अविश्वास प्रस्ताव : क्या पीएम मोदी के पास हैं ओवेसी के इन सवालों का जवाब

अक्सर अपने विवादित बयानों को लेकर सुर्ख़ियों में रहने वाले (एआईएमआईएम) के अध्यक्ष असदुद्दीन ओवैसी एक बार फिर अपने बयानों को लेकर चर्चा में बने हुए हैं. सदन में अविश्वास प्रस्ताव पर चर्चा के दौरान ओवेसी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से कई सवाल किये. ख़ास बात तो यह है कि ओवेसी ने अपनी बात लगभग तीन मिनट के अंदर ही खत्म कर दी जिसकी तारीफ सोशल मीडिया पर कुछ लोगों ने जमकर की. तो चलिए जानते हैं कि अविश्वास प्रस्ताव पर चर्चा के दौरान ओवेसी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से कौन से सवाल किये.अक्सर अपने विवादित बयानों को लेकर सुर्ख़ियों में रहने वाले (एआईएमआईएम) के अध्यक्ष असदुद्दीन ओवैसी एक बार फिर अपने बयानों को लेकर चर्चा में बने हुए हैं. सदन में अविश्वास प्रस्ताव पर चर्चा के दौरान ओवेसी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से कई सवाल किये. ख़ास बात तो यह है कि ओवेसी ने अपनी बात लगभग तीन मिनट के अंदर ही खत्म कर दी जिसकी तारीफ सोशल मीडिया पर कुछ लोगों ने जमकर की. तो चलिए जानते हैं कि अविश्वास प्रस्ताव पर चर्चा के दौरान ओवेसी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से कौन से सवाल किये.  1. ओवेसी का सबसे पहले सवाल यह था कि प्रधानमंत्री अपने विदेश दौरों में 1400 करोड़ रुपये खर्च कर चुके हैं. लेकिन आज तक कुछ नहीं पाया. उन्होंने कहा कि श्रीलंका हो या फिर नेपाल हो सभी चीन की गोद में बैठे हैं.  2. दलितों से मोहब्बत के इतने बड़े-बड़े दावे किए लेकिन जिसने एससी एसटी एक्ट के खिलाफ जजमेंट दिया उसी को आपकी सरकार ने एनजीटी का चेयरमैन बनाया आखिर ऐसा क्यों?  3. ओवेसी ने कहा कि वह जानना चाहते हैं कि ये नियम है कि 15 प्वाइंट एजेंडे के लिए तीन महीने में एक बार कैबिनेट सेकेट्री मीटिंग लेगा. लेकिन पिछले चार साल में एक भी मीटिंग नहीं हुई.  4. अगर प्रधानमंत्री मुसलमानों के हाथ में कुरान और कम्प्यूटर देखना चाहते हैं तो क्या वजह हैं कि प्री-मैट्रिक और पोस्ट-मैट्रिक के लिए स्कॉलरशिप का आवंटन है.  5. ये किस तरह की पॉलिसी है, जिस पर फिक्स डिपॉजिट पर ब्याज दर छह प्रतिशत है और महंगाई की दर भी छह प्रतिशत है.

1. ओवेसी का सबसे पहले सवाल यह था कि प्रधानमंत्री अपने विदेश दौरों में 1400 करोड़ रुपये खर्च कर चुके हैं. लेकिन आज तक कुछ नहीं पाया. उन्होंने कहा कि श्रीलंका हो या फिर नेपाल हो सभी चीन की गोद में बैठे हैं.

2. दलितों से मोहब्बत के इतने बड़े-बड़े दावे किए लेकिन जिसने एससी एसटी एक्ट के खिलाफ जजमेंट दिया उसी को आपकी सरकार ने एनजीटी का चेयरमैन बनाया आखिर ऐसा क्यों?

3. ओवेसी ने कहा कि वह जानना चाहते हैं कि ये नियम है कि 15 प्वाइंट एजेंडे के लिए तीन महीने में एक बार कैबिनेट सेकेट्री मीटिंग लेगा. लेकिन पिछले चार साल में एक भी मीटिंग नहीं हुई.

4. अगर प्रधानमंत्री मुसलमानों के हाथ में कुरान और कम्प्यूटर देखना चाहते हैं तो क्या वजह हैं कि प्री-मैट्रिक और पोस्ट-मैट्रिक के लिए स्कॉलरशिप का आवंटन है.

5. ये किस तरह की पॉलिसी है, जिस पर फिक्स डिपॉजिट पर ब्याज दर छह प्रतिशत है और महंगाई की दर भी छह प्रतिशत है.

English News

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com