आंख फड़कती है तो शुभ-अशुभ के फेर में न पड़े , जानें सही वजह

आज के विज्ञान और टेकनोलॉजी के जमाने में लोग आधुनिक होते हुए भी अंधविश्‍वास पर यकीन करते हैं। अक्‍सर कई बातें ऐसी होती हैं जिनका विज्ञान से संपर्क होता है लेकिन फिर भी वह उसमें शुभ या अशुभ होने की वजह ढूंढलेते हैं। घर में जब भी किसी सदस्‍य की लोगों की आंख फड़कती है तो लोग शुभ या अशुभ होने की अटकलें लगाने लगते हैं। असल में आंख फड़कने की वजह सीधे आपकी सेहत से जुड़ी हुई है।ये भी पढ़े : प्लास्टिक रसायनों से गर्भवती माहिलाओ को रखें दूर…

अगर किसी की आंख फड़कती है तो उसे इस बात को नजरअंदज नहीं करना चाहिए। उस व्‍यक्ति को सेहत से जुड़ी इन समस्‍याओं का सामना करना पड़ सकता है।

कमजोर आंखें –

आंख फड़कने की वजह आंखों की मांस पेशियों से संबंधित समस्या हो सकती है। ज्‍यादा आंख फड़कने पर आंखों की जांच करवा लेनी चाहिए। चश्मे का नंबर बढ़ने की वजह से भी ऐसा हो सकता है।

अधिक तनाव –

तनाव सेहत के लिए हानिकारक होता है। तनाव के कारण भी आपकी आंख फड़क सकती है। तनाव की वजह से नींद नहीं आती है। कभी-कभी नींद पूरी न होने पर आंख फड़कने की समस्या हो जाती है।

ज्‍यादा थकान –

ज्‍यादा थकान होने की वजह से भी आंखों में परेशानी होती है। कम्यूटर, लैपटॉप पर ज्यादा देर काम करने की वजह से भी आंखों में परेशानी हो जाती है। इस वजह से ऐसी दिक्‍कत का सयामना करना पड़ सकता है।

सूखापन –

आंखों में सूखापन होने की वजह से भी आंख फड़कती है। इसके अलावा आंखों में एलर्जी होना, पानी बहना, खुजली और जलन होना जैसी समस्या होने पर भी ऐसा हो जाता है।

पोषण –

शरीर में मैग्नीशियम जैसे तत्‍व की कमी होने से भी आंख फड़कने लगती है। इसके अलवा ज्‍यादा कैफीन या शराब का सेवन करने से भी इस परेशानी का सामना करना पड़ सकता है।

You May Also Like

English News