ सिर से पीछे (ऊपर) की ओर होने चाहिए। बांहों को शरीर से कुछ दूरी पर जमीन से लगाकर रखें। ऐसा करते समय आप लंबी सांस भरते रहें। हालांकि, यह ध्यान रखें कि आप इतना स्ट्रेच न करें कि आपको कमरदर्द की शिकायत हो जाए।

योग निंद्राअगर करेंगे ये काम, तो कभी नहीं लेनी पड़ेगी आपको नींद की गोली...योग निद्रा का मतलब आध्यात्मिक नींद होता है। इसमें आप जागते हुए सोते है। सोने व जागने के बीच की स्थिति को योग निद्रा कहा जाता है। योग निंद्रा बरसों चली आ रही योग विधि हैं। यह दिमाग और शरीर के लिए थेरेपी कि तरह काम करती है। योग कि इस तकनीक में सिर्फ सांसों के आवागमन को महसूस करना होता है। इससे आप अनिद्रा की समस्‍या के साथ-साथ थकान, जोड़ों का दर्द, अवसाद आदि को भी दूर कर सकते हैं।

सर्वांगासनअगर करेंगे ये काम, तो कभी नहीं लेनी पड़ेगी आपको नींद की गोली...सर्वागासन में संपूर्ण शरीर का व्यायाम होता है इसीलिए इसे सर्व-अंग-आसन यानी सर्वांगासन कहा जाता है। सर्वांगासन करने के लिए सबसे पहले जमीन पर पीठ के बल लेट जाएं। फिर अपने दोनों हाथों को शरीर के साइड में रखें और दोनों पैरो को धीरे-धीरे ऊपर की और उठाइये। अपने पूरे शरीर को गर्दन से समकोण बनाते हुए सीधा करें और ठोड़ी को सीने से लगाएं। इस अवस्‍था में 7-10 बार गहरी सांस ले और फिर धीरे-धीरे नीचे आएं। सर्वांगासन में ब्लड सर्कुलेशन ब्रेन की ओर होने से एकाग्रता और बुद्धि में वृद्धि होती हैं। साथ ही आपको अच्‍छी नींद आती है।

सेतुबंध आसनअगर करेंगे ये काम, तो कभी नहीं लेनी पड़ेगी आपको नींद की गोली...इस आसन को करने से तनाव दूर होता है और आपको अच्‍छी नींद आती है। साथ ही यह आसन एनर्जी से भरपूर होता है। इसे आसन को करने के लिए पीठ के बल सीधा लेट जाएं, दोनों हाथ शरीर के बगल में सीधे रखें। हथेलियों को जमीन पर सटाकर रखें। अब दोनों घुटनों को मोड़ लें जिससे सिर्फ तलवे ही जमीन से छुएं। फिर सांस लेते हुए कमर को ऊपर उठाने की कोशिश करें। कोशिश करें कि आपका सीना ठुड्डी को छुएं। इस दौरान बाजुओं को कोहनी से मोड़ लें और हथेलियों को कमर के नीचे रखकर सहारा दें। कुछ देर बाद कमर नीचे लाएं और पीठे के बल सीधे लेट जाएं।

You May Also Like

English News