अलविदा करुणानिधि : श्रद्धांजलि के लिए उमड़ा जनसैलाब, मरीना बीच पर कब्र की खुदाई शुरू

तमिलनाडु के पूर्व मुख्यमंत्री और डीएमके प्रमुख एम करुणानिधि की मौत के साथ ही दक्षिण की राजनीति का एक अध्याय खत्म हो गया है। मंगलवार को 94 साल की उम्र में करुणानिधि ने अंतिम सांस ली। करुणानिधि की मौत की खबर से तमिलानाडु समेत पूरे देश में शोक की लहर दौड़ गई। डीएमके समर्थकों में मातम पसर गया है। डीएमके समर्थक रोते-बिलखते नजर आ रहे हैं। इस बीच उनके पार्थिव शरीर को श्रद्धांजलि देने के लिए हजारों की संख्या में नेतागण व समर्थक चेन्नई के राजाजी हॉल पहुंच रहे हैं। तमिलनाडु के पूर्व मुख्यमंत्री और डीएमके प्रमुख एम करुणानिधि की मौत के साथ ही दक्षिण की राजनीति का एक अध्याय खत्म हो गया है। मंगलवार को 94 साल की उम्र में करुणानिधि ने अंतिम सांस ली। करुणानिधि की मौत की खबर से तमिलानाडु समेत पूरे देश में शोक की लहर दौड़ गई। डीएमके समर्थकों में मातम पसर गया है। डीएमके समर्थक रोते-बिलखते नजर आ रहे हैं। इस बीच उनके पार्थिव शरीर को श्रद्धांजलि देने के लिए हजारों की संख्या में नेतागण व समर्थक चेन्नई के राजाजी हॉल पहुंच रहे हैं। LIVE UPDATE: - यूपीए अध्यक्ष सोनिया गांधी ने करुणानिधि के बेटे और डीएमके नेता एमके स्टालिन को पत्र लिख उनके पिता की मौत पर शोक जताया। - प्रधानमंत्री मोदी ने ट्वीट कर कहा, 'चेन्नई में आज मैंने एक असाधारण नेता और एक अनुभवी प्रशासक को श्रद्धांजलि अर्पित की है। जिसका जीवन सार्वजनिक कल्याण और सामाजिक न्याय के लिए समर्पित था। कलाईनार करुणानिधि हमेशा लाखों लोगों के दिल और दिमाग में रहेंगे।' बीमार करुणानिधि से मिले CM पलानीस्वामी, बोले- अब ठीक हैं यह भी पढ़ें - मद्रास हाईकोर्ट से इजाजत मिलने के बाद मरीना बीच पर अन्नादुरई की समाधि के बगल में करुणानिधि की कब्र के लिए खुदाई का काम शुरू हुआ। वेंकैया नायडू ने बीमार करुणानिधि का अस्पताल में लिया हालचाल यह भी पढ़ें - करुणानिधि को श्रद्धांजलि अर्पित करने के बाद एमके स्टालिन और कनिमोझी से बात करते हुए प्रधानमंत्री मोदी। पीएम ने परिवार के अन्य सदस्यों को ढांढस भी बंधाया। दक्षिण की राजनीति के मुख्य स्तंभ करुणानिधि का निधन, नहीं थम रहे समर्थकों के आंसू यह भी पढ़ें चेन्नई: अब भी ICU में भर्ती करुणानिधि, अस्पताल के बाहर डटे समर्थक यह भी पढ़ें - राजाजी हॉल पहुंचकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने करुणानिधि को दी श्रद्धांजलि। रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण भी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ मौजूद हैं। - राज्यसभा और लोकसभा में डीएमके प्रमुख करुणानिधि को श्रद्धांजलि दी गई। इसके बाद दोनों सदनों की कार्यवाही आज दिन भर (बुधपार) के लिए स्थगित हो गई। बता दें कि संसद का मानसून सत्र चल रहा है। - मद्रास हाईकोर्ट का यह फैसला सुनते ही राजाजी हॉल के बाहर जमे डीएमके कार्यकर्ताओं और समर्थकों में खुशी की लहर दौड़ पड़ी। इस फैसले को पढ़कर सबको सुनाते हुए करुणानिधि के बेटे और उनके सियासी वारिस स्टालिन की आंखों से आंसू छलक आए। - मद्रास हाई कोर्ट ने चेन्नई के मरीना बीच पर पूर्व मुख्यमंत्री करुनानिधि को दफन करने की अनुमति दी। फैसले के बाद एमके स्टालिन फूटकर रो पड़े। - डीएमके प्रमुख करुणानिधि को श्रद्धांजलि देने चेन्नई पहुंचे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी। एयरपोर्ट पर मुख्यमंत्री ई पलानीसामी ने उनकी अगवानी की। - तमिलनाडु: अभिनेता से राजनेता बने कमल हसन ने चेन्नई के राजाजी हॉल में पूर्व मुख्यमंत्री एम. करुनानिधि को श्रद्धांजलि दी। - चेन्नई के मरीना बीच के आसपास सुरक्षा व्यवस्था काफी बढ़ा दी गई है। इस वक्त करुणानिधि के अंतिम संस्कार के लिए डीएमके द्वारा सरकार से मांगी गई जगह को लेकर मद्रास हाईकोर्ट में सुनवाई जारी है। - विदुथलाई चिरुथईगल कात्ची (वीसीके) प्रमुख थोल थिरुमावलवन ने तमिलनाडु के पूर्व मुख्यमंत्री एम. करुणानिधि के लिए भारत रत्न की मांग की। राजाजी हॉल में उन्होंने करुणानिधि की श्रद्धांजलि दी। - तमिलनाडु की पूर्व मुख्यमंत्री जे जयललिता की भतीजी दीपा जयकुमार ने भी दी करुणानिधि को श्रद्धांजलि - केरल के पूर्व मुख्यमंत्री ओमन चांडी ने राजाजी हॉल जाकर करुणानिधि को अपनी श्रद्धांजलि दी। - गोपालपुरम में करुणानिधि के आवास पहुंचे रजनीकांत। - तमिलनाडु के राज्यपाल बनवारी लाल पुरोहित ने चेन्नई के राजाजी हॉल में पूर्व मुख्यमंत्री और डीएमके चीफ रहे करुणानिधि को श्रद्धांजलि अर्पित की। - डीएमके चीफ का निधन तमिलनाडु के लिए बहुत बड़ी क्षति है। उनके परिवार के सदस्यों और डीएमके पार्टी के कार्यकर्ताओं के प्रति मेरी गहरी संवेदना हैः चेन्नई के राजाजी हॉल में ई. पलनिसामी, सीएम तमिलनाडु, करुणानिधि को श्रद्धांजलि अर्पित करने के बाद - करुणानिधि को श्रद्धांजलि अर्पित करने के लिए चेन्नई के राजाजी हॉल के बाहर लगातार लोग इकट्ठा हो रहे हैं। वहां मौजूद लोग उनके लिए नारे लगा रहे हैं। दफनाने पर विवाद करुणानिधि के निधन के बाद उनको दफनाने को लेकर विवाद हो गया है। दरअसल, डीएमके की मांग है कि उन्हें चेन्नई के मशहूर मरीना बीच पर दफनाया जाए और उनका समाधि स्थल भी बने। हालांकि तमिलनाडु सरकार ने मरीना बीच में उन्हें जगह देने से इन्कार कर दिया है। जिसके बाद मामला मद्रास हाई कोर्ट पहुंच गया। कोर्ट में सुनवाई के दौरान तमिलनाडु सरकार ने डीएमके की मांग के खिलाफ हलफनामा दिया। सरकार की ओर से कहा गया है कि हमने दो एकड़ जमीन और राजकीय सम्मान के साथ अंतिम संस्कार करने का वादा किया है। हालांकि बहस पूरी होने के बाद मद्रास हाईकोर्ट ने तमिलनाडु सरकार का फैसला पलटते हुए मरीना बीच पर करुणानिधि के अंतिम संस्कार की इजाजत दे दी है। झुकाया गया राष्ट्रध्वज करुणानिधि के निधन के चलते दिल्ली व सभी राज्यों की राजधानी और पूरे तमिलनाडु में बुधवार को राष्ट्रध्वज झुका रहेगा। वहीं, कर्नाटक सरकार ने आज छुट्टी घोषित की है, जबकि 7 दिनों का राजकीय शोक मनाया जाएगा। लंबे वक्त से बीमार थे करुणानिधि 29 जुलाई को करुणानिधि को चेन्नई के कावेरी अस्पताल में भर्ती कराया गया था। हालत नाजुक होने के कारण उन्हें आइसीयू में शिफ्ट कर दिया गया। जहां सात अगस्त को उनकी मौत हो गई। अस्पताल की ओर से जारी बयान में कहा गया कि करुणानिधि की उम्र के हिसाब से उनके शरीर के सभी अंगों ने काम करना बंद कर दिया था। तीन जून को मनाया था 94वां जन्मदिन बता दें कि पांच बार तमिलनाडु के मुख्यमंत्री रहे करुणानिधि ने इसी साल तीन जून को अपना 94वां जन्मदिन मनाया था। साथ ही, 26 जुलाई को उन्होंने डीएमके की कमान संभालते हुए भी 50 वर्ष पूरे किए। इतना ही नहीं, दक्षिण की राजनीति का अहम चेहरा रहे करुणानिधि के नाम हर चुनाव में जीत हासिल करने का भी रिकॉर्ड दर्ज है। वे 12 बार विधानसभा के सदस्य रहे और वह जिस भी सीट पर चुनाव लड़े, हमेशा जीत हासिल की। 1969 में में वे पहली बार राज्य के मुख्यमंत्री बने थे, इसके बाद 2003 में आखिरी बार मुख्यमंत्री बने थे

– यूपीए अध्यक्ष सोनिया गांधी ने करुणानिधि के बेटे और डीएमके नेता एमके स्टालिन को पत्र लिख उनके पिता की मौत पर शोक जताया।

– प्रधानमंत्री मोदी ने ट्वीट कर कहा, ‘चेन्नई में आज मैंने एक असाधारण नेता और एक अनुभवी प्रशासक को श्रद्धांजलि अर्पित की है। जिसका जीवन सार्वजनिक कल्याण और सामाजिक न्याय के लिए समर्पित था। कलाईनार करुणानिधि हमेशा लाखों लोगों के दिल और दिमाग में रहेंगे।’

– मद्रास हाईकोर्ट से इजाजत मिलने के बाद मरीना बीच पर अन्नादुरई की समाधि के बगल में करुणानिधि की कब्र के लिए खुदाई का काम शुरू हुआ।

– करुणानिधि को श्रद्धांजलि अर्पित करने के बाद एमके स्टालिन और कनिमोझी से बात करते हुए प्रधानमंत्री मोदी। पीएम ने परिवार के अन्य सदस्यों को ढांढस भी बंधाया।

– राजाजी हॉल पहुंचकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने करुणानिधि को दी श्रद्धांजलि। रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण भी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ मौजूद हैं।

– राज्यसभा और लोकसभा में डीएमके प्रमुख करुणानिधि को श्रद्धांजलि दी गई। इसके बाद दोनों सदनों की कार्यवाही आज दिन भर (बुधपार) के लिए स्थगित हो गई। बता दें कि संसद का मानसून सत्र चल रहा है। 

– मद्रास हाईकोर्ट का यह फैसला सुनते ही राजाजी हॉल के बाहर जमे डीएमके कार्यकर्ताओं और समर्थकों में खुशी की लहर दौड़ पड़ी। इस फैसले को पढ़कर सबको सुनाते हुए करुणानिधि के बेटे और उनके सियासी वारिस स्टालिन की आंखों से आंसू छलक आए।

– मद्रास हाई कोर्ट ने चेन्नई के मरीना बीच पर पूर्व मुख्यमंत्री करुनानिधि को दफन करने की अनुमति दी। फैसले के बाद एमके स्टालिन फूटकर रो पड़े।

– डीएमके प्रमुख करुणानिधि को श्रद्धांजलि देने चेन्नई पहुंचे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी। एयरपोर्ट पर मुख्यमंत्री ई पलानीसामी ने उनकी अगवानी की।

– तमिलनाडु: अभिनेता से राजनेता बने कमल हसन ने चेन्नई के राजाजी हॉल में पूर्व मुख्यमंत्री एम. करुनानिधि को श्रद्धांजलि दी।

– चेन्नई के मरीना बीच के आसपास सुरक्षा व्यवस्था काफी बढ़ा दी गई है। इस वक्त करुणानिधि के अंतिम संस्कार के लिए डीएमके द्वारा सरकार से मांगी गई जगह को लेकर मद्रास हाईकोर्ट में सुनवाई जारी है।

– विदुथलाई चिरुथईगल कात्ची (वीसीके) प्रमुख थोल थिरुमावलवन ने तमिलनाडु के पूर्व मुख्यमंत्री एम. करुणानिधि के लिए भारत रत्न की मांग की। राजाजी हॉल में उन्होंने करुणानिधि की श्रद्धांजलि दी। 

– तमिलनाडु की पूर्व मुख्यमंत्री जे जयललिता की भतीजी दीपा जयकुमार ने भी दी करुणानिधि को श्रद्धांजलि- केरल के पूर्व मुख्यमंत्री ओमन चांडी ने राजाजी हॉल जाकर करुणानिधि को अपनी श्रद्धांजलि दी। 

– गोपालपुरम में करुणानिधि के आवास पहुंचे रजनीकांत।

– तमिलनाडु के राज्यपाल बनवारी लाल पुरोहित ने चेन्नई के राजाजी हॉल में पूर्व मुख्यमंत्री और डीएमके चीफ रहे करुणानिधि को श्रद्धांजलि अर्पित की।

– डीएमके चीफ का निधन तमिलनाडु के लिए बहुत बड़ी क्षति है। उनके परिवार के सदस्यों और डीएमके पार्टी के कार्यकर्ताओं के प्रति मेरी गहरी संवेदना हैः चेन्नई के राजाजी हॉल में ई. पलनिसामी, सीएम तमिलनाडु, करुणानिधि को श्रद्धांजलि अर्पित करने के बाद

– करुणानिधि को श्रद्धांजलि अर्पित करने के लिए चेन्नई के राजाजी हॉल के बाहर लगातार लोग इकट्ठा हो रहे हैं। वहां मौजूद लोग उनके लिए नारे लगा रहे हैं।

दफनाने पर विवाद

करुणानिधि के निधन के बाद उनको दफनाने को लेकर विवाद हो गया है। दरअसल, डीएमके की मांग है कि उन्हें चेन्नई के मशहूर मरीना बीच पर दफनाया जाए और उनका समाधि स्थल भी बने। हालांकि तमिलनाडु सरकार ने मरीना बीच में उन्हें जगह देने से इन्कार कर दिया है। जिसके बाद मामला मद्रास हाई कोर्ट पहुंच गया। कोर्ट में सुनवाई के दौरान तमिलनाडु सरकार ने डीएमके की मांग के खिलाफ हलफनामा दिया। सरकार की ओर से कहा गया है कि हमने दो एकड़ जमीन और राजकीय सम्मान के साथ अंतिम संस्कार करने का वादा किया है। हालांकि बहस पूरी होने के बाद मद्रास हाईकोर्ट ने तमिलनाडु सरकार का फैसला पलटते हुए मरीना बीच पर करुणानिधि के अंतिम संस्कार की इजाजत दे दी है।

झुकाया गया राष्ट्रध्वज

करुणानिधि के निधन के चलते दिल्ली व सभी राज्यों की राजधानी और पूरे तमिलनाडु में बुधवार को राष्ट्रध्वज झुका रहेगा। वहीं, कर्नाटक सरकार ने आज छुट्टी घोषित की है, जबकि 7 दिनों का राजकीय शोक मनाया जाएगा।

लंबे वक्त से बीमार थे करुणानिधि

29 जुलाई को करुणानिधि को चेन्नई के कावेरी अस्पताल में भर्ती कराया गया था। हालत नाजुक होने के कारण उन्हें आइसीयू में शिफ्ट कर दिया गया। जहां सात अगस्त को उनकी मौत हो गई। अस्पताल की ओर से जारी बयान में कहा गया कि करुणानिधि की उम्र के हिसाब से उनके शरीर के सभी अंगों ने काम करना बंद कर दिया था।

तीन जून को मनाया था 94वां जन्मदिन

बता दें कि पांच बार तमिलनाडु के मुख्यमंत्री रहे करुणानिधि ने इसी साल तीन जून को अपना 94वां जन्मदिन मनाया था। साथ ही, 26 जुलाई को उन्होंने डीएमके की कमान संभालते हुए भी 50 वर्ष पूरे किए। इतना ही नहीं, दक्षिण की राजनीति का अहम चेहरा रहे करुणानिधि के नाम हर चुनाव में जीत हासिल करने का भी रिकॉर्ड दर्ज है। वे 12 बार विधानसभा के सदस्य रहे और वह जिस भी सीट पर चुनाव लड़े, हमेशा जीत हासिल की। 1969 में में वे पहली बार राज्य के मुख्यमंत्री बने थे, इसके बाद 2003 में आखिरी बार मुख्यमंत्री बने थे

You May Also Like

English News