अब होंगे भारत और पाकिस्तान के मैच

पीसीबी भारत के खिलाफ मैच खेलने के मामले में अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट के समाधान समिति के फैसले को मानने को तैयार है और चाहता है कि अगर फैसला उसके पक्ष में रहता है तो 2019-2023 के भविष्य दौरा कार्यक्रम एफटीपी में भारत और पाकिस्तान के द्विपक्षीय मुकाबलों को शामिल किया जाए. 

पीसीबी प्रमुख नजम सेठी ने कहा कि, ‘‘हमने यह साफ कर दिया है कि अगर आईसीसी विवाद समाधान समिति का फैसला हमारे पक्ष में रहता है तो भारत को नए एफटीपी में हमारे साथ खेलना होगा. यह फैसला अक्टुम्बर में आएगा’’ सेठी ने कहा, ‘‘अगर फैसला हमारे पक्ष में नहीं रहता तो भी हम नए एफटीपी के मुताबिक 123 मैच खेलेंगे इसलिए इस मामले में हमने अच्छा किया’’ सेठी ने उम्मीद जताई की पाकिस्तान मुआवजा मामले को जीत सकता है क्योंकि उसकी कानूनी टीम ने बीसीसीआई के खिलाफ मजबूत मामला बनाया.

गौरतलब है कि पाकिस्तानी क्रिकेट बोर्ड के चेयरमैन नजम सेठी और COO सुभान अहमद अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (आईसीसी) की बैठक में हिस्सा लेने के लिए 21 अप्रैल को कोलकाता गए थे. जहां पर भारत और पाकिस्तान के क्रिकेट के भविष्य को लेकर चर्चाए हुई थी. ज्ञात हो कि PCB की टीम लगभग 2 साल से ज्यादा समय के बाद आईसीसी की बैठक में हिस्सा लेने के लिए भारत आई थी. इससे पहले वर्ष 2015 में दोनों देशों के बीच क्रिकेट संबंध बहाली के सिलसिले में PCB के पूर्व चैयरमैन शहरयार खान और नजम सेठी मुंबई आए थे.

You May Also Like

English News