अाखिरकार सिद्धू पहुंचे पाक, इमरान के शपथ समारोह में होंगे शामिल, 15 दिन का है वीजा

पाकिस्तान में नए इमरान खान के प्रधानमंत्री पद के शपथ ग्रहण समारोह में हिस्सा लेने के लिए पंजाब के स्थानीय निकाय मंत्री व पूर्व क्रिकेटर नवजोत सिंह सिद्धू आज पाकिस्तान रवाना हो गए हैं। वह वाघा बार्डर के रास्ते दोपहर बाद लाहौर के लिए रवाना हुए। वहां से सिद्धू इस्लामाबाद फ्लाइट से जाएंगे। वह इमरान को तोहफे के रूप में पश्मीने का शॉल भेंट करेंगे। सिद्धू के पास 15 दिनों का वीजा है।पाकिस्तान में नए इमरान खान के प्रधानमंत्री पद के शपथ ग्रहण समारोह में हिस्सा लेने के लिए पंजाब के स्थानीय निकाय मंत्री व पूर्व क्रिकेटर नवजोत सिंह सिद्धू आज पाकिस्तान रवाना हो गए हैं। वह वाघा बार्डर के रास्ते दोपहर बाद लाहौर के लिए रवाना हुए। वहां से सिद्धू इस्लामाबाद फ्लाइट से जाएंगे। वह इमरान को तोहफे के रूप में पश्मीने का शॉल भेंट करेंगे। सिद्धू के पास 15 दिनों का वीजा है।   बता दें, इमरान खान ने अपने पुराने दोस्त सुनील गावस्कर, कपिलदेव व नवजोत सिंह सिद्धू को शपथ ग्रहण समारोह में हिस्सा लेने का न्योता दिया था। गावस्कर व कपिलदेव ने पाकिस्तान जाने से मना कर दिया था, जबकि सिद्धू ने इसके लिए वीजा प्रक्रिया शुरू कर दी थी। सिद्धू पहले दिन से ही कह रहे थे कि वह पाकिस्तान जाएंगे।    पाकिस्तान की सीमा में प्रवेश से पूर्व हाथ हिलाते सिद्धू।  वहीं, सिद्धू के पाकिस्तान जाने को लेकर राजनीतिक माहौल भी गरमा गया था। भाजपा नेता सुब्रह्मणयम स्वामी ने इसे सिद्धू के दिमागी अस्थिरता करार दिया। स्वामी ने कहा सिद्धू में थोड़ी भी समझदारी होगी तो वह पाकिस्तान जाने की नहीं सोचेंगे। वहीं, सुखबीर बादल ने भी इसको लेकर सिद्धू पर तंज कसा है। सुखबीर ने कहा है कि बेहतर होगा सिद्धू पाकिस्तान में ही रह जाएं।

बता दें, इमरान खान ने अपने पुराने दोस्त सुनील गावस्कर, कपिलदेव व नवजोत सिंह सिद्धू को शपथ ग्रहण समारोह में हिस्सा लेने का न्योता दिया था। गावस्कर व कपिलदेव ने पाकिस्तान जाने से मना कर दिया था, जबकि सिद्धू ने इसके लिए वीजा प्रक्रिया शुरू कर दी थी। सिद्धू पहले दिन से ही कह रहे थे कि वह पाकिस्तान जाएंगे।

पाकिस्तान की सीमा में प्रवेश से पूर्व हाथ हिलाते सिद्धू।

वहीं, सिद्धू के पाकिस्तान जाने को लेकर राजनीतिक माहौल भी गरमा गया था। भाजपा नेता सुब्रह्मणयम स्वामी ने इसे सिद्धू के दिमागी अस्थिरता करार दिया। स्वामी ने कहा सिद्धू में थोड़ी भी समझदारी होगी तो वह पाकिस्तान जाने की नहीं सोचेंगे। वहीं, सुखबीर बादल ने भी इसको लेकर सिद्धू पर तंज कसा है। सुखबीर ने कहा है कि बेहतर होगा सिद्धू पाकिस्तान में ही रह जाएं।

You May Also Like

English News