अभी-अभी: अरविंद केजरीवाल की हत्या से…दिल्ली में मचा चारो तरफ हाहाकार…

दिल्ली पुलिस के एक कॉन्सटेबल ने शुक्रवार रात पुलिस कंट्रोल रूम फोन कर धमकी दी कि वह राज्य के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल की हत्या कर देगा। जब इंटेलिजेस ब्यूरो, स्पेशल सेल और स्थानीय पुलिस ने उससे पूछताछ की तो उसने दावा किया कि वह कॉल उसने बहुत ज्यादा शराब पीने के बाद की थी।
बड़ी खबर: अरविंद केजरीवाल की हत्या से...दिल्ली में चारो तरफ मचा हडकंप!
अभी-अभी: प्लेन क्रैश हादसे में बॉलीवुड के किंग शाहरुख खान की मौत, शोक में डूबा पूरा बॉलीवुड…

पूछताछ करने वाले एक अफसर ने बताया कि मालवीय नगर में दिल्ली पुलिस की सातवीं बटालियन के सिपाही विकास कुमार ने रोहिणी जिला कंट्रोल रूम में फोन कर कहा कि वह मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल की हत्या करने जा रहा है। उसने अपना नाम और पद भी बताया था। टाइम्स अॉफ इंडिया की रिपोर्ट के मुताबिक विकास कुमार ने शुरुआत में दावा किया था कि एक अज्ञात शख्स ने उसका फोन लेकर वह कॉल की थी। लेकिन पूछताछ के दौरान उसने कबूल किया कि फोन पर सीएम की हत्या करने की धमकी उसी ने दी थी। एक पुलिस अधिकारी ने बताया कि धमकी के बाद सीएम आवास के बाहर सुरक्षा बढ़ा दी गई है।

अभी-अभी: संजय दत्त की फिल्म भूमि के सेट पर लगी आग, बाल-बाल बचीं ये बड़ी एक्ट्रेस…

दूसरी ओर हाल ही में आम आदमी पार्टी के निलंबित विधायक और पूर्व मंत्री कपिल मिश्रा ने केजरीवाल सरकार पर भ्रष्टाचार के नए आरोप लगाए थे। इस बार उन्होंने गाड़ियों में सीएनजी किट लगाने में घोटाला किए जाने का आरोप लगाया था। कपिल ने कहा था कि 10 हजार गाड़ियों में नकली सीएनजी किट लगाई गई है। इससे लोगों की जान को खतरा भी हो सकता है। कपिल ने अपने दावों को सही साबित करने के लिए कुछ कागजात भी मीडिया के सामने रखे थे। साथ ही उन्होंने आरोप लगाया था कि केजरीवाल सरकार ने चीन के माल को कनाडा का सामान बताकर बेचा।

वहीं दिल्ली के एंटी करप्शन ब्यूरो (एसीबी) ने शुक्रवार (दो जून) को दिल्ली की एक अदालत को बताया था कि लोक निर्माण विभाग (पीडब्ल्यूडी) घोटाले में दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल एवं अन्य के खिलाफ तीन अलग-अलग एफआईआर दर्ज की गई है। एसीबी ने अदालत को बताया था कि संस्था ने आठ मई को पीडब्ल्यूडी घोटाले में स्वतःसंज्ञान लेते हुए तीन एफआईआर दर्ज की थीं। अदालत ने एसीबी को आठ जून को इस मामले में स्टेटस रिपोर्ट जमा करने का आदेश दिया है। अदालत रोड्स एंटी-करप्शन ऑर्गेनाइजेशन (आरएसीओ) के संस्थापक राहुल शर्मा की शिकायत पर सुनवाई कर रही थी।

You May Also Like

English News